Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Showing posts with label सिंगरौली. Show all posts
Showing posts with label सिंगरौली. Show all posts

Saturday, 13 June 2020

03:36

ओबी कंपनियों के विरुद्ध पत्रकार महासंघ सौपेगा ज्ञापन, पत्रकार दिनेश पांडे

ओबी कंपनियों के विरुद्ध पत्रकार महासंघ सौपेगा ज्ञापन पत्रकार दिनेश पांडेय


सिंगरौली:-- एनसीएल में कार्य कर रही ओबी कंपनियों में स्थानीय वेरोजगरो की अनदेखी को लेकर बराबर शिकायते मिल रही थी।जिसको दृष्टिगत रखते हुए सिंगरौली के पत्रकारो द्वारा जनहित में समाचार प्रकाषित कर  शासन,प्रशासन व एनसीएल के सम्बन्धित अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट करने का कार्य किया। जिसमे कंपनीयो के अधिकारियों द्वारा निर्भीक पत्रकारो में ख़ौफ़ पैदा करने के उद्देश्य से एक सुनियोजित खड़यँत्र के तहत उन्हें भयाक्रांत करने का प्रयास किया जा रहा है।जिसका पत्रकार महासंघ कड़े शब्दों में घोर निंदा करते हुये पत्रकारो की सुरक्षा को ध्यान में रख इसका पुरजोर विरोध करने का निर्णय लिया है।
जिसमें जल्द ही जिले में एक सम्भागीय बैठक आहूत कर कंपनी के इस दमनकारी नीतियों के विरुद्ध "पत्रकार महासंघ"राज्यपाल के नाम कलेक्टर सिंगरौली को एक ज्ञापन सौपेगा।पत्रकार महासंघ के सम्भागीय अध्यक्ष दिनेश पाण्डेय ने एनसीएल में कार्यरत आउटसोरसिंग कम्पनियों के जिम्मेदारों को चेताया है कि  पत्रकारो डराना, धमकाना,  तत्काल बन्द करे,अन्यथा जिले से लेकर पूरे संभाग  के पत्रकार लामबन्द होकर आउटसोरसिंग कम्पनीयो के बिरूद्ध आंदोलन छेड़ने को बाध्य होंगे।जानकारी के लिए बतादे कि अभी हालही में एक आउटसोरसिंग कम्पनी के खिलाफ सिंगरौली के युवा वेरोजगरो द्वारा पैसा लेकर नौकरी न देने को लेकर मिली शिकायत  के बाद खबर प्रकाषित किये जाने से वौखलाये प्रवंधन ने 50 लाख हर्जाने के साथ मानहानि की कानूनी नोटिस भेजवा जिले के पत्रकारो में ख़ौफ़ पैदा करने का जो प्रयास किया है, उसका कानूनी कलम तथा जनशक्ति के बल पर मुहतोड़ जबाब दिया जाएगा।श्री पाण्डेय ने कहा कि  "पत्रकार महासंघ" इस मामले को गम्भीरता से लिया है और शीघ्र ही  इस सम्बंध में एक अहम निर्णय लिया जाएगा।बतादे कि पत्रकार ऐसे उत्पीड़न, व दमनात्मक कार्यवाही से दबने वाले नही हैं, और न ही डरने वाले हैं।बल्कि भ्रष्टाचारीयो का डटकर मुकाबला करते हुए और भी निर्भीक ढंग से  अपने कलम की धार को तेज कर सिंगरौली की समस्याओं को उजागर करने के साथ साथ भ्र्ष्टाचार पर चोट करते आये हैं।और करते रहेंगे।श्री पाण्डेय ने कहा कि पत्रकारो को घबड़ाने की जरूरत नही है।कानूनी नोटिस का जबाब कानूनी नोटिस से ही दिया जायेगा।

Tuesday, 26 May 2020

05:47

जयंत की समर्पिता महिला समिति ने लगवाए दो प्याऊ



सिंगरौली
नॉर्दर्न कोल् फ़ील्ड्स लिमिटिड के जयंत क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली समर्पिता महिला समिति के सौजन्य, समिति की अध्यक्षा श्रीमती नीलू प्रसाद के नेतृत्व मे शनिवार को जयंत क्षेत्र में दो निशुल्क प्याऊ लगवाए गए |
जिनमें से एक प्याऊ जयंत डिस्पेंसरी के बाहर तथा दूसरा जयंत तिराहे के पास लगवाया गया ।
गर्मी के मौसम में बढ़ते हुए तापमान को ध्यान में रखते हुए पीने के पानी की व्यवस्था हेतु इस कार्य को अंजाम दिया गया है ।

Monday, 25 May 2020

19:06

कोरोना का खतरा बढ़ा:जिले में 11पॉजिटिव,मचा हड़कंप


 DINESH PANDEY (journalist)


 सिंगरौली:--   जिसका डर था वही हुआ, महानगरों से आया कोरोना आखिर गाँवो में पहुँच ही गया। बतादे कि जिले में कोरोना का पहला पॉजीटिव मरीज चितरंगी तहसील के रमडीहा गांव में मिला था।जिसमे 19 वर्षीय युवक जो मुंबई में रहता था,वह 15 मई को उत्तर प्रदेश सोनभद्र जिला के घोरावल गांव के रास्ते से होते हुये अपने गाँव सिंगरौली जिला के चितरंगी तहसील में  रमडीहा गाँव पहुंचा।जिसकी अचानक तवियत बिगड़ने से 16 मई को जिला अस्पताल बैढ़न में भर्ती कराया और तत्काल उसका सेम्पल लेकर जांच हेतु जबलपुर भेजा गया।18 मई को देर रात को प्राप्त हुई रिपोर्ट के अनुसार कोरोना की रिपोर्ट पॉजीटिव पाया गया।तबसे सिंगरौली में मानो ग्रहण सा लग गया।एक पर एक संक्रमित व्यक्तियो का रिपोर्ट पॉजीटिव आ रहा है।पहले एक था एक से चार हुये, फिर सात, अब आज रीवा लैब से प्राप्त हुई 82 लोगो की रिपोर्ट में चार व्यक्ति पॉजीटिव पाये गये है, जो की तीन व्यक्ति चितरंगी के ठठरा गांव के है वही एक व्यक्ति उक्त तहसील के रमदिहा गांव का निवासी है।जिसे लेकर अभी तक जिले में कुल ग्यारह केश पॉजीटिव होने की खबर है।जिसका जिला प्रशासन द्वारा पुष्टि भी की जा चुकी हैं।इधर,ग्यारह ब्यक्तियो के कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि होते ही पूरे जिले में हड़कंप मचा हुआ है।वही जिला प्रशासन अलर्ट जारी किया है।उसके द्वारा लगातार सर्वे कराया जा रहा है।अभी पुनःसैम्पल लेकर टेस्ट हेतु लैब में भेजा जाएगा।जानकारी के लिए बतादे की ये सभी लोग मुंबई में एक साथ रहते थे जिनका 15 से  17 तारीख तक लगातार घर आना जाना लगा रहा।गनीमत है कि अभी जितने भी लोग कोरोना पॉजीटिव पाये जा रहे है वह वही लोग हैं जो महानगरों से लौट कर अपने गाँव आये थे तथा कंटेनमेंट एरिया के अंदर के ही निवासी हैं।जहाँ जिला प्रशासन के निर्देश पर उक्त गांव पहले ही शील है।गांव को सैनिटाइज कर मेडिकल टीम की ओर से गांव के लोगों की स्क्रीनिंग कराते हुए जिलेवासियों को कोरोना वायरस से बचाव के लिए एहतियात बरतने व सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करने को कहा है।तथा सभी को घरों में ही रह कर सहयोग करने की अपील की है।

Friday, 15 May 2020

05:24

एनसीएल जयंत ने कोरोना योद्धाओं का किया सम्मान वितरित किए मास्क व सैनिटाइजर

नॉदर्न कोल फील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) के जयंत क्षेत्र ने इस वैश्विक महामारी के दौरान देश एवं मानवता की सेवा में जुटे कोरोना योद्धाओं को सम्मानित किया |
क्षेत्रीय महाप्रबंधक श्री आर॰बी॰ प्रसाद के मार्गदर्शन में कार्मिक एवं सीएसआर विभाग ने गुरुवार को पुलिस कर्मियों, आशा कर्मियों, एएनएम एवं पत्रकार बंधुओं को सम्मानित किया एवं कोविड 19 जनित भीषण परिस्थितियों में उनके द्वारा प्रदान की जा रही जनोपयोगी सेवाओं के लिए आभार व्यक्त किया |
इस अवसर पर सभी कोरोना योद्धाओं मे 120 नग मास्क व 55 सैनिटाइजर भी वितरित किए गए |
05:20

एनसीएल अमलोरी ने सिंगरौली प्रशासन को सौंपे मास्क व सैनिटाइजर

नॉदर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) का अमलोरी क्षेत्र वैश्विक महामारी के इस आपातकाल में स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर जरूरतमंदों तक हर संभव मदद पहुँचने हेतु प्रयासरत है |
इसी क्रम में एनसीएल अमलोरी क्षेत्र द्वारा सामाजिक निगमित दायित्व के अंतर्गत शुक्रवार को कलेक्टर, सिंगरौली  कार्यालय में 300 नग मास्क सौंपे गए |
गुरुवार को जिला वन अधिकारी के कार्यालय में 200 नग मास्क व 50 नग सैनिटाइजर, नवानगर पुलिस टीम को 100 नग मास्क व 50 नग सैनिटाइजर तथा महिला थाने में 50 नग मास्क व 20 नग सैनिटाइजर सौंपे गए |    
गौरतलब है अभी तक अमलोरी क्षेत्र द्वारा 2000 किट रसद सामग्री, 6625 नग मास्क व 1847 नग सैनिटाइजर का वितरण किया जा चुका है |

Saturday, 9 May 2020

04:59

शासन और प्रशासन की मदद की नौटंकी मजदूर परेशान हाल

सिंगरौली यह पांचों मजदूर ग्राम करहिया पोस्ट बैरदह तहसील चितरंगी जिला सिंगरौली के, आदिवासी समाज के हैं। यह नासिक में गोदरिंग कंपनी में मजदूरी करते थे। अपने घर पहुंचने के लिए यह मजदूर नासिक से 24 अप्रैल से पैदल चल रहे है आज 9 मई को सोलहवें दिन 11 बजे दिन चुरहट के पास कोलदहा सोन नदी पुल के पास बने ढाबे में पहुंचे हैं, भूखे प्यासे हैं इनका मोबाइल बंद है चार्ज ना होने के कारण। मदद भी यह किसी से कैसे मांगे ?
इनके नाम इस प्रकार हैं-
1. शिवकुमार सिंह पिता विशंभर बेलाकली
2. अनिल सिंह पिता लक्ष्मण सिंह
3. राजकरण सिंह पिता लोकमान सिंह
4. अरुण सिंह पिता राम बहादुर सिंह 
5. जगमोहन सिंह पिता ललन सिंह
SDM चुरहट को मोबाइल से जानकारी देकर इन मजदूरों को भोजन की ब्यवस्था एवं इन्हें चितरंगी भेजवाने की ब्यवस्था का आग्रह किया हूँ, देखते है इन मजदूरों की मदत होती है कि नही ?
उमेश तिवारी 

Tuesday, 5 May 2020

18:16

अपर पुलिस अधीक्षक ओपी सिंह के नेतृत्व में दुद्धी कस्बे में निकाली गई पैदल फ्लैग मार्च

अपर पुलिस अधीक्षक ओपी सिंह के नेतृत्व में दुद्धी कस्बे में निकाली गई पैदल फ्लैग मार्च


दुद्धी (सोनभद्र) : दुद्धी नगर में समाज में सुरक्षा की भावना को मजबूत करने के लिये अपर पुलिस अधीक्षक ओ पी सिंह के नेतृत्व में पुलिस ने दुद्धी कस्बे के मुख्य सड्क , एवं बाजार  में  पैदल फ्लैग मार्च किया । उनके साथ  क्षेत्राधिकारी दुद्धी संजय वर्मा थाना प्रभारी अशोक सिंह ,क्राइम इस्पेक्टर सत्य प्रकाश यादव ,सहित मयफोर्स पुलिसकर्मी मौजूद रहे ।पत्रकारो से बातचीत के दौरान अपर पुलिस अधीक्षक ने कहा की सरकार के निर्देशो के अनुसार शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रो में दुकानो खुलेगी,होटल,सैलून,स्पा,गुटखा एवं कोई भी खाकर थूकने वाले पदार्थ की दुकान नही खुलेगी। उन्होने लोगो से अपील की आम नागरिक सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्णता पालन करे एवं चेहरे को मास्क से ढंक कर रखे ।
06:21

युवक मंगल दल ने द्वारी खुर्द में मास्क वितरण कर लोगों को किया जागरूक


सिंगरौली
युवा कल्याण विभाग द्वारा संचालित संगठन युवक मंगल दल एंव युवा भारत ट्रस्ट के संयुक्त तत्वावधान में सदर ब्लॉक के देवरी खुर्द ग्राम पंचायत में पच्चास  मजदूर भाईयो में मास्क का वितरण कर लोगों को इस महामारी से बचाव के लिए जागरूक किया गया।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि शिक्षक उमाकान्त तिवारी द्वारा मजदूर भाइयो को मास्क दिया गया।श्री तिवारी ने कहा कि कोविड-19 एक वैश्विक महामारी है जिससे पूरा विश्व परेशान है।इस महामारी से बचाव सिर्फ जागरूकता ही है।हम सभी को मास्क का प्रयोग करना चाहिए और समय समय पर हाथ को धोते रहना है और सोशल डिस्टेंसिंग अत्यंत आवश्यक है।और कहा कि सरकार की तरफ से इस महामारी से निपटने के लिए हर सम्भव प्रयास किया जा रहा है।लेकिन हम सबकी यह जिम्मेदारी बनती है कि हम सब जागरूकता का परिचय दे और अधिक से अधिक घर मे रहे और सुरक्षित रहे।उन्होंने इस विषम परिस्थिति में पूरे जनपद भर में कार्य कर रहे युवक मंगल दल के सभी सदस्यों की सराहना की।उक्त अवसर पर अशोक कुमार भारती, रमेश यादव,हीरा पासवान,श्यामजी भारती, रामधनी भारती, अर्जुन पासवान आदि लोग उपस्थित रहे।
04:39

एनसीएल अमलोरी ने मुहेर मे वितरित की रसद सामग्री, मास्क व सैनिटाइज़र


नॉदर्न कोल फील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) का अमलोरी क्षेत्र कोविड 19 निर्मित समस्याओं से प्रभावित परिवारों की मदद के लिए लगातार रसद सामग्री, सैनिटाइज़र  व मास्क इत्यादि का वितरण कर रहा है |
इसी क्रम में एनसीएल अमलोरी ने सामाजिक निगमित दायित्व के अंतर्गत सोमवार को मुहेर के वार्ड 2 मे 68 किट रसद सामग्री 50 नग मास्क व 50 नाग सैनिटाइजर वितरित किए । 
गौरतलब है अभी तक अमलोरी क्षेत्र द्वारा  जरूरतमंद परिवारों तक 1476 किट रसद सामग्री, 5987 नग मास्क व 1457 नग सैनिटाइजर वितरित किए जा चुके हैं ।
04:37

कृति महिला मण्डल ने वितरित की रसद सामग्री व मास्क


नॉदर्न कोल फील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) के अन्तर्गत आने वाली कृति महिला मंडल कोविड 19 निर्मित विषम परिस्थितियों से प्रभावित निकटवर्ती जरूरतमंद लोगों तक मदद पहुंचाने हेतु निरंतर प्रयासरत है । 

इसी क्रम में कृति महिला मण्डल की सदस्याओं द्वारा, समिति की अध्यक्षा, श्रीमती संगीता सिन्हा एवं उपाध्यक्षा श्रीमती प्रतिमा पाण्डेय, श्रीमती नीलू ठाकुर, डा. सुनीता कुमारी एवम् श्रीमती सुचंद्रा सिन्हा के नेतृत्व में मंगलवार को वार्ड संख्या 3 मे 89 किट रसद सामग्री व मास्क, संविदकर्मियों की कॉलोनी मे 44 किट रसद सामग्री व मास्क तथा  रेलवे स्टेशन के पास निवासरत जरूरतमन्द परिवारों में 15 किट रसद सामग्री व मास्क वितरित किये गए|

गौरतलब है कि वर्तमान परिस्थितियों के आलोक में कृति महिला मंडल आस -पास के क्षेत्र में लगातार रसद सामाग्री किट,  मास्क एवं  सैनिटाइजर आदि का वितरण करा रही है l

Sunday, 3 May 2020

17:11

मायके आयी तीन बहन- बेटियों सहित माँ व बेटा-दामाद को भी पीटा,




 सिंगरौली- जिला मुख्यालय से लगभग 60 किलोमीटर दूर जियावन थाना क्षेत्र के ग्राम खम्हरिया में *आम फल* तोड़ने के विवाद में 2 मई की शाम 4 बजे तकरीबन एक दर्जन की संख्या में सरहंगों ने सुनियोजित तरीके से  धारदार हथियार सहित लाठी डंडे से लैस गांव में निवासरत यादव परिवार के ऊपर हमला कर दिया । हमले में जहाँ सरहंगों ने पिता- पुत्र की निर्मम हत्या कारित कर दिया वहीं मायके घूमने आए तीन-बहन बेटियो सहित बूढ़ी माँ  व बेटा- दामाद को भी पीटकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। पीड़ितों की चीख-पुकार सुन आसपास व गांव के लोग दौड़कर बीच-बचाव किया और डायल 100 को सूचित किया। घटना पर पहुंची डायल 100 पुलिस टीम ने सभी घायलों को उपचारार्थ देवसर चिकित्सालय में भर्ती कराया।

