Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Monday, 16 September 2019

प्रतापगढ़ में ब्लॉक स्तरीय भाषण प्रतियोगिता संपन्न



रानीगंज / प्रतापगढ़आज दिनांक 16 सितंबर 2019 को नेहरू युवा केंद्र प्रतापगढ़ के निर्देश के क्रम में विकासखंड गौरा अंतर्गत डॉ रामचंद्र शुक्ल विधि महाविद्यालय फतेहपुर रानीगंज में देशभक्ति एवं राष्ट्र निर्माण विषय पर भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया । कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए ब्लॉक गौरा के एनवाईके  स्वयंसेवक विकास मिश्र ने नेहरू युवा केंद्र द्वारा चलाए जा रहे भाषण प्रतियोगिता के नियम व शर्तों की जानकारी दी । कार्यक्रम में अतिथि के रुप में उपस्थित प्राचार्य डॉक्टर सुनील पांडेय ने कहा कि युवा ही देश के भविष्य हैं जिनको स्वस्थ और शिक्षित होकर प्रतिस्पर्धी वातावरण के माध्यम से देश का नेतृत्व करने के लिए आगे आना चाहिए यदि देश का युवा जाति रंग भाषा भेदभाव समानता और शोषण मुक्त देश की कल्पना करते हैं तो हमारा देश निश्चित रूप से समृद्ध और विकसित देश बन सकेगा । विशिष्ट अतिथि के रुप में उपस्थित दिनेश कुमार मिश्र ने कहा कि युवा शिक्षा रोजगार और सशक्तिकरण के माध्यम से राष्ट्र के प्रगति में अहम योगदान देते हैं ।अधिवक्ता संदीप तिवारी ने प्रतिभागियों का  उत्साह वर्धन करते हुए कहा कि युवाओं में शैक्षिक ज्ञान के साथ साथ बौद्धिक क्षमता का भी विकास होना चाहिए जिससे युवा अपने विचारों के माध्यम से देश के विकास में योगदान दे सकें ।कार्यक्रम का संचालन करते हुए एडवोकेट अनिल पांडे ने कहा कि बदलते सामाजिक वातावरण में आज का युवा राष्ट्र की संस्कृति और संस्कार को धारण करने के बजाए समाज की कुरीतियों में लिप्त हो रहा है जो बहुत ही चिंता का विषय है हम सभी नागरिकों का यह कर्तव्य है कि सामाजिक कार्यों के लिए प्रेरित कर युवाओं में अशिक्षा भ्रष्टाचार नशाखोरी को त्याग कर पर्यावरण जल संरक्षण का कार्य कर राष्ट्र निर्माण में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करनी चाहिए।कार्यक्रम में सूरज उपाध्याय गरिमा पांडेय संदीप तिवारी प्रिया मिश्र काजल बिंद शिवानी यादव ने संबंधित विषय पर अपने विचार व्यक्त किए । इस दौरान डॉ दीप्ति पांडेय डॉ रितिका श्रीवास्तव लाल बहादुर पटेल पूर्णमासी प्रजापति  रामलाल सरोज मनीष सोनी विनीत पांडेय राघवेन्द्र सिंह गीता यादव रेखा सिंह सुनीता हृदय नारायण पांडेय आदि  लोग उपस्थित रहे।
अनिल पांडे

No comments:

Post a Comment