Sunday, 25 August 2019

व्यक्ति एक नौकरी 3 और वह भी सरकारी

 बिहार सरकार में एक इंजीनियर 30 साल तक सरकार के 2 विभागों में तीन जगह नौकरी करता रहा और किसी को कानों कान भनक तक नहीं लगी लेकिन जब बिहार में लागू हुए नए फाइनेंसियल मैनेजमेंट सिस्टम सीएफएमएस ने इस गड़बड़ी को पकड़ा तो अधिकारियों और कर्मचारियों के होश फाख्ता हो गए दरअसल एक आदमी दो विभागों में तीन जगह पर नौकरी कैसे कर सकता है यह आश्चर्य का विषय था लेकिन गड़बड़ी पाए जाने पर इंजीनियर सुरेश राम के खिलाफ केस दर्ज किया गया फिलहाल सुरेश अभी तक फरार है मिली जानकारी के अनुसार यह मामला तब प्रकाश में आया जब
सीएफएमएस प्रणाली के तहत वेतन की प्रक्रिया की जांच की जा रही थी इसमें सुरेश नाम के तीन व्यक्ति नौकरी करते हुए सामने आए जिसमें से दो जल संसाधन में और एक भवन निर्माण विभाग में तैनात था लेकिन अधिकारियों के सब होश फाख्ता हो गए जब उस व्यक्ति के तीनों जगह नौकरी करने के एक ही प्रमाण मिले जैसे कि तीनों का नाम एक ही था जन्मतिथि पिता का नाम शरीर का पहचान चिन्ह स्थाई पता आदि सूचनाओं में भी समानता पाई गई तब अधिकारियों ने इस पर गहनता से छानबीन शुरू की और यह मामला खुलकर सामने आया उसके बाद जब तीनों पते को 22 जुलाई को पटना मुख्यालय के शैक्षणिक प्रमाण पत्र पैन कार्ड बायोडाटा से जन्म से संबंधित प्रमाण पत्र शिक्षा से संबंधित प्रमाण पत्र आधार कार्ड आदि अभिलेखों की जांच के लिए बुलाया गया तो भवन निर्माण विभाग किशनगंज में कार्यरत सुरेश राम कार्यालय कक्ष में उपस्थित हुआ उसके पास केवल आधार कार्ड एवं पैन कार्ड उपलब्ध था जब उससे पूछा गया कि आप को शैक्षणिक प्रमाण पत्र एवं नियुक्त सेवा संबंधी अभिलेखों की जांच हेतु विभाग में चलना है तो उसने कहा कि वह कुछ देर में उपस्थित हो रहा है उसके बाद वह फरार हो गया अधिकारियों ने काफी देर तक फोन पर संपर्क किया लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला और उसका मोबाइल बंद आ रहा है और वह अपने कार्यालय में भी उपस्थित नहीं है बल्कि वह कहीं भूमिगत हो गया है पता चला है कि सुरेश सबसे पहले 20 फरवरी 1988 को भवन निर्माण विभाग में जूनियर इंजीनियर के पद पर नियुक्त हुआ था उसने उसके अगले ही जल संसाधन विभाग में नौकरी का शुरू कर दी उसी वर्षों से जल संसाधन विभाग में से और नौकरी का ऑफर मिला तो उसने भीम में नौकरी ज्वाइन कर ली इसके बाद वह लगातार 30 सालों से तीनों स्थानों पर नौकरी का और वेतन बता रहा है

