Saturday, January 5, 2019

जनवरी में पड़ने वाले सूर्य ग्रहण में गर्भवती महिलाएं रखें 5 बातें विशेष ध्यान

दोस्तों हमारे हिंदू शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है कि यदि कोई गर्भवती महिला सूर्य ग्रहण देख ले तो उसका बुरा असर उसके बच्चे पर पड़ता है। और मान्यता के अनुसार यह असर 108 दिन तक रहता है। साल का पहला सूर्य ग्रहण 6 जनवरी को होने जा रहा है। 6 जनवरी को प्रातः 5:04 से आरंभ होकर 9:18 तक रहेगा। इसकी अवधि 4 घंटे 14 मिनट रहेगी। ग्रहण का मध्यकाल 7:13 का रहेगा और मोक्ष काल 9:18 पर हो जाएगा। आइए जानते हैं कैसे कोई गर्भवती महिला अपने बच्चे को इस ग्रहण के नकारात्मक प्रभाव से बचा सकती है।
1. ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को सूर्य के दर्शन नहीं करने चाहिए।
2. गर्भवती महिलाओं को नुकीले औजार फल या सब्जी काटने में उपयोग नहीं लानी चाहिए। यदि वह ऐसा करती है तो ऐसा माना जाता है कि उसके शिशु के अंगों को हानी पहुंच सकती है।
3. ग्रहण के दौरान कैंची के उपयोग करने से भी बचना चाहिए।
4. ग्रहण खत्म होने की दशा में गर्भवती महिलाओं को स्नान जरूर करना चाहिए। माना जाता है कि ऐसा ना करने पर शिशु की त्वचा संबंधी समस्याएं उत्पन्न होती हैं।
5. ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को अपने मुंह में तुलसी का पत्ता जीभ में रखकर हनुमान चालीसा या दुर्गा स्तुति करनी चाहिए।
नए साल 2019 का पहला सूर्य ग्रहण  6 जनवरी को लग रहा है। इसके अलावा साल 2019 में तीन सूर्य ग्रहण देखने को मिलेंगे। पहला ग्रहण 6 जनवरी को, दूसरा 2 जुलाई और तीसरा 26 दिसंबर को दिखाई देगा। हालांकि यह ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा, जिसके कारण ग्रहण का प्रभाव नहीं होगा। यह ग्रहण चीन, जापान, कोरिया , रूस और मंगोलिया में दिखाई देगा। ग्रहण और शनि अमावस्या का योग
साल का पहला ग्रहण शनिवार के दिन पड़ने के कारण इसका महत्व काफी बढ़ गया है। सूर्य ग्रहण भले ही भारत में दिखाई नहीं देगा, लेकिन इस दिन शनैश्चरी अमावस्या होने की वजह से यह दिन बेहद खास होगा। शनैश्चरी अमावस्या के दिन ग्रहण होने के कारण इस दिन दान, जप-पाठ, मंत्र एवं स्तोत्र-पाठ और स्नान का महत्व बढ़ जाता है।
इन राशियों पर ग्रहण का रहेगा अच्छा असर
वृषभ राशि: इस राशि के जातकों के लिए यह सूर्य ग्रहण लाभदायक  होगा। आपको धन का लाभ मिल सकता है। विदेश में यात्रा का भी योग बन रहा है।
कन्या राशि: इन राशि वालों के लिए यह साल नए आयाम देने वाला है। अगर आप कुछ पाना चाहते हैं तो इस दिन जरूर सूर्यदेव की प्रार्थना करें। आपकी मनोकामना अवश्य पूर्ण होगी।
कुंभ और तुला राशि वालों पर भी इस सूर्य ग्रहण का सकारात्मक असर रहेगा।
सूर्यग्रहण का ज्योतिष महत्व
वर्ष 2019 का आगमन इस बार कन्या लग्न, तुला राशि व स्वाति नक्षत्र में हो रहा है, जो कई मामलों में बेहद लाभप्रद रहने वाला है। देखा जाए तो लग्नेश बुध बृहस्पति के साथ पराक्रम भाव में विराजमान होकर भाग्य भाव को देख रहे हैं। वहीं धन भाव पर शुक्र-चंद्रमा की युति एक आर्थिक संपन्नता का योग बना रही है।
ज्योतिर्विद अभय पाण्डेय लखनऊ 8707572209
भगवती ज्योतिष परामर्श केंद्र

No comments:

Post a Comment