Friday, February 15, 2019

मोक्ष धाम महाकाल मंदिर में धूमधाम से निकली शिव जी की बारात

अमरवाड़ा-  नगर के मोक्ष धाम महाकाल मंदिर पर आयोजित शिव महापुराण कथा के चौथे दिवस शिव पार्वती का वर्णन करते हुए सुश्री प्राची दीदी ने बताया कि महाराज हिमाचल के यहां सती ने माता पार्वती के रूप में जन्म लिया और बाल्यकाल से ही भगवान शिव की आराधना में लीन हो गई और भगवान शंकर माता पार्वती की तपस्या से प्रसन्न हुए और उन्हें अर्धांगिनी के स्वरूप में स्वीकार किया इसी तारतम्य भगवान शिव की प्रेत गण राक्षस बेताल डाकिनी सहित देवताओं के साथ विशाल बारात निकली जो नगर के बस स्टैंड मुख्य मार्ग नई आबादी होती हुई मोक्ष धाम पहुंची जहां बैंड बाजे के साथ भगवान शिव की बारात का स्वागत किया गया और भगवान शिव पार्वती की आकर्षण आत्मक झांकी प्रस्तुत की गई जिन का नृत्य देख कर लोग भा जिन का नृत्य देख कर लोग नाच नृत्य में डूब गए और भगवान शिव पार्वती का मंडप में विवाह संपन्न हुआ इस अवसर पर नगर के गणमान्य नागरिक माताएं बहने हजारों की तादाद में मोक्ष धाम स्थित पंडाल में उपस्थित रहे

No comments:

Post a Comment