तिहार जेल में बंद एक विचाराधीन कैदी के पेज से मिला मोबाइल

दिल्ली वैसे तो अभी तक जेल में कैदियों के पास मोबाइल होने की खबर मिलती रही है लेकिन आज की खबर आपको अचरज में डाल देगी जिसमें दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद एक अपराधी के पेट से मोबाइल बरामद हुआ है जिसको काफी मशक्कत के बाद पुलिस वालों ने निकलवा दिया लेकिन चार्जर वायर अभी भी उसके पेट के अंदर ही है मिली जानकारी के अनुसार दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद एक विचाराधीन कैदी को जब कोर्ट में पेशी के लिए लाया गया तो कैदी की जांच के वक्त अचानक उसके पेट में फोन की घंटी बजने लगी जिससे पुलिस वाले सकते में आ गए और उन्होंने कैदी की तलाशी ली लेकिन वहां पर कोई फोन बरामद नहीं हुआ फिर काफी गहन पड़ताल के बाद पता चला की घंटी की आवाज कैदी के पेट से आ रही है तो पुलिस वालों ने फोन तो उसके पेट से निकलवा लिया लेकिन फोन की चार्जर वायर अभी भी कैदी के पेट के अंदर ही है पूछताछ में पता चला है कि उसने उंगली के आकार का एक मोबाइल और चार्जर का वायर निगल लिया था तिहाड़ जेल के बैंक नंबर 4 में बंद एक कैदी के पास मोबाइल फोन मिलने के बाद एक अधिकारी ने दबी जुबान स्वीकार की है उसने बताया कि यह कैदी इससे पहले भी कई बार फोन को जेल में ले जाने की कोशिश की है लेकिन हर बार वह पकड़ में आ गया इस बार तो उसने हद ही कर दी है।

आज बच्चों की तरह करें मस्ती क्योंकि कल हो न हो

आजकल हर कोई अपनी जिंदगी को भरपूर तरीके से जीना चाहता है क्योंकि कल क्या होगा किसी को पता नहीं है पहले लोग अपने परिवार तक ही सीमित रहते थे लेकिन आज वह जमाना चला गया है आप लोग अपनी इकलौती जिंदगी को मस्ती से जीना चाहते हैं खुद को खुश रखना चाहते हैं इसलिए अपने लिए घूमना पसंद करते हैं 1 बच्चे से ज्यादा जोश होता है इनमे क्योंकि यह एक ही उम्र की होते हैं और कोई किसी को नहीं जानता कोई ना कोई यह समझता है कि कोई क्या कहेगा आज की कोई चिंता नहीं रहती और बच्चे अपनी जिंदगी का पूरा इंजॉय करते हैं लेकिन जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती जाती हमारी जिम्मेदारियां में बढ़ती जाती है और हम एक मस्त मौला से जिम्मेदार व्यक्तित्व के स्वामी बन जाते हैं और उसके बाद फिर शुरू होता है एक अलग सफर जिसमें हमें जिम्मेदारियां उठाते हुए अपने परिवार का पालन पोषण करना होता है लेकिन उसके बाद एक समय ऐसा भी आता है जब हम अपनी जिम्मेदारियों से बिल्कुल फ्री होकर निश्चिंत होकर सोचते हैं कि अब हमें अपने बारे में भी कुछ सोचना चाहिए पूरी उम्र तो हमने जिम्मेदारियों में निभाने में काट दी लेकिन अब उस समय हम अपने लिए भी दे और मस्त रहे इंजॉय करें आज जब हर कोई अपनी जिंदगी अपने मन मुताबिक भरपूर जीना चाहता है तो फिर अपनी जिंदगी जीने से क्यों रोका जाए क्यों ना उन्हें आजादी में जीने का और उसके बाद मरने का एक मौका दिया जाए क्योंकि उम्र होने पर बुजुर्गों को सिर्फ अपना समय काटना ही होता है लेकिन बदलते समय और बदलती सोच के चलते अब यह भी खूब घूम रहे हैं और होना भी चाहिए हमें नए नए लोगों से मिलना चाहिए जिंदादिली के साथ खुशियां बटोर नी चाहिए  और बिल्कुल छोटे छोटे बच्चो की तरह हर पल का इंज्वाय करना चाहिए क्योंकि कल हो ना हो
रामजी पांडे

