Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Showing posts with label नोएड़ा. Show all posts
Showing posts with label नोएड़ा. Show all posts

Tuesday, 20 October 2020

06:12

मजदूर- किसान विरोधी कानूनों के खिलाफ ट्रेड यूनियनें 26 नवंबर 2020 को करेंगी देशव्यापी हड़ताल- गंगेश्वर दत्त शर्मा

नोएडा, मजदूर, कर्मचारी- किसान विरोधी कानूनों को वापस लेने की मांग पर देश के 10 श्रमिक संगठनों एवं कर्मचारी फेडरेशन ने 26 नवंबर 2020 को देशव्यापी आम हड़ताल/ चक्का जाम का ऐलान कर दिया है। उक्त हड़ताल को गौतम बुध नगर में सफल बनाने के लिए सोमवार 20 अक्टूबर 2020 को सीटू कार्यालय सेक्टर 8 नोएडा पर इंटक नेता डॉक्टर के पी ओझा, संतोष तिवारी, एटक नेता मोहम्मद नईम, एचएमएस नेता आरपी सिंह चौहान, सीटू नेता गंगेश्वर दत्त शर्मा, रामसागर, मदन प्रसाद, यूटीयूसी नेता सुभाष आदि नेताओं की बैठक हुई।
 बैठक में 26 नवंबर 2020 को देशव्यापी हड़ताल को गौतम बुध नगर में सफल बनाने की रणनीति व योजना तय की गई बैठक में हड़ताल के प्रचार प्रसार के लिए अभियान चलाने का निर्णय लिया गया जिसके तहत जिला स्तर पर 1 नवंबर 2020 को संयुक्त कन्वेंशन सेक्टर 3 नोएडा पार्क में 11:00 बजे किया जाएगा।  3 नवंबर 2020 को श्रम कार्यालय सेक्टर 3 नोएडा पर प्रदर्शन कर हड़ताल नोटिस शासन प्रशासन को भेजा जाएगा।  4 नवंबर से 20 नवंबर तक मजदूरों के बीच सघन जनसंपर्क अभियान चलाया जाएगा।  21 नवंबर से 25 नवंबर तक पूरे जिले में माइक प्रचार, परचा वितरण, साइकिल रैली, मोटरसाइकिल रैली जुलूस निकालकर हड़ताल को सफल बनाने की अपील की जाएगी।
26 नवंबर 2020 को हड़ताल कर जगह-जगह जुलूस निकालकर चक्का जाम किया जाएगा हड़ताल की तैयारी में 50000 पर्चा, 2000 पोस्टर संयुक्त रूप से निकाले जाएंगे तथा सभी यूनियनें अपने अपने स्तर से बड़े पैमाने पर प्रचार सामग्री के साथ जनसंपर्क अभियान चलाकर हड़ताल को कामयाब करने का कार्य करेंगी।
26 नवंबर को होने वाली हड़ताल की प्रमुख मांग है कि सभी गैर आयकर दाता परिवारों के लिए प्रति माह ₹7500 का नगद हस्तांतरण, सभी जरूरतमंदों को प्रति व्यक्ति प्रति माह 10 किलो मुफ्त राशन, ग्रामीण क्षेत्रों में 1 साल में 200 दिनों का काम बढ़ी हुई मजदूरी पर उपलब्ध कराने के लिए मनरेगा का विस्तार व शहरी क्षेत्रों में रोजगार गारंटी का विस्तार, सभी किसान विरोधी कानूनों और मजदूर विरोधी श्रम संहिता को वापस लिया जाए, वित्तीय क्षेत्र सहित सार्वजनिक क्षेत्र के निजी करण को रोकने और रेलवे, आयुध कारखानों, बंदरगाह आदि जैसे सरकारी विनिनिर्माण उपक़म और सेवा संस्थाओं का निगमीकरण बंद किया जाए, सरकार और पीएसयू कर्मचारियों की समय से पहले सेवानिवृत्ति पर डैकियन सर्कुलर को वापस लिया जाए, सभी को पेंशन प्रदान करें, एनपीएस को खत्म करें और पहले की पेंशन को बहाल करें, ईपीएस-95 में सुधार करें आदि मांगे हैं

