Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Showing posts with label मानपुर. Show all posts
Showing posts with label मानपुर. Show all posts

Monday, 19 October 2020

18:24

deepak tiwari 400 साल पहले राजा मानसिंह ने मनोकामना पूरी होने पर छोटे मंदिर को दिया था बड़ा रूप कोरोनाकाल में इस बार नवमी पर नहीं होगा भंडारा

मानपुर.400 साल पहले राजा मानसिंह की मनोकामना पूरी होने पर उन्होंने छोटे मंदिर को बड़ा रूप दिया था। यहां श्रद्धालुओं आना-जाना तो शुरू हो गया है लेकिन 40 साल में पहली बार नवमी पर होने वाला 20 हजार से ज्यादा लोगों का भंडारा नहीं होगा।
राजा मानसिंह ने महेश्वर की चढ़ाई की मन्नत पूरी होने पर कुलदेवी आशापुरा माताजी मंदिर का जीर्णोद्धार करवाया था। उस वक्त नाम आशापुरी मां मंदिर था। 20 साल पहले ग्रामीणों ने मंदिर का फिर से जीर्णोद्धार करवाया और आशापूर्ण होने पर मंदिर का नाम आशापूर्णा रखा गया।
मंदिर पुजारी विकासपुरी गोस्वामी ने बताया मां का रोज अलग-अलग रंग की साड़ी-चुड़ी पहनाकर शृंगार किया जाता है। दर्शन के लिए महू, धार, पीथमपुर, मांडू, देवास सहित आसपास के क्षेत्र के श्रद्धालु आते हैं। कोरोना संक्रमण के बावजूद भक्त बढ़ी संख्या में पहुंच रहे हैं।
मन्नत के लिए उल्टा, पूरी होने पर सीधा स्वस्तिक बनाते हैं
यहां मन्नत मांगने के लिए मंदिर की दीवार पर उल्टा और मन्नत पूरी होने पर माता के दर्शन के बाद सीधा स्वस्तिक बनाया जाता है। नवरात्रि में यहां तीन बार आरती होती है। सुबह 5.30 बजे कांकड़, सुबह 10 बजे शृंगार और शाम 7.30 बजे महाआरती होती है। बाकी दिनों में सुबह-शाम ही आरती होती है। मंदिर 130 सीढ़ियां चढ़कर पैदल जाया जा सकता है तो 800 मीटर लंबे मार्ग से वाहन से भी मंदिर तक पहुंचा जा सकता है।
इस बार रात्रि जागरण नहीं होगा - नवरात्रि में छठवें दिन रात्रि जागरण और नवमी पर 20 हजार से ज्यादा लोगों का भंडारा किया जाता है। कोरोना संक्रमण के चलते इस बार दोनों आयोजन नहीं किए जाएंगे।