Monday, January 7, 2019

मधुमक्खी को भगाने के चक्कर मे लगी आग से तीन मवेशी झुलसे

गोंडा ब्यूरो पवन कुमार द्विवेदी
गोंडा जनपद के इटियाथोक कोतवाली  के बरडाँड़   गांव में मधुमक्खियों ने कई लोगों को काटकर जख्मी कर दिया। जिनका इलाज चल रहा है। भयभीत ग्रामीणों ने उनको भगाने की नियत से अपने अपने घरों के सामने आग जला दिए। इतने में मौसम ने करवट ली। और तेज आंधी आ गई। आग की चिंगारी से गांव में आग लग गई। जिसके चपेट में आकर तीन मवेशी झुलस गए। ग्राम प्रधान ने डायल हंड्रेड को फोन किया। जिसने मौके पर पहुंचकर ग्रामीणों के साथ मिलकर आग पर काबू पाया।बताते चलें कि मधुमक्खियों के काटने से गांव के कुछ लोग जख्मी हो गए जिनका इलाज अस्पताल में चल रहा है।थाना इटियाथोक में तैनात डायल 100 के पीआरबी 0866 की टीम को बर्दाण्ड ग्राम प्रधान ने रविवार को सूचना दिया कि हमारे गांव में भीषण आग लग गई है। हम गांव के लोगों के साथ मौके पर पहुंच गए हैं, हमें पुलिस फोर्स की आवश्यकता है, स्थिति गंभीर बनी है।इस सूचना को संज्ञान में लेते हुए 100 नंबर की टीम मौके पर पहुंची तो देखा कि नान्हू पुत्र राम अवतार, मुन्नालाल साहू पुत्र रामसमुझ निवासियों के फूस के घर में भीषण आग लगी है। जिसमें इन लोगों के मवेशी बधे हुए हैं, मवेशियों में एक गाय मुन्ना लाल की व नान्हू साहू की दो पड़िया जलकर घायल हो गए हैं।मौके पर 100 नंबर की टीम के एसआई शत्रुघन मिश्रा, सीपी डीएन सिंह, चालक रामसुरेश तिवारी गांव के अशोक वर्मा, हरिराम, सियाराम, कलीम, राम सजन, अतुल आदि अनेक लोग के साथ मिलकर आग को बुझाया।डायल 100 के सीपी डीएन सिंह ने बताया कि गांव में ही एक पेंड पर मधुमक्खियों ने अपना छत्ता लगा लिया था। रविवार सुबह करीब 11 बजे कुछ ग्रामीणों को मधुमक्खियों ने काटकर घायल कर दिया था। जिनका इलाज सरकारी अस्पताल में हुआ है। इससे पूरे गांव के लोग दहशत में आ गए।और मधुमक्खियों के आतंक से बचने के लिए गांव के सभी लोगों ने अपने अपने दरवाजे पर धुआं सुलगा लिया। इसी दौरान मौसम ने करवट लिया तेज हवाएं चलने लगी। और तेज हवाओं से आग उड़कर मुन्नालाल साहू और नान्हू साहू के घर आग पकड़ लिया। फिलहाल डायल 100 के त्वरित कार्रवाई से ग्रामीण प्रसन्न नजर आये।

No comments:

Post a Comment