  घटना की जानकारी में जियावन टी आई नेहरू सिंह ने बताया की *ग्राम खम्हरिया निवासी  मुख्य आरोपी रामफल यादव , बुद्धसेन यादव और मृतक रामसिया के मध्य आम फल* तोड़ने का विवाद था जिस विवाद को लेकर आरोपी रामफल यादव तकरीबन एक दर्जन नात-रिस्तेदारों के साथ घटना दिनांक 2 मई की शाम 4 बजे धारदार हथियार (बलुआ -गड़ासा) व लाठी डंडे से लैस हो अचानक मृतक रामसिया यादव के घर पर हमला कर दिया और घर के बाहर सो रहे  रामसिया और उसकी पत्नी सुमरिया यादव के साथ गंभीर रूप से मारपीट करने लगे।
    टी आई श्री सिंह ने आगे बताया कि बूढ़े माता-पिता की चीख पुकार सुन घर के भीतर सो रहे *बेटा राम कृष्ण यादव, राम चरण यादव सहित मायके घूमने आए तीन बेटी सुनीता यादव, फूलकली यादव , आनंदकली यादव व दामाद दिनेश यादव* आनन फानन में दौड़े ,जहाँ सरहंगों ने उन सबके साथ भी जमकर लाठी डंडे से मारपीट कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। घायलों की चीख-पुकार सुन गांव के सोनू यादव, संतोष कली व लवकुश पाठक सहित भारी संख्या  में गांव के लोग पहुंचे और बीच-बचाव कर पुलिस को सूचित किया।

*पिता की घटना स्थल व पुत्र की अस्पताल में मौत*

टी आई श्री सिंह के अनुसार सूचना के बाद पहुंची डायल 100 की पुलिस जब सभी घायलों को उपचारार्थ ले जा रही थी उसी समय पता चल गया था पिता रामसिया यादव की घटना स्थल पर ही मौत हो गयी है, जबकि पुत्र रामकृष्ण यादव की उपचार के दौरान मौत हुई है।

*ये हैं घायल*
बताया गया कि सरहंगों द्वारा की गई  मारपीट की घटना में मृतक की पत्नी  सुमरिया यादव, बेटा राम चरन यादव, तीन बेटी क्रमशः सुनीता यादव, फूलकली यादव, आंनदकली यादव व एक दामाद दिनेश यादव गम्भीर रूप से घायल हैं। सभी उपचारार्थ भर्ती हैं।

*फरार इन आरोपियों पर 302 व 307 का मामला दर्ज*

खम्हरिया पिता-पुत्र हत्या कांड में मुख्य आरोपी रामफल यादव व बुद्धसेन यादव सहित मंगलेश्वर यादव , पंचमलाल यादव, वंशरूप यादव, बहादुर यादव, भोले यादव, रामलाल यादव, चित्रसेन यादव व दादुलाल यादव सभी आरोपी हैं। सभी के ऊपर धारा 147,148,149,294,323, 506,307 व 302 का मामला दर्ज है। घटना के बाद से फरार सभी आरोपियों की तलाश में टी आई श्री सिंह स्वयं   टीम के साथ जुट गए हैं। टी आई श्री सिंह ने बताया है कि सभी आरोपी बहुत जल्द पुलिस अभिरक्षा में होंगे।

Friday, 24 April 2020

19:40

सृष्टि महिला समिति ने जरूरतमंदों मे वितरित मास्क




एनसीएल के निगाही क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली  सृष्टि महिला समिति कि सदस्याओं द्वारा कोविड 19 के खतरों से बचाव हेतु गुरुवार को श्रीमती नीरजा गोमस्ता एवं श्रीमती आभा द्विवेदी के मार्गदर्शन में निगाही शॉपिंग काम्प्लेक्स व सब्जी बाज़ार मे दूकानदारों व सब्जी विक्रेताओं को 200  नग मास्क का वितरण करवाया गया |
ज्ञात हो कि कोराना वायरस के कारण उत्पन्न विषम परिस्थियों में बहुत सारे साधनहीन परिवारों के सामने जिविकोपार्जन की  समस्या खड़ी हो गई है l सृष्टि महिला समिति निगाही के आस-पास के  ऐसे परिवारों में रसद सामग्री , मास्क , सैनिटाइजर व अन्य स्वच्छता संबंधी सामानों का वितरण लगातार करवा रही है ।
गौरतलब है कि अभी तक सृष्टि महिला समिति के माध्यम से निकटवर्ती क्षेत्रों में लगभग 900 नग मास्क, 90 नग   सैनिटाइज़र व 15 किट रसद सामग्री का वितरण किया जा चुका  है |
वितरण के  दौरान  लोगों से  घर में रहने, बार बार साबुन से हाँथ धोने व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने हेतु सचेत किया जा रहा है |






*"सुरभि महिला समिति" ने वितरित किये मास्क व साबुन*
एनसीएल अमलोरी के अन्तर्गत आने वाली सुरभि महिला समिति ने अध्यक्षा श्रीमती पूनम कुमार के नेतृत्व में गुरूवार को अमलोरी बाज़ार में सब्जी वालों को तथा अन्य ग्राहकों को 125 नग मास्क व 100 नग साबुन वितरित किए ।
सुरभि महिला समिति कोविड 19 जनित महामारी के खिलाफ लगातार क्षेत्रवासी जरूरतमंद परिवारों की मदद करने की मुहिम चला रही है ।
गौरतलब है कि अभी तक समिति के सौजन्य से 845 मास्क, 50 सैनिटाइजर व 100 नग साबुन वितरित किए जा चुके हैं ।

*समर्पिता महिला समिति ने वितरित किए मास्क व साबुन*

एनसीएल  के जयंत क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली समर्पिता महिला समिति के सदस्याओं ने समिति की अध्यक्षा श्री मती नीलू प्रसाद के मार्गदर्शन में शुक्रवार को जयंत बस स्टैंड के पास निवासरत लोगों में 200 नग मास्क व 100 साबुन का वितरण करवाया ।

