Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Sunday, 27 September 2020

सुनीता वर्मा की भाजपा महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष पद से छुट्टी नाबालिक के साथ हुए बलात्कार में संलिप्तता का मामला tap news india

सवाई माधोपुर@ रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। भाजपा महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष सुनीता वर्मा की गिरफ्तारी के बाद भारतीय जनता पार्टी ने  तुरंत कार्रवाई करते हुए भाजपा महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष पद से सुनीता वर्मा उर्फ संपत्ति बाई की तत्काल प्रभाव से छुट्टी कर दी है। इस संबंध में सामाजिक एवं राजनीतिक रूप से किसी भी प्रकार की बदनामी एवं किरकिरी से बचने के लिए स्वयं भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ. भरत लाल मथुरिया ने इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए एक आदेश जारी कर वर्मा को महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष पद से हटा दिया है। डॉ. मथुरिया द्वारा यह कार्रवाई भाजपा प्रदेश संगठन के निर्देश मिलने के बाद अमल में लाई गई है। जिले में ग्राम पंचायत चुनाव के चलते भाजपा किसी भी प्रकार का रिस्क लेने के मूड में नहीं है, इसलिए आरोप साबित नहीं होने से पूर्व ही भाजपा जिलाध्यक्ष द्वारा आरोपी सुनीता वर्मा को महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष पद से तुरंत हटाने की कार्रवाई कर भाजपा ने अपना नाबालिक बलात्कार मामलें में अपना पल्ला झाड़ लिया है, ताकि पार्टी की गरिमा पर किसी भी प्रकार की आंच ना पाए, और विरोधियों को इस संबंध में बोलने का मौका मिल सके। ज्ञातव्य है कि, सुनीता वर्मा पर नाबालिग के साथ दुष्कर्म मामले में सहयोग का संगीन आरोप लगा है, जिसके चलते शनिवार शाम ही सुनीता वर्मा व उसके अन्य सहयोगी हीरालाल को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया।
गौरतलब है,की सवाई माधोपुर जिले की एक नाबालिग लड़की के साथ शादी का झांसा देकर उसके साथ रेप किए जाने का मामला विगत दिवस सामने आया था। पीड़िता के परिजनों की रिपोर्ट पर पुलिस ने मामला दर्ज कर पीड़िता के बयान को कलमबद्ध दर्ज किया। जिस पर नाबालिग बच्ची को बहला-फुसला कर जिस्मफरोशी के लिए मजबूर करने एवं रेप कराने के मामले में पुलिस ने भाजपा महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष सुनीता वर्मा उर्फ सम्पति बाई के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। साथ ही पीड़िता के परिजनों की दर्ज रिपोर्ट के अनुसार पुलिस ने सुनीता, पूजा और हीरालाल को आरोपी बनाया है।
पुलिस सूत्रों के अनुसार गत वर्ष अक्टूबर में पूजा ने नाबालिग पीड़िता का पीछा किया। आरोपी उसे जीवन सवांरने का झांसा देकर सुनीता के किराए के घर में ले गए। दिसम्बर माह में आरोपियों ने उसे एक होटल में भेजा जहां पर एक व्यक्ति ने उसके साथ रेप किया। पीड़िता के चिल्लाने पर उसे डराया व धमकाया गया। आरोपी महिलाओं ने उसे अश्लील फ़ोटो वायरल करने की भी धमकी दी।
रिपोर्ट के अनुसार दर्ज मामले में आरोपियों ने नाबालिग पीड़िता के साथ 8-10 बार रेप करवाया। साथ ही जयपुर में उसके साथ जिस्मफरोशी का सौदा भी कर लिया था। लेकिन पीड़िता आरोपियों के चंगुल से बच निकली। मामले का अनुसंधान पुलिस महिला प्रकोष्ठ उपाधीक्षक को सौंपा गया है।
रिपोर्ट दर्ज कराते समय पीड़िता ने आरोप लगाया है कि आरोपी सुनीता उर्फ सम्पति बाई वर्मा ने पीड़िता से बीस हजार रुपये की मांग की थी। जिस पर पीड़िता घर से चोरी की व रकम सौंप आई। इस मामले में नाबालिग पीड़ित के पिता ने जिले के एक थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने के प्रयास किया था लेकिन उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई। जबकि इसी मामले में भाजपा महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष सवाई माधोपुर सुनीता वर्मा ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा, कि मुझे राजनीतिक द्वेषता के चलते फंसाया जा रहा है। जबकि मेरा इस मामले से कोई लेना देना नहीं है।

No comments:

Post a comment