Tuesday, December 18, 2018

अब फर्जी रिपोर्टिंग करने वाले होंगे बर्खास्त आयुक्त ने दिए निर्देश

गोंडा ब्यूरो पवन कुमार द्विवेदी
गोंडा विकास कार्यक्रमों की मण्डलीय समीक्षा बैठक में आयुक्त देवीपाटन मण्डल सुधेश कुमार ओझा ने मण्डल में बेसिक शिक्षा विभाग अन्तर्गत प्राइमरी स्कूलों में बच्चों का फर्जी पंजीकरण दिखाकर गलत रिपोर्टिंग करने वाले अधिकारियों व अध्यापकों के खिलाफ जांच कराकर बर्खास्तगी की कार्यवाई करने के निर्देश सभी जनपदों के जिलाधिकारियों को दिए हैं। वहीं आयुक्त की बैठक से बिना सूचना अनुपस्थित रहने पर आरएफसी से स्पष्टीकरण तथा जनपद श्रावस्ती में नहरों का गैप्स व जमीन के अधिग्रहण सम्बन्धी कार्य में लापरवाही बरतने व आयुक्त को गलत सूचना देने पर एक्सईएन नहर श्रावस्ती व बलरामपुर के खिलाफ विभागीय कार्यवाही के लिए शासन को पत्र भेजेन की संस्तुति की है जबकि गोण्डा सरयू नहर खण्ड 1 व 3 के एक्सईएन द्वारा अब तक रोस्टर न जारी करने पर जवाब तलब किया गया है।
विकास कार्यों की समीक्षा में आयुक्त ने शिथिल अधिकारियों को आड़े हाथों लेते हुए सुधार करने की नसीहत दी है। सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता कार्यक्रम गोवंशीय पशुशाला के निर्माण, मृतप्राय हो हरी निदियों के पुनरूद्धार तथा आयुष्मान भारत योजना की प्रगति की समीक्षा सबसे पहले की गई। गौरक्षा केन्द्रों का निर्माण तत्काल चारों जिलों में शुरू कराने के निर्देश एडी पशुपालन को दिए हैं। आयुक्त ने कार्यदाई संस्था पैक्सफेड व पशुपालन विभाग के अधिकारियों को युद्धस्तर पर कार्य कराने के निर्देश दिए हैं। मृत प्राय हो चुकी अथवा होने वाली नदियों तथा बाजार हाटों के सम्बन्ध में शासन द्वारा ऐसी सभी नदियों के पुनरूद्वार के लिए प्रस्ताव की जानकारी ली तो ज्ञात हुआ गोण्डा में टेढ़ी नदी के पुनरूद्धार के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा जा चुका है। वहीं शासन द्वारा सार्वजनिक स्थलों पर संचालित होने वाली बाजार हाटों को आधुनिक सुविधाओं से युक्त अपग्रेड किया जाएगा जिसमें हाटों में शेड, सड़क सम्पर्क मार्ग, पेयजल व विद्युत व्यवस्था सहित अन्य जरूरी चीजों की व्यवस्था चाकचैबन्द होगी। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान आयुक्त ने निर्देश दिए कि अस्पतालो में दवाओं की उपलब्ध सुनिश्चित कराएं तथा प्रदत्त सुविधाएं हर हाल में मुहैया हों। पिछली मीटिंग में डीएम बहराइच द्वारा विगम मीटिंग की गई शिकायत कि जिले के पयागपुर क्षेत्र में विद्युत पोल मानक पांच फुट गहराई के विपरीत मात्र एक या दो फुट की गहराई पर ही गाड़ देने की वजह से 80 खम्भे टूट जाने की शिकायत की जांच रिपोर्ट तलब की है। वहीं गढडामुक्ति का फर्जी आंकड़ा देने पर चीफ इन्जीनियर पीडब्लूडी को भी आयुक्त ने कड़ी फटकार लगाई। मीटिंग में पीडब्लूडी विभाग के चारो जिलों को गढडामुक्त दिखाया गया जबकि हकीकत में ऐसा अभी तक सम्भव नहीं हो पाया है। पेजल योजना के तहत संचालित पाइप्ड पेयजल योजना पर असंतोष व्यक्त करते आयुक्त व डीएम गोण्डा ने अधीक्षण अभियन्ता जल निगम को जमकर फटकार लगाई और झूठी रिपोटिंग न करने तथा सभी पाइप्ड पेयजल परियोजनाओं का सुचारू संचालन कराने के निर्देश दिए। डीएम गोण्डा द्वारा अधीक्ष्द्वाण अभियन्ता पीडब्लूडी को निर्देश दिए गए कि जिले की सभी रेलवे क्रासिंगग्स पपर रेलवे आवेर ब्रिज बनाए जाने के लिए तत्काल प्रस्ताव भेज दें जिस पर बताया गया कि गोण्डा में 09 रेलवे आवेर ब्रिज के निर्माण के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा जा चुका है। समीक्षा बैठक में आयुक्त ने खाद्यान्न वितरण, नई सड़कों के निर्माण, अपशिष्ट प्रबन्धन, सरकारी कार्यालयों पर सोलर पैनेल लगवाए जाने, गन्ना भुगतान तथा मिलों में पेराई शुरू कराए जाने, आंगनबाड़ी केन्द्रों के निर्माण किसान पारदर्शी योजना, डीबीटी, मृदा स्वास्थ्य परीक्षण व कार्ड वितरण, धान खरद, सिंचाई विभाग, पेंशन योजना, छात्रवृत्ति योजनाएं सहित अन्य विकासपरक व लाभार्थीपरक योजनाओं की जनपदवार समीक्षा की।
बैठक में डीएम गोण्डा कैप्टेन प्रभान्शु श्रीवास्तव, डीएम बहराइच माला श्रीवास्तव, डीएम बलरामपुर कृष्णा करूणेश, डीएम श्रावस्ती दीपक मीणा, संयुक्त विकास आयुक्त देवीपाटन मण्डल बी0के0 पाठक, सीडीओ गोण्डा अशोक कुमार, सीडीओ बहराइच, सीडीओ श्रावस्ती, सीडीओ बलरामपुर, चीफ इन्जीनियर विद्युत आर0के श्रीवास्तव, उपश्रमायुक्त देवीपाटन शमीम अख्तर अंसार, डीडी पंचायत एस0के0 सिंह डीसीसी गन्ना अमर सिंह, सहित विभागों के मण्डलीय व जनपदीय अधिकारी उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment