Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Saturday, 8 August 2020

शिष्यो ने दी संत अमित सारस्वत को नमः आंखों से श्रद्धांजलि, हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए मुख्यमंत्री को देंगे ज्ञापन

सवाई माधोपुर@ रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। जिला मुख्यालय स्थित अखिल भारतीय योग विद्या प्रचार संघ परमहंस योगाश्रम में शनिवार को योग सेवा दल समिति की ओर से मां राधे देवी के सानिध्य में ब्रह्मचारी संत अमित सारस्वत महाराज की 8वीं पुण्यतिथि सोशल डिस्टेसिंग को ध्यान में रखते हुए मनाई गई।
राजेश सैनी के अनुसार सर्वप्रथम राष्ट्रीय अध्यक्ष डाॅ. एस सी गर्ग मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथि सैनी समाज जिलाध्यक्ष सचिन सैनी ने संत के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर माल्यार्पण किया। समिति की ओर से अतिथियों का माला पहनाकर सम्मान किया।
इसके बाद बारी बारी से उनके शिष्यों ने पुष्प अर्पित करते हुए नम आंखों से श्रद्धाजंलि दी। 
डॉ. गर्ग ने कहा की संत सारस्वत लोगों के दिलों में अभी भी जिंदा है, और रहेंगे। उन्होंने युवाओं को योग के प्रति आगे बढ़ाने के लिए योग की शिक्षा प्रदान की और उनके बताए मार्ग पर चलने का आह्वान किया और हम सब मिलकर उनके हत्यारो की गिरफ्तारी के लिए जयपुर जाकर ज्ञापन देंगे।
पं राधेश्याम पंसारी ने कहा की संत अमित सारस्वत हत्याकांड को आज 8 वर्ष हो चुके हैं लेकिन अभी तक प्रशासन ने चुप्पी साध रखी है। अगले वर्ष कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।
जिलाध्यक्ष सचिन सैनी ने कहा की अब आगामी दिनों में उनकी हत्यारो की गिरफ्तारी के लिए मुख्यमंत्री, जिला कलेक्टर, एवं एएसपी को लिखित में ज्ञापन देकर हत्यारो की गिरफ्तारी की मांग की जाएगी।
गिरिराज जिंदल ने कहा की जिस तरह उनकी हत्या जंगल में की गई और फिर सवाई के साथ साथ गंगापुर सिटी के लोगों ने भी संत हत्याकांड के खुलासे के लिए 3 माह तक धरने प्रदर्शन, सवाई बंद, जेल भरो आंदोलन, मशाल जुलूस किये लेकिन प्रशासन ने कोई जबाव नहीं दिया।
राजेश सैनी के अनुसार संत के हत्यारो की गिरफ्तारी के लिए महिलाओं ने भी पुरा साथ दिया और कई ज्ञापन देकर मांग की साथ ही गुलाबचंद कटारिया, डा किरोड़ी लाल मीणा, विधायक अशोक बैरवा ने भी प्रयास किए लेकिन दिलासे मिलें। 
संत सारस्वत संघर्ष समिति की ओर से 5 सूत्रीय मांग रखी गई जो निम्न हैं *1.संत हत्याकांड की जांच सीबीआई से हो। 2. नर्सरी तिराहै पर उनकी प्रतिमा लगाकर यहां का नामकरण उनके नाम पर हो। 3. सती माता की और जमीन दी जाए। 4. हत्यारो को फांसी दी जाए। 5. आश्रम की सुरक्षा के इंतजाम किए जाएं।* वह भी पूरी नही की गई। 
इसके बाद उपस्थित सभी भक्तों ने उनके समाधि स्थल पर श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस अवसर पर सैनी समाज जिलाध्यक्ष सचिन सैनी, गिर्राज जिंदल, सुरेशचंद जैन, योग साधक परिषद के अक्षय सिंहल, रामबाबू शर्मा, भवानी शंकर सैनी, योग सेवा दल समिति के कोषाध्यक्ष राजेश सैनी, प्रचार मंत्री जितेंद्र सैनी, कार्यक्रम संयोजक देवप्रकाश सैनी, रघुवर मथुरिया, रसुल कर्मावत, कृष्णगोविन्द सैनी, धर्मराज, प्रशांत, विनोद, विष्णु, गौरीशंकर सैनी, रामरतन पाठक सहित कई शिष्य मौजूद थे।

No comments:

Post a comment