इससे पहले भी समर्पिता महिला समिति के सौजन्य से  निकटवर्ती  गांव के  स्थानीय जरूरतमंद लोगों में रसद सामाग्री,  मास्क व साबुन का वितरण किया जा चुका है |
समिति की सदस्याएं लगातार सोशल डिस्टेंसिंग, बार बार हाँथ धोने व घर में रहने के लिए जागरूकता फैला रही हैं |

*"कल्याणी महिला समिति" ने कसर बाज़ार मे वितरित किए मास्क*

एनसीएल के ब्लॉक बी क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली “कल्याणी महिला समिति” की सदस्याओं द्वारा  समिति की अध्यक्षा  श्रीमती शशी दुहान के मार्गदर्शन में शुक्रवार को कसर बाज़ार मे सब्जी विक्रेताओं एवं अन्य जरूरतमन्द लोगों मे 100 मास्क का वितरण किया गया |

गौरतलब है कि समिति द्वारा पूर्व मे भी  कोविड 19 के चलते उत्पन्न विषम परिस्थितियों से प्रभावित परिवारों में रसद सामाग्री व मास्क का वितरण किया गया है |

Monday, 20 April 2020

13:54

रिलायंस एसडैम मामला,पीसी ऑपरेटर अब्दुल रज्जाक का मिला शव!




*सिंगरौली।*
रिलायंस एसडैम मामला,सर्चिंग के दौरान पीसी ऑपरेटर अब्दुल रज्जाक का मिला शव।

आपको बता दे कि बीते 9 अप्रैल को रिलायंस का एसडैम टूट गया था जिसमे किसानों के फसल नष्ट हो गया था कई बेजुबान जानवर मर गये थे,कई लोग घर से बेघर हो गये थे।
हादसे में 6 लोग लापता हो गये थे जिसमें से 5 लोगो का शव बरामद हो चुका था जबकि पीसी ऑपरेटर अब्दुल रज्जाक  का शव आज सर्चिंग के दौरान रेस्क्यू टीम को मिला।
10:46

रिलायंस सासन ऐशडैम हादसा पीसी ऑपरेटर अब्दुल रज्जाक के शव कि तलाश जारी



सिंगरौली
(वैढ़न) बीते 9 अप्रैल कि सायं रिलायंस के शासन पावर परियोजना ऐश डैम हादसे में शिकार हुए लोगों में पीसी आपरेटर अब्दुल रज्जाक के शव कि तलाश आज 11 दिन भी की जा रही है
      9 अप्रैल को हुये इस हादशे मे अकाल मौत का शिकार हुये लगभग 5 लोगों का शव अलग-अलग दिनों में बरामद करते हुए पीड़ित परिवारों को मरहम लगाने परियोजन प्रबंधन एवं स्थानीय प्रशासन भरसक प्रयास किया है
           वहीं टूटने की कगार पर पहुंचे डैम की मरम्मत में जुटे संविदा कार के पीसी ऑपरेटर अब्दुल रज्जाक का शव 11 वें दिन भी नहीं मिल पाया है सीएसपी देवेश पाठक टीआई अरुण पाण्डेय के देखरेख में एनडीआरएफ टीम व स्थानीय पुलिस बल शव ढूंढने के प्रयास में लगा हुआ है

*क्षतिपूर्ति को लेकर मृतक परिवार में उहापोह, तेरा है, मेरा है,,!!*

घटना में अकाल मौत का शिकार हुए अब्दुल रज्जाक कि पत्नी को क्षतिपूर्ति दिलाने जुटे लोग अवाक् होते वापस लौट गये एवं उसके अन्य परिजन आपस में भी निर्णय नहीं ले सकते हैं  क्षतिपूर्ति को ले कर विवाद है लिहाजा समझाइश का दौर चल रहा है तथा अभी तक रज्जाक का शव मिला ही नहीं है

Saturday, 18 April 2020

10:00

एन. सी. एल. ब्लाक (बी) गोरबी परियोजना के खदान में डंपर पलट जाने से बड़ा हादसा होते- होते बचा-



*सिंगरौली।*

आज एन सी एल के ब्लॉक (बी) गोरबी परियोजना में एक  विमल कम्पनी का "हैबी डंपर"( होल पैक) अचानक पलट गया जिससे परियोजना के खदान क्षेत्र में कार्यरत श्रमिको में हड़कंप मच गया। इस दुर्घटना में डंपर बुरी तरह छतिग्रस्त होगया है।लेकिन ईश्वर का सुक्र है कि चालक बाल-बाल बच गया है।

 ज्ञात हो कि प्रथम पाली में विमल कंपनी का "डंपर" नंबर 1119 जिसे आपरेटर पुनी राम चला रहे थे अचानक "सी एच पी" के हार्पर में पलट गया।
यह तो ईश्वर की कृपा रही कि आपरेटर पुनी राम बाल -बाल बच गए और सुरक्षित है। इस तरह आज परियोजना के खदान क्षेत्र में बड़ा हादसा होते होते बच गया।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार "होल पैक" को काफी नुकसान पहुंचा है।
बताया गया है कि  ब्लॉक बी परियोजना प्रबंधन द्वारा घोर लापरवाही पूर्वक "सी एच पी" के हापुड़ का संचालन कराया जाता है। जिसके चलते यह दुर्घटना घटी।
कहते है कि खदान क्षेत्र में हमेसा असुरक्षित तरीके से प्रबंधन द्वारा काम कराया जाता है। जो दुर्घटना का कारण बनता है।
जिसको लेकर श्रमिको में असंतोष व्याप्त है।

कोयला श्रमिक सभा (सम्बद्ध) (एच एम एस) एन सी एल- सिंगरौली के महामंत्री अशोक कुमार पांडेय ने एन सी एल के "सी. एम. डी." का इस ओर ध्यान आकृष्ट कराते हुए, मांग किया है कि दुर्घटना के कारणों और सम्बंधित जिम्मेदारों के कार्यप्रणाली की जांच करा दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाए,ताकि भविष्य में इस तरह की दुर्घटनाएं न हो और श्रमिको में व्याप्त असंतोष समाप्त हो सके।

