Friday, December 28, 2018

डीएम ने न्यायिक अभिलेखागार का किया औचक मुवायना

गोंडा ब्यूरो पवन कुमार द्विवेदी
गुरूवार को डीएम कैप्टेन प्रभान्शु श्रीवास्तव ने कलेक्ट्रेट स्थित न्यायिक अभिलेखागार तथा अपर जिलाधिकारी कोर्ट व कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान डीएम ने सभी कार्यालयों में साफ-सफाई सुनिश्चित कराने की विशेष हिदायत दी।
डीएम सबसे पहले न्यायिक अभिलेगार पहुंचे। वहां पर उन्होने मासिक निरीक्षण, विडिंग की स्थिति, गोसवारा रजिस्टर, गार्ड फाइल का निरीक्षण किया। डीएम ने रिकर्ड रूम से थाना वजीरगंज की वर्ष 2016 की फाइलें निकलवाकर उनका जायजा लिया। डीएम ने बस्ते पर गोसवारा अनिवार्य रूप से रखवाने के निर्देश प्रभारी रिर्काडरूम को दिए। डीएम ने अपर उपजिलाधिकारी द्वितीय गुलाम सरवर से अभिलेखागार की पूरी रिपोर्ट दो दिन के भीतर मांगी है। इसके बाद डीएम एडीएम कोर्ट पर पहुचे वहां पर उन्होने सबसे पहले मिसिलबन्द रजिस्टर चेक किया ता ज्ञात हुआ कि पिछले वर्ष के 246 मुकदमे इस वर्ष फारवर्डेड किए गए हैं। दाखिल दफ्तर की गई फाइलों को भी निकलवाकर डीएम ने मुआइना किया। सभी फाइलों पर बारकोडिंग अनिवार्य रूप से दर्ज करने के बाद ही फाइलिंग करने तथा फाइलों पर पेज नम्बर अनिवार्य रूप से डालने के सख्त निर्देश दिए। एडीएम कोर्ट पर लगभग दो सौ मामले लम्बित पाए गए। डीएम ने एडीएम कोर्ट पर फर्नीचर आदि नई रखवाने, विद्युत तार ठीक कराने तथा साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए हैं। इसके बाद डीएम ने एडीएम कार्यालय का निरीक्षण किया। कुल मिलाकर औचक निरीक्षण में डीएम को व्यवस्था संतोषजनक मिली। निरीक्षण के दौरान डीएम के पेशकार राजेश श्रीवास्तव, एडीएम के स्टेनो रविन्द्र कुमार, प्रशासनिक अधिकारी व अभिलेखागार प्रभारी नईम, रवि सहित अन्य कलेक्ट्रेट कर्मी उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment