Sunday, April 28, 2019

लाखों लेकर अयोग्य को बनाया योग्य शिकायत पर जेल भेजने की धमकी

Hari om Gupta
कानपुर नगर, एक प्रतियोगिता में विजेता घोषित किये जाने के ऐवेज में प्रतिभागियों से दो लाख रू0 की मांग करना तथा पैसा न देने पर विजेता घोषित होने के बाद सूची बदल कर हेर फेर कर अनुचित अभ्यर्थी को विजेता घोषित करने वाले दीप इंटरटीजमेंट के निदेशक दीपक गुप्ता के विरूद्ध कुछ प्रतिभागियों में जर्नलिस्ट प्रेसक्ल में वार्ता की।इस दौरान आयुष कुमार ने बताया कि वह अम्बेडकरपुरम आवास विकास-3, कल्यानपुर का निवासी है तथा 24 अप्रैल को चैधरी लाॅन, श्याम नगर में आयोजित कानपुर नेक्स्ट टाॅप माॅडल व मिस कानपुर 2019 में भाग लिया था साथ ही कुछ अन्य अभ्यार्थी भी मौजूद थे। सभी ने बताया कि संस्थान के निदेशक दीपक गुप्ता जो किदवई नगर में रहते है उन्होने इस प्रतियोगिता के लिए हर प्रतिभागी से प्रवेश शुल्क के रूप में 5 हजार रू0 लिया। शो में जज प्रदुमन अवस्थी एवं बाकांक्षा चतुर्वेदी द्वारा जो परिणाम घोषित किया गया उसमें दीपक गुप्ता द्वारा धोखाधडी करते हुए फेर-बदल कर दिया क्यों कि दीपक गुप्ता ने विजेता बनाने के नाम पर दो लाख रू0 मांगे थे। विरोध करने पर दीपक गुप्ता ने किसी की न सुनी तथा कहा जिन्होने पैसा दिया उन्हे विजेता घोषित किया है। जब दीपक से इस धोखाधडी की रिपोर्ट शासन व प्रशासन से करने को कहा तो उसने गाली गलौज कर मारपीट की तथ कहा तुम लोगों ने कम्पनी के साथ काॅन्टेक्ट किया है और कम्पनी के विरूद्ध जाने पर तुम सबको जेल भिजवा दूगा। पीडित युवको व युवतियों ने बताया कि उनसे पांच हजार रू0 भी ले लिया गया और उनके साथ धोखाधडी की गयी। बताया इस सम्बन्ध में वरिष्ठ पुलिस अधीक्ष को शिकायत पत्र दिया। पीडितों ने कहा दीपक गुप्ता ऊंचे रसूख का आदमी है और हम पीडितों के साथ वह कुछ भी अनहोनी घटना को अंजाम दे सकता है। वार्ता के दौरान आयुष कुमार, अपराजिता तिवारी, स्वेच्छा, दिव्या पाठक, वैभव सहित उनके अभिभावक भी मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment