Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Wednesday, 9 October 2019

स्वस्तिकासन आपके शरीर को करता है रोगों से मुक्त

रामजी पांडे

स्वस्तिकासन एक ऐसा आसन है जो हमारे शरीर के सभी रोगों से हमें मुक्त करता है यह आसन हमारी एकाग्रता के लिए भी श्रेष्ठ माना गया है इस आसन को करने में घुटने और जांघ के बीच दोनों पैरों के तलवे को लगाया जाता है और गर्दन छाती तथा रीढ़ को सीधा रखा जाता है आराम से सुखासन में बैठकर सहज स्वास के साथ दाएं पैर को मोड़कर बाएं घुटने के बीच और बाएं पैर को मोड़कर दाएं घुटने के बीच रखकर इस प्रकार दोनों पैरों के पंजे घुटनों के अंदर चले जाएं अब दोनों हाथों की तर्जनी और अंगूठे के शीर्ष को मिलाकर ज्ञान मुद्रा बनाएं मध्यमा अनामिका और कनिष्ठा अंगुलियों को सीधा रखें और हथेली को घुटनों पर टिका कर घुटनों को जमीन से सटाकर रखें अब अपनी नजर नाक के अगले हिस्से पर प्रेषित करें कुछ पल बाद सांस भरकर रोक ले इस अवस्था में यथाशक्ति रुकने के बाद सांस धीरे-धीरे छोड़ते हुए पुरवा अवस्था में आ जाएं यह लगभग 20 मिनट तक करें और बिल्कुल ना करें।

No comments:

Post a Comment