Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Tuesday, 8 October 2019

ग्राम पंचायत और पीडब्ल्यूडी के मनमानी के कारण जनता परेशान







 बदायूं-- एक ओर सरकार जनता को भयमुक्त और विकास युक्त वातावरण मुहैया करा रही है वहीं उसके अधीनस्थ अधिकारी कर्मचारी जनता का दुख दर्द समझने की कोशिश नहीं कर रहे योगी सरकार का फरमान गड्ढा मुक्त यूपी का बदायूं पीडब्ल्यूडी विभाग नहीं जानता यहां सिर्फ इन्हीं लोगों की मनमानी चलती है क्योंकि 2017--2018   में उझानी संपर्क मार्ग से ग्राम पंचायत रिसौली तक इस सड़क का निर्माण कार्य   जो ग्राम पंचायत मिहोना से पृथ्वी नगला रिसौली तक कराया गया दो 4 महीने बाद सड़क सुता उखाड़ने लगी उस समय शिकायत करने के उपरांत विभाग द्वारा मरम्मत कराई गई पर एक बात निश्चित है की सड़क का निर्माण घटिया सामग्री द्वारा कराया गया था  इस रास्ते से गुजरने वाले आम जनता को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है आईजीआरएस संख्या40014919020552 शिकायत पर अधिशासी अभियंता निर्माण खंड दो लोक निर्माण विभाग बदायूं द्वारा जो रिपोर्ट लगाई गई है की  ग्रामीण क्षेत्रों की सड़क मरम्मत  को शासन से धन की मांग की गई है धन मिलने के उपरांत मरम्मत कार्य कराया जाएगा जिस सड़क का निर्माण एक दो साल पहले हुआ है क्या इतनी जल्दी वह सड़क उखड़ जानी चाहिए सरकार और जनता  की मेहनत और खून पसीने की कमाई इस तरह ठेकेदारों द्वारा बर्बाद की जा रही है सरकार इस पर ध्यान दें एक शिकायत में ग्राम पंचायत नाली निर्माण के बात की गई थी उसने भी सचिव उझानी विकासखंड द्वारा रिपोर्ट लगा दी गई की शासन से धन आने पर नाली निर्माण करा दी जाएगी लेकिन रास्ता का निर्माण पीडब्ल्यूडी या अन्य किसी विभाग से हो सकती है ग्राम पंचायत द्वारा नहीं किया जा सकता परंतु ग्राम पंचायत का जो अधिकार है नाली निर्माण कराना वह ठीक नहीं कराया जा रहा है ऐसी स्थिति में प्रधान सचिव सहित जनपद के अन्य अधिकारियों पर प्रश्न चिन्ह लग रहा है मुख्य मार्ग की नालियां इस तरह बनाई जाती हैं की दो 4 महीने में ही टूट जाती है ग्राम पंचायत  मिहोना सचिव द्वारा रिपोर्ट लगाई गई थी 4 महीना बीतने के उपरांत भी उस मुख्य मार्ग की नालियों की मरम्मत तक नहीं की गई है आखिर ग्राम पंचायत और पीडब्ल्यूडी के चक्कर में भोली भाली जनता को कितना कष्ट होता है यह शायद यहां का जिला प्रशासन समझने की कोशिश करें इतना ही नहीं इस रास्ते से सैकड़ों की संख्या में प्रतिदिन छात्र-छात्राएं शिक्षा अध्ययन के लिए आते जाते हैं विभाग या जिला प्रशासन इस सड़क मरम्मत का कार्य जल्द कराने की व्यवस्था करें जिससे आम जनता के लिए दिक्कतों का सामना ना करना पड़े और ऐसे ठेकेदारों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई भी करें कि एक 2 साल में सड़क उखड़ने लगती है तो घोटाला निश्चित किया जा रहा है

ब्यूरो रिपोर्ट
गोविंद सिंह राणा बदायूं

No comments:

Post a Comment