Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Showing posts with label मोरवा. Show all posts
Showing posts with label मोरवा. Show all posts

Thursday, 28 November 2019

18:28

नाबालिका से ज्यादती करने का आरोपी चढ़ा पुलिस के हत्थे



बीते दिनों बहला-फुसलाकर नाबालिका से जाति का आरोपी अंततः मोरवा पुलिस के हत्थे चढ़ गया। नाबालिका के साथ दुष्कर्म के मामले में मोरवा पुलिस ने आरोपी को रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार पीड़िता *फूल कुमारी* *(परिवर्तित नाम)* बीते दिनों अपने घर से गायब हो गई थी। जिस पर उनके रिश्तेदारों ने मोरवा थाने में तहरीर भी दर्ज कराई थी। वहीं आरोपी के चंगुल से छूट कर वापस लौटी नाबालिका ने अपने परिजनों को आपबीती बताई, जिसके बाद परिजन नाबालिका को लेकर थाने पहुंच गए। पीड़िता के बयान के आधार को संज्ञान में लेते हुए *मोरवा निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह* द्वारा *पुलिस अधीक्षक अभिजीत रंजन* के निर्देशन पर टीम गठित कर आरोपी की तलाश में जगह-जगह छापेमारी कर रही थी की मुखबिर द्वारा सूचना पर टीम ने दुष्कर्म के आरोपी *मोहर सिंह पिता राम अवतार सिंह गोड़* उम्र 25 वर्ष निवासी कतरिहार को भागते हुए रेलवे स्टेशन से धर दबोचा। उक्त आरोपी को अपराध क्रमांक 490/18  धारा 363, 366, 376(1) आईपीसी एवं 3/4 पॉस्को एक्ट के तहत गिरफ्तार कर पुलिस अभिरक्षा में न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

Tuesday, 26 November 2019

18:12

मोरवा पुलिस ने मारपीट के अपराध में चार लोगों को किया गिरफ्तार एक तरफा कार्यवाही से लोगों में रोष



बीते शनिवार आपसी रंजिश में खार खाए लोगों द्वारा व्यापारी के प्रतिष्ठान में घुसकर मारपीट करने वाले 4 अभियुक्तों को मोरवा पुलिस ने गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया है। वहीं अभी भी सीसीटीवी फुटेज के आधार पर मारपीट में शामिल करीब दर्जन भर आरोपियों की तलाश की जा रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार रात को ही इस मारपीट के मामले में *पुलिस अधीक्षक अभिजीत रंजन* के निर्देशन पर *मोरवा निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह* ने मामला पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया था, जिसके बाद से ही लगातार आरोपियों की तलाश की जा रही थी। वहीं मंगलवार को मारपीट में अभियुक्त *राजेश गुप्ता* उम्र 30 वर्ष, *कृष्णा गुप्ता* उम्र 16 वर्ष, *कमलेश्वर गुप्ता* उम्र 52 वर्ष, *राहुल गुप्ता* उम्र 24 वर्ष सभी निवासी वार्ड क्रमांक 9 आदर्श गंगा स्कूल के पास को अपराध क्रमांक 506/19 धारा 452, 294, 323, 327, 506, 34 भारतीय दंड विधान के तहत गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से उन्हें न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया है एवं अन्य की तलाश की जा रही है।

उक्त कार्यवाही में उपनिरीक्षक विनय शुक्ला, सहायक उपनिरीक्षक सतीश दीक्षित, प्रधान आरक्षक राजेश द्विवेदी, अमर सिंह एवं आरक्षक  राजा ठाकुर की सराहनीय भूमिका रही।


