Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Monday, 26 August 2019

किराया देने से बचने के लिए किराएदार ने खुद को मारी गोली

नई दिल्ली अभी कुछ दिनों पहले दिल्ली में एक मामला चर्चा में आया था जिसमें एक मकान मालिक ने एक किराएदार को किराया नहीं देने के एवज में गोली मार दी थी लेकिन जब पुलिस ने छानबीन की तो मामला कुछ अलग ही नजर आया जिसमें किराएदार ने अपने भाई की मदद से खुद को गोली मार ली थी जिससे उसे किराया ना देना पड़े पुलिस की छानबीन में यह मामला सामने आया है हालांकि इसमें कितनी सच्चाई है यह तो जांच पूरी होने के बाद ही पता चल पाएगा लेकिन आपको बताते चलें कि मामले की जानकारी होने पर  जब मौके पर पहुंची पुलिस को घायल किराएदार की बातों पर कुछ शक हुआ तो उससे सख्ती से पूछताछ की जिसमें उसने खुद को गोली मारने की बात कबूल कर ली उसके बाद पुलिस ने इस षड्यंत्र में  अपने भाई का साथ देने के आरोप में पुलिस ने उसके भाई को भी गिरफ्तार कर लिया है डीसीपी ने मीडिया को बताया कि यह फर्जी मुकदमा दर्ज कराने वाला सुमित बढ़ाना और उनके भाई नवीन बढ़ाना को शास्त्री नगर स्थित बहन के घर से गिरफ्तार कर लिया गया है नवीन पर साजिश में साथ देने का आरोप लगाते हुए पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी भी कर ली है बताते चलें कि यह दोनों भाई गुड़गांव के रहने वाले हैं और दिल्ली में पीजी का कारोबार करते हैं जिसमें वह लोगों को किराए पर कमरे देते हैं लेकिन कुछ समय से उनका पीजी का यह कारोबार थोड़ा मंदा चल रहा था जिसके कारण वह अपने मकान मालिक को एक साथ किराया नहीं दे पा रहा था जिसके दो चेक बाउंस हो गए थे इस बात से नाराज मकान मालिक का बेटा लगातार उनसे किराया मांगने पहुंचता था जिससे नाराज होकर सुमित ने 22 अगस्त से 10 दिन पहले राजस्थान के रहने वाले एक परिचित से एक पिस्टल मंगवाई  जिसके बाद साजिश रच कर उसने खुद को गोली मारी और मकान मालिक के बेटे पर गोली मारने का झूठा आरोप मढ़ दिया जिसके बाद उसने खुद ही पुलिस को सूचना दी किराएदार सुमित की शिकायत पर जब पुलिस ने जांच शुरू की तो उनकी बातें संदिग्ध लगी क्योंकि पुलिस ने जब  मुझसे लगातार पूछना शुरू की तब वह बार-बार अपने बयान बदलता रहा जिस पर पुलिस को शक हुआ और उसने सख्ती से पूछताछ शुरू की तब पूरे मामले का खुलासा हो सका जिसमें उसने स्वीकार किया कि उसने ही  किराए देने से बचने के लिए खुद को गोली मार कर मकान मालिक को फंसाने का षड्यंत्र रचा था

No comments:

Post a Comment