Sunday, July 14, 2019

कोटेदारों की मनमर्जी का शिकार होते ग्रामीण

गोंडा -जिले के रूपईडीह विकास खंड के अनेगी ग्राम पंचायत मे एक ऐसा मामला प्रकाश मे आया है ।जहॉ ग्राम पंचायत का कोटा व प्रधानी एक ही घर मे है ।बाबा के नाम कोटा व पौत्र के नाम प्रधानी ।जिसके कारण जब मन करता है तब लोगो को राशन देता है ।कोई आवाज उठाता है तो उसका कार्ड कटवा देता है ।खुलेआम मनमानी करता है ।जिसके वजह गॉव के गरीबो के राशन पर खुलेआम डाका डाल रहा है ।शिकायत करने पर जांच के नाम पर अधिकारी ले दे कर खाना पूर्ति कर लेते है ।मामला धीरे धीरे   तूल पकड़ता जा रहा है ।कोटेदार की कार्यप्रणाली से राशन कार्ड काफी आक्रोश है ।जब हमारी संवाददाता की टीम गांवो मे पहुंची तो गांव के लोगो ने जिस तरह कोटेदार के बारे मे बयान दिया ।एक बार बिस्वास नही हुआ कि योगी राज मे भी इस तरह कोटेदार की मनमानी जब जिसको चाहे राशन दे ।कोई कुछ बोले तो उसका कार्ड कटवा दिया जाता है ।इससे कार्ड धारक काफी परेशान है ।इस बारे मे प्रमिला देवी ,नंद कुमार ,राधेश्याम ,माया देवी ,अमीना ,रजकला ,गीता देवी ,रीना देवी ,शीला देवी ,रामा देवी ,सरला देवी ,मंजू देवी ,गजावती ,सुगना ,अर्जुन प्रसाद ,रीता देवी ,शीला देवी ,हीरा लाल ,जय राम ,दशरथ लाल राम कृपाल ,विश्राम ,मुनि प्रसाद ,राम बहाल ,अनिल कुमार ,मुंशी पाल ,सुरेश कुमार ,हनुमंत लाल जैसे सैकड़ो ग्रामीणो ने कोटेदारो की मनमानी की दास्तान बतायी उससे स्पष्ट है कि कोटेदार वास्तव मे अपनी मनमानी कर रहा है ।वही अधिकारियो व नेताओ का हाथ है इसलिए कार्यवाही न होने से ग्रामीणो मे आक्रोश बढता जा रहा है ।यह मनमानी इसलिए भी लगातार जारी है जब प्रधान व कोटेदार एक घर के है ।तो शिकायत कौन करे और कौन सुने ।वही कोटेदार महादेव प्रसाद का कोटा निरस्त होके खुलीबैठक मे दूसरे के नाम चयन हो गया था ।उसके बाद पता नही कहॉ से जुगाड करके महादेव प्रसाद ने कोटा बहाल करवा लिया ।सरकार जो भी योजना बनाती है कि आम लोग का भला हो ।आम लोग का भला न होकर केवल कुछ लोगे केवल भले तक सीमित रह जाता है ।इस बिषय मे सदर तहसील गोण्डा इंस्पेक्टर से बात किया गया तो उन्होंने बताया कि कोटेदार संदिग्ध है ।जांच की जाएगी ।वही आम जन मानस के लिए जानकारी दी जिन लोगो का कार्ड कट गया वे अपनी पूरी जानकारी लोकवाणी /सीएससी केन्द्र के माध्यम दर्ज कराकर पूर्ति कार्यालय मे जमा करा दे उनका कार्ड निशुल्क फीड करा दिया जाएगा ।किसी भी प्रकार की कोई शुल्क देने की आवश्यकता नही है ।

No comments:

Post a Comment