Saturday, 17 October 2020

09:15

श्रम समस्याओं के समाधान की मांग पर मानिताऊ कंपनी के कर्मचारियों ने श्रम कार्यालय पर सीटू के बैनर तले प्रदर्शन कर दिया ज्ञापन-गंगेश्वर दत्त शर्मा


नोएडा, श्रमिकों की सुविधाओं व वेतन बढ़ोतरी के लिए कर्मचारियों/ यूनियन द्वारा दिए गए मांग पत्र व अन्य श्रम समस्याओं के समाधान करवाने की मांग पर बहुराष्ट्रीय कंपनी मैसर्स- मानिताऊ इक्यूपमेन्ट इंडिया प्राइवेट लिमिटेड प्लॉट नंबर- 22 उद्योग विहार, ग्रेटर नोएडा के कर्मचारियों ने मानिताऊ इम्पलाईज यूनियन "सीटू" के बैनर तले श्रम कार्यालय सेक्टर 3 नोएडा पर शनिवार 17 अक्टूबर 2020 को प्रदर्शन कर उप श्रम आयुक्त श्री पी के सिंह को माननीय मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार एवं प्रमुख सचिव (श्रम) उत्तर प्रदेश शासन को संबोधित ज्ञापन सौंपकर यूनियन द्वारा प्रस्तुत मांग पत्र दिनांक 12-03-2019 पर सम्मानजनक समझौता करवाने और कंपनी प्रबंधकों द्वारा किए जा रहे अनुचित श्रम आचरणों पर रोक लगा कर श्रम व कारखाना कानूनों के तहत मिलने वाली समस्त विधिक सुविधाएं श्रमिकों को दिलवाने की मांग किया।
 यूनियन द्वारा प्रस्तुत ज्ञापन पर उप श्रम आयुक्त श्री पी के सिंह ने श्रमिकों/ यूनियन नेताओं को आश्वासन दिया कि प्रबंधकों को नोटिस भेजकर त्रिपक्षीय वार्ता कराकर श्रमिकों की सभी समस्याओं का समाधान करवाया जाएगा।
धरना प्रदर्शन को सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा, महासचिव रामसागर, सचिव विनोद कुमार, कोषाध्यक्ष रामस्वारथ, मानिताऊ इम्पलाईज यूनियन नेता विजय कुमार, सुधीर कुमार, योगेश कुमार, मोहम्मद फिरोज, अनिल कुमार, देवदत्त शर्मा  आदि ने संबोधित किया।


Thursday, 15 October 2020

09:39

NOIDA:मुंबई से नकदी चुराकर सहारनपुर जा रहा युवक गिरफ्तार 69 लाख बरामद

ग्रेटर नोएडा वेस्ट के कोतवाली बिसरख पुलिस ने किराये की गाड़ी में दो ड्राइवरों लेकर सहारनपुर जा एक व्यक्ति को वाहन चेकिंग गौड़ सिटी चौक के पास से गिरफ्तार किया है। उनके पास से 69 हजार 18 हजार 900 रुपये की नकदी बरामद की है। ये रुपए वह अपने भाई के साथ मिल मुंबई में उसके सेठ घर से चोरी किए थे और चोरी के रुपये लेकर अपने घर सहारनपुर जा रहा था।  

नोटो के साथ खड़ा ये शख्स गुलनवाज उर्फ आरिफ पुत्र मोहम्मद कासिम है, जिसको बुधवार की रात बिसरख पुलिस ने चेकिंग के दौरान एक कार को रोका। तलाशी के दौरान उसमें से भारी मात्रा में नकदी बरामद हुई। इस बात की जानकारी अफसरों को दी गई और बैंक से नोट गिनने की मशीन मंगाई गई। गिनती के बाद पता चला कि बरामद नोट 69 लाख 18 हजार 900 रुपये है।  डीसीपी सेंट्रल हरीश चंदर ने बताया कि बुधवार की रात चेकिंग के दौरा एक कार को रोका गया। उसमें दो ड्राइवर और एक सवारी थी। चालकों में गिरिराज शर्मा पुत्र रामदयाल शर्मा और रवि नायर पुत्र नारायण नायर थे। पुलिस उन्हें चार मूर्ति गोलचक्कर से जांच के लिए थाना ले आई। जांच के दौरान गाड़ी गाड़ी से कुल 69 लाख 18 हजार 900 रुपये बरामद हुए। इसकी फोरेंसिक टीम से वीडियोग्राफी भी कराई गई। 


डीसीपी ने बताया कि बरामद धनराशि के बारे में सख्ती से पूछताछ करने पर गुलनवाज ने बताया कि वह 11 अक्टूबर को हवाई जहाज से अपने भाई शाहनवाज के पास मुंबई गया था। वहां उसका भाई नौकरी करता है। उसने अपने भाई के साथ मिलकर उसके सेठ के यहां से नोटों से भरा बैग चोरी कर लिया था। उसका भाई मुम्बई में ही है और वह किराये की गाड़ी में दो ड्राइवरों को लेकर चुराये गये रुपयों के साथ अपने घर सहारनपुर जा रहा था। लेकिन रास्ते में ही वह पकड़ गया। पूछताछ में उसने बताया कि वह इस गाड़ी को आगे जाकर छोड़ देता और अपने घर किराये की दूसरी गाड़ी लेकर जाता। इससे मुंबई से आए चालकों को उसके घर के बारे में जानकारी नहीं होती। उन्होंने बताया कि वे मुंबई पुलिस से संपर्क कर रुपयों की चोरी के बाबत जानकारी कर रहे हैं।
पत्रकार विक्रम

Sunday, 11 October 2020

03:47

ग्रामीण विकास समिति ने शुरू किया सदस्यता व जनसंपर्क अभियान नवंबर माह में बड़े आंदोलन की तैयारी गंगेश्वर दत्त शर्मा

नोएडा, बिजली सहित सभी जन सुविधाएं उपलब्ध करवाने की मांग पर रविवार 11 अक्टूबर 2020 को ग्रामीण विकास समिति ने सोरखा एक्सटेंशन कॉलोनी, विष्णु नगर कॉलोनी, गणेश नगर कॉलोनी में जनसंपर्क/ सदस्यता अभियान चलाया उक्त अभियान के दौरान हुई बैठकों को संबोधित करते हुए ग्रामीण विकास समिति के संयोजक गंगेश्वर दत शर्मा ने कहा कि हिंडन नदी पुस्ता के साथ-साथ बसी दर्जनों कालोनियों में आज तक बिजली तक नहीं है और ना ही सड़क, नाली, सीवर, पानी, साफ सफाई की व्यवस्था है शासन-प्रशासन की लगातार डूब क्षेत्र के नाम पर की जा रही उपेक्षा से इस क्षेत्र में बसे लाखों नागरिक नारकीय जीवन जीने को मजबूर है बिजली व नागरिक सुविधाएं उपलब्ध कराने की मांग को लेकर ग्रामीण विकास समिति ने कई  बड़े-बड़े आंदोलन कर चुकी है। अधिकारी/ जनप्रतिनिधियों ने बार-बार आश्वासन दिए जाने के बाद भी स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ है इसलिए ग्रामीण विकास समिति ने अपने संगठन को मजबूत व विस्तार कर नवंबर माह में बड़े आंदोलन का आगाज करेगी जिसकी तैयारी के लिए यह अभियान शुरू किया गया है।
जनसंपर्क/ सदस्यता अभियान का नेतृत्व व संबोधन ग्रामीण विकास समिति के वरिष्ठ नेता लाइक हुसैन, गोविंद सिंह, राजेश राठौर, दया शंकर पांडे, श्यामानंद झा, रामजी यादव, राम दुलारे राठौर, सोलंकी, अजय, सुदर्शन, गुड्डू, मनोज, गोपी, राजेश कुमार, पन्नालाल, सोनू, सुमन आदि ने किया।