*एकपक्षीय कार्यवाही से लोगों में रोष*
गौरतलब है की प्रतिष्ठान में घुसकर की गई मारपीट को लेकर पीड़ित व्यापारी की तहरीर पर सजगता दिखाते हुए तुरंत मोरवा निरीक्षक द्वारा कईयों के विरुद्ध पंजीबद्ध कर जांच शुरू कर दी थी। वहीं इस मारपीट की घटना की शुरुआत स्थानीय पार्षद शादी समारोह से शुरू हुई थी, जहां प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार मामूली विवाद पर कहासुनी के बाद व्यापारी द्वारा अभियुक्तों के साथ मारपीट की गई थी। इसी बात को लेकर कईयों में रोष व्याप्त है। मामले में *पूर्व मंडल अध्यक्ष प्रवीण तिवारी* ने बताया की यदि इन लड़कों को पूर्व में ही न्याय मिल जाता तो यह घटना घटित नहीं होती। गुरुवार को हुई मारपीट के बाद से उनका आवेदन मोरवा थाने में पड़ा है, जिस पर अभी तक सुनवाई नहीं की गई है।

Sunday, 24 November 2019

19:03

व्यापारियों से मारपीट का मामला पूर्वांचल व्यापार संघ ने मोरवा निरीक्षक को सौंपा ज्ञापन




बीती रात मोरवा के *व्यापारी मनोज एवं विकास बंसल* के साथ आपसी रंजिश के कारण उनके प्रतिष्ठान में हुई मारपीट के मामले में *ऊर्जांचल व्यापार संघ* व्यापारियों के समर्थन में खड़ा दिख रहा है। रविवार दोपहर ऊर्जांचल व्यापार संघ द्वारा बैठक कर व्यापारियों के साथ हुई मारपीट की कड़ी निंदा की गई। जिसके बाद ऊर्जांचल व्यापार संघ के *अध्यक्ष यदुवीर यादव एवं महासचिव भूपेंद्र गर्ग* की अगुवाई में पहुंचे व्यापारियों ने *मोरवा निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह* से मुलाकात कर आरोपियों के गिरफ्तारी हेतु ज्ञापन सौंपा गया। इस बाबत व्यापार संघ के *महासचिव भूपेंद्र गर्ग* ने बताया की *मोरवा निरीक्षक* द्वारा उन्हें आश्वस्त किया गया है की सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों की पहचान कराई जा रही है, एवं मंगलवार तक सभी की आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी।  भूपेंद्र गर्ग के अनुसार यदि दिनांक 26 तक आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया जाता है तो आगामी बुधवार को व्यापारियों द्वारा अपने प्रतिष्ठान बंद कर थाने का घेराव किया जाएगा।

Wednesday, 20 November 2019

01:55

डकैती की योजना बनाते 5 अपराधी गिरफ्तार


मोरवा पुलिस ने एनसीएल की खदान से ओवरबर्डन हटाने में लगी एक कंपनी में डकैती के दुस्साहसी प्रयास को विफल करते हुए *गिरोह के 5 सदस्यों को गिरफ्तार* कर लिया है। पुलिस द्वारा की गई इस कार्यवाही में आरोपियों के पास से कई अवैध हथियार भी बरामद हुए हैं। जानकारी अनुसार सोमवार देर रात
थाने में पदस्थ *सहायक उप निरीक्षक साहब लाल सिंह* को मुखबिर से सटीक सूचना प्राप्त हुई की करीब आधा दर्जन बदमाश हथियारों से लैस होकर *मोरवा थाना क्षेत्र के जिद्दूडाड़ में गजराज कंपनी कैम्प* के पास घात लगाकर कैंप में डकैती की योजना बना रहे हैं। सहायक उपनिरीक्षक द्वारा तत्काल इसकी सूचना वरिष्ठ अधिकारियों को दी गई। जिसके बाद *पुलिस अधीक्षक अभिजीत रंजन के निर्देशन व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रदीप शिंदे, एसडीओपी डॉ कृपाशंकर द्विवेदी के मार्गदर्शन पर मोरवा निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह* द्वारा 3 टीमें गठित कर तीनों दिशाओं से घेराबंदी कर आरोपियों को धर दबोचा गया। ओबी कंपनी में डकैती की फिराक में पकड़े गए आरोपी *श्याम बहादुर पिता रामकृपाल बिंद* उम्र 25 वर्ष निवासी खिरवा, *राजेश कुमार साकेत पिता रामकिशुन साकेत* उम्र 22 वर्ष निवासी बगदरी थाना बरगवां, *रामलखन सिंह गोड़ पिता जगनारायण सिंह गोड़* उम्र 19 वर्ष बरहवा टोला थाना मोरवा, *लक्ष्मण बिंद पिता जमुना प्रसाद बिंद* उम्र 24 वर्ष निवासी खिरवा एवं *रमाकांत बिंद पिता राजाराम बिंद* उम्र 19 वर्ष निवासी खिरवा थाना मोरवा के पास से पुलिस ने *एक नग 315 बोर लोहे का देशी कट्टा, 02 नग जिन्दा कारतूस, लोहे का सब्बल नुमा रॉड, लोहे का बका, टांगी समेत अन्य धारदार हथियार* बरामद किए है। पुलिस ने सभी आरोपियों के विरुद्ध थाना में अपराध क्रमांक 501/19 धारा 399, 400, 402, ताहि0 25 ,27 आर्म्स एक्ट के तहत अपराध पंजीवद्व किया है। वहीं पकड़े गए आरोपियों को पुलिस अभिरक्षा में न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है।

