Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Showing posts with label मुंबई. Show all posts
Showing posts with label मुंबई. Show all posts

Thursday, 15 October 2020

08:45

tap news :नहीं रहीं गांधी की कॉस्ट्यूम डिजाइनर भानु अथैया लम्बी बीमारी के बाद 91 साल की उम्र में निधन

 कॉस्ट्यूम डिजाइनर:देश के लिए पहला ऑस्कर जीतने वाली कॉस्ट्यूम डिजाइनर भानु अथैया का 91 साल की उम्र में निधन हो गया मिली जानकारी के अनुसार
1983 में डायरेक्टर रिचर्ड एटनबरो की फिल्म 'गांधी' के लिए ऑस्कर में बेस्ट कॉस्ट्यूम डिजाइनर अवार्ड जीतने वाली भानु अथैया का गुरुवार को निधन हो गया। वे 91 साल की थीं। भानु ने कॉस्टयूम डिजाइनर के तौर पर 100 से ज्यादा बॉलीवुड फिल्मों में काम किया था। भानु का अंतिम संस्कार साउथ मुंबई के चंदनवाड़ी श्मशान घाट में हुआ।
8 साल पहले हुआ था ट्यूमर
भानु की बेटी ने बताया कि उन्होंने गुरुवार सुबह आखिरी सांस ली। 8 साल पहले उन्हें ब्रेन ट्यूमर डाइग्नोस हुआ था। पिछले 3 साल से वे बिस्तर पर ही थीं। भानु के शरीर का एक हिस्सा पैरालाइज हो गया था। भानु का जन्म कोल्हापुर में हुआ था और उन्हें कॅरियर का पहला काम गुरु दत्त के साथ 1956 में सीआईडी फिल्म के जरिए मिला था। जबकि आखिरी बार आमिर की फिल्म लगान और शाहरुख की फिल्म स्वदेस के लिए कॉस्ट्यूम डिजाइन किए थे।
05:38

Tap News : बॉलीवुड एक्टर विवेक ओबेरॉय के घर पर हुई छापेमारी, जानिए क्या है कारण deepak tiwari

मुंबई : बॉलीवुड मशहूर एक्टर और सुरेश ओबरॉय के पुत्र विवेक ओबरॉय के घर बेंगलुरु पुलिस ने छापेमारी की बताया गया है की 2 इंस्पेक्टर ने करीब दोपहर 1 बजे छापेमारी की शुरुआत की है। बता दे की बेंगलुरु पुलिस सर्च वारंट लेकर विवेक के जुहू स्थित घर पहुंची है। 

ये रहा कारण...

बताया जा रहा है की बेंगलुरु पुलिस  विवेक ओबरॉय के साले आदित्य अलवा के मामले में पहुंची है। एक पुलिस अफसर ने कहा है है की- "आदित्य अलवा फरार है और विवेक उनके रिस्तेदार है  और हमें जानकारी मिली है की आदित्य विवेक ओबरॉय के घर में छुपे है, जिस वजह से हम कोर्ट  सर्च वारंट लेकर उनके घर हमारी क्राइम ब्रांच की टीम बेंगलुरु से मुंबई आयी है।

Tuesday, 13 October 2020

08:44

अमृता राव की प्रेग्नेंसी, पहली तस्वीर आई सामने deepak tiwari

 October 13, 2020
मुंबई । बॉलीवुड एक्ट्रेस अमृता राव (Amri­ta Rao) के फैन्स के लिए एक बड़ी खुश खबरी सामने आई है. एक्ट्रेस अमृता अब मां बनने वाली हैं. हाल ही में एक्ट्रेस को मुंबई (Mum­bai) की एक क्लिनिक के बाहर पति आर.जे. अनमोल (Rj Anmol) के साथ स्पॉट किया गया. ये जोड़ी बहुत जल्द माता-पिता बन सकती है. मुंबई में क्लिनिक के बाहर अमृता अपना बेबी बंप फ्लॉन्ट(Baby Bump Flaunt) करते दिखाई दीं.
 
