Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Showing posts with label इंदौर. Show all posts
Showing posts with label इंदौर. Show all posts

Thursday, 14 May 2020

18:43

आम आदमी पार्टी ने रखी तीन माह के बिजली, पानी बिल माफ करने की मांग दिया ऑनलाइन धरना


आज आम आदमी पार्टी इन्दौर ने बिजली और पानी के तीन माह के बिल माफ करने को लेकर ऑनलाइन धरना दिया। धरने में "आप" कार्यकर्ताओं द्वारा दीपक प्रज्जवलित किया गया एवं एक हाथ में जल से भरा एक पात्र लेकर वीडियो कॉन्फ्रेन्स की गई। पार्टी का कहना है कि लॉकडाउन की वजह से आम जनता का व्यवसाय पूर्णतः ठप है एवं आय का भी कोई स्रोत नहीं है। इसलिए प्रदेश शासन को चाहिए कि वह तीन माह के बिजली एवं पानी के बिल माफ करके, इस आपदाकालीन समय में जनता का साथ दे एवं एक जनहितैषी सरकार होने का प्रमाण दे।

पार्टी का कहना है कि दीपक एवं जलपात्र बिजली और पानी के प्रतीक तो हैं ही, साथ ही दीपक इस नेत्रहीन एवं संवेदनहीन सरकार को जनता की समस्याएं दिखाने के लिए प्रज्जवलित किया गया और जलपात्र सरकार की बुद्धि और आत्मा की शुद्धि के लिए रखा गया।

Tuesday, 24 December 2019

06:52

जनहित गाड़ी कार्यों के लिए मीडिया में मिलना चाहिए समुचित स्थान


इंदौर 24 दिसम्बर,2019
मध्यप्रदेश सरकार के एक वर्ष का कार्यकाल पूर्ण होने पर इंदौर संभाग के सभी जिलों में संभागीय जनसम्पर्क कार्यालय द्वारा जनसरोकार और मीडिया विषय पर संगोष्ठी आयोजित की जा रही है। इसी क्रम में इंदौर में आज प्रीतमलाल दुआ सभागृह में  संगोष्ठी आयोजित की गई।
इस संगोष्ठी में इंदौर प्रेस क्लब के अध्यक्ष श्री अरविन्द तिवारी ने कहा कि मीडिया में जनसरोकारो की खबरो को समुचित स्थान मिलना चाहिये। जन सरोकारों की खबरो का बहुत महत्व होता है। उन्होंने कहा कि पहले ऐसा दौर था जब जन समस्याओं की खबरे प्रकाशित होती थी तो उसका निराकरण भी तुंरत हो जाता था। उन्होंने कहा कि शासन-प्रशासन के अच्छे एवं जनहितैषी कार्यो को भी मीडिया में स्थान देना होगा। जनता से जुड़े मुद्दों को एक सीमा तक ही नजरअंदाज किया जा सकता है। मुद्दा अच्छा होगा, जनहित का होगा तो उसे प्रतिसाद मिलेगा।
इस अवसर पर वरिष्ठ पत्रकार श्री रमण रावल ने कहा कि समाज और सरकारी तन्त्र में अलग-अलग प्रकृति और अलग-अलग स्वभाव के लोग रहते हैं। कार्यों में सफलता तभी मिलती है जब उसमें जनसरोकार और जनसहभागिता जुड़ी हुई हो। इसका बेहतर उदाहरण इंदौर शहर को लगातार स्वच्छता में नंबर वन रहने का है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार समाज की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए निर्णय लेकर उसका क्रियान्वयन कर रही है। सरकार ने कर्जमाफी का पहले ही दिन निर्णय लेकर उसका अमल शुरू कर दिया। यह उनकी जनहितैषी भावना को दर्शाता है। जनसरोकार की दिशा में सरकार का यह बड़ा कदम था। इसके बाद वह लगातार जनता के हित में निर्णय लेकर उसका क्रियान्वयन कर रही है। उन्होंने कहा कि पक्ष और विपक्ष लोकतंत्र के महत्वपूर्ण अंग है। सत्ता पक्ष का काम है कार्य करना और विपक्ष उसकी आलोचना करती है।  उन्होंने कहा की मीडिया को  जनता का पक्ष रखना चाहिये।
संगोष्ठी को सम्बोधित करते हुये वरिष्ठ पत्रकार श्री अमित मण्डलोई ने कहा कि जनसरोकर विस्तृत शब्द है। इसके मायने सबके लिये अलग-अलग है। जनसरोकार भी पक्ष एवं विपक्ष में बटा हुआ है। आमजन भी अपने सरोकारों से अज्ञान है। ऐसे वक्त में मीडिया एवं सरकार के सामने बडी चुनौती है कि वह जन भावना को कैसे समझे और उसके अनुरूप कैसे कार्य करें। ऐसे समय में जब सोशल मीडिया के माध्यम से हर व्यक्ति अपनी भावना व्यक्त कर रहा है, उस समय प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया का दायित्व और अधिक बढ़ जाता है। प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया की विश्वसनीयता ज्यादा है। सोशल मीडिया में कही गयी बात का फैलाव सीमित है, प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया का दायरा ज्यादा हैं। हमको चाहिये कि अपनी विश्वसनीयता कायम रखते हुये जनसरोकारों के मुद्दों को प्रमुखता दें।
कार्यक्रम के प्रारंभ में संभागीय जनसंपर्क कार्यालय इंदौर के प्रभारी संयुक्त संचालक डॉ. आर.आर पटेल ने स्वागत भाषण देते हुये संगोष्ठी आयोजन के उदे्श्यों की जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती सुनयना शर्मा ने किया। इस अवसर पर उपस्थितजनों को राज्य शासन की गत एक वर्ष में हासिल उपलब्धियों की जानकारी दी गई।