आपका सप्ताहिक राशिफल अब सितारे बोलते है

मेष --इस राशि वालों के लिए जा सकता खुशियों भरा रहने वाला है लेकिन कोई भी फैसला सोच समझकर करें क्योंकि आपका कोई एक गलत फैसला आपके मूड को और बाहरी वातावरण को खराब कर सकता है जिससे आपका पूरा सप्ताह बेकार गुजर जाए इस सप्ताह आप काफी खुशमिजाज रहेंगे शुभचिंतकों का सहयोग मिलेगा प्रयासों में सफलता मिलेगी आत्मबल में वृद्धि होगी जिस कारण से आपका हर कार्य सफल होगा।
बृषभ-- इस सप्ताह वृषभ राशि के रोग पूर्ण नियोजित कार्यों में व्यस्त रहेंगे अभीष्ट की सिद्धि से हर्ष होगा रुके हुए काम बनेंगे विरोधी परास्त होंगे घर बाहेर सभी जगह आपके कामों की तारीफ होगी लेकिन इसबीच कुछ लोग अंदरूनी शत्रु के तौर पर काम करते हुए आपका नुकसान करने की कोशिश भी कर सकते हैं हालांकि वाह इस काम में सफल नहीं होंगे लेकिन फिर भी आपको सतर्क रहने की जरूरत है प्रभु की कृपा से इस सप्ताह प्रशन्नचित्त रहने वाले हैं।
मिथुन-- इस राशि वालों के लिए यह सप्ताह काफी भागदौड़ वाला रहेगा धैर्य बनाए रखें व्यय की अधिकता  होगी घर में शांति का वातावरण बनाए रखें जिससे थोड़ी मानसिक शांति मिलेगी क्योंकि इस सप्ताह की भागम भाग जिंदगी से थोड़ी राहत के लिए आपको सकून की जरूरत पड़ेगी जो सुकून आपको आपके घर पर ही प्राप्त होगा इस सप्ताह छुटपुट घटनाओं को अगर छोड़ दे जो आपके सभी काम बनाने वाला सप्ताह आ गया है इसलिए पूरी ताकत से इस सप्ताह का फायदा उठाकर अपने कार्य को सिद्ध करें।
कर्क --इस राशि वालों के लिए यह सप्ताह मिलाजुला असर कारक रहेगा जिस कारण कभी खुशी कभी गम का एहसास होगा लेकिन ज्यादा तर कार्यों में आपको सफलता मिलेगी अपनी मानसिक स्थिति पर काबू रखें क्रोध न करें आप बिगड़े हुए माहौल को संभाल कर आगे बढ़ सकते हैं इस सप्ताह आपको छोटी-छोटी खुशियां भी ढेर सारा सकून लेकर जाएंगी इसलिए हर छोटी बड़ी खुशी का इंजॉय करें और समस्याओं को सतर्क रहते हुए नजरअंदाज करें।
सिंह -- इस राशि वालों के लिए यह सप्ताह चारों ओर  से खुशियों भरा रहने वाला है घर हो या बाहर चारों तरफ आपको मनपसंद वातावरण मिलनेकी उम्मीद है इस सप्ताह आप जो भी कार्य करेंगे उसमें आपको सफलता मिलेगी लेकिन अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें  और छोटी छोटी चीजों को नजरअंदाज ना करें आप कोई नई वस्तु खरीद सकते हैं विरोधी परास्त होंगे शासन सत्ता का लाभ मिलेगा रुका हुआ धन प्राप्त होगा घर से निकलने से पहले बड़े बुजुर्गों का आशीर्वाद लेकर निकले तो आपके सभी कार्य सफल होंगे और आसान हो जाएंगे।
कन्या-- इस सप्ताह आप आदि मामलों में फायदेमंद इस स्थिति में रहने वाले हैं परिश्रम और संघर्ष के बाद आप अपने अधिकारों और धन संपत संपत्तियों को हासिल करेंगे व्यवसाय योजना पर अमल शुरू होगा लेकिन इस संदर्भ में अपने प्रयासों को लगातार जारी रखें कारोबार में सफलता मिलेगी निजी संबंध प्रेम पूर्वक रहेंगे आने वाले कुछ महीनों मेंआपकी सोच में एक सकारात्मक बदलाव आने वाला है जो आपके जीवन में सफलता की नींव तैयार कर देगा कठिन परिश्रम से आपको बेहतर नतीजे मिलेंगे।