ज्ञात हो, अमृता और अनमोल ने एक‑दूसरे को 7 साल डेट करने के बाद 2016 में शादी की थी. इनकी शादी भी बहुत ही गुपचुप तरह से हुई थी. जिसमें महज घर और करीबी दोस्त शामिल हुए थे. एक्ट्रेस की एक करीबी सूत्र ने बताया ” अमृता अपने जीवन के इस चरण को लेकर बहुत ही खुश हैं. भले ही लोगों को उनकी गर्भावस्था के बारे में पता नहीं हो सकता है, लेकिन दंपति के करीबी लोग इसके बारे में जानते हैं.
उन्होंने लॉकडाउन से ठीक पहले गर्भधारण किया और ये चरण उनके जीवन में एक आशीर्वाद की तरह आया है. वहीं अनमोल और अमृता अपने जीवन को बहुत ही निजी रखना पसंद करते हैं. जिस वजह से ये खबर पहले बाहर नहीं आई.”
बतादें कि एक्ट्रेस ने 2002 में आई हिंदी फिल्म “अब के बरस” से बॉलीवुड में अपना डेब्यू किया था. अमृता का जन्म 7 जून 1981 भारत में हुआ था. उन्होंने हिंदी फिल्मों के साथ साथ साउथ की कई बड़ी फिल्मों में भी काम किया है.

Monday, 12 October 2020

01:45

मुंबई में बिजली गुल: लोकल ट्रेनों में फंसे हजारों यात्री अमिताभ बोले शांत रहें सब हो जाएगा ठीक deepak tiwari

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में ग्रिड फेल होने से शहर के कई इलाकों की बत्ती गुल हो गई है। बृहन्मुंबई इलेक्ट्रिक सप्लाई एंड ट्रांसपोर्ट ने बताया है कि टाटा की ओर से आने वाली बिजली की आपूर्ति के फेल होने के बाद देश की आर्थिक राजधानी में बिजली की आपूर्ति बाधित हो गई है।

वहीं, मुंबई टाउनशिव में बिजली की आपूर्ति करने वाली कंपनी बेस्ट ने बताया है कि शहर को बिजली की आपूर्ति करने वाले प्लांट का ग्रिड फेल हो गया है। इस कारण शहर के पूर्वी, पश्चिमी, उपनगर और ठाणे के कुछ हिस्सों में बिजली गुल हो गई है। इस कारण लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

360 मेगावाट की आपूर्ति हुई प्रभावित
मुंबई प्रणाली को बिजली की आपूर्ति के लिए लाइनों और ट्रांसफार्मर पर कई ट्रिपिंग है। बताया गया है कि शहर में 360 मेगावाट की आपूर्ति प्रभावित हुई है। बिजली की आपूर्ति को सुनिश्चित करने के लिए काम शुरू किया जा रहा है।

सुबह 10 बजे के बाद फेल हुआ ग्रिड
मुंबई में 10.15 बजे बिजली गुल हुई। बताया गया है कि शहर में बत्ती गुल होने के पीछे की वजह कलवा स्थित टाटा पावर के सेंट्रल ग्रिड में फेल होना है। ग्रिड के फेल होने से मुंबई के उपनगरों में भी लोगों को परेशानी झेलनी पड़ रही है।

ऊर्जा मंत्री ने कहा, एक घंटे में बहाल हो जाएगी बिजली
वहीं, मुंबई में बिजली गुल होने को लेकर महाराष्ट्र के ऊर्जा मंत्री नितिन राउत का बयान सामने आया है। राउत ने कहा है, ‘कलवा-पद्घे बिजलीघर के सर्किट 2 में एक तकनीकी गड़बड़ के कारण, ठाणे और मुंबई के बीच के क्षेत्र बिजली कटौती का सामना कर रहे हैं। हमारा स्टाफ इस पर काम कर रहा है और एक घंटे या 45 मिनट में बिजली बहाल हो जाएगी।’

