Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Friday, 23 August 2019

किसी को भी पैसा उधार देने से पहले ध्यान रखें यह बातें तो नहीं होगा नुकसान

बुजुर्गों में कहावत थी प्रेम गया पैसा गया और गया व्यवहार दर्शन दुर्लभ हो गए जब से दिया उधार यह आज के दौर के एक कड़वी सच्चाई है जिसमें अगर आपने अपने किसी संबंधी या रिश्तेदार को खास तौर पर अपने दोस्तों को कई परिस्थितियों में कुछ पैसे देने की जरूरत पड़ जाती है तो आपके पैसे फंस ना जाएं इसलिए कुछ बातों का ध्यान रखकर ही पैसे उधार दे जब आप किसी को अपने पैसे उधार के तौर पर देते हैं तो उससे सबसे पहले यह जरूर जानने की उसकी जरूरत की असली वजह क्या है साथी अगर कोई दूसरा विकल्प हो तो उसको सलाह दी जा सकती है इसलिए ठंडे दिमाग से गौर करके कोशिश करें उन्हें कोई उपाय सुझाव दें और यह सुनिश्चित करने की जो पैसा आप से उधार ले रहा है वह किसी गलत काम में तो यूज़ नहीं करेगा नहीं तो उसकी वजह से आपके रिश्ते में दरार भी पड़ सकती है जिसका नतीजा आने वाले समय में देखा जा सकता है पैसे के मामलों में भावनाओं को एक तरफ रख कर अपने जानने वाले को उधार देने से पहले अपनी सभी शर्तों को बता दें ताकि बाद में वह किसी तरीके की गलतफहमी में ना रहे उससे पैसे देने से पहले पैसे वापसी की बात करें यदि पैसा किस्तों में देने के लिए तैयार है तो उसकी अवधि पहले से ही तय कर ले साथ ही उधार देने के बाद उससे यार नहीं पूछना चाहिए कि वह उधार लिए हुए पैसे का क्या कर रहा है आप अपने पैसे देकर उससे बाद में कोई जानकारी ना लें नहीं तो बार-बार उसके बारे में बात करने से आपस में गलतफहमी और दरार की दीवार पड़ सकती है अगर उधार की रकम बड़ी है तो बेहतर है कि कोई भी हो उससे जरूरी दस्तावेजों पर साइन करवा ले और किसी भी व्यक्ति को उधार उसकी और अपनी क्षमता के अनुसार ही देना चाहिए बाद में पैसे मांगते वक्त कभी भी ताऊ में नहीं आए सुखी आप अपने किसी करीबी को ही पैसे उधार दे रहे हैं इसलिए उससे वापसी की समय सीमा भी तय कर लें और उसे ऐसा समझाएं कि आप निर्णय नहीं है बल्कि उसे ही पैसे वापस करने में आसानी होगी ताकि उसे कल किसी भी शर्मिंदगी का सामना ना करना पड़े एक बात और अपने सगे संबंधी को पैसा देकर ब्याज कभी भी नहीं लेना चाहिए हो सकता है कि वह अपने जरूरत के लिए आपको ब्याज देने की बात मान ले परंतु इसके साथ संबंध खराब हो सकते हैं याद रखें कि उसने यह लोन किसी बैंक से नहीं मांगा है बल्कि अपने जानने वाले से मांगा है एक बात और यह बात ठीक है कि आप अपने करीबी के काम आ रहे हैं लेकिन यह भी ध्यान रखें कि वह व्यक्ति उधार लेने की आपसे आदत ना बना ले नहीं तो वह आप पर निर्भर हो जाएगा और आपके पैसों की कदर नहीं करेगा क्योंकि उसे लगेगा कि जरूरत पड़ने पर आप उसको पैसे दे देंगे और जब दोबारा आप उसको पैसे नहीं देंगे तब वह आपसे नाराज हो जाएगा इसलिए रिश्तो में खटास ना आए इसलिए एक बार में ही उसे प्यार से समझा दे और बोल दे कि भाई मेरी भी मजबूरी है हम आपको बार-बार पैसे नहीं दे सकते किसी भी रिश्तेदार को कभी भी अकेले में पैसे उधार देने नहीं चाहिए चाहे उधार लेने वाला आपका भाई बहन ही क्यों ना हो पता करें कि आप उधार किसी मित्र या सगे संबंधी के मौजूदगी में ही दें लेकिन ध्यान दें ऐसे लोगों के सामने ही दें जिस पर यकीन हो कि यह बातें वह बाहर लिख नहीं करेगा इस तरीके से आप लोगों की मदद भी कर पाएंगे और अपना नुकसान भी नहीं होगा

No comments:

Post a Comment