Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Wednesday, 30 September 2020

महिला भाजपा नेता की गिरफ्तारी के बाद खुलने लगे कई राज TNI

सवाई माधोपुर@ रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। बहुचर्चित भाजपा नेत्री पूर्व महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष सुनीता वर्मा जो की नाबालिग को देह व्यापार के धंधे में धकेलने के आरोप में पुलिस हिरासत में चल रही है, के मामले में मंगलवार को पुलिस ने कलेक्ट्रेट के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी श्योराम मीणा को पूछताछ के बाद हिरासत में लिया है।
मिली जानकारी के अनुसार श्योराम मीणा  सुनीता वर्मा के किराये के मकान पर नाबालिग लड़की के साथ भाजपा नेत्री के इशारे पर कई बार दुष्कर्म कर चुका है। यह कार्यवाही पुलिस ने नाबालिग लड़की के बयान एवं सुनीता की निशानदेही पर की है। टोंक जिले के अलीगढ़ निवासी श्योराम मीणा खैरदा स्थित मधुबन काॅलोनी में किराये के मकान में रहता है।
उल्लेखनीय है कि इस मामले में सुनीता वर्मा के साथ ही एफसीआई कर्मचारी हीरालाल मीणा को गिरफ्तार किया गया था। इसके मामले में जिला उद्योग केन्द्र में कार्यरत एक लिपिक संदीप शर्मा गौतम काॅलोनी सवाई माधोपुर को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है।
इस सारे घटनाक्रम को देखने के बाद लगता है कि भाजपा नेत्री रही सुनीता वर्मा के तार कई सरकारी कर्मचारियों और राजनेताओं से जुड़े होने की प्रबल संभावना है।
इस सारे घटनाक्रम के बारे में अभी तक पुलिस की तरफ से कोई अधिकृत जानकारी नहीं दी जा रही है। किन्तु मिली जानकारी के अनुसार सुनीता वर्मा के खिलाफ महिला पुलिस थाने में एक नाबालिग को हवस का शिकार बनवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने को लेकर मुकदमा दर्ज किया गया। इस मामले की जांच ओमप्रकाश सोलंकी महिला प्रकोष्ठ अनुसंधान अधिकारी द्वारा की जा रही है।

 

उल्लेखनीय है कि सुनीता वर्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज होने के अगले ही दिन भाजपा जिलाध्यक्ष डाॅ. भरतलाल मथुरिया ने सुनीता वर्मा को महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष पद से हटा दिया था।

No comments:

Post a comment