जहां तहां खड़ी हुईं लोकल ट्रेनें
बिजली की आपूर्ति बाधित होने से मुंबई की लोकल ट्रेन सेवा बाधित हुई है। सेंट्रल, ईस्टर्न और वेस्टर्न लाइन पर ट्रेन सेवा बाधित है। बिजली नहीं होने के कारण लोकल ट्रेनें जहां तहां खड़ी हो गई हैं। लोग लोकल ट्रेनों से उतर पर पैदल ही अपने गंतव्य स्थानों की तरफ बढ़ रहे हैं। मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी (सीपीआरओ) ने बताया है कि ग्रिड फेल होने के कारण मुंबई में लोकल ट्रेन सेवाएं बाधित हुई हैं। अभी तक यह नहीं बताया गया है कि कब तक बिजली आपूर्ति फिर से शुरू हो पाएगी। बांद्रा, कोलाबा, माहिम इलाके में सुबह 10 बजे से ही बिजली गुल है।

हजारों यात्री लोकल ट्रेनों और स्टेशनों पर फंसे
बिजली गुल होने से छत्रपति शिवाजी टर्मिनल पर यात्री फंस गए हैं। एक यात्री ने बताया कि वह सुबह 10 बजे यहां पर फंसा हुआ है। वहीं, एक अन्य यात्री ने कहा कि हमें इस बात की कोई खबर नहीं है कि हमें यहां कब तक इंतजार करना होगा। पावर ग्रिड फेल होने के कारण इन यात्रियों को खासी परेशानी झेलनी पड़ रही है। मिली जानकारी के अनुसार, लोकल ट्रेनों में हजारों यात्री जहां तहां फंस गए हैं।

पावर ग्रिड फेल होने के कारण मुलुंद स्टेशन पर यात्रियों को इंतजार करते देखा जा रहा है। वहीं, बीएमसी ने कहा है कि बिजली आपूर्ति बहाल करने में 45 मिनट से एक घंटे का समय लगेगा। दूसरी तरफ, पावर ग्रिड के फेल होने के बाद मुंबई सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर लोकल ट्रेन सेवाओं के अस्थायी निलंबन के बारे में सार्वजनिक घोषणा की गई है।

मुंबई में बिजली गुल होने को लेकर टाटा पावर की तरफ से बयान जारी किया गया है। टाटा पावर ने कहा है, ‘सुबह 10.10 बजे से एमएसईटीसीएल के कलावा, खारगर में एक सबस्टेशन पर ट्रिपिंग हो रही थी, इस कारण मुंबई ट्रांसमिशन सिस्टम की आवृत्ति में भारी गिरावट हुई। जो पावर सप्लाई बाधित होने का कारण बनी। 3 हाइड्रो इकाइयों और ट्रॉम्बे इकाइयों से आपूर्ति लाने के लिए बहाली का कार्य प्रगति पर है।’

मायानगरी में बिजली गुल होने को लेकर अभिनेता अमिताभ बच्चन ने ट्वीट किया है। उन्होंने कहा है, ‘पूरे शहर में बिजली गुल है। किसी तरह इस मैसेज को भेज रहा हूं। शांत रहें सब ठीक हो जाएगा।’
01:25