तुला --इस राशि वालों के लिए यह सप्ताह विभिन्न गतिविधियों में व्यस्त रहने वाला है लेकिन अपनी सेहत की अनदेखी ना करें और साथ ही परिवार के सदस्यों की सेहत का भी ध्यान रखें  आर्थिक मामलों में आप कुशलता से प्रबंधन करेंगे अध्यात्म की ओर रुझान बढ़ेगा आपका व्यक्तित्व जिस रूप में है उसी रूप में आप उसे स्वीकार करें जमीन जायदाद के मामले में निवेश करने का मन बन सकता है यहां निवेश फायदेमंद भी होगा बच्चों को आपके मार्गदर्शन की जरूरत है कारोबार के मामले में एक बुजुर्ग व्यक्ति आपसे ईर्ष्या करेगा ।
वृश्चिक --इस सप्ताह परिवार के सदस्यों  और दोस्तों के लिए वक्त निकाले और उनके साथ जश्न मनाएं आपका एक दोस्त पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर कोई ऐसा कार्य कर सकता है जिससे आप  उत्तेजित हो सकते हैं और बने बनाए काम बिगाड़ सकते हैं जरूरी कार्य करने के दौरान विश्राम भी कर ले खान-पान में संयम बरतें रचनात्मक कार्यों को अंजाम दे व्यवसायिक व पारिवारिक परियोजनाएं सफलतापूर्वक पूरी हो जाएगी कार्यक्षेत्र में बदलाव के बावजूद आपके अधिकारों पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा आप अपने जीवन का वक्त जाया ना करें और परिवार के सदस्यों और अपने दोस्तों के लिए भी वक्त निकाले ।
धनु --इस राशि वालों के लिए यह सप्ताह रचनात्मक रहने वाला है इसलिए आपको अपनी क्षमता को इकट्ठा कर सही कार्यों में लगाना चाहिए निजी संबंध गर्मजोशी भरे रहेंगे अतीत को भूल कर नई शुरुआत करें और अतीत के बजाय वर्तमान को महत्व दें पुराने तौर-तरीकों को छोड़ना होगा व्यवसाय की परियोजनाओं के संदर्भ में बस आपको अपने स्तर से कार्य करना है इस संदर्भ में बस समझने की जरूरत है कैनवास खाली है और आपको बुरुस लेकर उस पर चित्र बनाकर रंग भरना है आपके जीवन में एक नई शुरुआत होने वाली है मेहनत करें ।
मकर-- इस राशि वाले स्वयं को तनावमुक्त और स्वतंत्र महसूस करेंगे आप निजी संबंधों के मामले में और कार्यक्षेत्र में भी बंदिशों से मुक्त होकर हर कार्य को करने वाले हैं व्यापारिक मामलों में आप अपनी कार्यक्षमता की छाप छोड़ने वाले हैं निजी मामलों और संबंधों मैं व्यापार को नई गति दे और सिद्धांतों को प्राथमिकता दें क्योंकि कार्यक्षेत्र में आपको प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ सकता है अपनी रचनात्मक क्षमता को दूसरे लोगों के समक्ष व्यक्त करें अन्य लोगों को भी जिम्मेदारियां सोपे ।
कुंभ--राशि वालों के लिए या सप्ताह कुछ खास रहने वाला है कार्यक्षेत्र में आपको एक विशेष कार्य सौंपा जाएगा जिस कारण व्यवसाय में आपकी प्रतिष्ठा बढ़ेगी घरेलू संबंध प्रेम पूर्वक रहने वाले हैं एक सार्थक पहल से आपके किसी के साथ बिगड़े संबंध सकते हैं संगीता की ओर आपका रुझान बढ़ेगा वैकल्पिक चिकित्सा पद्धति की मदद से किसी रोग से छुटकारा मिल सकता है व्यापार एकदम अच्छी तरह से संचालित एक परियोजना में अपनी क्षमता का प्रदर्शन करने का अवसर भी मिलेगा ।
मीन-- राशि इस राशि वाले लोग इस सप्ताह अपने संसाधनों का सही तरीके से प्रबंधन करें और ऐसे गोल तैयार करें जो पूरे कर सकें कार्यक्षेत्र में और पारिवारिक मामलों में सप्ताह आप काफी व्यस्त रहने वाले हैं इस कारण थोड़ा हतास लग सकते है जिसे छोड़कर आपको आगे बढ़ना होगा व्यवसाय के मामले में आपकी स्थिति तनावपूर्ण आ सकती है ऐसे लोगों से थोड़ा सावधान रहें जो व्यर्थ में ही आपका समय बर्बाद करना चाहते हैं सेहत की अनदेखी ना करें कोई भी सिंह कन्या तुला राशि का व्यक्ति आपकी मदद करने के लिए तैयार बैठा है।
पंडित रामजी पांडे