*कार्रवाई में इनकी रही भूमिका*

उपरोक्त कार्यवाही में निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह, सहायक उपनिरीक्षक साहबलाल सिंह, प्रधान आरक्षक जयराम गुप्ता, अशोक सिहं, रवि गोस्वामी, राजवर्धन सिंह, आरक्षक नरेन्द्र यादव, सुबोध सिंह, विजय बहादुर सिहं की सराहनीय भूमिका रही है।

Friday, 8 November 2019

20:14

मोरवा पुलिस की बड़ी कार्यवाही अलग-अलग जगहों से अवैध शराब की बिक्री करते कई अपराधी पकड़े



मोरवा पुलिस के गश्ती दल ने कस्बा भ्रमण के दौरान थाना क्षेत्र के अलग-अलग जगहों से अवैध शराब की बिक्री में लगे 3 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उनके पास से भारी मात्रा में अवैध शराब जप्त की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार कस्बा भ्रमण के दौरान मुखबिर की सूचना के आधार पर *पुलिस अधीक्षक अभिजीत रंजन* के निर्देशन एवं मोरवा नगर *निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह* के मार्गदर्शन में थाना क्षेत्र के पुलिस बल ने ग्राम बिकुनिया से *भागीरथ खैरवार पिता दीनानाथ खैरवार* उम्र 24 वर्ष निवासी दूधमनिया थाना बरगवां को दो जरकिन में *55 लीटर हाथ भट्टी देसी शराब* के साथ पकड़ा है। वहीं ग्राम कुशवाही से *विनोद पनिका पिता मथुरा प्रसाद पनिका* उम्र 25 वर्ष निवासी ग्राम खिरवा एवं *सुरेश सिंह गोड़ पिता शिवप्रसाद गोड़* उम्र 19 वर्ष निवासी ग्राम पेड़ताली को घेराबंदी कर धर दबोचा। इनके पास से पुलिस ने कुल *12 पेटी में रखी 600 पाव प्लेन मदिरा* जप्त की है। मोरवा पुलिस की इस कार्यवाही में कुल *163 लीटर अवैध शराब* जप्त की गई है। जिसका बाजार मूल्य *41500 रुपये* बताया जा रहा है। उक्त सभी आरोपियों को पुलिस ने 34(2) आबकारी एक्ट के तहत गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है।

*उक्त कार्यवाही में उपनिरीक्षक साहबलाल सिंह, सहायक उपनिरीक्षक सुरेश सिंह, प्रधान आरक्षक राजवर्धन सिंह, अशोक सिंह, शिवेंद्र सिंह, आरक्षक नरेंद्र यादव, त्रिवेणी प्रसाद तिवारी एवं नगर सेना रामसिया विश्वकर्मा की सराहनीय भूमिका रही।*

