Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Monday, 9 December 2019

10:34

जब एक हीरे में बदली इस युवक की किस्मत जाने कैसे


*पंकज पाराशर छतरपुर*
बुंदेलखंड का हीरा विश्व में अनमोल है l मध्य प्रदेश का पन्ना जिला हीरे उगलने के लिए देश भर में जाना जाता है। यहां लगातार हीरा मिलने की खबरें भी आती रहती हैं। इस बार एक युवक की किस्मत चमकी है। जिले की उथली हीरा खदान से एक युवक को करीब 70 लाख रुपए की हीरा मिला है। युवक का नाम किसान राहुल अग्रवाल है वह पन्ना जिले का ही रहने वाला है। रानीपुर इलाके में हीरा खदान से उसे 13 कैरेट 21 सेंट वजनी खास किस्म का हीरा मिला है।
जिले के हीरा कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, किसान राहुल अग्रवाल को रानीपुर में जारी अस्थाई अनुज्ञापन के तहत फरवरी से खदान लेकर उसमें खुदाई करवा रहे थे। शनिवार को उन्हें यह हीरा मिला है।  जिला हीरा अधिकारी आरके पांडे ने कहा कि हीरे की कीमत 50 लाख रुपए तक हो सकती है। अगली नीलामी में इसे रखा जाएगा। हीरा व्यवसायियों और जौहरियों के अनुसार इस हीरा की कीमत करीब 70 लाख रुपए है। जैसे ही राहुल को हीरे की कीमत मालूम चली उनके चेहरे पर मुस्कान और खुशी देखते ही बन रही थी। पन्ना जिले में एशिया की एकमात्र मैकेनाइज्ड हीरा खदान के अलावा लगभग 750 उथली खदाने चल रही हैं। इन खदानों को खोदने के लिए बाकायदा यहां स्थित प्रदेश के एक मात्र पन्ना हीरा कार्यालय से एक पट्टा बनवाया जाता है। और हीरा कार्यालय 25 गुणा 25 फीट की खदान आवंटित कर देता है यहां देश का कोई भी नागरिक हीरे की खदान खोद सकता है l
09:07

मध्यप्रदेश में तेजी से तबादलों का दौर जारी


*पंकज पाराशर छतरपुर*
भोपाल। मध्य प्रदेश में इस समय तेज़ी से तबादलों का दौर जारी है। लेकिन इस बीच मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीबी अफसरों पर गाज गिरने से मंत्रालय में अटकलों का दौर शुरू हो गया है। वाणिज्य कर विभाग के प्रमुख सचिव रहे मनु श्रीवास्तव को कामकाज में लापरवाही बरते पर उनसे विभाग की जिम्मेदारी वापस ले ली गई हैं। ऐसा माना जाता है कि श्रीवास्तव सीएम के खास अफसरों में से हैं। लेकिन लगातार उनकी शिकायतें मिलने की वजह से उनपर भी गाज गिर गई। मंत्रालय में अफसरों के बीच अब डर की स्थिति बन गई है। दबी जुबान कहा जा है कि अब गाज किसी पर भी गिर सकती है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सत्ता में आने के बाद श्रीवास्तव को उनकी पसंद का विभाग दिया था। यही नहीं, श्रीवास्तव के अलावा सीएम ने अतिरिक्त मुख्य सचिव गौरी सिंह का भी तबादला पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग से प्रशासन अकादमी में किया था। सिंह आईएएस एसोसिएशन की चैयरपर्सन भी हैं। उनको हटाने से अफसरों में संदेश गया है कि मंत्री के  आदेश की उपेक्षा करना किसी भी अफसर को भारी पड़ सकता है। ऐसा ही कुछ होशंगाबाद कलेक्टर और दतिया कलेक्टर, टीकमगढ़ कलेक्टर के साथ भी हुआ है। होशंगाबाद कलेक्टर शीलेंद्र सिंह को हटाने के पीछे रेत विवाद को बड़ी वजह माना जा रहा है। वहीं टीकमगढ़ कलेक्टर और दतिया कलेक्टर भी अपनी कार्यशैली के कारण हटाए गए हैं। इन तबादलों के बाद से अफसरों में संदेश गया है कि अब सरकार एक्शन मोड में है और किसी भी अफसर पर गाज गिर सकती है। सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री जल्द ही प्रिंसिपल सेक्रेटरी की एक नई टीम तैयार करेंगे। सत्ता में आने के बाद से ही कमलनाथ सरकार ने कई विभागों के पीएम बदले हैं।
09:04

तिहाड़ जेल को जल्लाद की तलाश



दिल्ली की तिहाड़ जेल में कोई जल्लाद नहीं होने के मद्देनजर जेल प्रशासन ने जल्लाद मुहैया कराने के लिए देश की अन्य जेलों से संपर्क किया है। सूत्रों ने रविवार को यह जानकारी दी। तिहाड़ जेल में ही निर्भया बलात्कार और हत्या मामले के दोषी बंद है। सूत्रों ने बताया कि उत्तर प्रदेश के जेल प्रशासन से अनौपचारिक बातचीत चल रही है।

सूत्रों के मुताबिक केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शुक्रवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से अनुशंसा की है कि 23 वर्षीय पैरा मेडिकल छात्रा से दुष्कर्म कर उसकी हत्या के मामले में दोषी एक आरोपी विनय शर्मा की दया याचिका खारिज कर दी जाए। उन्होंने बताया कि इसके एक दिन बाद शर्मा ने यह कहकर दया याचिका वापस ले ली कि उसे बिना उसकी सहमति के भेजा गया था।
निर्भया से 16 दिसंबर, 2012 की रात सामूहिक दुष्कर्म के मामले में चार लोगों को फांसी की सजा सुनाई गई है जबकि एक आरोपी ने सुनवाई के दौरान ही खुदकुशी कर ली थी। एक दोषी को नाबालिग होने की वजह से तीन साल सुधार गृह में रखने के बाद रिहा कर दिया गया।

उच्चतम न्यायालय ने 12 दिसंबर 2018 को उस जनहित याचिका को खारिज कर दिया था जिसमें केंद्र सरकार को मामले के दोषी मुकेश, पवन, विनय और अक्षय को मिली फांसी की सजा पर अमल करने के निर्देश देने की मांग की गई थी। गौरतलब है कि तिहाड़ जेल में आखिरी बार फांसी की सजा 13 फरवरी 2013 को संसद हमले के दोषी अफजल गुरु को दी गई थी।
07:45