Monday, 28 September 2020

02:13

tap news श्रम समस्याओं के समाधान करवाने की मांग पर सीटू के बैनर तले श्रमिकों ने श्रम कार्यालय पर प्रदर्शन कर दिया ज्ञापन- गंगेश्वर दत्त शर्मा

नोएडा, मैसर्स हिंदुस्तान अधेसिवस् लिमिटेड प्लॉट नंबर 29 माइल स्टोन, जी.टी. रोड निकट ग्राम अच्छेजा गौतम बुध नगर में स्थित कंपनी द्वारा श्रमिकों का उत्पीड़न करने, गैरकानूनी तरीके से किए गए लॉकआउट/ नौकरी से निकाले जाने एवं लॉकडाउन/ लॉकआउट की अवधि का वेतन भुगतान नहीं करने और उक्त पर श्रम विभाग द्वारा प्रबंधकों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करने से नाराज श्रमिकों ने सीटू के बैनर तले मंगलवार 28 सितंबर 2020 को श्रम कार्यालय सेक्टर 3 नोएडा पर धरना प्रदर्शन कर माननीय मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार और प्रमुख सचिव श्रम उत्तर प्रदेश शासन को संबोधित ज्ञापन श्री पी. के. सिंह उप श्रम आयुक्त गौतम बुद्ध नगर को दिया दिए गए ज्ञापन में मांग की गई है कि उपरोक्त संस्थान में कार्यरत रहे श्रमिकों का प्रबंधन द्वारा गैरकानूनी रूप से किया गया लॉकआउट को समाप्त करा कर श्रमिकों को क्षतिपूर्ति सहित पुराने क्रम में कार्य पर भिजवाया जाए और लॉकआउट/ लॉकडाउन की अवधि का वेतन का भुगतान कराया जाए।
श्रम कार्यालय पर श्रमिकों के धरने को संबोधित करते हुए सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर शर्मा व महासचिव राम सागर ने कहा कि श्रम विभाग की उदासीनता के कारण जनपद के मालिकों के हौसले बुलंद है और वे बेखौफ होकर श्रम कानूनों की धज्जियां उड़ा कर कारखाना चला रहे हैं और श्रमिकों का उत्पीड़न कर रहे हैं उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि श्रम विभाग ने श्रमिकों की समस्याओं का समाधान नहीं कराया तो सीटू संगठन जनपद में बड़ा आंदोलन करने को विवश होगा जिसकी संपूर्ण जवाबदेही मिल मालिकों के साथ-साथ उप श्रमायुक्त की भी होगी।
धरना प्रदर्शन का नेतृत्व सीटू नेता रामसागर, गंगेश्वर दत्त शर्मा, विनोद कुमार, श्रमिक नेता काशीनाथ पांडे, नरेंद्र कुमार,प्रदीप कुमार, वीर बहादुर, ओमप्रकाश पांडे, संन्तोष सिंह, जय प्रकाश आदि ने किया।

राम सागर

Saturday, 26 September 2020

05:04

सेक्टर 14 शनि मंदिर के पास जरूरतमंदों को दीदी की रसोई टीम ने किया भोजन वितरण-गंगेश्वर दत्त शर्मा

नोएडा, शनिवार 26 सितंबर 2020 को कोरोना महामारी में जरूरतमंदों तक मदद पहुंचाने के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत दीदी की रसोई संस्था की टीम जिसमें वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता रितु सिन्हा, भारती नेगी, मीना बाली, बालकृष्ण बाली, शारदा देवी, सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा ने सेक्टर 14 नोएडा शनि मंदिर के पास सैकड़ों जरूरतमंदों के बीच भोजन का वितरण किया और लोगों के बीच मास्क का वितरण भी किया गया।
उपरोक्त कार्य के लिए लोगों ने काफी प्रशंसा किया और पूरी टीम को धन्यवाद वयक्त किया।