Thursday, 7 November 2019

19:26

मोरवा में जनसंवाद में बोले पुलिस अधीक्षक शांति भंग करने वालों को किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा




आगामी 20 नवंबर तक किसी भी प्रकार के विवादित पोस्ट डालने य समाज के बीच के सौहार्दपूर्ण वातावरण को बाधित करने के प्रयास करने वालों पर कोई नरमी नहीं बरती जाएगी। उन्हें चेतावनी का मौका नहीं देकर उनपर दंडात्मक कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। यह कहना था मोरवा थाने में आयोजित जनसंवाद के दौरान *सिंगरौली पुलिस अधीक्षक अभिजीत रंजन का*।

गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय के द्वारा आगामी दिनों में राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद जमीनी विवाद पर फैसला आना है। जिसे देखते हुए जिले का पुलिस प्रशासन पूरी तरह से सतर्क दिख रहा है। इसी क्रम में थाना परिसर में गुरुवार शाम शांति समिति की बैठक आयोजित कर क्षेत्र के प्रबुद्ध लोगों से न्यायालय के आदेश का सम्मान कर सौहार्दपूर्ण वातावरण बनाए रखने की अपील की गई। जनसंवाद के दौरान अपने उद्बोधन में *पुलिस अधीक्षक* ने बताया कि उत्तरप्रदेश की सीमा सटे होने एवं औद्योगिक क्षेत्र होने के कारण यहां हर वर्ग और समुदाय के लोग निवास करते हैं। यदि यहां का वातावरण बिगड़ता है तो इसका प्रभाव आने वाली पीढ़ियों तक पड़ेगा। हालांकि वह इस बात पर आश्वस्त दिखे की यहां के लोग मिलनसार और सहयोगी प्रवृत्ति के हैं। उन्होंने कहा कि आज समाज का हर वर्ग पुलिस के साथ खड़ा है और यदि मुट्ठी भर असामाजिक तत्वों द्वारा क्षेत्र के शांतिपूर्ण वातावरण को बाधित करने का प्रयास किया जाता है तो उन पर कार्यवाही सुनिश्चित करने के लिए जिले का पुलिस बल पूर्णता तैयार है। उन्होंने लोगों से अपील की कि यदि कोई भी व्यक्ति संदिग्ध कार्य में लिप्त पाया जाता है तो उसकी सूचना तत्काल थाने में दें। इसके अलावा बिना किसी आईडी प्रूफ या जान परिचय के किसी भी अपने घर में किराएदार ना रखें। साथ ही होटल मालिक यह सुनिश्चित करें कि उनके यहां बिना कार्य कोई भी व्यक्ति न रुके।

जन संवाद के दौरान *अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रदीप शिंदे* ने बताया कि जिले की शांति व्यवस्था को किसी भी कीमत पर भंग नहीं होने देंगे। उन्होंने लोगों से अपने विचार साझा करते हुए बताया की यह एक कोलियरी क्षेत्र है और प्रायः यह  देखा गया है कि ऐसी जगहों पर विभिन्न धर्म, समुदाय के लोग आकर बसते हैं। साथ ही किसी भी कोलियरी क्षेत्र में अभी तक कोई धार्मिक उन्माद नहीं देखा गया है। इसके साथ उन्होंने युवा पीढ़ी से सोशल मीडिया में किसी भी प्रकार की अफवाहें को हवा न देने के लिए की अपील की। बैठक में आए प्रबुद्ध जनों ने भी अपने उद्बोधन में प्रशासनिक अधिकारियों को क्षेत्र की शांति व्यवस्था के लिए आश्वस्त किया। इस दौरान *मोरवा नगर निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह* के साथ थाने का पुलिस बल मौजूद रहा।