नवाजुद्दीन सिद्दीकी का दर्द आया सामने deepak tiwari

नवाजुद्दीन सिद्दीकी का दर्द:deepak tiwari एक्टर ने कहा- दादी की वजह से आज भी गांव में हमें नीची जाति का समझा जाता है, मेरे फेमस होने से भी कोई फर्क नहीं पड़ता
नवाजुद्दीन सिद्दीकी की मानें तो उनके गांव (बुढ़ाना, उत्तर प्रदेश) में आज भी उन्हें जातिगत भेदभाव का सामना करना पड़ता है। एक इंटरव्यू में वे हाथरस में दलित लड़की के साथ हुए गैंगरेप और मारपीट पर अपनी राय रख रहे थे। उन्होंने कहा कि गांव में जाति व्यवस्था इस कदर गहराई तक समाई हुई है कि फिल्मों में उनकी लोकप्रियता के बावजूद भी उन्हें बख्शा नहीं जाता है।
दादी की वजह से अब भी नीचा समझते हैं लोग
एनडीटीवी से बातचीत में नवाजुद्दीन ने कहा, "मेरी दादी नीची जाति से थीं। उनकी वजह से आज भी लोग हमें स्वीकार नहीं करते हैं। इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि मैं फेमस हूं। यह (जातिवाद) उनके अंदर गहराई तक समाया हुआ है। यह उनकी नसों में हैं। वे इस पर गर्व करते हैं। शेख सिद्दीकी ऊंची जाति के हैं और उन्हें उन लोगों से कोई लेना-देना नहीं है, जिन्हें वे अपने से नीचा मानते हैं। आज भी वहां ऐसा है। यह बहुत मुश्किल है।"
हाथरस की घटना पर नवाज का रिएक्शन
उत्तर प्रदेश के हाथरस में चार सवर्णों द्वारा गैंग रेप और मारपीट के बाद हुई दलित लड़की की मौत से देशभर में गुस्सा है। इसे लेकर नवाज ने कहा, "जो गलत है, वो गलत है। हाथरस में जो हुआ, उसके खिलाफ हमारी आर्टिस्ट कम्युनिटी भी बोल रही है। बोलना बहुत जरूरी है। यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण घटना है।"
जाति व्यवस्था को लेकर नवाज कहते है, "लोग कह सकते हैं कि जातिगत भेदभाव नहीं है। लेकिन अगर वही लोग आसपास की यात्रा करें तो उन्हें अलग सच्चाई पता चलेगी।"
फिल्म में दलित के किरदार में दिखे थे नवाज
नवाजुद्दीन सिद्दीकी हाल ही में डायरेक्टर सुधीर मिश्रा की फिल्म 'सीरियस मैन' में दलित आदमी के किरदार में नजर आए थे। 2 अक्टूबर को नेटफ्लिक्स पर रिलीज हुई 'सीरियस मैन' इसी नाम से पब्लिश हुई मनू जोसेफ की बुक पर बेस्ड है।

Tuesday, 6 October 2020

16:06

पेट लवर्स के लिए लॉन्च किया स्टार्ट अप:deepak tiwari

मुंबई देवांशी शाह ने अपने प्यारे डॉगी 'हेजल' को खोने के बाद की 'पेट कनेक्ट' की शुरुआत, यहां डॉग्स के लिए जरूरी सारी सुविधाएं उपलब्ध हैं
अगर आपके घर में कोई पालतू जानवर है और आप इनसे प्यार करते हैं तो आप ये भी जानते होंगे कि इनकी देखभाल करना आसान नहीं है। फिर भी कई लोग ऐसे हैं जो इन पेट्स को अपने बच्चों की तरह प्यार करते हैं।
उनके साथ रहते हुए वो वक्त भी आता है जब ये पेट्स भी इंसानों की तरह इस दुनिया से चले जाते हैं। ऐसे में उन लोगों का दुखी होना लाजिमी है जिन्होंने अपना हर दिन इन्हें अपनापन देने में बिताया हो। अपने पालतू डॉगी को ऐसा ही दुलार मुंबई की देवांशी शाह ने भी दिया है।
पिछले दिनो सोशल मीडिया पर देवांशी की कहानी वायरल हुई। देवांशी के पेट डॉग का नाम हेजल था। देवांशी उसे याद करते हुए उस दिन का जिक्र करती है जब उसके भाई ने देवांशी को उसकी 20 सालगिरह पर इस डॉग को को गिफ्ट किया था।
उसका वजन 600 ग्राम था और वो देवांशी की हथेली पर ही आ जाता था। देवांशी उसके साथ वॉक पर जाती। वे नाश्ता भी हेजल के साथ बैठकर एक ही टेबल पर करती थीं। देवांशी का पूरा दिन हेजल के साथ बितता। हेजल के साथ देवांशी की कई यादें जुड़ी हुई हैं।
उसके बाद वो वक्त भी आया जब हेजल बीमार रहने लगा। देवांशी ने उसका इलाज भी करवाया लेकिन जल्दी ही वे इस दुनिया से चला गया। हेजल के न रहने से देवांशी की जिंदगी सूनी हो गई। अपने इस सूनेपन से उबरने के लिए उसने एक ऑनलाइन कम्युनिटी की शुरुआत की जिसे 'पेट कनेक्ट' नाम दिया। ये कम्युनिटी डॉग पैरेंट्स को वो सारी सुविधाएं उपलब्ध कराती है जो उनके डॉगी की देखभाल में मदद करती हैं।
यहां तक कि महामारी के दौरान भी देवांशी ने अपनी सेवाओं को 24 घंटे जारी रखा ताकि पेट्स को किसी तरह की असुविधा न हो। सोशल मीडिया पर देवांशी की इस दिल छू लेने वाली कहानी को लाइक किया गया। किसी ने इसे 'अमेजिंग' बताया तो कोई हेजल को देवांशी के लिए 'इंस्पिरेशन' बता रहा है।
15:58