9 दिसंबर 2019 का दैनिक राशिफल हिंदू पंचांग



🌞~ *आज का हिन्दू पंचांग पंडित विष्णु जोशी के साथ अपने भविष्य के बारे में अधिक जानकारी के लिए नीचे लिखे नम्बर पर बात कर सकते हैं* 🌞~ 7905156547
⛅ *दिनांक 09 दिसम्बर 2019*
⛅ *दिन - सोमवार*
⛅ *विक्रम संवत - 2076*
⛅ *शक संवत - 1941*
⛅ *अयन - दक्षिणायन*
⛅ *ऋतु - हेमंत*
⛅ *मास - मार्गशीर्ष*
⛅ *पक्ष - शुक्ल*
⛅ *तिथि - द्वादशी सुबह 09:54 तक तत्पश्चात त्रयोदशी*
⛅ *नक्षत्र - भरणी 10 दिसम्बर प्रातः 05:05 तक तत्पश्चात कृत्तिका*
⛅ *योग - परिघ शाम 05:18 तक  तत्पश्चात शिव*
⛅ *राहुकाल - सुबह 08:20 से सुबह 09:40 तक*
⛅ *सूर्योदय - 07:05*
⛅ *सूर्यास्त - 17:56*
⛅ *दिशाशूल - पूर्व दिशा में*
⛅ *व्रत पर्व विवरण - सोमप्रदोष व्रत, अखंड द्वादशी*
 💥 *विशेष - द्वादशी को पूतिका(पोई) अथवा त्रयोदशी को बैंगन खाने से पुत्र का नाश होता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*
               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~*
🌷 *पिशाच मोचिनी तिथि (श्राद्ध)* 🌷
➡ *पिशाचमोचन श्राद्ध तिथिः मार्गशीर्ष शुक्ल चतुर्दशी जो इस वर्ष 10 दिसम्बर 2019 मंगलवार को सुबह 10:45 से 11 दिसम्बर बुधवार को सुबह 10:59 तक मार्गशीर्ष शुक्ल चतुर्दशी है।*
🙏🏻 *इस दिन प्रेत योनि को प्राप्त जीवों (पूर्वजों) के निमित्त तर्पण आदि करने से उनकी सदगति होती है |जिनके घर-परिवार, आस-पडोस या परिचय में किसी की अकाल मृत्यु हुई हो या कोई भूत-प्रेत अथवा पितृबाधा से पीड़ित हो, वे पिशाच मोचिनी तिथि को उनकी सदगति, आत्मशांति और मुक्ति के लिए संकल्प करके श्राद्ध - तर्पण अवश्य करें | भूत-प्रेतादिक से ग्रस्त व्यक्ति इसे अवश्य करें |*
➡ *विधिः  प्रातः स्नान के बाद दक्षिणमुख होकर बैठें। तिलक, आचमन आदि के बाद पीतल या ताँबे के थाल अथवा तपेली आदि मे पानी लें। उसमें दूध, दही, घी, शक्कर, शहद, कुम -कुम, अक्षत, तिल, कुश मिलाकर रखें। हाथ में शुद्ध जल लेकर संकल्प करें कि ʹअमुक व्यक्ति (नाम) के प्रेतत्व निवारण हेतु हम आज पिशाचमोचन श्राद्ध तिथि को यह पिशाचमोचन श्राद्ध कर रहे हैं।ʹ हाथ का जल जमीन पर छोड़ दें। फिर थोड़े काले तिल अपने चारों ओर जमीन पर छिड़क दें कि भगवान विष्णु हमारे श्राद्ध की असुरों से रक्षा करें। अब अनामिका उँगली में कुश की अँगूठी पहनकर (ʹૐ अर्यमायै नमःʹ) मंत्र बोलते हुए पितृतीर्थ से 108 तर्पण करें अर्थात् थाल में से दोनों हाथों की अंजली भर-भर के पानी लें एवं दायें हाथ की तर्जनी उँगली व अँगूठे के बीच से गिरे, इस प्रकार उसी पात्र में डालते रहें। ( तर्पण पीतल या ताँबे के थाल अथवा तपेली में बनाकर रखे जल से करना है।)*
🙏🏻 *108 तर्पण हो जाने के बाद दायें हाथ में शुद्ध जल लेकर संकल्प करें कि सर्व प्रेतात्माओं की सदगति के निमित्त किया गया, यह तर्पण कार्य भगवान नारायण के श्रीचरणों में समर्पित है। फिर तनिक शांत होकर भगवद्-शांति में बैठें। बाद में तर्पण के जल को पीपल में चढ़ा दें।*🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~*
🌷 *मार्गशीर्ष मास की शुक्ल मास चतुर्दशी* 🌷
🙏🏻 *मस्त्यपुराण कहता है कि - मार्गशीर्ष मास शुक्ल पक्ष चतुर्दशी तिथि के दिन अगर कोई शिवजी का १७ नामों से पूजन करे या वो १७ मंत्र बोलकर उनको प्रणाम करे | जो शिव है वो गुरु है और जो गुरु है वो शिव है | अपने गुरुदेव का भी स्मरण करते करते करें , तो भी उन तक पहुँच जाता है | और ज्यादा किसी को समस्या है वो विशेष रूप से, १७ नाम मस्त्यपुराण में बताया है | उसी दिन खास महिमा है उसकी, मार्गशीर्ष मास के बारे में जानते होंगे, जो भगवत गीता पाठ करते हैं | तो भगवान ने गीता के १० वे अध्याय में कहाँ है – ‘मासा नाम मार्गशीर्षोंहम’ की जो मार्गशीर्ष मास में भगवान ने अपनी विभूति बताया और उसमे शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी |*
👉🏻 *१७ नाम इस प्रकार* 👈🏻
🌷 १) *ॐ शिवाय नम:*
🌷 २) *ॐ सर्वात्मने नम:*
🌷 ३) *ॐ त्रिनेत्राय नम:*
🌷 ४) *ॐ हराय नम:*
🌷 ५) *ॐ इन्द्र्मुखाय नम:*
🌷 ६) *ॐ श्रीकंठाय नम:*
🌷 ७) *ॐ सत्योजाताय नम:*
🌷 ८) *ॐ वामदेवाय नम:*
🌷 ९) *ॐ अघोरहृदयाय नम:*
🌷 १०) *ॐ तत्पुरुषाय नम:*
🌷 ११) *ॐ ईशानाय नम:*
🌷 १२) *ॐ अनंतधर्माय नम:*
🌷 १३) *ॐ ज्ञानभुताय नम:*
🌷 १४) *ॐ अनंतवैराग्यसिंघाय नम:*
🌷 १५) *ॐ प्रधानाय नम:*
🌷 १६) *ॐ व्योमात्मने नम:*
🌷 १७) *ॐ युक्तकेशात्मरूपाय नम:*
🙏🏻 *तो जिनको जीवन में कष्ट आदि हैं  उनको दूर करने में मदद मिलती है | और दो नाम पार्वतीजी के बोलेंगे उसी दिन – ॐ पुष्ट्ये नम: , ॐ तुष्टये नम: माँ पार्वती को नमन करके ये दो मंत्र उस दिन बोले की मैं श्रद्धा और भक्ति से पुष्ट बनूँ क्योंकि पार्वतीजी ‘भवानी शंकरों वन्दे श्रद्धा विश्वास रुपिनों’ आप श्रद्धा की मूर्ति है माँ मैं श्रद्धा से पुष्ट बनूँ मैं गुरुदेव के प्रति विचार रूपी सात्विक श्रद्धा से पुष्ट बनूँ |*
🌷 *शिव गायत्री मंत्र – ॐ तत्पुरुषाय विद्महे | महादेवाय धीमहि, तन्नो रूद्र प्रचोदयात् ।।आइये जानते हैं राशियों के बारे में कैसा रहेगा आपका भविष्य रोज की तरह पहले मेष राशि लेकिन उससे पहले पंचक के बारे में*
🌷🌞🙏
पंचक
पंचक तिथि प्रारंभ - 3 दिसम्बर, 12:58 AM  पंचक तिथि समाप्त - 8 दिसम्बर, 01:29 AM पर
एकादशी
रविवार, 22 दिसंबर सफला एकादशी
प्रदोष
09 दिसंबर 2019 सोमवार सोम प्रदोष व्रत
23 दिसंबर 2019 सोमवार सोम प्रदोष व्रत
अमावस्या
26 दिसंबर 2019- गुरुवार- पौष अमावस्या।

मेष 🌞🙏
: सामाजिक समारोह में शामिल होंगे। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। आप क्यों दूसरे के मामलों में पड़ते है, नुकसान आपका ही होगा। बिना मांगे अपनी राय न दें। पिता के साथ गंभीर विषय पर चर्चा होगी।
वृषभ 🌞🌷🙏
: धार्मिक कार्यों में सहभागिता होगी। समय रहते अपने कार्यों को पूर्ण करें। आपके आलसी रवैये से नुकसान हो सकता है। कारोबार विस्तार के लिए कर्ज लेना पड़ सकता है।
मिथुन 🌞🌷
 मनचाहा जीवनसाथी मिलने से प्रस्सन होंगे। आपके व्यवहार से लोग आकर्षित होंगे। कार्यस्थल पर पूजा-पाठ में शामिल होंगे। भाई-बहनों से स्नेह मिलेगा। विद्युत उपकरण खरीद सकते हैं।
कर्क 🌞🌷
: पूंजी निवेश से अच्छा परिणाम प्राप्त होगा। नए वस्त्रों की प्राप्ति आज हो सकती है। वाहन पर धन खर्च होगा। जरूरतमंद की मदद करें, रुके कार्य बन जाएंगे। भूमि लाभ संभव।
सिंह 🌷🌷
 कारोबार में नई तकनीक से लाभ होगा। कार्य की अधिकता से तनाव रहेगा। कार्य स्थल पर कर्मचारियों की अनियमिता से परेशान रहेंगे। मन की बात कहने का समय नहीं है।
कन्या 🙏🙏
 वित्तीय मामलों में दूसरों पर भरोसा न करें। भावनात्मक संबंधों में नजदीकियां बढ़ेगी। किसी भी नए कार्य को करने के पूर्व रणनीति तैयार करें। नौकरी में तरक्की के आसार है।
तुला 🌞🙏🙏
: व्यस्त जिन्दगी में कुछ समय अपनों को भी दें। आप मन के साफ हैं, पर किसी को समझाने के लिए नर्मी से पेश आएं। शिक्षा स्थल पर विवाद की स्थिति को टालें। किसी भी कार्य को करने से पहले अपने परिवार के बारे में जरुर सोचें।
वृश्चिक 🌞🌷🌷
 वही होता है जो भगवान को मंजूर होता है। व्यर्थ की चिंता छोड़ दें और अपने सपने पूरे करने में लग जाएं। आज आकस्मिक धन प्राप्त हो सकता है। कला से लोगों को प्रभावित करेंगे।
धनु 🌞🙏
 लंबे समय से चले आ रहे विवाद आज सुलझ सकते हैं। संतान सुख संभव। विदेश जाने के योग हैं। जीवनसाथी के सहयोग से कार्य पूर्ण होंगे। किसी के देखा देखी में अपना नुकसान हो सकता है।
मकर 🙏🙏
अपने व्यवहार और आचरण बदलें। सब आपके हो जाएंगे। अपने माता-पिता से ऐसा व्यवहार ठीक नहीं है। जैसा व्यवहार आप करेंगे वैसा आपके साथ भी हो सकता है, अपनी भूल सुधारें, लाभ होगा।
कुंभ 🌷🍒🙏
 परिवार की खिलाफ जा सकते हैं। जल्दबाजी में कुछ फैसले लेने पड़ेंगे। संचित धन का उपयोग सतर्कता पूर्वक करें। नई जिम्मेदारी मिलने की संभवाना है। पैर में चोट लग सकती है।
मीन
 अपने करियर के प्रति महतवपूर्ण फैसले लेने पड़ेंगे। आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। परिवार के साथ लंबी यात्रा के योग है। अच्छे कार्य की शुरुआत बड़ों के आशीर्वाद से हो। विदेश जाने की बाधा दूर हो सकती है।

जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाये

🌞☀🌷🍒
अंक ज्योतिष का सबसे आखरी मूलांक है नौ। आपके जन्मदिन की संख्या भी नौ है। यह मूलांक भूमि पुत्र मंगल के अधिकार में रहता है। आप बेहद साहसी हैं। आपके स्वभाव में एक विशेष प्रकार की तीव्रता पाई जाती है। आप सही मायनो में उत्साह और साहस के प्रतीक हैं। मंगल ग्रहों में सेनापति माना जाता है। अत: आप में स्वाभाविक रूप से नेतृत्त्व की क्षमता पाई जाती है। लेकिन आपको बुद्धिमान नहीं माना जा सकता। मंगल के मूलांक वाले चालाक और चंचल भी होते हैं। आपको लड़ाई-झगड़ों में भी विशेष आनंद आता है। आपको विचित्र साहसिक व्यक्ति कहा जा सकता है।