Thursday, 24 September 2020

05:56

TNI दीदी की रसोई टीम ने जरूरतमंदों को किया भोजन का वितरण गंगेश्वर दत्त शर्मा



नोएडा, कोरोना महामारी के दौर में जरूरतमंदों तक मदद पहुंचाने के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत दीदी की रसोई संस्था की टीम जिसमें मजदूर नेता गंगेश्वर दत्त शर्मा, टीम की प्रमुख व वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता रितु सिन्हा, भारती नेगी, मीना बाली, सरिता चंद्र, प्रीति चौहान, मंजू शर्मा, बाल कृष्ण वाली, संगीता चौधरी, गीता चौहान, कृष्णा गोयल, आशा गुप्ता, सुनीता सागर, अमित शर्मा, चंदा देवी आदि ने शिवम मार्केट चौड़ा सेक्टर 22 नोएडा, एवं सेक्टर 55 गेट नंबर 5 के पास जरूरतमंदों के बीच भोजन का वितरण किया।
उपरोक्त कार्य के लिए लोगों द्वारा  काफी प्रशंसा की जा रही है और अभी हाल ही में टीम की प्रमुख रितु सिन्हा को डॉक्टर सरोजिनी नायडू इंटरनेशनल अवार्ड मिला है और शहर में भी कई जगह टीम के सदस्यों को लोग सम्मानित कर रहे हैं साइबर क्राइम ब्रांच थाने की प्रमुख रीता यादव जी ने भी बधाई दी और टीम का उत्साह वर्धन किया टीम ने भी उत्साहवर्धन करने के लिए उनका आभार व्यक्त किया।

रितु सिन्हा
वरिष्ठ समाजसेवी का
9718787868

Tuesday, 22 September 2020

07:46

स्विगी कम्पनी द्वारा गिग वर्कर्स के पेआउट और इन्सेटिव में कटौती के खिलाफ सीटू ने श्रम कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन कर दिया ज्ञापन-गंगेश्वर दत्त शर्मा

नोएडा, स्विगी डिलीवरी एग्जिक्यूटिब्स ने पेआउट व इन्सेटिव में कटौती और अन्य समस्याओं के समाधान करवाने की मांग को लेकर मंगलवार दिनांक 22.09.2020 को उपश्रम आयुक्त के कार्यालय सेक्टर-3 नोएडा पर आल इंडिया गिग वर्कर्स यूनियन ‘‘सीटू’’ के बैनर तले जोरदार प्रदर्शन कर प्रधानमंत्री, भारत सरकार, मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार, केन्द्रीय श्रम मंत्री, प्रदेश श्रम मंत्री, जिलाधिकारी गौतमबुद्ध नगर, स्विगी कम्पनी प्रमुख को सम्बोधित 11 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन उपश्रमायुक्त श्री पी0के0 सिंह को सौंपा और आल इंडिया गिग वर्कर्स यूनियन के नेता रिक्ता कृष्णास्वामी, सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा ने उनसे अनुरोध किया कि वे स्विगी के डिलीवरी एक्जिीक्यूटिव की मांगों/समस्याओं का समाधान करायें। दिये गये ज्ञापन में बताया गया है कि स्विगी कम्पनी ने  कोविड-19 के चलते डिलीवरी एग्जिक्यूटिब्स के पेआउट और इन्सेन्टिव (प्रोत्साहन धरराशि) आदि सुविधाओं में एक तरफा कटौती कर दी। वर्कर्स द्वारा पूछने पर कम्पनी ने बताया कि यह अस्थाई कटौती है और लाॅकडाउन खत्म होने के बाद पूर्व दरें बहाल कर दी जायेगी।

