Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Thursday, 3 October 2019

7 अस्त्रों से होगा अब प्रदूषण पर वार






दिल्ली एनसीआर में इस बार की सर्दी में पढ़ने वाले प्रदूषण पर केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने 7 सूत्रीय एक्शन प्लान तैयार कर लिया है जिसके आप दिवाली के समय बढ़ने वाले प्रदूषण पर इतिहास बढ़ते हुए प्रदूषण फैलाने से रोकने के लिए प्रशासन सघन निगरानी करेगा
प्रदूषण पर पहला वार पाक्षिक एक्शन प्लान
15 अक्टूबर से 15 मार्च की अवधि के दौरान बीच-बीच में प्रदूषण बढ़ने की वजह बदलती रहती हैं इसलिए इस बार 1515 दिन का पाक्षिक एक्शन प्लान बनाकर प्रदूषण पर वार किया जाएगा जिस पखवाड़े में जिस तरह से उपाय करने की जरूरत होगी उसी के अनुसार प्लान तैयार होगा ।
जमीनी स्तर पर निरीक्षण और कार्यवाही
पीसीसीबी ने वायु गुणवत्ता निगरानी के लिए कुछ टीमें बनाई है यह टीमें दिल्ली एनसीआर के विभिन्न प्रदूषित स्थानों का निरीक्षण करेंगी और स्थानीय स्तर पर कार्यवाही भी सुनिश्चित कराएंगे।
सर्वाधिक प्रदूषण क्षेत्रों के लिए माइक्रो लेवल एक्शन प्लान
दिल्ली एनसीआर में 13 हॉटस्पॉट चिन्हित किए गए हैं इनके लिए माइक्रो लेवल एक्शन प्लान बनाए गए हैं जिससे वहां प्रदूषण फैलाने वाले छोटे से छोटे कारण का पता लगाकर पूरी तैयारी के साथ वार किया जा सके और वहां के प्रदूषण को कम किया जा सके।
सोशल मीडिया शिकायत विश्लेषण
सोशल मीडिया का उपयोग सीपीसीबी ने 2018 में भी किया था इस बार भी सभी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और स्थानीय निकायों को ट्विटर फेसबुक व्हाट्सएप पर सक्रिय हो जाने के निर्देश जारी किए गए हैं और सभी को स्पष्ट निर्देश है कि सोशल मीडिया पर आने वाली सभी शिकायतों पर गंभीरता से कार्यवाही की जाए इस गंभीरता पर सीपीसीबी लगातार स्वयं निगरानी रखेगा और स्थिति का विश्लेषण करेगा।
शक्ति के लिए एजेंसियों के साथ तालमेल
प्रदूषण फैलाने वालों के खिलाफ प्रशासन सख्ती के मूड में है कार्रवाई करने के लिए उसने सभी बोर्डों स्थानीय निकायों पुलिस और अन्य एजेंसियों को भी आपसी समन्वय बनाए रखने के लिए कहा है।
प्रदूषण के खिलाफ जनभागीदारी
प्रदूषण नहीं फैले इसके लिए स्कूल कालेजों के विद्यार्थियों सहित आरडब्लूए संगठनों के साथ संवाद भी स्थापित किया जाएगा और जन जागरूकता अभियान भी चलाया जाएगा
दिवाली के दौरान निगरानी एवं प्रबंधन
इस बार सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुपालन करने के लिए यह तय किया गया है कि केवल ग्रीन पटाखे ही चलाए जाएंगे और पटाखे जलाने के लिए निर्धारित समय अवधि का भी सख्ती से पालन सुनिश्चित किया जाएगा जो व्यक्ति इन नियमों को पालन नहीं करेगा उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी

No comments:

Post a comment