शुभ दिनांक : 9,  18,  27 

शुभ अंक : 1,  2,  5,  9,  27,  72
शुभ वर्ष : 2017,  2017,  2025,  2036,  2045

ईष्टदेव : हनुमान जी,  मां दुर्गा। 

शुभ रंग : लाल,  केसरिया,  पीला

कैसा रहेगा यह वर्ष
अपनी शक्ति का सदुपयोग कर प्रगति की और अग्रसर होंगे। पारिवारिक विवाद सुलझेंगे। महत्वपूर्ण कार्य योजनाओं में सफलता मिलेगी। अधिकार क्षेत्र में वृद्धि संभव है। नौकरी में आ रही बाधा दूर होगी। स्वास्थ्य भी ठीक रहेगा। राजनैतिक व्यक्ति सफलता का स्वाद चख सकते हैं। मित्रों स्वजनों का सहयोग मिलने से प्रसन्नता रहेगी।🌞🌷🙏
07:41

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के इतिहास के लेखक चंद्रशेखर परमानंद जी पर विशेष


-के सी शर्मा*

आज राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का साहित्य प्रचुर मात्रा में उपलब्ध है।  प्रायः हर राज्य में अपनी-अपनी भाषाओं में संघ के प्रकाशन संस्थान भी हैं, जहां न केवल संघ अपितु हिन्दू विचार को बढ़ाने वाला साहित्य प्रकाशित होता है। प्रायः सभी बड़े कार्यालयों पर संघ वस्तु भंडार भी हैं, जहां ऐसा साहित्य बिक्री हेतु उपलब्ध हो जाता है। प्रकाशन एवं विक्रय की समुचित व्यवस्था के कारण देश भर में कहीं न कहीं, किसी न किसी भाषा में प्रायः हर दिन संघ की कोई न कोई पुस्तक प्रकाशित हो रही है। प्रायः सभी प्रमुख भाषाओं में बड़े या छोटे समाचार पत्र और जागरण पत्रक भी प्रकाशित हो रहे हैं।

पर जब संघ का काम प्रारम्भ हुआ, तब ऐसा कुछ नहीं था। प्रसिद्धि से दूर रहने की नीति के कारण इस ओर किसी का ध्यान भी नहीं था; पर क्रमशः लेखन और सम्पादन में रुचि रखने वाले कुछ लोगों ने यह काम प्रारम्भ किया। श्री चंद्रशेखर परमानंद (बापूराव) भिषीकर ऐसे लोगों की मालिका के एक सुवर्ण मोती थे।

संघ के संस्थापक पूज्य डा. केशव बलीराम हेडगेवार की पहली जीवनी उन्होंने ही लिखी। इसमें उनकी जीवन-यात्रा के साथ ही संघ स्थापना की पृष्ठभूमि तथा उनके सामने हुआ संघ का क्रमिक विकास बहुत सुंदर ढंग से लिखा गया है। लम्बे समय तक इसे ही संघ की एकमात्र अधिकृत पुस्तक माना जाता था। आगे चलकर उन्होंने श्री गुरुजी, भैया जी दाणी, दादाराव परमार्थ, बाबासाहब आप्टे आदि संघ के अनेक पुरोधाओं के जीवन चरित्र लिखे। इस कारण बापूराव को संघ इतिहास का व्यास कहना नितांत उचित ही है।

बापूराव का जन्म नौ अगस्त, 1914 को हुआ था। वे संघ के प्रारम्भिक स्वयंसेवकों में से एक थे। अतः उन्हें डा. हेडगेवार, श्री गुरुजी तथा उनके साथियों को निकट से देखने एवं उनके अन्तर्मन को समझने का भरपूर अवसर मिला था। संघ की कार्यपद्धति का विकास तथा शाखाओं का नागपुर से महाराष्ट्र और फिर पूरे भारत में कैसे और कब विस्तार हुआ, इसके भी वे अधिकृत जानकार थे।

छात्र जीवन से ही उनकी रुचि पढ़ने और लिखने में थी। इसलिए आगे चलकर जब उन्होंने पत्रकारिता और लेखन को अपनी आजीविका बनाया, तो जीवनियों के माध्यम से संघ इतिहास के अनेक पहलू स्वयंसेवकों और संघ के बारे में जानने के इच्छुक शोधार्थियों को उपलब्ध कराये। कुल मिलाकर उन्होंने संघ के दस वरिष्ठ कार्यकर्ताओं के जीवन चरित्र लिखे।

एक निष्ठावान स्वयंसेवक होने के साथ ही वे मौलिक चिंतक भी थे। संघ के संस्कार उनके जीवन में हर कदम पर दिखाई देते थे। पुणे के ‘तरुण भारत’ में सम्पादक रहते हुए वे ‘अखिल भारतीय समाचार पत्र सम्पादक सम्मेलन’ (ए.आई.एन.ई.सी.) के सदस्य बने। सामान्यतः पत्रकारों और सम्पादकों के कार्यक्रमों में खाने और पीने की अच्छी व्यवस्था रहती है। आजकल तो इसमें नकद भेंट से लेकर कई अन्य तरह के भ्रष्ट आचार-व्यवहार भी जुड़ गये हैं; पर बापूराव ऐसे कार्यक्रमों में जाने के बाद भी पीने-पिलाने से सदा दूर ही रहे।

सक्रिय पत्रकारिता से अवकाश लेने के बाद भी बापूराव ने सक्रिय लेखन से अवकाश नहीं लिया। उनकी जानकारी, अनुभव तथा स्पष्ट विचारों के कारण विभिन्न पत्र-पत्रिकाएं उनसे लेख मांगकर प्रकाशित करती रहती थीं। वृद्धावस्था संबंधी अनेक कष्टों के बावजूद पुणे में अपने पुत्र के पास रहते हुए उन्होंने अपने मन को सदा सकारात्मक विचारों से ऊर्जस्वित रखा। बापूराव के बड़े भाई नाना भिषीकर बाबासाहब आप्टे के घनिष्ठ सहयोगी थे। डा. हेडगेवार की योजनानुसार 1931 में वे संघ कार्य के लिए सिन्ध प्रान्त के कराची नगर में गये थे।

संघ इतिहास के ऐसे शीर्षस्थ अध्येता का आठ दिसम्बर, 2008 को महाराष्ट्र के उस्मानाबाद जिले के हराली कस्बे में निधन हुआ।
07:35

प्याज की आग से सुलगता देश के सी शर्मा की कलम से



*प्याज की आग-के सी शर्मा*

 इस देश की जनता का एक बड़ा वर्ग अपने पसंदीदा हीरो की फिल्मों का 200 से 500 करोड़ का मुनाफा करवा सकती है।

 लेकिन प्राकृतिक आपदा और कम उत्पादन के कारण प्याज़ को 80 से 100 रु में खरीद नहीं सकती।

 जबकि मल्टीप्लेक्स में 200 रु में एक छोटे पैकेट में मिलने वाले पॉपकॉर्न बड़ी आसानी से खरीद लेंगे।

 वहां स्टेट्स के सवाल जो रहता है, ओमेटे-झोमेटो से महंगे पिज़्ज़ा बर्गर खाने वाले  TV न्यूज़ चैंनलों में ऐसे ही लोग विरोध कर रहे है  गले में प्याज़ की माला पहनें हुए है लेकिन वो प्याज़ की माला किसी उस झोपड़ी वाले गरीब को नहीं दे सकते जो वास्तव में प्याज नहीं खरीद सकता।

 अजब-गजब है अभी सभी मोबाइल नेटवर्किंग कम्पनियों ने 40 से 50 प्रतिशत भाव बढ़ाये लेकिन मज़ाल है किसी ने मोबाइल गले में डालकर विरोध दर्ज करवाया हो आखिर क्या है माज़रा सिर्फ प्याज़ के बड़े भाव का।

 वैसे देशवासियों को इतना करना चाहिए कि अब इस प्याज का प्रयोग कुछ दिनों के लिए बंद करते ताकि जो जमाखोर प्याज का स्टॉक बनाकर बैठे हैं उनका नुकसान हो और आगे से वापस इस तरह की समस्या न तैयार हो।

 हर बार प्याज को लेकर बवाल होता है और जनता को बेवकूफ बनाया जाता है...मीडिया वालों को अच्छी TRP मिल जाती है और इन्हीं बातों से प्याज की रेट भी बेचने वाले बढ़कर बेचते हैं क्योंकि उनको बहाना मिल जाता है।

 जनता समझदार बने और इन सभी को मजा चखाए सारा मसला सदा के लिए खत्म हो जाएगा...प्याज खाना कोई अत्यंत आवश्यक नहीं...केवल २ काम कीजिए :-

१- ऐसी कमी के समय (जब जमाखोर प्याज दबाकर बैठ जाते हैं और रेट बढाते हैं ) तजा प्याज खरीदें ताकि किसानों का सामान बीके और जमाखोरों का प्याज सड़े (इससे थोड़ा असर तो पड़ेगा )।

२- यदि प्याज महँगा है तो थोड़े दिन प्याज खाना बंद कर दीजिए (ये टेक्निक हर सामान पर आजमाई जा सकती है ) जब मांग कम होगी तो अपने आप प्याज की रेट नीचे आएगी।

 १०० की एक बात ये है कि प्याज कभी कम नहीं होता ये जमाखोर दबाकर बैठ जाते हैं ताकि महंगे दामों में बेच सकें और मोटा मुनाफा कमा सकें...इसलिए इन्हें सबक सिखाना जरूरी है।
07:30

कब्र में दफन लड़की का शव रहस्यमय तरीके से गायब


पीलीभीत-नाबालिक लड़की का कब से शव गायब हो गया है  परिजनों ने दिन पूर्व शव को कब्र में किया था दफन, कब्र से अचानक शव गायव होने से क्षेत्र में बनी दहशत, पुलिस जांच पड़ताल में जुटी,छः माह पहले भी हो चूका था कब्र से एक लड़की का शब गायब

थाना बिलसन्डा के ग्राम खूटराया निवासी राजेश कुमार की पुत्री की बीमारी के चलते तीन दिन पहले शाम को मौत हो गयी थी दूसरे दिन परिजनों ने लड़की के शब को गाँव के बाहर शमशाम घाट पर कब्र खोदकर अंतिम।संस्कार कर दिया था  लेकिन आज सुबह ग्रामीणों ने कब्र को को खुला देखा तो हड़कंप मच गया। कब्र से 2 दिन पहले दफन की गई लड़की का शव भी गायब था परिजनों ने जिसकी सुचना बिलसांडा पुलिस को दी सुचना पर थाना प्रभारी हरिशंकर वर्मा भी मय फ़ोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और मामले की जांच में पुलिस जुट गयी है

