Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Thursday, 29 August 2019

नोएडा में फर्जी खबर चलाने और वसूली के आरोपी पत्रकारों से पुलिस ने उगलवाये कई राज

नोएडा में न्यूज़ पोर्टल पर फर्जी खबरें चलाने के आरोप में 24 अगस्त को चार पत्रकारों को गिरफ्तार किया गया था जिसके बाद उनसे पूछताछ जारी थी इसी बीच एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है जिसमें पुलिस उनके कुछ साथियों पर भी कार्रवाई करने का मन बना रही है बताते चलें कि अभी एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ आज इसमें पुलिसकर्मी से थाने का चार्ज दिलाने के नाम पर ₹200000 वसूलने की बातचीत हो रही थी।
गिरफ्तार हुए गाजियाबाद के पत्रकार चलाई जा रही है अगर वीडियो में दोनों की आवाज सही पाई गई तो उक्त पुलिसकर्मी पर भी कार्यवाही हो सकती है जिसके बाद कई और पत्रकार व कई पुलिसकर्मी भी इस कार्रवाई के छेद में आ जाएंगे रिमांड पर लिए आरोपियों ने अपने कई पत्रकार साथियों और पुलिसकर्मियों के नाम भी उगले हैं ऐसे में अब कुछ और पत्रकारों पर कार्रवाई भी पुलिस कर सकती है उक्त पत्रकारों के ऑफिस मैं लैपटॉप पेन ड्राइव आदि बरामद सामानों की जांच की जा रही है बताते चलें कि पुलिस ने 5000 के इनामी पत्रकार रामू ठाकुर की तलाश में लखनऊ तक छापेमारी शुरू कर दी है लेकिन उक्त पत्रकार पुलिस की गिरफ्त में नहीं आ सका मिली जानकारी के अनुसार गैंगस्टर एक्ट में गिरफ्तार पत्रकार चंदन राय और उसके भाई राजेश राय के खिलाफ चार और मुकदमे दर्ज किए हैं आरोप है कि दोनों आरोपियों ने गाजियाबाद की आवास विकास योजना में फ्लैट दिलाने के नाम पर चार लोगों से करीब पौने ₹1000000 ठग लिए थे पीड़ितों की शिकायत पर फेस 3 पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
इसके अनुसार सेक्टर 63 छिजारसी कॉलोनी निवासी मनीष कुमार ने बताया कि उनके बेटे के जन्मदिन पर उनके दोस्त प्रेमशंकर ऋषि पाल सिंह से अविनाश चंद्र राजेश राय की मुलाकात हुई थी इसी दौरान उन्होंने प्लाट दिलाने की बात कर रुपए लिए थे ना तो प्लाट ही दिलाया और ना ही उन्होंने अभी तक वापस नहीं किए हैं

No comments:

Post a comment