देशहित व जनहित में डिलीवरी एग्जिक्यूटिब्स ने  भी कम्पनी की बात मान ली। हालांकि लाॅकडाउन में भी कम्पनी का काम सुचारू रूप से चलता रहा और महामारी के दौरान भी स्विगी के डिलीवरी एग्जिक्यूटिब्स अपने स्वास्थ्य को दांव पर लगाकर व जान जोखिम में डालकर लोगों को खाना व सामान पहुंचा रहे थे, लेकिन लाॅकडाउन खत्म होने के बाद भी स्विगी ने पूर्व दरें बहाल नहीं की। डिलीवरी एग्जिक्यूक्टिब्स द्वारा बार-बार मौखिक रूप से मांग करने पर स्विगी ने उनकी मांगों को नजरअंदाज किया। कम्पनी के इस रवैये के कारण जैसा कि आप जानते हैं स्विगी के डिलीवरी एग्जिक्यूक्टिब्स भारत के कोने-कोने में हड़ताल और विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। नोएडा में भी डिलीवरी एग्जिक्यूटिब्स 15 सितम्बर, 2020 से हड़ताल पर हैं, लेकिन कम्पनी इनसे बात करने के बजाय इनकी आई0डी0 ब्लाॅक करना व धमकी भरे फोन करवाने जैसे विभिन्न तरीके अपनाकर उत्पीड़न कर रही है जबकि यही कम्पनी शैडोफैक्स व रैपिड़ो के डिलीवरी एग्जिक्यूक्टिब्स को अपने आॅर्डर्स की डिलीवरी के लिए सही दाम दे रही है।

प्रदर्शन के माध्यम से दिये गये ज्ञापन पर उपश्रमायुक्त श्री पी0के0 सिंह ने वर्कर्स को आश्वासन दिया कि उनकी मांगों कोे शासन-प्रशासन को भेज दिया जायेगा और उनके स्तर से भी जो भी संभव होगा वह मदद की जायेगी।

श्रम कार्यालय पर हुए धरना प्रदर्शन को आॅल इडिया गिग वर्कर्स की ओर से रिक्ता कृष्णास्वामी, पन्डन, अनन्त सीटू नेता पूनम देवी, विनोद कुमार, गंगेश्वर दत्त शर्मा, राम स्वारथ, मदन प्रसाद आदि

Monday, 21 September 2020

04:12

जन मुद्दों पर माकपा कार्यकर्ताओं ने नगर मजिस्ट्रेट कार्यालय पर प्रदर्शन कर केंद्र व प्रदेश सरकार को भेजा ज्ञापन- गंगेश्वर दत्त शर्मा