लड़की के चाचा ने बताया कि उसकी भतीजी को पीलिया हो गया था जिसका कई दिनों तक उपचार भी चला। बीमारी के कारण उसकी मौत हो गयी थी


छः माह पहले भी कब्र से गायब हुया था लड़की का शब

ग्राम खुटराया में में कब्र से शब गायब होने ये कोई पहला मामल्स नही है लगभग छः माह पहले भी एक लड़की का शब कब्र से गायब हुआ था फिलहाल उस का पता नही चल सका था वही शब गायब होने से गाँव में दहशत बनी हुई है
07:20

रात में महिलाओं को नहीं मिल रही हो टैक्सी तो डायल करें 112 पुलिस की गाड़ी पहुंचाएगी घर



देशभर में महिला सुरक्षा की आवाज को लेकर अब उसमें यूपी सरकार भी शामिल होती दिख रही है, महिलाओं की सुरक्षा को लेकर योगी सरकार ने एक महत्वपूर्ण फैसला लिया है, योगी सरकार का कहना है कि रात के 09:00 बजे के बाद अगर किसी भी महिला को घर जाने के लिए टैक्सी नहीं मिल रही या और कोई भी साधन उपलब्ध नहीं है तो डाॅयल 112 पर काॅल कर महिला अपनी परेशानी बता सकती है।पुलिस तत्काल महिला को सुरक्षित उसके घर तक बिना देरी किये पहुंचाने का काम करेगी।

इस संबंध में सरकार द्वारा आदेश होने के बाद एडीजी रेंज जय नारायण सिंह ने पुलिस को ऐसी कॉल को गंभीरता से लेने और मदद के लिए तुरंत पहुंचने का आदेश जारी किया है, एडीजी रेंज ने जारी आदेश में बताया कि ऐसे मामलों को पुलिस गंभीरता से ले और मदद के लिए तत्काल पहुंचे।महिलाओं की सुरक्षा के लिए अब डाॅयल 112 को और बेहतर किया गया है।महिला केवल कोई अपराध होने पर ही 112 डाॅयल नहीं कर सकेगी बल्कि अगर रात के 09:00 बजे के बाद टैक्सी नहीं मिलती है या वह कहीं सुनसान जगह पर है और उसे घर पहुंचना है तो उसे 112 डाॅयल करना होगा।

पुलिस विभाग का मानना है कि इस व्यवस्था से सबसे अधिक फायदा कामकाजी महिलाओं को मिलेगा।यदि किसी भी महिला, छात्रा को जरूरत महसूस हो तो पुलिस से मदद मांगें,पुलिस तत्काल पहुंचेगी।उनको साधन मिलने में देरी होने पर पुलिस मदद को आ सकेगी।

Sunday, 8 December 2019

21:34

8 जनवरी 2020 को श्रम संगठनों की होने वाली हड़ताल की रणनीति को लेकर सूरजपुर व नोएडा में बैठक संपन्न



ग़ेटर नोएडा,  केंद्रीय श्रम संगठनों, औधोगिक फेडरेशन व कर्मचारियों के संगठनों के संयुक्त  आह्वान पर 8 जनवरी 2020 को होने वाली हड़ताल को जनपद गौतम बुद्ध नगर में सफल बनाने के लिए रविवार 8 दिसंबर 2019 को सूरजपुर पार्क ग्रेटर नोएडा में इंटक, एचएमएस, सीटू,  यूटीयूसी,  यूपीएलएफ, टीयूसीआई, भारतीय मजदूर यूनियन, नोएडा कामगार महासंघ, आंगनवाड़ी कर्मचारी यूनियन व बैंक, दूरसंचार, बीमा, दूर संचार, बीमा, डाक, बिजली, रोडवेज, एवं  सरकारी व गैर सरकारी कर्मचारियों की यूनियन/ फैडरेशन के कार्यकर्ताओं का संयुक्त कन्वेंशन हुआ। कन्वेशन की शुरुआत उन्नाव की बेटी को 2 मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए हुई।
 कन्वेंशन में केंद्र व प्रदेश सरकार की मजदूर विरोधी नीतियों की कड़ी निंदा करते हुए 8 जनवरी 2020 को पूरे जिले का चक्का जाम हड़ताल करने और पूरे जिले में व्यापक जन जागरण अभियान के तहत कई बड़े कार्यक्रम करने का प्रस्ताव पारित किए गए कन्वेंशन को ट्रेड यूनियन नेता गंगेश्वर दत्त शर्मा, उदय चंद्र झा, रामसागर, कपिल, आर पी सिंह, सुधीर त्यागी, अमर सिंह, एसएन पांडे, रजनीश शर्मा, सुनील शाही, मुकेश राघव, सुनील कुमार, अमीचंद, राम स्वार्थ, अजीत, सिकन्दर आदि ने सम्बोधित किया। कन्वेशन की अध्यक्षता कामरेड अमर सिंह और संचालन रामसागर ने किया ।

गंगेश्वर दत्त शर्मा
जिलाध्यक्ष
सीटू गौतमबुध्दनगर
9811595701
21:27

व्यापम घोटाले की फिर खुल सकती है फ़ाइल


*पंकज पाराशर छतरपुर*
भोपाल। बहुचर्चित व्यापमं घोटाले में आज तक मुख्य आरोपियों की पकड़ नहीं हो पाई है। जबकी शिक्षा जगत का यह देश में सबसे बड़ा घोटाला कहा जाता है। जिसके तार 2003 में आई भाजपा सरकार के कार्यकाल से जुड़े हैं। 15 साल बाद सत्ता में लौटी कांग्रेस अब एक बार फिर व्यापमं मामले में नइ सिरे से जांच कराना चाहती है। मुख्यमंत्री कमलनाथ इस संबंध में एक समिति भी गठित कर रही है। जो बीती सरकार में हुए घोटालों की जांच करेगी। अब पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पर आफत का पहाड़ टूट गया है l दोषियों पर एफआईआर दर्ज होगी l इस समिति में गृह, शिक्षा, मेडिकल शिक्षा, तकनीकी शिक्षा और कानून विभाग के अफसर शामिल रहेंगे। इस बारे में बताया कि समिति का उद्देश्य यह देखना है कि क्या किसी दोषी को निर्दोष छोड़ दिया गया है या किसी निर्दोष के साथ अन्याय हुआ है। समिति यह भी जांच करेगी कि क्या कोई छात्र जिसके खिलाफ कोई एफआईआर नहीं थी, उसे दंडित किया गया है। समिति उन छात्रों और उनके परिवार के सदस्यों का भी पता लगाएगी, जिनके खिलाफ बहाने से मुकदमे दर्ज किए गए थे। सरकार उन मामलों पर भी कार्रवाई करेगी, जिनकी दोबारा जांच की जाएगी
सरकार ने गृह विभाग से उन मामलों को फिर से खोलने के लिए कहा है जो बंद हो चुके हैं। गृह विभाग उन मामलों के माध्यम से स्थानांतरित कर रहा है जिन्हें सीबीआई ने छोड़ दिया है, क्योंकि 1,040 ऐसे मामले हैं जिन्हें केंद्रीय एजेंसी ने अपनी जांच के दायरे से बाहर रखा है। सबूतों के अभाव में पुलिस द्वारा बंद किए गए कई मामले फिर से खुल जाएंगे। समिति के माध्यम से, सरकार माता पिता को आरोपी बनाने के बजाय अनुमोदन करने के कुछ तरीकों का पता लगाना चाहती है, ताकि उन्हें संरक्षित किया जा सके। समिति घोटाले में पकड़े गए छात्रों को बचाने के तरीके भी खोजेगी, क्योंकि सरकार छात्रों और उनके माता-पिता को कुछ राहत देने के लिए उत्सुक है।
गृह मंत्री बाला बच्चन ने कहा कि 300 छात्रों का प्रवेश रद्द कर दिया गया, हालांकि उनके खिलाफ कोई मामला नहीं था। बच्चन के अनुसार, गृह मंत्रालय उन फर्जी मामलों की जांच कर रहा है जो सीबीआई जांच के बाहर थे। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों और तकनीकी शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ चर्चा की जाएगी। उन्होंने कहा कि निर्दोषों के साथ न्याय किया जाएगा और दोषियों को दंडित किया जाएगा l
21:06

भूपेंद्र जादौन के नेतृत्व में दिन पर दिन बढ़ती जा रही है आम आदमी पार्टी की लोकप्रियता



आम आदमी पार्टी विधानसभा के सैक्टर 104 के सफायर टॉवर टू में हाजीपुर विलेज व अन्य दर्जनों टावर के लोगो ने  नोएडा में आप की बढ़ती गतिविधियों व दिल्ली सरकार से प्रभावित होकर आज आम आदमी पार्टी को आमंत्रित किया व अपनी क्षेत्रीय समस्याओं से पार्टी पदाधिकारियों को अवगत कराया
     सेक्टर 104 के सफायर टावर पहुँचने पर स्थानीय निवासियों ने आप के जिलाध्यक्ष भूपेन्द्र जादौन व अन्य पदाधिकारियों को फूल -मालाओं से जोरदार स्वागत किया तथा काफी संख्या में लोग पार्टी में  शामिल हुए व सदस्यता फार्म भरा व लोगो ने आप पदाधिकारियों को बताया कि सड़के नही बनी हुई है मच्छरों के प्रकोप है  तथा प्राधिकरण ने स्वच्छता अभियान के तहत करोड़ो रूपये बहा दिए लेकिन हमारे क्षेत्र में हम लोग मूलभूत समस्याओं से जूझ रहे है
    भूपेंद्र जादौन ने यहाँ पर लोगो को संबोधित करते हुए कहा कि आपकी सारी समस्याएं जायज है आप पार्टी इन सारी समस्याओं के मुद्दे को लेकर शीघ्र ही प्राधिकरण अधिकारियों से मिलकर समस्याओं का निबटारा कराने का प्रयास करेगी और यदि इससे भी बात नही बनी तो पार्टी आंदोलन करने को बाध्य होगी

