Tuesday, April 30, 2019

गोंडा में योगी की जनसभाएं विरोधियों पर बोला हमला

ब्यूरो रिपोर्ट पवन कुमार द्विवेदी   
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी ने  गोंडा के डुमरिया डीह में एक जनसभा सम्बोधित किया। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस, सपा और बसपा पर जमकर हमला बोला। इसके साथ ही योगी ने लोगों से भाजपा प्रत्याशी राजा भैया व ब्रजभूषण सरण सिंह  के समर्थन में वोट देने की अपील भी कीऔर  कांग्रेस पर हमला करते हुए योगी ने कहा कि जिनसे अमेठी और रायबरेली का विकास नहीं हुआ, वह देश की बागडोर संभालने का सपना देख रहे हैं।योगी जी ने कहा कि अब तक संपन्न हुए 39 सीटों के चुनाव के रुझान जो मिले हैं उसमें 36 सीटें भारतीय जनता पार्टी को मिल रही है। 23 मई को जब 80 सीटों के चुनाव परिणाम आएंगे तो उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी 74 पार के अपने लक्ष्य को प्राप्त कर चुकी होगी। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के नेतृत्व में पाकिस्तान के साथ ही आतंकवाद की जड़ को सेना ने हिला दिया है, इस पर पूरा देश मोदी जी को समर्थन दे रहा है। सपा और बसपा पर वार करते हुए योगी ने कहा कि पिछली सरकारों में उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी थी। आज प्रदेश की कानून व्यवस्था की हालत में सुधार हुआ है। अब अपराधियों की जगह या तो जेल है या उनका राम नाम सत्य हो रहा है, अपराधियों के लिए तीसरी कोई जगह नहीं है।   योगी ने यहाँ तक  कहा डाला  कि जब बाटला हाउस एनकाउंटर में देश के दुर्दांत आतंकवादियों को हमारे सुरक्षा बल मार गिरा रहे थे, तब कांग्रेस का एक शाही परिवार आतंकियों के लिए रात भर आंसू बहा रहा था। उन्होंने कहा कि इसी शाही परिवार की वजह से यहां की जनता को विकास से और बुनियाद सुविधाओं से वंचित होना पड़ा है।

  कांग्रेस के इस शाही परिवार की आंखों में देश के अंदर नौजवानों को रोजगार मिले, उन्हें आर्थिक स्वावलम्बन और सम्मानजनक जीवन यापन करने की सुविधाएं मिल सके इसके लिए कभी आंसू नहीं निकले। योगी जी ने कहा कि राजीव गांधी जी यहां आते थे, तब कहते थे कि मैं 100 रुपया भेजता हूं तो गरीबों तक 10 रुपये पहुंचते हैं। बाकि 90 रुपये इस शाही परिवार के दरबारी, चाटुकार खा जाते थे। उन्होंने कहा कि अगर देश में कांग्रेस की सरकार होती, तो किसान सम्मान निधि के भेजे गए  चार हजार रुपये में से किसानों को सिर्फ 400 मिलते बाकी 3600 रुपये शाही परिवार चाटुकार खा जाते।  इस दौरान उन्होंने सपा और बसपा पर हमला करते हुए कहा कि याद करिए आज से दो-तीन वर्ष पहले गोंडा, बलरामपुर, बहराइच, श्रावस्ती और आस-पास के सड़कों की कितनी बुरी दशा थी। लोगों को कहीं आने-जाने में तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ता था। मुझे भी कभी-कभी मां मातेश्वरी के दर्शन करने आना पड़ता था और मैं देखता था कि गोंडा से तुलसीपुर जाने में तीन-तीन घंटे लग जाते थे। व्यापक अव्यवस्था थी, आराजकता की स्थिति थी, विकास के कार्य ठप पड़े हुए थे। किसानों की कोई सुनवाई नहीं थी। कांग्रेस पर वार करते हुए योगी ने कहा कि आतंकवादियों के प्रति सहानुभूति रखना और जवानों की शहादत पर प्रश्न खड़ा करना देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करना नहीं तो और क्या है? उन्होंने कहा कि ऐसा पहली बार हुआ है, जब आतंकवादियों को सही जवाब देने के लिए जिस दृढ़ इच्छाशक्ति का परिचय भारत के राजनीतिक नेतृत्व में दिखना चाहिए था, प्रधानमंत्री मोदी जी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने करके दिखाया। इस अवसर पर विधायक तरब गंज प्रेम नारायण पांडेय ,मंत्री अनुपमा जायसवाल ,राजा भैया ,ब्रजभूषण सरण सिंह ,जिला अध्यक्ष हिन्दू युवा वाहनी शारदा कांत पांडेय अपनी टीम के साथ ,सदर विधायक प्रतीक भूषण सिंह सहित ,जिला अध्यक्ष पीयूष मिश्र अपनी टीम के साथ, जिला अध्यक्ष युवा मोर्चा दीपक गुप्ता अपनी टीम के साथ वही कई पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं सहित महिला कार्यकर्ता भी उपस्थित रही ।

No comments:

Post a Comment