Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Showing posts with label मामूरा. Show all posts
Showing posts with label मामूरा. Show all posts

Monday, 16 December 2019

19:36

नोएडा की तीन दशक पुरानी मशहूर चाय की दुकान मामूरा में यहाँ दूर दूर से आते है चाय की चुस्की के शौकीन


नोएडा- ठंड का समय हो और चाय की चुस्की ना हो ऐसा तो हो ही नहीं सकता है वैसे तो चाय पीने के शौकीन सर्दी हो या गर्मी सभी मौसम में चाय को पीना अपनी शान समझते हैं लेकिन सर्दियों में चाय का स्कोप कुछ ज्यादा ही बढ़ जाता है इसी को देखते हुए हम आज आपको नोएडा की एक ऐसी चाय की दुकान दिखाने वाले हैं जिस दुकान की चाय की चुस्की अगर आपने नहीं ली तो आपने चाय क्या पी जी हां हम बात करते हैं नोएडा के मामूरा सेक्टर 66 स्थित सब्जी मंडी में पटरी पर लगती हुई तीन दशक पुरानी चाय की दुकान की  पता चला कि यह दुकान लगभग 3 दशक पुरानी है जिसको तीन पीढ़ी से लगातार संचालित किया जा रहा है  और यह इलाके की सबसे मशहूर चाय की दुकान है यहां पर जिसने भी एक बार चाय की चुस्की ले ली समझ लीजिए दोबारा वह लौट कर जरूर आएगा इसकी जानकारी जब मुझे हुई तो मैंने सोचा क्यों ना एक बार इस दुकान की चाय की चुस्की ले कर देखते हैं वहां मैं गया थोड़ी देर इधर उधर देखने के बाद मैंने भी चाय का ऑर्डर किया मेरा नम्बर आने के बाद मुझे भी कुल्हड़ में चाय मिली  तो बिना समय गंवाए चुस्की लेनी सुरु कर दी भाई चाय वाकई लाजवाब थी चाय पीते पीते बातों ही बातों में मैंने वहां बैठे लोगों से चर्चा शुरू कर दी वहां से मिली जानकारी के अनुसार यह चाय की दुकान लगभग 30 साल पुरानी है और मौजूदा दुकानदार के बाबा ने उस जगह पर चाय की दुकान शुरू की थी उसके बाद उनके पिताजी ने दुकान संभाल ली पिताजी की मौत के बाद उनके बच्चों ने चाय की दुकान को ही अपना पेशा बनाना मुनासिब समझा और इस धंधे में लग गए चूंकि इस दुकान की चाय का स्वाद लाजवाब है इसलिए  भीड़ तो लाजिमी होगी लेकिन एक बात जरूर है कि चाय पीने वाले लोग चाय की तारीफ किए बिना नहीं रह सकते हैं पहले तो मुझे भी मजाक लग रहा था लेकिन वहां की चाय पीने के बाद मुझे  लगा कि मुझे आप लोगों को भी यह जानकारी शेयर करनी चाहिए आप अगर कभी नोएडा के से सेक्टर 66 मामूरा आएं तो 59 मेट्रो स्टेशन के पास फ्लैक्स के कार्नर पे फुटपाथी चाय का स्वाद जरूर लें।

रामजी पांडे की कलम से