      जिला महासचिव व पार्टी प्रवक्ता संजीव निगम ने बताया कि आज के इस कार्यक्रम में नोइडा महानगर अध्यक्ष प्रशांत रावत,व्यापार प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष गुडडू यादव ,विककी पंडित,दर्शन लाल शर्मा,गौरव,निखिल वर्मापौल लखन,ओम प्रकाश तिवारी,सुभाष भगत,पूजा पांडेय,गीता शर्मा,सोनिया शर्मा,प्रीति सूद,विजय रानी,
जोबिन,अनीश,अमित गुप्ता,
लिपि जैनी,शिनू गुप्ता,खान जी आदि उपस्थित रहे

संजीव निगम

17:15

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में हुई पुलिस कांबिंग



*सोनभद्र।*

आज दिनांक 08 दिसंबर 2019 को झारखंड प्रान्त के जनपद गढ़वा  के थाना धुरकी के ग्राम भूमफोर बॉर्डर पर थाना विंधमगंज के ग्राम कुदरी व ग्राम बरखोहरा मे नक्सली गतिविधियों की रोकथाम  व आम जनमानस में सुरक्षा व भयमुक्त वातावरण बनाये रखने हेतु श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय सोनभद्र द्वारा दिये गये आदेश के क्रम में श्रीमान अपर पुलिस अधीक्षक महोदय ऑपरेशन के कुशल निर्देशन में श्रीमान क्षेत्राधिकारी  महोदय दुद्धी व श्रीमान क्षेत्राधिकारी महोदय घोरावल के नेतृत्व में थानाध्यक्ष विंढमगंज  मयहमराह व प्रभारी निरीक्षक  क्राइम  थाना कोन मयहमराह व थानाध्यक्ष म्योरपुर मयहमराह प्रभारी निरीक्षक बीजपुर मयहमराह व  प्रभारी निरीक्षक दुद्धी   मयहमराह व एक प्लाटून सीआरपीएफ व तीन प्लाटून पीएसी बल के साथ थाना विंढमगंज अंतर्गत ग्राम कुदरी व बरखोहरा बॉर्डर तक कांबिंग की गयी व ग्राम बरखोहरा की जनता से उनकी समस्याओ के बारे मे  अधिकारी द्वय  द्वारा वार्ता की गई| थानाध्यक्ष विंढमगंज
17:09

लखीमपुर खीरी के नया गांव ग्रंथ नंदनपुर में कबड्डी टूर्नामेंट का आयोजन


लखीमपुर खीरी के  गोला गोकरण नाथ  स्थित ग्राम नया गांव ग्रन्ट लन्दनपुर में कबड्डी टूर्नामेंट का आयोजन किया गया जिसके मुख्य अतिथि समाजवादी पार्टी नेता ने फीता काटकर कबड्डी टूनामेन्ट का उद्धघाटन किया कबड्डी टूर्नामेंट दो दिन चलेगा जिसमे कुछ इस प्रकार टीमें खेलेगी आज तीन टूर्नामेंट हुए पहला टूर्नामेंट मैच नया गाँव और पियरा के बीच हुआ जिसमें नया गाँव विजय हुई दूसरा मैच वीरमपुर और नौआखेड़ा के बीच हुआ जिसमें नौआखेड़ा विजय हुई और तीसरा मैच खुर्रमनगर और बहेड़ा जूनियर के बीच हुई जिसमें खुर्रमनगर विजय हुई इसी मौके पर ग्राम अहमदनगर के पूर्व प्रधान हज़रत अली मंसूरी,व  मो०सुएब अली सपा नेता भी मौजूद रहे इसी प्रकार कमेटी के सदस्य मो० आलम ,यूनुस अहमद,सद्दाम हुसेन, मुनव्वर अली ,मो० इस्ताम अली व तमाम दर्शक मौजूद रहे ।
13:21

मध्य प्रदेश में नई रेत नीति से बड़ा प्रदेश का राजस्व


भोपाल।म प्र।
राज्य शासन द्वारा तैयार की गई नई रेत नीति के बेहतर परिणाम प्राप्त हुए हैं। खनिज साधन मंत्री प्रदीप जायसवाल ने बताया की रेत खदानों के लिए बुलाई गई ऑनलाइन निविदाओं के जरिए मध्य प्रदेश सरकार को 1203 करोड़ रुपए की आमदनी होगी। मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में बनी नई सरकार ने मात्र 1 साल के अंदर पिछली सरकार की तुलना में  5 गुना राजस्व बढ़ाया है।पूर्ववर्ती भाजपा सरकार में रेत से प्राप्त होने वाले वाला राजस्व मात्र 240 करोड़ था।
शनिवार को मीडिया से बातचीत में खनिज मंत्री जायसवाल ने कहा कि नई रेत नीति के बहुत बेहतर परिणाम प्राप्त हो रहे हैं ।सरकार ने रेत की उपलब्धता के आधार पर 43 जिलों के समूह बनाए थे और ऑनलाइन पोर्टल के जरिए निविदाएं आमंत्रित की थी। जिसमें 243 निविदाएं प्राप्त हुई थी ।खनिज मंत्री के मुताबिक अब तक 7 जिलों में एकमात्र निविदा  अभी प्राप्त नहीं हुई है, जिसके लिए निविदा बुलाने की पुनः कार्यवाही की जा रही है। जायसवाल ने उम्मीद जताई कि जिन 7 जिलों में अभी निविदाएं की जाना है।उनसे और राजस्व प्राप्त होगा तो यह राजस्व के आँकड़े  और बढ़ने की उम्मीद है। फिलहाल 36 जिलों प्रदेश सरकार को 1203 करोड़ों पर की आमदनी हुई है। जिसका आपसेट  प्राइस ₹448करोड़  रखा गया था। राजस्व प्राप्ति और बढ़ोतरी का खास बिंदु यह है कि आपसेट प्राईस  से भी 3 गुना अधिक राजस्व सरकार को प्राप्त होने वाला है।पांच गुना राजस्व बढ़ाने का मध्य प्रदेश ने नया कीर्तिमान पहली बार बनाया गया ।जो अपने आप में रिकॉर्ड है। खनिज मंत्री ने बताया कि राजस्व बढ़ोतरी के प्रयास चारों तरफ किए जा रहे हैं ,अन्य गौण खनिजों के लिए बुलाई गई निविदाओं के भी जल्द ही अच्छे परिणाम प्राप्त होने वाले हैं। उन्होंने कहा कि राजस्व बढ़ोतरी से उम्मीद है कि प्रदेश में विकास की रफ्तार और तेज होगी। जायसवाल ने कहा सरकार के सुशासन का ही परिणाम है कि रेत की निविदा से 5 गुना अधिक राजस्व बहाने ने खनिज विभाग सफल रहा है। उन्होंने खनिज साधन विभाग के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को भी इसके लिए बधाई दी कि प्रदेश प्रदेश के विकास  के लिए उन्होंने सराहनीय कार्य किया है।
09:52

अखिल भारतीय कवि सम्मेलन में डॉ कुमार विश्वास आज खड़िया में



*आज रविवार को एनसीएल के खड़िया क्षेत्र मे आयोजित होगा ‘अखिल भारतीय कवि सम्मेलन’*

नॉर्दन कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) के खड़िया क्षेत्र में आज (रविवार) 08 दिसंबर 2019  को सायं 7:30 बजे से अखिल भारतीय कवि सम्मेलन का आयोजन किया जायेगा जिसमें  देश के विख्यात कवि डा. कुमार विश्वास शिरकत करेंगे l एनसीएल के खड़िया क्षेत्र के डीएवी स्कूल के मैदान पर आयोजित इस कवि सम्मेलन में श्रोता जानी मानी कवियत्री सुश्री अंकिता सिंह, कवि श्री रमेश मुस्कान एवं श्री तेज नारायण शर्मा की कविताओं का  लुत्फ भी उठा सकेंगे।

इस अवसर पर एनसीएल के अध्यक्ष –सह- प्रबंध निदेशक (सीएमडी) श्री प्रभात कुमार सिन्हा बतौर मुख्य अतिथि, निदेशक (तकनीकी/संचालन) श्री गुणाधर पाण्डेय, निदेशक (वित्त एवं कार्मिक) श्री एन. एन. ठाकुर, मुख्य सतर्कता अधिकारी, श्री आशीष कुमार श्रीवास्तव  और निदेशक (तकनीकी/परियोजना एवं योजना) श्री एम॰ के॰  प्रसाद बतौर विशिष्ट अतिथि मौजूद रहेंगे l
09:34

जाने उज्जैन के बाबा महाकाल के बारे में कुछ बातें के सी शर्मा की कलम से



*जाने,उज्जैन के महाकाल बाबा की कुछ विशेष बातें-के सी शर्मा*


1. उज्जैन में कोई भी बड़ा  आदमी या औरत रात नहीं   रुक सकते हैं , यदि उज्जैन में  रुके तो उनकी मृत्यु निश्चित है, क्योंकि उज्जैन के राजा हैं महाकाल ! उज्जैन के राजा विक्रमादित्य भी कभी उज्जैन में रात नहीं रुके !
2. महाकाल मंदिर के सामने से कोई बारात नहीं निकलती क्योंकि बाबा के सामने कोई घोड़े पर सवारी नहीं कर सकता !
 3. कई लोगों ने मंदिर पर हमला करने की  सोची, वो दूसरे दिन फुटपाथ पर मरे पड़े मिले !
4. बाबा की सुबह होने वाली भस्म आरती शमशान कि चिता की राख से की जाती ?
09:26

श्रीमद्भागवत गीता जयंती पर विशेष



*श्रीमद भागवत गीता जयंती पर विशेष- के सी शर्मा*

*(मार्गशीर्ष शुक्ल पक्ष ११, मोक्षदा एकादशी-रविवार 08 दिसम्बर 2019)*
*श्रीमद्भागवतगीता*