*फैसले से पूर्व प्रशासन सतर्क,  मोरवा में निकाला फ्लैग मार्च*
अयोध्या विवाद पर उच्चतम न्यायालय के फैसले से पूर्व प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट पर दिख रहा है। गुरुवार को मोरवा में जनसंवाद के बाद पुलिस बल ने भारी लाव लश्कर के साथ क्षेत्र में फ्लैग मार्च निकालकर लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। इसी क्रम में *पुलिस अधीक्षक अभिजीत रंजन के निर्देशन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रदीप शिंदे* के मार्गदर्शन में जिले के मोरवा थाना क्षेत्र के कस्बे में पुलिस का फ्लैग मार्च निकाला गया। इस फ्लैग मार्च की कमान *नगर निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह व निरीक्षक यू पी सिंह* द्वारा संभाली गई। फ्लैग मार्च में थाने के बल के साथ अतिरिक्त पुलिस बल के जवान भी भारी संख्या में मौजूद थे।  स्थानीय लोगों ने जब पुलिस के सायरन के पीछे हथियारों से लैस जवानों को कदमताल करते हुए देखा तो वह भी सिहर गए।
पुलिस बल का यह मार्च मोरवा मुख्य बाजार, मस्जिद तिराहा, सर्किट हाउस रोड, एलआईजी कॉलोनी इत्यादि जगहों से होते हुए थाना परिसर में समाप्त हुआ।

Sunday, 3 November 2019

17:37

घरेलू हिंसा में गई विवाहिता की जान हत्या आरोपियों को पुलिस ने किया 12 घंटे में गिरफ्तार



के सी शर्मा शनिवार देर शाम मोरवा थाना क्षेत्र के ग्राम खिरवा के एक घर में दंपत्ति के बीच हुए विवाद में नवविवाहिता की जान चली गई। घटना के बाद गांव में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में परिवार वालों ने इसकी सूचना तत्काल थाने में दी। इसके बाद पुलिस अधीक्षक अभिजीत रंजन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रदीप शिंदे व अनुविभागीय अधिकारी कृपा शंकर द्विवेदी के मार्गदर्शन में मोरवा निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह ने घटना स्थल का मुआयना कर शव का पंचनामा कराकर पोस्टमार्टम हेतु भिजवाया। वहीं हत्या का अपराध कायम कर आरोपी पति की तलाश शुरू कर दी। प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के ग्राम खिरवा निवासी रामसिया विश्वकर्मा पिता रामजग विश्वकर्मा उम्र 30 वर्ष एवं उसकी पत्नी अनीता विश्वकर्मा पति रामसिया विश्वकर्मा उम्र 28 वर्ष के बीच कल शाम मायके जाने को लेकर विवाद हुआ था। अनीता को लेने उसका भाई आया हुआ था, वह मायके जाना चाहती परंतु उसका पति उसे जाने नहीं दे रहा था। इस बात को लेकर दोनों के बीच विवाद इतना बढ़ा कि दोनों के बीच हाथापाई शुरू हो गई और अनीता को उसके पति ने रोटी बनने के तवे से सिर पर वार कर दिया। जिससे वह वहीं अचेत होकर गिर पड़ी। घटना के बाद आरोपी पति वहां से फरार हो गया।
ग्राम में हुई इस  निर्मम हत्या की जांच में जुटे मोरवा निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह को गांव वालों से पूछताछ के दौरान सूचना मिली की आरोपी गांव में ही छुपा बैठा है। जिसके बाद रविवार सुबह ही मोरवा निरीक्षक द्वारा घेराबंदी कर आरोपी रामसिया विश्वकर्मा को ग्राम खिरवा के एक आवास से धर दबोचा। मोरवा पुलिस ने आरोपी को अपराध क्रमांक 479/19 धारा 302 भादवि के तहत गिरफ्तार कर पुलिस अभिरक्षा में आज न्यायालय के समक्ष पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है।

*मृतका के परिजन ने ससुराल पक्ष पर लगाया दहेज प्रताड़ना का आरोप*

मृतिका अनीता विश्वकर्मा को लेने  आए उसके भाई गोपाल कृष्ण द्वारा घटना के बाद मोरवा थाने में आकर तहरीर दी गई की अनीता के ससुराल पक्ष द्वारा उसे लगातार दहेज के लिए प्रताड़ित किया जा रहा था और इसी कारण से उसकी जान गई है।