Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Saturday, 23 November 2019

किशनगढ़ में समग्र शिक्षा अभियान के तहत शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम निष्ठा का हुआ समापन



किशनगढ़। समग्र शिक्षा अभियान के तहत ब्लॉक स्तरीय गैर आवासीय पांच दिवसीय एकीकृत शिक्षक- प्रशिक्षण कार्यक्रम 'निष्ठा' शनिवार को श्रीराम बगीची, सरसुरा में संपन्न हुआ। तृतीय चरण के अंतिम दिवस संभागीयों के मध्य बोलते हुए शिविर प्रभारी एवं प्रधानाचार्य सरसुरा किरण बारहठ ने कहा, कि बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षण और अधिगम के अवसर प्रदान करने के लिए विद्यालय और शिक्षकों को अत्यधिक मेहनत के साथ अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए।

 उन्होंने उपस्थित संभागी एवं दक्ष प्रशिक्षकों को यह भी बताया , कि राजस्थान में शिक्षा की गुणवत्ता सुधारना एवं विद्यार्थियों के नामांकन में वृद्धि करना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है।बारहठने संदर्भ व्यक्तियों एवं दक्ष प्रशिक्षकों के साथ शिविर में संचालित विभिन्न ग्रुपों में जाकर शिक्षण गतिविधियों एवं शिविर संबंधी अन्य व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया ।कार्यक्रम समापन के अंतिम सत्र को संबोधित करते हुए मुख्य दक्ष प्रशिक्षक जगमाल गुर्जर ने अपने उद्बोधन में उपस्थित प्रशिक्षणार्थियों से कहा कि आशा है, कि' निष्ठा' शिक्षक- प्रशिक्षण कार्यक्रम शिक्षकों को शिक्षा के क्षेत्र में नवाचार अपनाने के लिए प्रेरित करेगा एवं शिक्षा के स्तर को ऊंचा उठाने में भी सहायक सिद्ध होगा।


और तो और यह प्रशिक्षण मॉड्यूल संस्था प्रधानों एवं शिक्षकों के लिए एक पथ- प्रदर्शक का दायित्व भी पूरा करेगा ।  इस अवसर पर संदर्भ व्यक्तियों के अलावा दक्ष प्रशिक्षकों एवं प्रशिक्षणार्थियों ने भी पांच दिवसीय शिविर के दौरान सीखी गई विधाओं, नावा चारों एवं शिविर संबंधी व्यवस्थाओं को लेकर पृथक- पृथक रूप से अपने विचार प्रकट किए । गौरतलब है, कि शिक्षक शिक्षा के विकास एवं उत्कृष्ट शिक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए विद्यालय के संस्था प्रधानों एवं शिक्षक- शिक्षिकाओं की समग्र उन्नति के लिए ही 'राष्ट्रीय पहल' के रूप में' निष्ठा' कार्यक्रम संपूर्ण राज्य में विभिन्न जिला एवं उपखंड मुख्यालय पर समग्र शिक्षा अभियान के तत्वाधान में बड़े पैमाने पर संचालित किया जा रहा है।संदर्भ व्यक्ति चंद्रशेखर शर्मा ने बताया कि शिविर में 124 आमंत्रित संभागीयों में से कुल 116 संभागी ही शिक्षक प्रशिक्षण में शामिल हुए।  शर्मा अनुसार एकीकृत शिक्षक- प्रशिक्षण कार्यक्रम 'निष्ठा 'के तहत चतुर्थ चरण का प्रशिक्षण 26 नवंबर से 30 नवंबर के बीच श्रीराम बगीची, सरसुरा में ही आयोजित किया जाएगा ।संदर्भ व्यक्ति एवं शिविर सह- प्रभारी राजेंद्र कुमार कुम्हार ने बताया कि 5 दिवसीय शिक्षक- प्रशिक्षण में मुख्य दक्ष- प्रशिक्षक जगमाल गुर्जर एवं दक्ष प्रशिक्षक नरेंद्र चौधरी,  रोशनलाल, उमाशंकर शर्मा, नरेंद्र कुमार वैष्णव एवं सुश्री रेखा बघेल द्वारा प्रशिक्षणार्थियों को नवाचारों से युक्त टी. एल. एम. तथा गतिविधि आधारित प्रशिक्षण प्रदान किया गया। शिविर सत्रांत प्रशिक्षणार्थियों को' निष्ठा' दिशा- निर्देशक पुस्तिकाएं भी वितरित की गई। समापन अवसर पर संदर्भ व्यक्ति राजेंद्र कुमार कुम्हार, ओम प्रकाश शर्मा, प्रेमचंद शर्मा, अशोक कुमार यादव ,पवन कुमार शर्मा संदर्भ व्यक्ति (सीडब्ल्यूएसएन)चंद्रशेखर शर्मा सहित कंट्रोल रूम प्रभारी श्योजी राम जाट(थल) सुरेश कुमार वैष्णव(चौकी की ढाणी) सतीश कुमार शर्मा(झोल की ढाणी ) एवं आलोक शर्मा ( सुरसुरा)आदि भी उपस्थित थे।

No comments:

Post a comment