Monday, 13 April 2020

19:54

मलबे से अपनों के सकुशल निकलने के इंतजार में परिजनों की पथराई आंखें, घटना के 72 घंटे बाद मिला तीसरा शव



मलबे से अपनों के सकुशल निकलने के इंतजार में परिजनों की पथराई आंखें, घटना के 72 घंटे बाद मिला तीसरा शव*

*प्रशासन द्वारा युद्ध स्तर पर बचाव कार्य जारी, पुलिस विभाग के आला अधिकारी खुद लोगों की तलाश में जुटे*

*अभी भी तीन की तलाश जारी*
*(मनीष चौधरी)*
अपनों के खोने का गम और उनके सकुशल वापस आने के इंतजार में परिजन सोमवार को भी घटनास्थल पर तेज धूप में भी डटे रहे पर पर बीते समय के साथ राख के मलबे से किसी के सकुशल वापस आने की उम्मीद खत्म होती जा रही है। हालांकि जिला प्रशासन ने लोगों की खोज जारी रखी है। पुलिस की मेहनत का यह नतीजा है कि *घटना के 72 घंटे बाद* कई किलोमीटर फैले मलबे से *तीसरे मृतक का शव* बरामद कर लिया गया है। सुबह से चल रही खोजबीन के बाद *गोबईया नाला* के समीप से *चुन कुमारी पति भैयाराम साह* उम्र 30 वर्ष का शव बरामद हुआ। जिसके बाद *शासन चौकी प्रभारी प्रियंका मिश्रा* द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों की देखरेख में शव को पोस्टमार्टम हेतु भिजवाने की कवायद की जा रही है।
अभी भी *पुलिस अधीक्षक टीके विद्यार्थी* के निर्देशन पर *अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रदीप शिंदे* की अगुवाई में *सीएसपी देवेश कुमार पाठक, एसडीओपी नीरज नामदेव* समेत निकटवर्ती 6 थानों के निरीक्षक, 2 चौकी प्रभारी समेत सर्चिंग पार्टी, मोबाइल पार्टी, रिजर्व पार्टी के अलावा 30 की संख्या में एनडीआरएफ समेत करीब 350 पुलिसकर्मी 8 किलोमीटर के दायरे में फैले राख के सैलाब से लापता लोगों की खोज जारी रखें है।
इस मामले में *शासन चौकी प्रभारी प्रियंका मिश्रा* प्रमुख रूप से जिम्मेदारी निभाते हुए खुद टूटे हुए बांध से लेकर रिहंद किनारे तक लापता लोगों की तलाश करती दिखी। ज्ञात हो कि घटनास्थल सिद्धिकला ग्राम में है जो शासन चौकी अंतर्गत आता है। *चौकी प्रभारी प्रियंका मिश्रा* द्वारा मृतकों के परिजनों को समझाइश दी गई की सरकार एवं प्रशासन पर भरोसा रखें। पीड़ितों को शासन द्वारा उचित मुआवजा दिया जाएगा। जानकारी अनुसार बीते शनिवार 2 व्यक्तियों के मिले शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों ने प्रति व्यक्ति एक करोड़ मुआवजे के लिए शव को रखकर प्रदर्शन जारी रखा था।

*घटना की जाँच लिए मैजिस्ट्रेट हुए नियुक्त*
शासन ऐशडाइक डेम हादसे की जांच का जिम्मा सिंगरौली कलेक्टर ने अपर मजिस्ट्रेट बी के पांडेय को सौंपी हैं। उनके द्वारा अगले 45 दिन में ऐश डाइक के टूटने व उसकी गुणवत्ता, कार्य में लापरवाही और हादसे के लिए जिम्मेदारों की जवाबदेही पर बिंदुवार जांच कर रिपोर्ट सौंपी जाएगी।

*शासन सीईओ को नोटिस जारी*
जिला कलेक्टर केवीएस चौधरी द्वारा रविवार को शासन पावर प्लांट के सीईओ को शो कॉज नोटिस जारी कर 3 दिनों के भीतर जवाब मांगा है। इधर अपने आप को फंसता देख शासन के सीईओ समेत 3 आला अधिकारी अग्रिम जमानत हेतु न्यायालय शरण में गए हैं।

*कईयों पर गिर सकती है गाज*
इस हृदय विदारक घटना के बाद सख्त हुआ जिला प्रशासन अब बांध के टूटने को लेकर सख्ती बरत रहा है, क्योंकि साल भर के भीतर एनटीपीसी, एसआर के बाद अब रिलायंस सासन पावर के बांध के टूटने की यह तीसरी घटना पेश आई है। इस बाबत अंदाजा लगाया जा रहा है कि भले ही सासन पावर के सीईओ एवं अन्य अधिकारियों पर अभी गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज नहीं हुआ है। फिर भी बांध की सही रखरखाव नहीं होने और जांच उपरांत उसे दुरुस्त बताने वाले अधिकारियों समेत इस घटना के लिए जिम्मेदार अधिकारियों पर भी जांच उपरांत गाज गिर सकती है।

*कई किलोमीटर तक फैला है राख का मलबा*
जर्जर हो चले डैम के फूटने के बाद पानी और राख के मलबे के आगोश में वहां कार्य कर रही पीसी समेत मवेशी, घर और आधा दर्जन से ज्यादा लोग जद में आ गए थे जिनकी तलाश अभी जारी है, परंतु कई किलोमीटर तक फैले मलबे के ढेर से लोगों को सकुशल वापस लाना आसान कार्य नहीं है। यही कारण है कि 72 घंटे बाद भी सभी को ढूंढा नहीं जा सका है। हालांकि एनडीआरफ समेत पुलिस बल सुबह से देर शाम तक लोगों की तलाश में  जूटा रहता है।
18:30

