Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Monday, 29 June 2020

अत्यावश्यक सेवाओं को लेकर जिला कलेक्ट्रेट में आयोजित हुई बैठक


सवाईमाधोपुर@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। जिले के 935 किसानों को 31 जुलाई तक कृषि विद्युत कनेक्शन मिल जायेंगे। जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया ने सोमवार को कलेक्ट्रेट में आयोजित आवश्यक सेवाओं की बैठक की अध्यक्षता करते हुये जेवीवीएनएल अधीक्षण अभियन्ता को निर्देश दिये कि 31 जुलाई का इन्तजार न करते हुये साप्ताहिक लक्ष्य बनाकर प्रगति अर्जित करे ,ताकि गुणवत्ता बनी रहे और शुरूआती मानसून कमजोर रहे तो सम्बंधित किसान सिंचाई का लाभ उठा सके।
जिला कलेक्टर ने पूर्व बैठक में निर्देश दिये थे कि विद्युत ट्रांसफार्मरों को बेस बनाकर धरातल से ऊपर रखवाया जाये ताकि मानसून के कारण पानी टच होने से करंट जैसी दुर्घटना से बचा जा सके। अधीक्षण अभियन्ता ने बताया कि निर्देश की पालना में ऐसे ट्रांसफार्मर चिन्हित कर अधिकांश को बेस बनवाकर शिफ्ट कर दिया गया है, झूलते और क्षतिग्रस्त तारों, पोलों की मरम्मत की जा रही है। मार्च के प्रथम सप्ताह में आंधी तूफान से क्षतिग्रस्त बिजली लाइन, ट्रांसफार्मरों की मरम्मत/रिप्लेस कर बहुत कम समय में सैंकडों गांवों में वि़द्युत आपूर्ति की बहाली की गई लेकिन खण्डार के कुछ गांवों में अभी भी यह कार्य पूर्ण नहीं हुआ है। जिला कलेक्टर ने यह कार्य जल्द से जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिये।
 *टिड्डी नियंत्रण प्राथमिकता* - जिला कलेक्टर ने कृषि विभाग के अधिकारियों को चेताया  कि आने वाले समय में टिड्डी नियंत्रण में अधिक चुनौती आ सकती है क्योंकि अब तक तो अधिकांश खेत खाली पडे थे। अब खरीफ की बुआई शुरू हो चुकी है और नमी और पानी की अधिक उपलब्धता से टिड्डियों में प्रजनन बढेगा। अपने संसाधन और कार्ययोजना को अपडेट रखें, पडौसी जिलों के अधिकारियों से समन्वय रखे। उल्लेखनीय है कि 2 दिन पहले जिले में दौसा और टोंक से टिड्डी दल आये थे जो क्रमशः करौली और मध्यप्रदेश प्रवास कर गये।
 *टीकाकरण में तेजी लायें-* जिला कलेक्टर ने बताया कि कोरोना नियंत्रण में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की पूरी शक्ति झौंक देने के कारण मार्च, अप्रेल और मई में बच्चों और गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण में हम कुछ पीछे रह गये। यह ट्रेंड पूरी दुनिया में देखा गया है। अब गत 1 माह में हमने टीकाकरण पर काफी फोकस कर अच्छी प्रगति अर्जित की है, इस प्रगति को जारी रखा जायेगा। उन्होंने जननी सुरक्षा योजना में भुगतान के लम्बित प्रकरणों को जल्द निपटाने के निर्देश दिये। जिला कलेक्टर ने मौसमी बीमारियों पर नियंत्रण के लिये पूरी तैयारी करने, मच्छररोधी गतिविधियों को प्रत्येक गांव-ढाणी में करवाने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना एवं मुख्यमंत्री निःशुल्क जॉंच जांच योजना की गत सप्ताह की प्रगति समीक्षा कर निर्देश दिए कि उपलब्ध दवा पर ऑनलाइन नजर रखें, ऐसा न हो कि कोई दवा भण्डार में रखी-रखी एक्सपायर हो जाये ।