किसान के किडनी बेचने के मैसेज से आने लगे उसके पास देश-विदेश से फोन

इंसान की आर्थिक स्थिति  इंसान से क्या नहीं करा देती है
सोशल मीडिया के द्वारा एक अजीत मामला सामने आया है जिसमें सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो रहा है जिसमें एक किसान अपनी किडनी बेचने को का दावा कर रहा है उस मैसेज के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद उस किसान के पास सैकड़ों फोन कॉल आने लगे जिसमें देश विदेश से लोग उसकी किडनी खरीदने के लिए तैयार हो गए मिली जानकारी के अनुसार एक किसान ने मीडिया पर अपनी किडनी बेचने का एक घोषणापत्र जारी किया था जिसके बाद विदेश से उसे अपनी किडनी बेचने के लिए 10000000 रुपए का ऑफर भी आ गया जिसकी भनक लगते ही देश के नेता जनप्रतिनिधि किसान कर घर अपनी सहानुभूति जताने के लिए पहुंचने लगे यह मामला अंकुर तहसील के गांव चित्र साली का है जहां पर एक किसान ने सोशल मीडिया पर अपनी किडनी बेचने की घोषणा की थी किसान ने बताया था कि सऊदी अरब दुबई सिंगापुर आज देशों से करीब सभी राज्यों से फोन आने शुरू हो गए हैं इसलिए सोशल मीडिया का धन्यवाद किसान ने बताया कि मेरे पास दुबई से एक फोन आया है जिसमें एक सज्जन ने मुझे एक करोड़ों रुपए देने की बात कही है किसान ने नेताओं को बताया कि मैंने प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत डेयरी फार्म खोल खोलने की ट्रेनिंग ली थी मगर बैंकों ने लोन नहीं दिया सगे संबंधियों से कर्जा लेकर लिया मगर वे कुछ ही दिन बाद वापस लौटाने का दबाव बनाने लगे जो मेरे लिए मुमकिन नहीं था मैं उनका पैसा वापस कर नहीं पा रहा था इसलिए अपनी किडनी बेचने बेचना चाहता हूं जो व्यक्ति मेरी किडनी खरीदना चाहता है पैसे लेकर आए और किडनी जाए