गीता में ऐसा उत्तम और सर्वव्यापी ज्ञान है कि उसकी रचना हुए हजारों वर्ष बीत गए हैं किन्तु उसके बाद, उसके समान किसी भी ग्रंथ की रचना नहीं हुई है । 18 अध्याय एवं 700 श्लोकों में रचित तथा भक्ति, ज्ञान, योग एवं निष्कामता आदि से भरपूर यह गीता ग्रन्थ विश्व में एकमात्र ऐसा ग्रन्थ है जिसकी जयंती मनायी जाती है ।

श्रीमद्भगवद्गीता ने किसी मत, पंथ की सराहना या निंदा नहीं की अपितु मनुष्यमात्र की उन्नति की बात कही है ।  गीता जीवन का दृष्टिकोण उन्नत बनाने की कला सिखाती है और युद्ध जैसे घोर कर्मों में भी निर्लेप रहने की कला सिखाती है । मरने के बाद नहीं, जीते-जी मुक्ति का स्वाद दिलाती है गीता ! इस साल श्रीमद्भगवद्गीता जयंती अंग्रेजी तारीख 08 दिसंबर को है ।

‘गीता’ में
18 अध्याय हैं,
 700 श्लोक हैं,
94569 शब्द हैं ।
विश्व की 578 से भी अधिक भाषाओं में गीता का अनुवाद हो चुका है ।

'यह मेरा हृदय है’- ऐसा अगर किसी ग्रंथ के लिए भगवान ने कहा है तो वह गीता जी है । गीता मे हृदयं पार्थ । ‘गीता मेरा हृदय है ।’

आजादी के समय स्वतंत्रता सेनानियों को जब फाँसी की सजा दी जाती थी, तब ‘गीता’ के श्लोक बोलते हुए वे हँसते-हँसते फाँसी पर लटक जाते थे ।

श्री वेदव्यास ने महाभारत में गीता का वर्णन करने के उपरान्त कहा हैः

गीता सुगीता कर्तव्या किमन्यैः शास्त्रविस्तरैः।
या स्वयं पद्मनाभस्य मुखपद्माद्विनिः सुता ।।

'गीता सुगीता करने योग्य है अर्थात् श्री गीता को भली प्रकार पढ़कर अर्थ और भाव सहित अंतः करण में धारण कर लेना मुख्य कर्तव्य है, जो कि स्वयं श्री पद्मनाभ विष्णु भगवान के मुखारविन्द से निकली हुई है,

गीता सर्वशास्त्रमयी है । गीता में सारे शास्त्रों का सार भरा हुआ है । इसे सारे शास्त्रों का खजाना कहें तो भी अतिश्योक्ति न होगी । गीता का भली भाँति ज्ञान हो जाने पर सब शास्त्रों का तात्त्विक ज्ञान अपने आप हो सकता है । उसके लिए अलग से परिश्रम करने की आवश्यकता नहीं रहती ।

श्रीमद् भगवदगीता केवल किसी विशेष धर्म या जाति या व्यक्ति के लिए ही नहीं, वरन् मानवमात्र के लिए उपयोगी व हितकारी है । चाहे किसी भी देश, वेश, समुदाय, संप्रदाय, जाति, वर्ण व आश्रम का व्यक्ति क्यों न हो, यदि वह इसका थोड़ा-सा भी नियमित पठन-पाठन करें तो उसे अनेक अनेक आश्चर्यजनक लाभ मिलने लगते हैं ।

श्रीमद् भगवद् गीता के ज्ञानामृत के पान से मनुष्य के जीवन में साहस, सरलता, स्नेह, शांति और धर्म आदि दैवी गुण सहज में ही विकसित हो
 उठते हैं ।
अधर्म, अन्याय एवं शोषण  मुकाबला करने का सामर्थ्य आ जाता है । भोग एवं मोक्ष दोनों ही प्रदान करने वाला, निर्भयता आदि दैवी गुणों को विकसित करनेवाला यह गीता ग्रन्थ पूरे विश्व में अद्वितीय है ।

गीता माता ने अर्जुन को सशक्त बना दिया। गीता माता अहिंसक पर वार नहीं कराती और हिंसक व्यक्तियों के आगे हमें डरपोक नहीं होने देती।

देहं मानुषमाश्रित्य चातुर्वर्ण्ये तु भारते।
न श्रृणोति पठत्येव ताममृतस्वरूपिणीम्।।
हस्तात्त्याक्तवाऽमृतं प्राप्तं कष्टात्क्ष्वेडं समश्नुते।
पीत्वा गीतामृतं लोके लब्ध्वा मोक्षं सुखी भवेत्।।

भरतखण्ड में चार वर्णों में मनुष्य देह प्राप्त करके भी जो अमृतस्वरूप गीता नहीं पढ़ता है या नहीं सुनता है वह हाथ में आया हुआ अमृत छोड़कर कष्ट से विष खाता है। किन्तु जो मनुष्य गीता सुनता है, पढ़ता है तो वह इस लोक में गीतारूपी अमृत का पान करके मोक्ष प्राप्त कर सुखी होता है।

विदेशों में श्री गीताजी का महत्व समझकर स्कूल, कॉलेजों में पढ़ाने लगे हैं, भारत सरकार भी अगर बच्चों एवं देश का भविष्य उज्ज्वल बनाना चाहती है तो सभी स्कूलों कॉलेज में गीता अनिवार्य कर देना चाहिए ।
09:14

पूनम चतुर्वेदी की खरी-खरी


*-पूनम चतुर्वेदी*

क्या विचार है लोगो के वाह धन्य हो प्रभू आप सब जो उन लडको का सपोट कर रहे ,इससे ये पता चलता है की इनको आग क्यू लगी हूई है,इनकी चली नही न तो अहम् ने सर ऊठा लिया कोई पूछे इनसे की एक दो बलात्कार और करने का वेट करते उनका की जाओ एक दो और बेटियो को जलाओ फिर सोचेगे की तूम लोग दोषी हो या नही,तब तो वो पाकिस्तानी आतंकवादी भी ठिक ही कर रहे फिर क्यू आसू बहाते हो हमारे जवान मर गये अरे,,तूमको कैसे पता की उन लोगो ने मारा उनका तो चेहरा भी नही दिखता फिर तो सब आतंक वादीयो पर पहले केस चलाओ फिर दस बीस साल वेट करो प्रूफ करो फिर सजा दो फिर,,,सर्जिकल स्ट्राइक की क्या जरूरत,,बात करते है,,,इनके साथ घटना जरूर घटना चाहिये तब पूछेगे माईक लेके की अब बताओ क्या करे,,,,जब खूद खून के आसू रोयेगे न तब,,,,,दिखेगा असली चेहरा,,,,,हद है यार,,,कैसे सोच लेते है इतना घटिया लोग,,,किसी की बेटी मरी हमारा क्या हम तो सही है,,,मरने दो,,,,अरे शर्म करो पढे लिखे गवार दरिद्र,,,,चिरकूट है सारे के सारे ,,,,,,,छी,,,,,बदबू आ रही इनलोगो के शब्दो से,,,,,,तब तो रावण को राम ने मारा वो गलत थे,,,,,,,,महाभारत मे इतने खून बहे वो भी गलत था,,,,,,फिर क्यू धर्म की दूहाई देते हो की मंदिर वही बनायेगे,,,अरे जाओ ,,,,गिरगिटों तूम रंग बदल सकते हो संसार नही,,,,,,,,,,,, पूनम"चतुर्वेदी रायपुर छत्तीसगढ़
09:03

