Saturday, July 6, 2019

झूठी शान के लिए गोली मारकर युवती की हत्या

ग्रेटर नोएडा के दस्तमपुर गांव की रहने वाली निशा पुत्री ने अपने सुनहरे जीवन के लिए तमाम सपने बुने थे और ग्राम धनसिया निवासी सुनील कुमार अपना जीवन साथी चुना और चुपचाप जून-2018 में दोनों ने अदालत में विवाह कर सात जन्मों तक साथ निभाने की कसमें खाई थी। लेकिन गुरुवार की रात अपनी झूठी इज्जत की खातिर निशा के परिवार वालों ने गोली मारकर उसकी हत्या कर दी। ऐसा आरोप युवती के पति ने लगाया है। इस बाबत उसने जेवर थाने में पत्नी की हत्या के लिए ससुराल के आठ लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। जिसके साथ सात जन्मों तक साथ निभाने की कसमें खाई थी, उसकी यादे तस्वीर में सिमट का रह गयी है। मृतका निशा के पति सुनील कुमार बताते है की दोनों के प्रेम 18 जून-2018 को कोर्ट में शादी की थी। उस वक्त दोनों बालिग थे। उसकी शादी से निशा के भाई संदीप, सुशील, चाचा सत्य प्रकाश, जीजा ऋषि और पिता देवीरण खुश नहीं थे। वे आए दिन निशा को मारते-पीटते थे और परेशान करते थे। वे उसे भी मारने की धमकी देते थे।  हालांकि उसके घर वालों ने निशा को अपना लिया था। वह कभी ससुराल और कभी मायके रहती थी। बीते एक माह से वह अपने मायके में ही थी।इस बीच दस्तमपुर में पप्पी की लड़की की शादी की तैयारियां चल रही हैं। उसमें रोज की तरह गुरुवार को भी निशा अपनी मां उषा के साथ गई थी। इस बात की जानकारी निशा के गांव के रतनपाल, चाचा राजेश, उनकी पत्नी पुष्पा, चाचा सत्तू और उनकी पत्नी सरोज को थी। मृतका निशा के पति का आरोप है कि निशा की हत्या की साजिश जीजा ऋषि, भाई संदीप, सुशील, चाचा राजेश, सत्तू उर्फ सत्यप्रकाश और मां उषा देवी ने राजेश के रची। राजेश का घर निशा के घर के पीछे है। उसी साजिश के तहत गुरुवार की रात करीब 12 बजे ऋषि, संदीप, सुशील, राजेश, मां उषा और चाची पुष्पा ने निशा को छत पर अकेला घेर लिया और गोली मारकर उसकी हत्या कर दी। गोली की आवाज सुनकर मौके पर कुलदीप पुत्र कुंवरपाल पहुंचा। उसने आरोपियों को भागते हुए देखा। इसी बीच वहां भीड़ जमा हो गई। गांव के लोगों ने ही पुलिस को फोन कर घटना की जानकारी दी। पुलिस अधिकारियों का कहना है प्रथमदृष्टया निशा की हत्या गोली मारकर की गई है। इस बाबत एफआईआर दर्ज की गई है। पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है। शीघ्र ही वे पुलिस की गिरफ्त में होंगे। निशा के मौत के सुनील काफी डरा हुआ है उसे अपनी जान का डर सता रहा है उसका कहना है कि उसे भी कई बार जान से मारने की धमकी मिल रही है। इसलिए आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई कर उसे भी सुरक्षा दी जाए।

No comments:

Post a Comment