Wednesday, 6 November 2019

07:25

कानून-व्यवस्था बनाए रखने को लेकर इंदौर में पुलिस अधिकारियों की बैठक



इन्दौर-शहर में अपराध एवं अपराधियों पर नियत्रंण एवं आगामी संभावित आयोध्या फैसेल को दृष्टिगत रखते हुए, कानून व्यवस्था आदि को लेकर, आज दिनांक 05.11.19 को पुलिस कन्ट्रोल रूम इंदौर में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक इन्दौर श्रीमती रू़िच वर्धन मिश्र व्दारा इन्दौर पुलिस के अधिकारियों की बैठक ली गई। उक्त बैठक में पुलिस अधीक्षक (पूर्व) इंदौर, श्री मो.यूसुफ कुरैशी, पुलिस अधीक्षक (पश्चिम) इंदौर श्री अवधेश गोस्वामी, पुलिस अधीक्षक (मुखयालय) श्री सूरज कुमार वर्मा सहित समस्त अति. पुलिस अधीक्षकगण, नगर पुलिस अधीक्षकगण, एसडीओपी एवं समस्त थाना प्रभारी उपस्थित रहे। बैठक में मुखय रूप से आगामी अयोध्या प्रकरण के फैसले को दृष्टिगत रखते हुए, शहर में पुलिस एवं कानून व्यवस्था के मद्‌देनजर महत्वपूर्ण बिदुंओ पर चर्चा की गयी एवं निम्न दिशा निर्देश दिये गये-

किसी भी प्रकार की आकस्मिक परिस्थिति होने पर शहर में कानून व्यवस्था एवं शांति कायम रहे इस हेतु माकूल सुरक्षा एवं पुलिस व्यवस्था के साथ जनता से आपसी समन्वय के साथ, अशांतिफैलाने वाले शरारती तत्वों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जावें।
अपराधियों एवं असामाजिक तत्वों को चिन्हित कर, उनके विरूद्ध प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की जावें।
आदतन अपराधियों के विरूद्ध जिला बदर एंव रासुका की कार्यवाही सुनिश्चित की जावें।
संवेदनशील स्थानों एवं धार्मिक स्थलों पर विशेष ध्यान देकर, वहां फिक्स पिकेट एवं पेट्रोलिंग हेतु पर्याप्त मात्रा में सुरक्षा बल लगाया जावें।
आमजन में सुरक्षा एवं शांति का माहौल कायम रखने हेतु, क्षेत्र में लगातार पुलिस बल द्वारा फ्लैगमार्च एवं पैदल भ्रमण किया जावें।
आमजन से आपसी समन्वय एवं सामंजस्य हेतु लगातार क्षेत्र में शांति समिति की बैठक एवं जनता से जनसंवाद स्थापित उन्हे किसी बहकावें/अफवाहों पर ध्यान न देकर, शांति व्यवस्था बनायें रखने हेतु प्रेरित किया जावें।

संभावित कानून व्यवस्था की स्थिति हेतु पर्याप्त बल एवं अतिरिक्त बल के लिये कार्ययोजना की तैयारी रखी जावें।

