Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Monday, 2 November 2020

आग पर काबू पाने को लाई गई वाटर मिस्ट 5 बाइक दो साल में बिना चले ‌70 हजार का पेट्रोल पी गई deepak tiwari

यमुनानगर.तंग गलियों में आग लगने पर काबू पाने की एसी कमरों में बनाई प्लानिंग फेल हो गई और लाखों रुपए की बर्बादी होती दिख रही है। ऐसा हुआ है फायर ब्रिगेड के बेड़े में शामिल की गई वाटर मिस्ट रायल इनफील्ड बाइक को लेकर। एक-एक बाइक की कीमत चार से पांच लाख है। दो साल पहले पांच बाइक को फायर ब्रिगेड के हवाले किया गया लेकिन अब यह सरकार और विभाग पर बोझ बन गई।
दो साल में बिना चले ही ये बाइक करीब 70 हजार रुपए का पेट्रोल पी गई और एक भी आगजनी की घटना पर इनसे काबू नहीं पाया जा सका। ये वाटर मिस्ट रायल इनफील्ड बाइक चले न चले और आग पर काबू पाने के लिए जाए न जाए, एक बाइक को हर दिन 250 मिलीलीटर पेट्रोल पिलाना जरूरी है। अधिकारियों का कहना है कि अगर बाइक को हर दिन स्टार्ट नहीं किया गया तो बैटरी और इंजन को नुकसान हो सकता है। हालांकि कुछ सूत्र तो ऐसा बताते हैं कि हर दिन इन बाइक को स्टार्ट भी नहीं किया जा रहा। पेट्रोल यूज होना जरूरी कागजों में दिखाया जा रहा है।
ये वजह यूज न होने की
आग लगने की जितनी भी घटनाएं होती हैं, जब आग भड़क जाती है तभी फायर ब्रिगेड को बुलाया जाता है। तब तक आग इतनी ज्यादा भड़क चुकी होती है कि वाटर मिस्ट रायल इनफील्ड बाइक से आग पर काबू नहीं पा सकते। आग की बड़ी घटनाएं होने पर वाटर मिस्ट बाइक आग पर काबू पाने में सफल नहीं है। वहीं तंग गलियों में आगजनी की घटनाएं कम होती हैं। फैक्टरियों, खेतों और अन्य जगह होने वाली घटनाएं वाटर बाइक से काबू नहीं की जा सकती इसलिए इन्हें यूज नहीं किया जा रहा। हालांकि इन्हें कपालमोचन मेला या फिर अन्य कार्यक्रमों में जरूर ले जाया गया ताकि अगर आग लगने की घटना हो तो इनका इस्तेमाल कर काबू पाया जा सके।
5 बाइक हर माह इस तरह से पी रही 37 से 38 लीटर पेट्रोल
यमुनानगर फायर ब्रिगेड के पास 5 बाइक भेजी गई थी। सितंबर-अक्टूबर 2018 में इन्हें यमुनानगर भेजा गया। हर बाइक को हर दिन स्टार्ट करना जरूरी है ताकि उसका इंजन और बैटरी ठीक रहे। रिकाॅर्ड के अनुसार हर दिन एक बाइक 250 मिलीलीटर तेल खर्च कर देती है। इस तरह से पांच बाइक हर माह 37 से 38 लीटर तेल खर्च कर रही है जोकि दो साल का करीब 888 लीटर बनता है। आज के रेट के हिसाब से लगाएं तो यह करीब 70 हजार रुपए का बनता है।
डेढ़ लाख की बाइक, 4 से 5 लाख रुपए के फायर सिस्टम लगे हैं
बुलेट बाइक डेढ़ लाख कीमत की है। वहीं उस पर जो फायर सिस्टम लगा है, वह बाइक की कीमत से कहीं ज्यादा का है इसलिए इसकी कीमत चार से पांच लाख है। इस बुलेट में दो बैग पैड में नौ लीटर पानी और 900 ग्राम फॉम (रसायन) का है। फॉम को पानी में मिलाकर घोल बनाया जाता है और उसे एक प्रेशर के जरिए आग बुझाई जाती है। प्रेशर के दौरान झाग निकलेगा, जो छोटी आग पर तत्काल काबू पाने में सक्षम होगा।

No comments:

Post a comment