एनसीएल की कृति महिला मण्डल की कोविड -19 के ख़िलाफ़ पहल



एनसीएल की कृति महिला मण्डल की कोविड -19 के ख़िलाफ़ पहल

*सोमवार को एनसीएल मुख्यालय के संविदा कर्मियों को वितरित करवाई राशन सामाग्री*

कोविड -19 महामारी की विषम परिस्थिति में जरूरतमंदो तक मदद पहुँचाने के लिए एनसीएल की सभी महिला समितियां अपना भरपूर प्रयास कर रहीं हैं। ऐसे समय में एनसीएल की कृति महिला मण्डल भी  अध्यक्षा, श्रीमती संगीता सिन्हा एवं उपाध्यक्षा श्रीमती प्रतिमा पाण्डेय, श्रीमती नीलू ठाकुर, श्रीमती पिंकी प्रसाद एवं डा. सुनीता कुमारी के मार्गदर्शन में सोमवार को एनसीएल मुख्यालय के संविदा कर्मियों को राशन सामाग्री वितरित करवाई।

एनसीएल मुख्यालय में सोमवार को सफाई, सेनिटाईजेसन व अन्य कार्यों में नियोजित संविदा कर्मियों को 125 राशन की किट वितरित की गईं।
कृति महिला अपने प्रयासों से समाज के जरूरतमंदों के लिए लगातार कार्य करती रहती हैं, कोविड 19 के खिलाफ लड़ाई में पूर्व में राशन किट, स्वच्छता किट, समिति की सदस्याओं द्वारा सिलकर तैयार मास्क / फ़ेस कवर वितरण कर चुकी हैं।

Thursday, 2 April 2020

19:04

एनसीएल की कृति महिला मण्डल ने बाँटी मास्क और रसद सामाग्री



 सिंगरौली एनसीएल की  कृति महिला मण्डल ने गुरुवार  को  ‘ज्ञान ज्योति’ के अंतर्गत ग्राम पंचायत बिरकुनिया से जुड़े  बच्चों में रसद सामग्री एवं मास्क का वितरण कराया l  रसद सामग्री के प्रत्येक पैकेट में 5 kg चावल, 5kg.  आटा 1kg. दाल, 1kg.  नमक ,1/2 लीटर तेल ,2kg.  आलू ,1kg. प्याज़ ,50gm हल्दी और  50gm मसाला शामिल था l इस अवसर पर बच्चों एवं उपस्थित परिजनों को कोरोना वायरस जनित समस्या एवं बचाव हेतु ज़रूरी उपायों के बारे में जानकारी भी दी गयी l

गौरतलब है कि  कृति महिला मण्डल ने अपने प्रयास  ‘ज्ञान ज्योति’ के अंतर्गत ग्राम पंचायत बिरकुनिया में एक से पाँचवी कक्षा के ऐसे  बच्चे जो किसी न किसी कारण से अपनी पढ़ाई जारी नहीं रख पाये , की पढ़ने की व्यवस्था एनसीएल निर्मित बिरकुनिया  सामुदायिक केंद्र में की है ताकि एक बार पुनः इन्हें पढ़ाई की मुख्य  धारा से जोड़ा जा सके  l

फ़िलहाल कोरोना वायरस जनित समस्या के वजह से अभी बच्चों को पढ़ाया नही जा रहा है l  इन्हीं बच्चों व इनके परिजनों के बीच में सरपंच बिरकुनिया के माध्यम से उक्त सामानों का वितरण कराया  गया l

Tuesday, 31 March 2020

07:27

रिलायंस के कोल माइंस में हुआ बड़ा हादशा




  DINESH PANDEY (journalist)
     
सिंगरौली:-- रिलायंस के सासन पॉवर लिमिटेड कोल ब्लॉक अमलोरी एण्ड मुहेर के सीएचपी कन्वेयर बेल्ट में फंसने से काम के दौरान मजदूर ऑपरेटर की घटनास्थल पर ही मौत हो गई।घटना सोमवार की सुबह लगभग 5:बजे की है।बताते है कि सीएचपी TH-2 के  कन्वेयर बेल्ट रोलर में फसने से  मजदूर की मौत हो गई,रोलर में फसे हुये शव को काफी मशक्कत से निकाला गया। घटना के बाद पावर प्लांट में काम करने वाले सैकड़ों मजदूर व परिजन मुआवजा की मांग को ले कर अड़े रहे स्थानीय प्रसाशन के समझाईस व कड़ी मशक्कत के बाद स्थिति नियंत्रण में आई।

*इस तरह घटी घटना*

-बताया जाता है कि रिलायंस कोल ब्लॉक अमलोरी के सीएचपी में वार्षिक रख रखाव का काम करने वाली कंपनी स्टार वेंडम में कोतवाली क्षेत्र के कचनी गाँव निवासी मुकेश कुशवाहा पिता सीताराम कुशवाहा सीएचपी TH02 नंबर बंकर के कोयला के कन्वेयर बेल्ट में ऑपरेटर का काम कर रहा था। काम के दौरान सोमवार सुबह लगभग 5:बजे बेल्ट में फंसे किसी धातु को निकाल रहा था। इसी दरम्यान कन्वेयर बेल्ट चालू हो गया जिसमें कार्य में लगा आपरेटर मुकेश बेल्ट के साथ घिसटता हुआ बेल्ट के नीचे जाकर रोलर में फंस गया,जिसकी कार्यस्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गई।

वार्ता के बाद उठाया मृतक का गया शव

मृतक मजबूर के आश्रित को मुआवजा तथा आश्रित के  नियोजन को लेकर कोल माइंस में काफी देर तक पुलिस प्रशासन, कंपनी व परिजनों के बीच सकारात्मक वार्ता चली वार्ता होने के बाद सीएचपी से शव को उठाया गया।वार्ता के दौरान अपर पुलिस अधीक्षक प्रदीप सेंडे, कोतवाली टीआई अरुण पाण्डेय, विध्यनगर टीआई राघनेन्द्र दुवेदी,बरगवां टीआई मनीष त्रिपाठी, लंघाडोल थाना के टीआई यू.पी.सिंह आरआई आशीष तिवारी व कंपनी प्रबंधन  मौजूद रहे इस बीच तय हुआ कि मृतक के आश्रित को उसके योग्यतानुसार संविदा कंपनी में रोजगार दिलाया जायेगा तथा उन्होंने यह स्पष्ट किया कि उसके रोजगार की निरंतरता लगातार बनी रहेगी।कंपनी की ओर से आश्रित को 50 हजार रुपए नगद व दो 2 लाख 75 हजार,1लाख 75 हजार का दो चेक प्रदान किया गया।यानी कंपनी के तरफ से टोटल पांच लाख रुपये परिजनों को बतौर मुआवजा दिया गया।