सुशांत की मौत से जुड़ी फर्जी जानकारी प्रचारित करने के लिए 80 हजार से ज्यादा फेक अकाउंट बने मुंबई पुलिस ने सुरु की जांच TNI

मुंबई.deepak tiwari अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ने फॉरेंसिक जांच रिपोर्ट केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को सौंप दी है। ताजा जानकारी के मुताबिक, सुशांत की मौत की वजह आत्महत्या थी। इन सबके बीच मुंबई पुलिस को यह जानकारी मिली है कि सुशांत की मौत पर फर्जी खबरें प्रचारित करने के लिए 80 हजार से ज्यादा फेक सोशल मीडिया अकाउंट खोले गए थे।
मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने बताया कि इन फर्जी अकाउंट्स के जरिए मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र सरकार को बदनाम करने की कोशिश की गई। उन्होंने साइबर सेल से इस मामले की जांच करने और दोषियों पर आईटी एक्ट के तहत केस दर्ज करने का आदेश दिया है।
दिग्विजय सिंह ने कहा- मामले की जांच होनी चाहिए
इस खुलासे के बाद कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने मंगलवार को ट्वीट करते हुए कहा कि मुंबई पुलिस की छवि धूमिल करने के लिए 80 हजार से ज्यादा फर्जी अकाउंट बनाने की जांच होनी चाहिए।
एक अन्य ट्वीट में दिग्विजय ने कहा कि सोशल मीडिया पर फेक अकाउंट बनाना बीजेपी की ताकत है। क्या गैर-भाजपा सरकार ऐसे सभी घोस्ट अकाउंट क्रिएटर्स के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर सकती है? मुझे यकीन है कि वे कर सकते हैं, जो हमें चाहिए वह एक मजबूत राजनीतिक इच्छाशक्ति है।
इटली, जापान और थाईलैंड जैसे देशों में बने फर्जी अकाउंट
साइबर यूनिट ने एक रिपोर्ट बनाई है, जिसमें कहा गया है कि सोशल मीडिया के प्लेटफॉर्म पर इटली, जापान, फ्रांस, रोमानिया, तुर्की, थाईलैंड, इंडोनेशिया, पोलैंड और स्लोवेनिया जैसे देशों से पोस्ट किए गए हैं। एक आईपीएस अधिकारी ने बताया कि 'हमने विदेशी भाषा में पोस्ट की पहचान की है। इसमें #justiceforsushant #sushantsinghrajput और #SSR हैशटैग का इस्तेमाल किया गया। हम इन अकाउंट्स के बारे में ज्यादा जानकारी जुटाने की कोशिश में हैं।'
पुलिस का मनोबल तोड़ने का किया गया प्रयास
मुंबई के पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने बताया कि इस तरह के कैंपेन से हमारे मनोबल को कमजोर करने की कोशिश की गई। यह सब उस वक्त किया गया जब कोरोनावायरस के चलते हमारे 84 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी और करीब छह हजार से ज्यादा जवान कोरोना संक्रमित थे। यह कैंपेन जानबूझकर चलाया गया जिससे मुंबई पुलिस की छवि को धूमिल किया जा सके और जांच की दिशा भटकाई जा सके। सोशल मीडिया पर कई फर्जी अकाउंट्स बनाए गए थे जिसमें मुंबई पुलिस के लिए असभ्य भाषा का इस्तेमाल किया गया। हमारा साइबर सेल विस्तार से जांच कर रहा है। जो भी कानून के उल्लंघन का दोषी पाया जाएगा उस पर आईटी एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी।