सोशल मीडिया- फेसबुक/व्हाट्‌सअप आदि पर कड़ी निगरानी रखी जावें, किसी भी प्रकार के आपत्तिजनक पोस्ट/वीडियों/मैसेज करने वाले व्यक्ति एवं उन ग्रुपों पर कड़ी कार्यवाही की जावें।
अपराधों पर नियत्रंण व हर परिस्थिति की जानकारी हेतु, सभी अधिकारीगण फील्ड में अपने क्षेत्रों में हर गतिविधियों पर पैनी नजर रख उस पर आवश्यक कार्यवाही करें।

क्षेत्र में सघन वाहन चैकिंग व पेट्रोलिंग कर, असामाजिक तत्वों व अपराधियों पर प्रभावी कार्यवाही की जावें।

Monday, 4 November 2019

08:00

इंडियन टेलीविजन एकेडमी अवार्ड संबंधी समीक्षा बैठक 8 नवंबर 2019को


इंदौर संभागायुक्त श्री आकाश त्रिपाठी ने आगामी 8 नवम्बर को दोपहर 12 बजे नेहरू स्टेडियम में इंडियन टेलिविजन एकेडमी अवार्ड-2019 की तैयारी के संबंध में समीक्षा बैठक आयोजित की की जाएगी यह कार्यक्रम 10 नवम्बर को नेहरू स्टेडियम में आयोजित किया जायेगा। संभागायुक्त ने इस बैठक में कलेक्टर श्री लोकेश कुमार जाटव, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्रीमती रूचिवर्धन मिश्र,आयुक्त नगर निगम, मुख्य कार्यपालन अधिकारी इंदौर विकास प्राधिकरण, महाप्रबंधक औद्योगिक केन्द्र विकास निगम, एयरपोर्ट डायरेक्टर इंदौर, मुख्य अभियंता विद्युत वितरण कंपनी,कार्यपालन यंत्री विद्युत एवं यांत्रिकी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक यातायात, पुलिस अधीक्षक अग्निशमन, क्षेत्रीय प्रबंधंक पर्यटन विकास निगम, अपर कलेक्टर सत्कार शाखा, संभागीय उपायुक्त आदिम जाति कल्याण, श्री शशिरंजन संयोजक इंडियन टेलिविजन एकेडमी मुंबई और मुख्य विद्युत निरीक्षक आरएनटी मार्ग इंदौर को आमंत्रित किया है।

Thursday, 31 October 2019

19:01

इंदौर जोन के पुलिस अधिकारियों की बैठक संपन्न यातायात की फिल्म का विमोचन



*इन्दौर* दिनांक 31 अक्टूबर, 2019 को श्री वरूण कपूर, अतिरिक्त़ पुलिस महानिदेशक इंदौर जोन, इन्दौर के व्दारा इन्दौर जोन के पुलिस अधिकारियों की मासिक अपराध समीक्षा बैठक आयोजित की गई जिसमें पुलिस उप महानिरीक्षक, निमाड रेंज, खरगोन, वरिष्ठ़ पुलिस अधीक्षक इन्दौर, पुलिस अधीक्षक, जिला इन्दौर (पश्चिम),  पुलिस अधीक्षक, जिला इन्दौर (पूर्व),  पुलिस अधीक्षक, जिला इन्दौर (मुख्यालय),  पुलिस अधीक्षक जिला धार, पुलिस अधीक्षक जिला झाबुआ, पुलिस अधीक्षक जिला अलीराजपुर, पुलिस अधीक्षक जिला खंडवा, पुलिस अधीक्षक जिला खरगोन, पुलिस अधीक्षक जिला बडवानी एवं पुलिस अधीक्षक जिला बुरहानपुर उपस्थित हुए। आगामी माह में आने वाले "अयोध्या प्रकरण" के संबंध में पुलिस अधिकारियों को समुचित तैयारियों एवं सुरक्षा उपायों के बारे में आवश्य़क निर्देश दिये गये। इस बारे में सभी पूर्वोपाय सुनिश्चित किये जायें जिससे किसी प्रकार की अप्रिय घटना न हो।
        अपराध समीक्षा बैठक में गंभीर अपराधों, महिला संबंधी अपराधों, बालकों के विरूध्द अपराध, अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जन जाति के विरूध्द़ अपराधों की समीक्षा की गई एवं आवश्यक निर्देश प्रदान किये गये। इसके साथ ही समंस एवं वारण्ट की तामीली, पुलिस अधिकारियों की विभागीय जाँच एवं शिकायतों के तत्परता से निराकरण किये जाने के निर्देश दिये गये। जिलों को विभिन्ऩ मदों, अनुरक्षण, निर्माण, प्रशिक्षण कार्यक्रम आदि के लिए ऑवटित बजट के उपयोग के लिए भी निर्देश दिये गये। पुलिस थानों के अभिलेख को अद्यतन कराये जाने के अभियान की समीक्षा की गई एवं वीसीएनबी एवं अपराध रजिस्टर को माह अंत तक अद्यतन कराये जाने के लिए निर्देशित किया गया। इसके साथ ही इस लंबी चली बैठक में पुलिस विभाग में नवाचार के माध्य़म से बालिकाओं में जन-जागृति लाने एवं यातायात सुधार, ब्लेक स्पॉट चिन्हित किये जाकर दुर्घटनाओं को रोकने के उपायों की अतिरिक्त़ पुलिस महानिदेशक इंदौर जोन व्दारा सराहना की गई।

इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, इंदौर जोन इंदौर श्री वरुण कपूर द्वारा पुलिस अधीक्षक जिला बुरहानपुर द्वारा निर्मित यातायात नियमों के पालन एवं हेलमेट के उपयोग से ' स्वयं की सुरक्षा का संदेश' देने वाली फिल्म की सीडी का विमोचन भी किया गया।

        इसके साथ ही विगत माहों में त्यौहारों के अवसर पुलिस अधिकारियों के व्दारा अच्छी तरह से कर्तव्य़ निष्पादन करने, विभिन्ऩ जिलों में हत्या एवं लूट जैसे अपराधों को 24 से 48 घंटे की अल्प़ अवधि में सुलझा लेने एवं तत्परता, सजगता के साथ कार्य किये जाने के लिए पुलिस उप महानिरीक्षक, निमाड रेंज, खरगोन, वरिष्ठ़ पुलिस अधीक्षक इन्दौर, पुलिस अधीक्षक, जिला इन्दौर (पश्चिम),  पुलिस अधीक्षक, जिला इन्दौर (पूर्व),  पुलिस अधीक्षक, जिला इन्दौर (मुख्यालय),  पुलिस अधीक्षक जिला धार, पुलिस अधीक्षक जिला झाबुआ, पुलिस अधीक्षक जिला अलीराजपुर, पुलिस अधीक्षक जिला खंडवा, पुलिस अधीक्षक जिला खरगोन, पुलिस अधीक्षक जिला बडवानी एवं पुलिस अधीक्षक जिला बुरहानपुर की श्री वरूण कपूर, अतिरिक्त़ पुलिस महानिदेशक इंदौर जोन, इन्दौर के व्दारा सराहना की गई एवं इसी प्रकार से निरंतर कार्य किये जाने की समझाईश दी गई।

Tuesday, 8 October 2019

18:23

जांबाज पीएसी के जवानों की सावधानी से बड़ी घटना टली



इंदौर - खजराना क्षेत्र में कंजरों के दो गुट लड़ रहे थे । तभी वाह से निकल रहे सीएसपी एसके तोमर (खजराना) ओर कोतवाली सीएसपी बीपीएस परिहार ने हिम्मत दिखाई और खुद दोनों गुटों को अलग किया । अगर दोनों सीएसपी हिम्मत से काम नही लेते तो लड़ाई कर रहे लोगो ने एक दो लोगो की जान चली जाती । लड़ाई कर रहे लोगो को अलग करने में कोतवाली सीएसपी परिहार घायल हो गए उन्हें सीएसपी एसके तोमर तुरंत बॉम्बे अस्पताल लेकर पहुँचे है ।
हमे गर्व है ऐसे पुलिसकर्मी हमारे शहर में है जो मौका आने पर अपनी जान की बाजी भी लगा देते है ।

Sunday, 6 October 2019

18:53

15 नवम्बर से इंदौर में होगा तीन दिवसीय भारतीय पत्रकारिता महोत्सव 2019




इंदौर भारतीय पत्रकारिता महोत्सव-2019
भाषाई पत्रकारिता के नए आयामों की खोज और पत्रकारिता के गुणात्मक विकास के उद्देश्य से यह आयोजन 2009 से आरंभ हुआ था। 8 वर्षों से निरंतर जारी इस आयोजन को स्टेट प्रेस क्लब ने इस बार वृहद रूप देने का संकल्प लिया है।
तीन दिवसीय इस आयोजन में देश भर के 150 से अधिक प्रख्यात पत्रकार और संपादक सम्मिलित हो रहे हैं, इस वर्ष का आयोजन पत्रकारिता के क्षेत्र में आ रहे बड़े बदलावों और नए माध्यमों की चुनौती पर केंद्रित होगा जो मुख्य रूप से पारंपरिक मीडिया बनाम नया मीडिया की थीम पर आधारित होगा। या सम्मेलन 15 नवंबर से 2019 से लेकर 16 17 को भी किया जाएगा।