Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Monday, 30 September 2019

सरकार की जनविरोधी मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ मजदूर संगठनों का ऐलान 8 जनवरी 2020 को करेंगे देश व्यापी आम हड़ताल सीटू




नोएडा, सरकार की जनविरोधी मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ और श्रम कानूनों में मजदूर विरोधी तथा उद्योगपतियों के पक्ष में किये जा रहे बदलाव और कोड को रदद करवाने, निजीकरण करने पर रोक, न्यूनतम वेतन 18000/- रूपया घोषित करवाने, आर्थिक मंदी को रोकने के लिए आर्थिक नीतियों को बदलवाने, नये रोजगार का सर्जन, ले आॅफ, छटनी, तालाबन्दी पर रोक लगवाने, रेहड़ी पटरी,रिक्शा, टेम्पो, घरेलू कामगार, आंगनवाड़ी, आशा, मिड डे मील असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को सामाजिक सुरक्षा देने आदि मांगों पर सीटू, एटक, इंटक, एच0एम0एस0 ए0आई0यू0टी0यू0सी0, टीयूसी, सेवा ऐक्टू एल0पी0एफ0, यू0टी0यू0सी, स्वंतंत्र फैडरेशनों, मजदूरों और कर्मचारियों की एसोसिएशनों और यूनियनों के संयुक्त आहावान पर मजदूरों का राष्ट्रीय कन्वेशन 30 सितम्बर 2019 को सांसद मार्ग नई दिल्ली पर हुआ ।



जिसमें मोदी सरकार की मजदूर विरोधी व जन विरोधी नीतियों के खिलाफ देशव्यापी बड़े आन्दोलन का ऐलान करते हुए मजदूर संगठनों ने 8 जनवरी 20 20 को देशव्यापी आम हड़ताल चक्का जाम करने का निर्णय कन्वेंशन में लिया।
कन्वेंशन को सीटू के राष्ट्रीय महासचिव कामरेड तपन सेन सहित विभिन्न ट्रेड यूनियन के राष्ट्रीय नेताओं ने संबोधित किया।
उक्त कन्वेंशन में जाने के लिए नोएडा सीटू कार्यकर्ता भंगेल सीटू कार्यालय पर इकट्ठा हुए और वहां से नारे लगाते हुए दिल्ली के लिए कूच किया और मेट्रो स्टेशन सेक्टर 15 नोएडा पर सभा कर सीटू नेता गंगेश्वर दत्त शर्मा, मदन प्रसाद, राम स्वारथ, राजकरण सिंह, इशरत जहां, रामदीन, बटेश्वर, हुकम सिंह, धर्मेंद्र गौतम, रंजीत तिवारी आदि के नेतृत्व में सैकड़ों मजदूरों ने दिल्ली मजदूरों के राष्ट्रीय सम्मेलन में हिस्सा लिया।
गंगेश्वर दत्त शर्मा


No comments:

Post a comment