राजस्थान के किशनगढ़ में शिक्षक संघ शेखावत का प्रांतीय शिक्षक अधिवेशन संपन्न


किशनगढ़।(रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा ) " शिक्षक समाज को गढ़ने का कार्य करते हैं" क्योंकि शिक्षक उस दीपक के समान होता है, जो स्वयं जलकर दूसरों को प्रकाश देता है। यह उद्गार राजस्थान शिक्षक संघ शेखावत के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रशेखर शर्मा ने व्यक्त किए। शर्मा शनिवार को राजस्थान शिक्षक संघ (शेखावत) के दो दिवसीय प्रदेश स्तरीय शैक्षिक सम्मेलन के समापन अवसर पर बोल रहे थे। के.डी. जैन पब्लिक स्कूल मदनगंज स्थित मुनि पुंगव श्री सुधा सागर सभागार में आयोजित समापन समारोह में संभागीयों के बीच अपने उद्बोधन में उन्होंने यह भी कहा कि, शैक्षिक सम्मेलन के आयोजन का मुख्य उद्देश्य शिक्षक हितों के साथ ही शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ावा दिया जाना है। क्योंकि शिक्षक सम्मेलन परस्पर संवाद के जरिए एकमत बनाने के साथ ही शैक्षिक विकास के लिए चिंतन एवं मनन के अवसर प्रदान करते हैं। कार्यक्रम को प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष रामस्वरूप चतुर्वेदी ने भी संबोधित किया और कहा की शिक्षक संघ की भूमिका भी इस मायने में बहुत महत्वपूर्ण है, कि शैक्षिक संगठनों के अंतर्गत उनके जरिए शिक्षक की दशा और दिशा पर चिंतन किया जाता है। उन्होंने शिक्षक समाज का आवाहन करते हुए कहा कि शिक्षकों को अपनी सारी आर्थिक और प्रशासनिक मांगों को छोड़कर 1 सूत्री मांग को राजनैतिक अधिकार दिए जाने की मांग की जानी चाहिए।  के. डी.जैन पब्लिक स्कूल के ऑडिटोरियम में चल रहे प्रदेश स्तरीय शैक्षिक सम्मेलन के दूसरे दिन प्रस्ताव सभा का शुभारंभ राजस्थान राज्य संयुक्त कर्मचारी महासंघ के प्रदेश उपाध्यक्ष त्रिलोक कीलका के मुख्य  आतिथ्य एवं संगठन के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष रामस्वरूप चतुर्वेदी की अध्यक्षता में प्रदेशाध्यक्ष चंद्रशेखर शर्मा तथा प्रदेश, जिलों एवं उपशाखा कार्यकारिणी के वरिष्ठ पदाधिकारियों एवं सेंकडो सदस्यों की उपस्थिति में खुला मंच कार्यक्रम से हुआ ।  इस सत्र में संभागी शिक्षकों से प्राप्त सुझाव के आधार पर गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के संकल्प सहित शिक्षक समस्याओं एवं शिक्षक हितों से जुड़े कई आर्थिक एवं प्रशासनिक प्रस्ताव सदन द्वारा पारित किए गए , जिनमें मुख्य रूप से  एनपीएस को तत्काल समाप्त कर पुरानी पेंशन योजना बहाल करना, राज्य सरकार द्वारा जुलाई 2019 से केंद्र के समान बड़े हुए 5% D.A. की तत्काल घोषणा करना ,बीएलओ सहित समस्त गैर शैक्षणिक कार्यों से शिक्षकों को न्यायालय के आदेश की पालना करते हुए पूर्णतया मुक्त रखा जाना, पातेय वेतन शिक्षकों  को  नियुक्ति तिथि से समस्त परिलाभ दिया जाना, शारीरिक शिक्षक/ पुस्तकालयअध्यक्ष/प्रयोगशाला सहायक की नियमित पदोन्नति किया जाना , प्रधानाचार्य पद पर वर्तमान में व्याख्याताओं एवं प्रधानाध्यापकों की डीपीसी 67:33 के बजाय उनके वर्तमान संख्यात्मक अनुपात में पदोन्नति की जायज मांग मनवाना, सीसीई एवं एसआईक्यूई की जगह पुरानी शिक्षण व्यवस्था पुनः लागू करवाना, एकीकरण के नाम पर बंद किए गए समस्त विद्यालयों को नामांकरण की उपलब्धता के आधार पर पुन खुलवाना, स्थानांतरण में डिजायर व्यवस्था बंद कर स्थाई स्थानांतरण एवं पदस्थापन नीति लागू करना , प्रबोधक को अध्यापक पदनाम दिया जाकर अध्यापकों के समान समस्त परिलाभ देना , न्यून बोर्ड परीक्षा परिणाम के आधार पर शिक्षकों पर विभागीय अनुशासनात्मक कार्यवाही विभिन्न विषयों के काठिन्य स्तर के मापदंड की समीक्षा कर कठिन विषयों के शिक्षकों के साथ न्याय किया जाना, पी ई ई ओ बने प्रधानाचार्य के लिए कंप्यूटर एक्सपर्ट की नियुक्ति किया जाना,  सहित जहां तक संभव हो शिक्षक प्रशिक्षण मध्यावधि/शीतकालीन/  ग्रीष्मावकाश में आयोजित नहीं किये जाए, आदि मांग व मुद्दे मुख्य है।
मुख्य अतिथि कीलका ने अपने उदघाटन उदबोधन में कहा कि सरकार विभाग के शिविरा पंचाग की खुली अवहेलना कर रही है। शिक्षकों के शैक्षिक अधिवेशन के लिए निश्चित की गई तिथियों में निष्ठा के प्रशिक्षिण तय करने व B. L. O के कार्य लगा कर शिक्षकों को शैक्षिक अधिवेशन में  भागीदारी करने से वंचित करने का साहस कर सरकारआखिर क्या संकेत देना चाहती है ?
प्रस्ताव सत्र में अपना राजनैतिक प्रस्ताव रखते हुए प्रदेशाध्यक्ष राम स्वरूप चतुर्वेदी ने कहा कि सरकार प्रदेश के शिक्षकों के स्थानांतरण व पदस्थापन के साथ-साथ सभी कार्य विधायकों की डिजायर के आधार पर कर शिक्षकों को राजनीति से जोड़ने का काम कर रही है , तो फिर सरकार विश्वविद्यालयों के शिक्षकों की भांति चुनाव लड़ने एवं सक्रिय राजनीति में भागीदारी करने की छूट दे देनी चाहिए।
दूसरा प्रस्ताव रखते हुए चतुर्वेदी ने कहा कि बेरोजगार व्याख्याता पद पर चाहने वाले अभ्यर्थियों के पांच सूत्रीय मांगों पर आन्दोलन का नेतृत्व करने वाले पदाधिकारियों के साथ द्विपक्षीय संवाद स्थापित कर शीघ्र समाधान करना चाहिए।
पीडी मद वेतन बिल बनाने से लेकर भुगतान करने का अधिकार पी, ई, ई, ओ  को देने,  कांउसिल में सभी रिक्त पदों को दर्शाने के साथ साथ सूचना एक सप्ताह पूर्व देने व काउंसलिंग ग्रीष्मावकाश, मध्यावधि अवकाश को छोड़कर कार्य दिवसों में करानी चाहिए, विभाग में रिक्त सभी संवर्ग शिक्षकों व अन्य कार्मिकों के पदों को शीघ्रता भरा जाना चाहिए सहित अनेक प्रस्तावों को सदन ने ध्वनि मत से पारित किया।
प्रदेशाध्यक्ष चन्द्र शेखर शर्मा ने संभागी शिक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार शिक्षकों की मांगों को गम्भीरता से विचार नहीं कर रही है। कार्मिक विभाग के आदेशों के पश्चात भी विभागाध्यक्ष व शिक्षा सचिव संगठन के मांग पत्र पर द्विपक्षीय वार्ता नहीं कर रहे हैं।
सरकार पर संगठनों के साथ पूर्व में समझोते से मुकरने का आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार 5 प्रतिशत मंहगाई भत्ते के आदेश जारी नहीं कर राज्य कर्मचारियों में आक्रोश पैदा कर वर्ष 2000 जैसे हालात पैदा कर रही है। प्रदेशाध्यक्ष शर्मा ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से 5 प्रतिशत मंहगाई भत्ता राज्य कर्मचारियों को दिए जाने के आदेश शीघ्र जारी करने की मांग की।
प्रस्ताव सत्र को संगठन के प्रान्तीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष दामोदर प्रसाद शर्मा, कोषाध्यक्ष नरेंद्र कुमार शर्मा, उपाध्यक्ष कल्याण सिंह भाटी, संगठन मंत्री मांगी लाल बुडिया, प्रधानाचार्य त्रिलोक चंद यादव व दिनेश चंद्र पारीक , मुरारी लाल गौड़, विजय सिंह गौड़, घनश्याम सिंह शक्तावत आदि ने संबोधित किया।
शैक्षिक अधिवेशन की बेहतरीन व्यवस्थाओं को अंजाम देने  पर अधिवेशन संयोजक एवं अजमेर जिलाध्यक्ष  गणेश जांगिड को प्रदेश कार्यकारिणी की ओर से  माल्यार्पण कर एवं साफा पहनाकर, सम्मानित किया गया।
प्रदेशाध्यक्ष चन्द्र शेखर शर्मा संगठन के ध्वजावतरण के 58 वें शैक्षिक अधिवेशन का समापन करते हुए आगामी शैक्षिक अधिवेशन बांसवाड़ा जिले में त्रिपुरा सुंदरी में आयोजित किये जाने की घोषणा की।  उपशाखा अध्यक्ष रविंद्र दोसाया ने सभी का आभार जताया । योगेश शर्मा ,दीपचंद, मोहम्मद आरिफ, गीता जड़िया ,शंकर प्रजापत एवं किशनगढ़ के सभी पदाधिकारियों ने व्यवस्थाओं में महत्ति सहयोग दिया।
08:46

दैनिक राशिफल हिंदू पंचांग के साथ



🌞~ *आज का हिन्दू पंचांग पंडित विष्णु जोशी के साथ ....अपना भविष्य फ़ल जानने के लिए नीचे लिखे नम्बर पर बात कर सकते हैं! 🌞* ~ 7905156547
⛅ *दिनांक 08 दिसम्बर 2019*
⛅ *दिन - रविवार*
⛅ *विक्रम संवत - 2076*
⛅ *शक संवत - 1941*
⛅ *अयन - दक्षिणायन*
⛅ *ऋतु - हेमंत*
⛅ *मास - मार्गशीर्ष*
⛅ *पक्ष - शुक्ल*
⛅ *तिथि - एकादशी सुबह 08:29 तक तत्पश्चात द्वादशी*
⛅ *नक्षत्र - अश्विनी 09 दिसम्बर प्रातः 03:31 तक तत्पश्चात भरणी*
⛅ *योग - वरीयान् शाम 05:18 तक  तत्पश्चात परिघ*
⛅ *राहुकाल - शाम 04:18 से शाम 05:37 तक*
⛅ *सूर्योदय - 07:04*
⛅ *सूर्यास्त - 17:55*
⛅ *दिशाशूल - पश्चिम दिशा में*
⛅ *व्रत पर्व विवरण - मोक्षदा एकादशी, श्रीमद् भगवद्गीता जयंती*
 💥 *विशेष - हर एकादशी को श्री विष्णु सहस्रनाम का पाठ करने से घर में सुख शांति बनी रहती है lराम रामेति रामेति । रमे रामे मनोरमे ।। सहस्त्र नाम त तुल्यं । राम नाम वरानने ।।*
💥 *आज एकादशी के दिन इस मंत्र के पाठ से विष्णु सहस्रनाम के जप के समान पुण्य प्राप्त होता है l*
💥 *एकादशी के दिन बाल नहीं कटवाने चाहिए।*
💥 *एकादशी को चावल व साबूदाना खाना वर्जित है |*
💥 *एकादशी को शिम्बी(सेम), द्वादशी को पूतिका(पोई) अथवा त्रयोदशी को बैंगन खाने से पुत्र का नाश होता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*
💥 *जो दोनों पक्षों की एकादशियों को आँवले के रस का प्रयोग कर स्नान करते हैं, उनके पाप नष्ट हो जाते हैं।*
               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~*
🌷 *बिल्ली रास्ता काट जाये तो*
🐈 *बिल्ली रास्ता काट जाये तो अपशकुन मत मानो ....राहु का वाहन है बिल्ली.... बिल्ली रास्ता काट जाये तो राहु देवता आ रहे हैं पीछे-पीछे मेरी मदद करने के लिए ...मेरा मनोबल बढाने के लिए एक बार मन में बोल दो " ॐ रहवये नमः " ...राहु का मंत्र है ...राहु भी खुश हो जायेंगे ।*
              🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~*
🌷 *वास्तु शास्त्र* 🌷
🏡 *गाय में 33 करोड़ देवी-देवताओं का वास माना जाता है ।घर-दुकान या मंदिर में या उत्तर-पूर्व दिशा में गाय की तस्वीर लगाने से दुर्भाग्य खत्म होता है ।*
               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~*
🌷 *तुलसी को पानी अर्पण से पुण्य* 🌷
🌿 *अपने घर में तुलसी का पौधा अवश्य लगाना चाहिए उसकी हवा से भी बहुत लाभ होते हैं और तुलसी को एक ग्लास पानी अर्पण करने से सवा मासा सुवर्ण दान का फल मिलता है।आइये जानते हैं रोज की तरह आज का राशिफ़ल सबसे पहले मेष राशि और पन्चक के साथ आज जिन लोगो का जन्मदिन उनके बारे में  भी*
पंचक🌷☀🌞
पंचक तिथि प्रारंभ - 3 दिसम्बर, 12:58 AM  पंचक तिथि समाप्त - 8 दिसम्बर, 01:29 AM पर
एकादशी
रविवार, 08 दिसंबर मोक्षदा एकादशी
रविवार, 22 दिसंबर सफला एकादशी
प्रदोष
09 दिसंबर 2019 सोमवार सोम प्रदोष व्रत
23 दिसंबर 2019 सोमवार सोम प्रदोष व्रत
अमावस्या
26 दिसंबर 2019- गुरुवार- पौष अमावस्या।