Thursday, 1 October 2020

13:03

TNI मैं अंगदान का संकल्प ले चुका हूं-अमिताब बच्चन

अमिताभ बच्चन ने 77 साल की उम्र में एक नेक पहल करते हुए अंगदान करने का संकल्प लिया है। इस बात की जानकारी उन्होंने मंगलवार देर रात ट्वीट कर दी। उन्होंने एक फोटो भी शेयर किया है, उनके कोट पर हरे रंग का रिबन लगा है, जो कि अंगदान के संकल्प का प्रतीक है।
बच्चन ने अपने ट्वीट में लिखा, "मैं अंगदान का संकल्प ले चुका हूं...इसकी पवित्रता दिखाने के लिए हरे रंग का रिबन लगाया है।"
रोजाना 15 घंटे काम कर रहे
अमिताभ ने बुधवार सुबह एक दूसरे ट्वीट में बताया कि वे पेंगोलिन मास्क पहनकर काम पर जा रहे हैं और रोजाना 15 घंटे काम कर रहे हैं। इस ट्वीट के साथ भी उन्होंने अपना एक फोटो शेयर किया। अमिताभ इन दिनों केबीसी के नए सीजन में नजर आ रहे हैं।
एक दिन 4 फिल्मों की शूटिंग की थी
अमिताभ भले ही 77 साल हो गए हों, लेकिन इस उम्र और कोरोना दौर के बावजूद वे बेहद सक्रिय हैं। 13 सितंबर को लिखे अपने ब्लॉग में उन्होंने लिखा था, "काम के लिए सबसे अच्छे दिन वे होते हैं, जब बाकी सब आराम कर रहे होते हैं। रविवार। 4 फिल्में, 3 शॉर्ट फिल्में, 6 क्रोमा शूट, स्टिल के 2 सेट। जी हां।"
सोशल मीडिया पर तारीफ हो रही
अमिताभ के अंगदान करने के फैसले के बारे में जानकारी मिलने पर सोशल मीडिया यूजर्स ने उनकी जमकर तारीफ की। कई लोगों ने अपना सर्टिफिकेट शेयर करते हुए बताया कि वे भी अंगदान का संकल्प ले चुके हैं।