नोएडा, कोरोना काल में जनता की बढ़ती तकलीफ व परेशानियों को लेकर और ध्वस्त राशनिंग व्यवस्था, बेरोजगारी, कारखाना बंदी, छटनी, तथा सरकार द्वारा सार्वजनिक संस्थानों को लगातार बेचे जाने, श्रम सुधार के नाम पर श्रम कानूनों में पूंजी पतियों के पक्ष में बदलाव कर मजदूरों को गुलाम बनाए जाने, किसान विरोधी अध्यादेश, प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था आदि मुद्दों को लेकर भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी के कार्यकर्ताओं ने नगर मजिस्ट्रेट कार्यालय सेक्टर 19 नोएडा पर धरना प्रदर्शन कर केंद्र प्रदेश सरकार को ज्ञापन भेजा।
 प्रदर्शन को संबोधित करते हुए भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी गौतम बुध नगर कमेटी सचिव मदन प्रसाद ने कहाकि, बिजली बिल टैक्स, छात्रों की फीस माफी के मुद्दों पर आज 21 सितंबर 2020 को सीपीआईएम देशव्यापी प्रदर्शन कर रही है उन्होंने कहा कि, आपदा प्रभावित आम जनता के जीवन एवं जिविका को बचाने और उसे राहत देने के बजाय केंद्र सरकार,  उत्तर प्रदेश राज्य सरकार दोनों ही आम जनता की दुश्वारियां बढ़ाने, किसानों-मजदूरों एवं कर्मचारियों के खिलाफ कदम उठाने, विरोध और विरोधियों का दमन करने और संविधान तथा संवैधानिक संस्थाओं को ध्वस्त करने पर ज्यादा ध्यान दे रही हैं। केंद्र सरकार ने तीन कानून के जरिए अब अंबानियों एवं अडानियों को खेती और किसानों को लूटने का रास्ता खोल दिया। इससे किसान अपने ही खेत पर मजदूरी करने के लिए मजबूर होंगे।
प्रदर्शन को संबोधित करते हुए माकपा नेता गंगेश्वर दत्त शर्मा ने कहा कि कहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा के चार घंटे के तीन दिवसीय सत्र में प्रदेश सरकार ने 27 कानून बनाए गए जिनमें अधिकांश किसान मजदूर और जनतंत्र विरोधी चरित्र के हैं। उत्तर प्रदेश की भाजपा की योगी सरकार ने संपत्ति क्षतिपूर्ति कानून का इस्तेमाल शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन करने वालों के ख़िलाफ़ करना शुरू कर दिया है। एक उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल का गठन किया जा रहा है जो बिना किसी वारंट के किसी को भी गिरफ्तार एवं उसके घरों की तलाशी ले सकता है और इनके खिलाफ मुकदमा भी क़ायम नहीं किया जा सकता। अदालतें भी बिना राज्य सरकार की इजाजत के संज्ञान नहीं ले सकती। उन्होंने कहा कि रोजगार एवं फीस माफी की मांग करने वाले नौजवानों और छात्रों पर योगी सरकार लाठियां बरसा रही है और उन्हें जेल भेज रही है। भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी गौतम बुध नगर कमेटी छात्रों युवाओं के ऊपर योगी सरकार के दमनकारी रवैया की तीव्र निंदा करते हुए विरोध करती है।
प्रदर्शन के माध्यम से बिजली बिल एवं टैक्स, छात्रों की फीस माफी, जरूरतमंद सभी को 10 किलो अनाज मुफ्त 7500 रुपए सभी गैर आयकर दाताओं के खाते में ट्रांसफर करना मनरेगा में 200 दिनों का काम और ₹600 मजदूरी, बिजली के निजीकरण का विरोध आदि 13 सूत्रीय मांग पत्र प्रधानमंत्री भारत सरकार एवं मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार को संबोधित ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट को सौंपा।
प्रदर्शन को माकपा नेता भीखू प्रसाद, लता सिंह, रामस्वारथ, विजय गुप्ता, प्रदीप, सुषमा, हरी गुप्ता, विनोद कुमार, भरत डेंजर, मोहम्मद हारुन, धर्मेंद्र गौतम, राजकरण, मंजू राय, देवनारायण आदि ने संबोधित किया


Thursday, 13 August 2020

18:17

noida:खराब मौसम के बावजूद भी बड़ी संख्या में मजदूरों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया


नोएडा, ठेकेदारी प्रथा खत्म कर नोएडा प्राधिकरण में कार्यरत संविदा कर्मचारियों को स्थाई घोषित करवाने, समान कार्य का समान वेतन, बोनस, व बकाया वेतन का भुगतान आदि मांगों को लेकर नोएडा प्राधिकरण में संविदा पर कार्यरत सफाई कर्मचारियों का कई दिनों से नोएडा प्राधिकरण कार्यालय सेक्टर 6 नोएडा पर चल रहा धरना प्रदर्शन गुरुवार 13 अगस्त 2020 को भी जारी रहा।
आंदोलनरत कर्मचारियों के बीच पहुंचकर सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा ने संबोधित करते हुए कहा कि नोएडा प्राधिकरण और सरकार देश के सर्वोच्च न्यायालय के आदेश एवं संविधान व कानून की धज्जियां उड़ा कर मजदूरों का उत्पीड़न व शोषण किया जा रहा है जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा मजदूर संगठन सीटू कर्मचारियों के आंदोलन के साथ है और हमारे संगठन का पूरा समर्थन है क्योंकि कर्मचारियों की सभी मांगें जायज हैं और हम सीटू संगठन की ओर से प्राधिकरण से मांग करते हैं कि बातचीत कर मजदूरों की सभी मांगों को स्वीकार किया जाए अगर प्राधिकरण ने मांगे नहीं मानी तो हम आंदोलन को और तेज करेंगे साथ ही उन्होंने श्रम कानून में बदलाव व निरस्तीकरण करने और प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था के लिए सरकार पर कड़ा प्रहार करते हुए कड़ी निंदा किया और कहा कि हालात यहां तक पहुंच गए हैं कि आम आदमी की बात तो छोड़ ही दी जाए खुद भाजपा के विधायकों की पिटाई थानों में हो रही है।
दलित शोषण मुक्ति मंच नोएडा के नेता भरत डेंजर ने कर्मचारियों को संबोधित करते हुए अपने संगठन की ओर से समर्थन व्यक्त किया और कहा कि यह सरकार गरीब मजदूर दलित विरोधी है इस सरकार में सबसे ज्यादा गरीब मजदूर व दलित शोषित है।
वरिष्ठ ट्रेड यूनियन नेता वीरेंद्र सिरोही ने भी अपने संबोधन में मजदूरों के शोषण उत्पीड़न के लिए प्राधिकरण व सरकार को आड़े हाथों लिया और अपने संबोधन में वर्तमान मजदूरों के समक्ष चुनौतियां हालातों को रेखांकित किया और सभी से संगठित होकर लड़ने की अपील किया।
 धरना प्रदर्शन में खराब मौसम के बावजूद भी बड़ी संख्या में मजदूरों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।

Wednesday, 1 July 2020

18:27

जिला अधिकारी सुहास एल वाई ने जिला चिकित्सालय का किया औचक निरीक्षण

गौतमबुद्ध नगर कोरोना वायरस के संक्रमण से सभी जनपद वासियों को सुरक्षित करने तथा संक्रमित व्यक्तियों को यथा समय इलाज संभव कराने के उद्देश्य से जिला अधिकारी सुहास एल वाई के द्वारा निरंतर संवेदनशील होकर कार्यवाही सुनिश्चित की जा रही है। जिला अधिकारी के द्वारा आज अपने भ्रमण के दौरान जिला चिकित्सालय सेक्टर 39 नोएडा में पहुंचकर स्थल निरीक्षण किया गया। जहां पर टाटा कंपनी के सहयोग से 400 बेड का कोविड अस्पताल तैयार किया जा रहा है। संबंधित अस्पताल में तेजी से कार्य पूर्ण करते हुए कोविड अस्पताल के रूप में इसका संचालन किया जा सके इस उद्देश्य से जिला अधिकारी के द्वारा आज मौके पर पहुंचकर इसका निरीक्षण किया गया है। जिलाधिकारी सुहास एल वाई ने अपने निरीक्षण के दौरान टाटा कंपनी के प्रतिनिधियों को कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। वहीं दूसरी ओर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को भी निर्देशित करते हुए कहा है कि संबंधित अस्पताल के लिए डॉक्टर एवं  पैरामेडिकल स्टाफ की व्यवस्था पूर्व से ही सुनिश्चित कर ली जाए ताकि अस्पताल तैयार होने पर कोरोना के संक्रमित व्यक्तियों का अच्छे से यथा समय इलाज संभव कराया जा सके। उनके भ्रमण के दौरान उपजिलाधिकारी दादरी राजीव राय, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ दीपक अहोरी, स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारीगण भी उपस्थित रहे। राकेश चौहान जिला सूचना अधिकारी गौतम बुध नगर