मेष 🌞🍒
काम की अधिकता रहेगी। नौकरी में मनचाहा स्थानांतरण व पदोन्नति के भी योग बन रहे हैं। आर्थिक निवेश सोच-समझकर करें। पारिवारिक कार्यों में आपकी पूछ परख बढ़ेगी।
वृषभ 🌞☀
 आज आपको पत्नी से सहयोग व समर्थन मिलेगा। व्यवसाय में उन्नति संभव है। कारोबार में कुछ नवीन योजनाएं बनेंगी। आपके द्वारा लिए गए निर्णय गलत साबित होंगे।
मिथुन🌷☀
सामाजिक आयोजनों में आपकी प्रशंसा होगी। व्यापार, व्यवसाय में लाभदायक सौदे आत्मबल बढ़ाएंगे। आज साहस, पराक्रम बढ़ेगा। धर्म ग्रंथों के पठन-पाठन में अभिरुचि बढ़ेगी।
कर्क 🌞☀
आप बहूत जल्दी दूसरों के विश्वास में आ जाते हैं, सतर्क रहें। विपरीत परिस्थितियों से दृढ़ता से सामना कर सकेंगे। व्यापार में परेशानियों का अंत होगा। प्रेम प्रसंग के योग है। उधार लिया पैस कैसे चुकाएंगे, इसी सोच में परेशान रहेंगे।
सिंह 🌷🌞
आपकी दिनचर्या में आये बदलाव से निजी कार्य प्रभावित होंगे। परिवार में मांगलिक अवसर आएंगे। व्यवसाय में लाभ के योग बन रहे हैं। नौकरों पर नजर रखें।
कन्या 🌞
आज रुका धन मिलने से धन संग्रह बढ़ेगा। आत्मविश्वास के बलबुते पर आगे बढ़ेंगे। पारिवारिक सुख-संतोष बना रहेगा। मनोरंजन के कार्यों में रुचि बढ़ेगी। आज अपनी वस्तुएं संभालकर रखें।
तुला 🌷🌷
अपने स्वास्थ के प्रति आप कितने लापरवाह हैं। किसी नए व्यापार में निवेश करने के योग है। आज विद्वानों के साथ रहने का अवसर मिलेगा। लाभदायक सौदे होंगे। प्रसिद्धि मिलेगी।
वृश्चिक 🙏🙏🌷
: अपने संबंधों के प्रति आप लापरवाही कर रहे हैं। व्यवसाय में विकास की योजनाएं बन सकती है। आर्थिक अनुकूलता रहने से सुख साधन बढ़ेंगे। निजी जीवन में भागदौड़ के बाद सफलता की संभावना है। आपके लिए शनिदेव की आरधना लाभदायक रहेगा।
धनु 🌷🌷🙏
 नौकरी में बदलाव चाहते हैं, पर फैसला लेने में असमंजस की स्थिति रहेगी। साहित्य पठन में रुचि बढ़ेगी। संतान के भविष्य की चिंता रहेगी। कारोबार में सोच-समझकर लिए गए निर्णय शुभ फल देंगे।
मकर 🙏🙏
समय का सदुपयोग करें। अपनी संगत बदलें। दूसरों की उन्नति से दुखी न हों, आप मेहनत करें और संकुचित मानसिकता बदलें। व्यापार में हर किसी पर विश्वास न करें। अपनों से प्रतिस्पर्धा से बचें। कानूनी विवाद पक्ष में हल होंगे।
कुंभ 🙏🙏
समय पर काम होने से मन अशांत रहेगा। कलात्मक कार्यों का प्रतिफल मिलेगा। व्यापारिक नवीन योजनाएं बनेंगी। निर्माण कार्य में सुधार होगा। जीवनसाथी की भावनाओं का अपमान करने से बचें। वैवाहिक जीवन में तनाव रहेगा।
मीन 🌷🌷🙏
आज खान-पान पर नियंत्रण जरूरी है। व्यर्थ के दिखाओं से दूर रहें। मानसिक शांति की तलाश में रहेंगे। संतान के विवाह में विलंब से चिंता होगी। न्यायालयीन कार्य आज पूरे होंगे। व्यवसाय में कोशिशों के बावजूद मंदी रहेगी।

जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाये
🌷🌷🙏
दिनांक 8 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 8 होगा। यह ग्रह सूर्यपुत्र शनि से संचालित होता है। इस दिन जन्मे व्यक्ति धीर गंभीर,  परोपकारी,  कर्मठ होते हैं। आपकी वाणी कठोर तथा स्वर उग्र है। आप भौतिकतावादी है। आप अदभुत शक्तियों के मालिक हैं। आप अपने जीवन में जो कुछ भी करते हैं उसका एक मतलब होता है। आपके मन की थाह पाना मुश्किल है। आपको सफलता अत्यंत संघर्ष के बाद हासिल होती है। कई बार आपके कार्यों का श्रेय दूसरे ले जाते हैं।

शुभ दिनांक : 8  17,  26

शुभ अंक : 8,  17,  26,  35,  44
शुभ वर्ष : 2020  2024,  2028

ईष्टदेव : हनुमानजी,  शनि देवता 
 🌞🙏🙏
शुभ रंग : काला,  गहरा नीला,  जामुनी 

कैसा रहेगा यह वर्ष
सभी कार्यों में सफलता मिलेगी। जो अभी तक बाधित रहे है वे भी सफल होंगे। व्यापार-व्यवसाय की स्थिति उत्तम रहेगी। नौकरीपेशा व्यक्ति प्रगति पाएंगे। बेरोजगार प्रयास करें, तो रोजगार पाने में सफल होंगे। शत्रु वर्ग प्रभावहीन होंगे, स्वास्थ्य की दृष्टि से समय अनुकूल ही रहेगा। राजनैतिक व्यक्ति भी समय का सदुपयोग कर लाभान्वित होंगे।🌞☀🌷🍒🍓🙏🙏

Saturday, 7 December 2019

13:15

रिश्तेदारी की खुमारी में एक फोन कॉल ने छीन ली चपरासी की नौकरी


हरीश सिंह चीफ ब्यूरो क्राइम सच

सन्त कबीर नगर - भारतीय स्टेट बैंक शाखा जिवधरा मे संविदा पर चपरासी की नौकरी कर रहे मृत्युंजय सिंह को सहायक महाप्रबंधक संदीप सिंह गोरखपुर ने अपने एक रिश्तेदार के एक फोन काल पर शाखा मैनेजर को फोन करके नौकरी से निकलवा दिया । जबकि जो आरोप लगाकर निकलवाया गया है उसे दर्जनो खाताधारको की माने तो मृत्युंजय सिंह शराब पीकर कभी ड्यूटी करता ही नही था । जिस रिश्तेदार के एक फोन काल पर सहायक महाप्रबंधक ने नौकरी से निकलवाया है उसके पीछे की वजह भ्रष्टाचार की वह संलिप्तता है जिसे मृत्युंजय सिंह ने जान लिया था ।
बता दे कि शिकायत कर्ता रजनीश सिंह सहायक महा प्रबंधक का रिश्तेदार है एवं उन्ही की मदद से ग्राहक सेवा केन्द्र चलाता है जो बैंक शाखा से एकदम सटा हुआ है भ्रष्टाचार का राज का पर्दाफाश न हो इसके लिए मृत्युंजय सिंह के ऊपर शराब पीकर ड्यूटी करने का झूठा आरोप लगाकर रिश्तेदारी का फायदा उठाते हुए सहायक महाप्रबंधक संदीप सिंह को फोन द्वारा बतौर नौकरी से निकालने की शिकायत / पैरवी किया । जिसे बतौर सबूत गंभीरता पूर्वक लेते हुए बैंक शाखा मैनेजर को शराब पीकर ड्यूटी करने का फोन काल का हवाला देते हुए बतौर आदेश फोन द्वारा ईमानदारी पूर्वक ड्यूटी कर रहे चपरासी मृत्युंजय सिंह को नौकरी से निकलवा दिया ।