कोल ब्लॉक में सेफ्टी के नियमों का नही होता अनुपालन

रिलायंस के सासन पॉवर लिमिटेड कोल ब्लॉक अमलोरी के खदान में कार्य कर रही संविदा कंपनियों में सेफ्टी नियमों का अनुपालन नही होता है।माइंस का सेफ्टी बिभाग मूकदर्शक बना हुआ है।रिलायंस कोल माइंस में सीएचपी के वार्षिक रखरखाव साफसफाई का काम करने वाली कंपनी स्टार वेंडम सहित अन्य कंपनियों के कामों में प्रावधान के तहत एक इंजीनियर का कार्यस्थल पर होना जरूरी होता है और उसी के सुपरविजन में कंपनियों को काम करना होता है परंतु यहाँ ऐसा नही होता, अगर उक्त संविदा कंपनी के साइट पर कोई इंजीनियर मौजूद होकर अपने सुपरविजन में काम करवाता तो शायद मजदूर मुकेश कुशवाहा की मौत नही होती।

Monday, 30 March 2020

07:19

सिंगरौली कोरोना वायरस के चलते, देश को प्रधान मंत्री के लॉक डाउन के आदेश का मजाक बना रही एनसीएल की आउटसोर्सिंग कंपनियां।



पढ़े,के सी शर्मा की एक खास रिपोर्ट


सिंगरौली/सोमभद्र जिले की एनसीएल मे आउटसोर्सिंग का कार्य कर रही कंपनियां क्यो नही कर रही प्रशासन के आदेश का पालन और जिला प्रशासन एवं प्रवंधन मौन क्यो?
आखिरकार जिम्मेदार जिला प्रशासन इन कंपनियों पर इतना मेहरवान क्यों है?,

जैसा कि महा प्रचंड रूप धारण किये कोरोना वायरस की गंभीरता को देखते हुए देश के प्रधानमंत्री देश को संबोधित करते हुए सम्पूर्ण देश में लॉक डाउन का आवाह्न किया है। जिसमे मात्र मेडिकल सुविधायें, गैस एजेंसी, डीजल पेट्रोल पंप, किराने की दुकान,सब्जी, फल की दुकान, दूध की सुविधा, ओ भी सीमित समय 12 बजे से 04 बजे तक के लिए इसके अलावा सारे प्रोडक्सन बैन किया है,कोई भी अपने घरों से बाहर नही निकलने का आदेश जारी किया है इसके बावजूद  जिला प्रशासन के नियमों की धज्जियाँ आउटसोर्सिंग की कंपनियां उड़ा रही है।
जिला प्रशासन के द्वारा कहाँ गया है कि सीमित कर्मचारियों मे खदान चलाये लेकिन इनके द्वारा प्रशासन के नियमों को तार- तार करते हुए पुरे कर्मचारियों को बुलाकर कार्य कराया जा रहा है लॉक डाउन के पूर्व जितने कर्मचारी कार्य कर रहे थे आज भी उतने ही कर्मचारियों से कार्य करवाया जा रहा है।
अगर प्रशासन को इनकी करतूत देखनी हो तो शिफ्टिंग समय एवं मेंटिनेंस समय देख सकते है कि कितना नियमो का पालन हो रहा है।
इन कंपनियों के द्वारा अपने फायदे के लिए लोगो की जान से ऐसा खिलवाड़ किया जा रहा है जैसे मानो कोरोना वायरस जैसी महामारी का कोई डर ही न हो।आखिर आउटसोर्सिंग कंपनियां क्यो मौत का सौदागर बनने की सोच रही है?
प्रशासन की छूट का कही न कही नाजायज फायदा उठा रही है ?
  आखिरकार भोले-भाले मजदूरों का जीवन इतना सस्ता कैसे होगया, कौन बतायेगा ?

जहां देश के हर कोनों में अगर कोई गरीब घर से बाहर निकलता है तो उसे पुलिस प्रशासन द्वारा मार कर घर के अंदर भेज दिया जाता रहा है | वही आउटसोर्सिंग कंपनियों में  मजदूरों को शिप्ट बस के सहारे  कम्पनी के अंदर जाने से क्यों नही रोका जाता है जिसमे कई मजदूर एक साथ जाते है?
 यह एक महत्वपूर्ण सवाल विचारणीय है?
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कंपनी प्रबंधन द्वारा कहा गया है कि अगर कोई मजदूर कार्य पर नही आएगा तो उसका पैसा तो मिलेगा तो है ही नही उसको काम से भी निकाल दिया जायेगा।
ऐसे मे कैसे होगा लॉक डाउन का पालन या प्रधानमंत्री मंत्री के लॉक डाउन को आउटसोर्सिंग की कंपनियां खत्म करने मे लगी नही लगती  है?
इन कंपनियों के द्वारा कुछ सीमित  मजदूरों को मास्क बाटकर और मजदूरों को बिना मास्क बाटे ही कार्य करवाया जा रहा है।साथ ही ए भी कहा गया है कि अगर किसी से कंपनी के बारे मे शिकायत की तो काम से निकाल देंगे और फिर कभी नही रखेंगे,तो क्या यह धमकी नही है क्या?

यदिआउटसोर्सिंग कंपनियों की तानाशाही से अगर क्षेत्र में कोरोना वायरस किसी को हुआ तो उसका जिम्मेदार कौन, होगा यह एक गम्भीर सवाल जिम्मेदारों के समक्ष खड़ा है₹