 *गंगापुर के लिये विशेष कार्ययोजना* - गंगापुर सिटी और आसपास के क्षेत्र में अत्यधिक सतर्कता के बावजूद बढते कोरोना मामलों को लेकर जिला कलेक्टर बेहद चिन्तित हैं और यहॉं स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिये लगातार कार्ययोजना बनाई जा रही है जिसे 1-2 दिन में लागू किया जा सकता है। बैठक में इस कार्ययोजना पर जिला कलेक्टर ने चिकित्सा विभाग के अधिकारियों से विस्तृत चर्चा की तथा इस बैठक के बाद भी पृथक बैठक ली । नई कार्ययोजना में सैम्पलिंग और सर्वे का दायरा बढाना, सोशल डिस्टेसिंग के लिये समझाइश के लिये जागरूकता अभियान को तीव्र करना शामिल है।
 *2 दिन में काम पूरा करे –* रूडिप ने जिला मुख्यालय के पुराने बाजारों में सीवरेज लाइन के लिये सडकों को खोदा था लेकिन समय पर पुनर्निर्माण नहीं करवाया। इस पर जिला कलेक्टर ने बैठक में निर्देश दिये कि पुराने बाजार में मैनहोल का कार्य अधिकतम 2 दिन में पूर्ण कर सडक पुनर्निर्माण करवायें। जिला कलेक्टर ने नगरपरिषद आयुक्त रविन्द्र यादव को रेलवे स्टेशन के सामने स्थित नाले की सफाई करवाने के भी निर्देश दिये। उन्होंने भेड निष्क्रमण अभियान में भेडों और उनके पालकों की नियमित स्वास्थ्य जॉंच, भेडों के टीकाकरण, भेडपालकों को राशन वितरण , चैक पोस्ट पर मुस्तैदी रखने और कानून व्यवस्था के लिहाज से पुलिस से नियतिम सम्पर्क में रहने के निर्देश दिये।
काम को अटकायें नहीं:- जिला कलेक्टर ने निर्देश दिये कि सभी अधिकारी नियमित जनसुनवाई करें। अपने कार्य को समय पर पूरा करें। पटवारी लेवल का प्रकरण तहसीलदार के पास, एसडीएम लेवल का प्रकरण कलेक्टर के पास  न आये। केवल बजट सम्बधी मामले या जिला, राज्य स्तर पर निर्णय वाले मामलों को ही आगे रैफर करें। जमाबंदी, सीमाज्ञान, अतिक्रमण, हैंडपम्प मरम्मत जैसे मामले जिला कलेक्टर के पास आये तो सम्बन्धित अधिकारी की जिम्मेदारी तय की जायेगी। मुख्यमंत्री महोदय की जनसुनवाई, घोषणा पत्र, बजट घोषणाओं की प्रगति की भी बैठक में समीक्षा की गई। जिला कलेक्टर ने खरीफ को दृष्टिगत रखते हुये प्रमाणित बीज, खाद का पर्याप्त स्टॉक सुनिश्चित करने, पात्र किसानों को निःशुल्क बीज मिनी किट वितरित करने के निर्देश दिये। जिले में उडद के 900 और सोयाबीन के 100 उच्च क्वालिटी बीजों के मिनी किट किसानों को वितरित किये गये हैं।
ई-मित्र का लाइसंेस निरस्त- खण्डार के बालेर में मृतक का रजिस्ट्रेशन कर श्रमिक डायरी बनाने तथा मृत्यु तारीख में गडबडी कर राजकोष को 2 लाख रूपये चूना लगाने का समाचार शनिवार को एक अखबार में प्रकाशित हुआ था। जिला कलेक्टर ने श्रम कल्याण अधिकारी को से इस मामले में रिपोर्ट मांगी थी। प्रारम्भिक जॉंच में सामने आया कि ठेकेदार और ई-मित्र संचालक ने परिजनों की शह पर कथित घोटाले को अंजाम दिया। इस पर ई-मित्र संचालक का लाइसंेस निरस्त कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। बैठक में एडीएम बीएस पंवार, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुरेश कुमार, सवाईमाधोपुर एसडीएम रघुनाथ व अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

No comments:

Post a comment