Saturday, 24 August 2019

अरुण जेटली के निधन से राजनीत का एक अध्याय खत्म

भारतीय जनता पार्टी  के पूर्व वित्त मंत्री  अरुण जेटली  का  आज निधन हो गया  वह अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में काफी दिनों से  भर्ती थे  इससे पहले जेटली की हालत शुक्रवार को बिगड़ गई थी। जिसके बाद  भारतीय जनता पार्टी के सभी वरिष्ठ नेता  का हाल चाल चाल जानने एम्स गए थे  जिसके बाद  बिहार के  मुख्यमंत्री  नीतीश कुमार भी उनका हालचाल लेने  एम्स गए थे  इसके बाद भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष  और भारतीय होम मिनिस्टर  अमित शाह  उनसे मिलने एम्स पहुंचे थे इससे पहले पूर्व केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने अस्पताल जाकर उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। भाजपा के वरिष्ठ नेता एल के आडवाणी, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल और भाजपा सांसद मेनका गांधी ने सोमवार को अस्पताल जाकर जेटली का हालचाल जाना था। बताते चलें कि जेटली  पिछले  काफी समय से  किडनी  और कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से  लड़ रहे थे और  पिछले  9 तारीख से दिल्ली के एम्स में  भर्ती थे उन्हें सांस लेने में दिक्कत और बेचैनी की शिकायत के बाद 9 अगस्त को एम्स लाया गया था। एम्स ने 10 अगस्त के बाद से जेटली पिछले कई दिनों से  उनके  स्वास्थ्य पर डॉक्टरों ने कोई स्वास्थ्य बुलेटिन जारी नहीं किया है। जेटली ने खराब स्वास्थ्य के चलते 2019 का लोकसभा चुनाव भी नहीं लड़ा था।

जब जब जिस युग में धर्म घटा तब तब प्रभु ने अवतार लिया

नोएडा  हर वर्ष की भाती इस वर्ष भी हर्षोल्लास के साथ भगवान श्री कृष्ण का जन्मोत्सव मनाए जाने की तैयारियां जोरों पर हैं  कहीं  कल ही जन्माष्टमी मना ली गई तो कहीं आज उसकी तैयारियां जोर शोर से हो रही हैं चारों ओर  भगवान श्री कृष्ण की झांकी बनाई जा रही है देवकी की आठवीं संतान  देवकीनंदन  माखनचोर भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव  आज देशभर में एक अलग ही रंग में नजर आने वाला है  मिली जानकारी के अनुसार नोएडा के सेक्टर 66 ममुरा के हाथी मंदिर और उसके आसपास लगभग सभी मंदिरों में जन्माष्टमी की तैयारियां  हो रही है  कहते हैं जब जब  धर्म घटता है  और पाप अनाचार दुराचार बढ़ने लगता है तब तब प्रभु किसी ना किसी रूप में पृथ्वी पर अवतरित होते हैं और पापियों का नाश करके अपने भक्तों का उद्धार करते हैं देवकी  की आठवी संतान माखन चोर  भगवान श्री कृष्ण के जन्मोत्सव मे एक अलग ही क्रान्ति झलक रही है जरा सोचिए अगर भगवान ने कलयुग में जन्म ले लिया तो दुष्टो,पापी वा आतताईयो का क्या हाल होगा। उनको अपनी जान बचानी भारी पड़ जाएगी होना भी यही चाहिये।  क्यो कि भगवानको जन्म तो लेना  ही हैं। आज नहीं तो कल  क्योंकि  जिस तरीके से पृथ्वी पर पाप बढ़ता जा रहा है इंसान इंसान का दुश्मन बनता जा रहा है लोग अपने स्वार्थ के कारण किसी को भी नीचा दिखाने और नुकसान करने से बाज नहीं आ रहे हैं इसका सीधा सा अर्थ यह है कि एक न एक दिन प्रभु को जन्म लेना ही पड़ेगा   जब जब होई  धर्म की हानि बाड़े अधर्म असुर अभिमान  तब तब धारी प्रभु  मनुजा शरीरा हर्रई सदा सज्जन की पीड़ा बताते चलें कि नोएडा के सेक्टर 50 स्थिति एक प्ले स्कूल डे केयर के बच्चों ने शुक्रवार को ही जन्माष्टमी का प्रोग्राम कर लिया है बच्चों ने भगवान श्री कृष्ण की झांकी के साथ साथ अन्य कार्यक्रमों में भी हिस्सा लिया बच्चों ने भगवान कृष्ण के जीवन पर आधारित लघु फिल्म देखी और कहानियां भी सुनी जिसके बाद हाथी घोड़ा पालकी जय कन्हैया लाल की का उद्घोष किया गया इसके अलावा भी नोएडा में जगह-जगह मंदिरों में और घरों में जन्माष्टमी की तैयारियां जोर-शोर से चल रही है।