Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Thursday, 23 January 2020

बदायूँ के उजानी में अखिल भारतीय गायत्री परिवार ने मनाया सुभाष चंद्र बोस की 124वीं जयंती



उझानी: अखिल विश्व गायत्री परिवार के तत्त्वावधान में मुहल्ला श्रीनारायणगंज स्थित प्रखर बाल संस्कारशाला के कैंप कार्यालय पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 124वीं जयंती पर शिक्षक शिक्षिकाओं ने सुभाष चंद्र बोस के चित्र पर पुष्पार्चना किया। मेधावी बच्चों को सम्मानित किया गया।
गायत्री परिवार के संजीव कुमार शर्मा ने कहा कि नेताजी देश की स्वाधीनता के सजग सिपाही थे। अंग्रेजों से लोहा लेने के लिए आजाद हिन्द फौज बनाई। मातृभूमि की रक्षा के लिए देश के युवाओं में नई ऊर्जा भरी। नेताजी ने जयहिन्द और तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आजादी दूंगा का नारा देकर युवाओं में अभूूतपूर्व उत्साह जगाया और नई ऊर्जा का संचार किया।
मृत्युंजय शर्मा ने कहा कि युवा राष्ट्र की महाशक्ति हैं। बुलंदी का मार्ग प्रशस्त करने के लिए युवा देशसेवा के समर्पित रहें।
मेधावी बच्चों को युग ऋषि वेदमूर्ति तपोनिष्ठ पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य का सद्साहित्य देकर सम्मानित किया। इस मौके पर नितिन, सूरज, केशव, सौम्या, दीप्ति, हेमंत, भूमि, राधिका आदि मौजूद रहीं।

इधर श्रीओम प्रकाश शर्मा इंटर काॅलेज अब्दुल्लागंज में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 124वीं जयंती पर शिक्षक-शिक्षकाओं ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस के चित्र पर पुष्पार्चन किया। बच्चों ने देशभक्तों, क्रांतिकारियों और महापुरूषों का शानदार अभिनय किए।
प्रधानाचार्य आरपी सिंह ने कहा कि देश पर आने वाले संकट और चुनौतियों में नेताजी का महान व्यक्तित्व युवाओं का पथ प्रदर्शक बना और उन्हें दिशाबोध कराया।
शिक्षक अजब सिंह यादव ने कहा कि नेता जी नेे युग शिल्पी, कुशल योद्धा, विचारक और लेखक के रूप में राष्ट्र का मार्गदर्शन किया।
शिक्षिका पूजा साहू, नीलोफर और निधि शर्मा के नेतृत्व में बच्चों ने देशभक्ति गीत, लोकगीत, भजनों की शानदार प्रस्तुति दी। सर्वश्रेष्ठ स्थान पाने वाले बच्चों को शिक्षक मनोज कुमार, रवीश शर्मा, सुरेश पाल सिंह और शिक्षिका सुमन सक्सेना ने सम्मानित किया।
इस मौके पर दीपिका यादव, स्नेहा सिंह, विदुषी, पूर्णिमा सक्सेना, शिवानी पाल, रेनू शर्मा, रवीश शर्मा, रामस्नेही, रश्मि यादव, अश्मि उपाध्याय, नेम प्रकाश, सीमा गुप्ता, विपिन मिश्रा, कुशलकांत आदि मौजूद रहे।

No comments:

Post a comment