Tuesday, 29 September 2020

15:40

एक और 'सुशांत':deepak tiwari

एक और 'सुशांत':deepak tiwari बिहार के रहने वाले एक्टर अक्षत की मुंबई में संदेहास्पद हालात में मौत, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप, मुंबई पुलिस ने नहीं किया सहयोग
एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत की गुत्थी अभी सुलझी भी नहीं है कि मुंबई में बिहार के एक और एक्टर अक्षत उत्कर्ष की संदेहास्पद परिस्थितियों में मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि अक्षत की हत्या की गई है। उन्होंने मुंबई पुलिस पर सहयोग नहीं करने का आरोप लगाया है। मुंबई पुलिस ने परिजनों को अक्षत की मौत के मामले में दर्ज हुई प्राथमिकी की कॉपी भी नहीं दी। अक्षत मूल रूप से मुजफ्फरपुर के सिकंदरपुर के रहने वाले थे। मंगलवार सुबह परिजन अक्षत के शव को विमान से लेकर पटना एयरपोर्ट पहुंचे। यहां से परिजन शव को मुजफ्फरपुर ले गए।
साथ रहने वाली लड़की ने फोन कर दी सूचना
अक्षत के मामा रंजू सिंह ने कहा कि पूरा मामला संदेहास्पद है। अक्षत ने रविवार रात पौने नौ बजे पिता विजयंत किशोर से बात की थी। उसी रात साढ़े 10 से 11 बजे के बीच उनकी मौत की सूचना मिली। अक्षत के साथ रह रही उनकी महिला मित्र स्नेहा चौहान ने परिजनों को फोन कर घटना की सूचना दी। स्नेहा मूल रूप से नोयडा की रहने वाली है। स्नेहा ने अक्षत के फुफेरे भाई को फोन कर कहा था कि अक्षत ने फांसी लगा ली है।
कोई मोटे तैलिए से कैसे लगा सकता है फांसी
सूचना मिलने के बाद अक्षत के परिजन सोमवार को मुंबई गए। परिजनों के अनुसार फांसी लगाने के बाद अक्षत को गंभीर हालत में मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल ले जाया गया था। जहां से गंभीर हालत देख उन्हें कूपर हॉस्पिटल भेज दिया गया। कूपर हॉस्पिटल में अक्षत की मौत हो गई। परिजनों ने आरोप लगाया कि 6 फीट हाइट वाला अक्षय मोटे तौलिए से फंदा लगाकर कैसे मर सकता है? अक्षत ने आत्महत्या नहीं की है। उनकी हत्या की गई है।
प्राइवेट कंपनी में काम करने साथ एक्टिव भी कर रहे थे अक्षत
अक्षत दो साल से मुंबई के अंधेरी वेस्ट में रह रहे थे। उन्होंने एमबीए किया था। मुंबई में प्राइवेट कंपनी में जॉब करने के साथ ही एक्टिंग भी कर रहे थे। आने वाले फिल्म 'लिट्टी चोखा' में उन्होंने रोल किया था।
08:31

कंगना Vs बीएमसी:deepak tiwari

कंगना Vs बीएमसी:deepak tiwari हाईकोर्ट ने राउत के 'हरामखोर' वाले बयान पर कहा- हमारे पास भी डिक्शनरी है, अगर इसका मतलब नॉटी है तो फिर नॉटी का मतलब क्या है
कंगना रनोट के ऑफिस में बीएमसी की कार्रवाई के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में सोमवार को सुनवाई हुई। इस दौरान, कोर्ट में शिवसेना के नेता संजय राउत के 'हरामखोर' वाले बयान पर भी बहस हुई। कंगना के वकील बीरेंद्र सराफ ने कहा कि संजय राउत ने इंटरव्यू में हरामखोर का मतलब नॉटी बताया था। इस पर जस्टिस एस कथावाला ने कहा, 'हमारे पास भी डिक्शनरी है, अगर इसका मतलब नॉटी है तो फिर नॉटी का मतलब क्या है।'
सराफ ने आरोप लगाया कि संजय ने कंगना के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया। उन्हें हरामखोर कहते हुए सबक सिखाने की बात कही थी। इसके बाद कोर्ट में राउत के बयान की फुटेज चलाई गई।
संजय राउत के वकील ने कहा- उन्होंने कंगना का नाम नहीं लिया
राउत के वकील प्रदीप थोराट ने कहा कि संजय ने बयान में कंगना का नाम नहीं लिया था। इस पर बेंच ने कहा, 'क्या आप कह रहे हैं कि आपके मुवक्किल ने उसे हरामखोर लड़की नहीं कहा है? क्या हम यह बयान दर्ज कर सकते हैं कि आपने (राउत ने) याचिकाकर्ता का हरामखोर नहीं कहा है।' इसके जवाब में थोराट ने कहा कि वह इस संबंध में कल एक हलफनामा दायर करेंगे।
कंगना के वकील ने कहा कि ऑफिस गिराए जाने के बाद अखबार में उसे तोड़े जाने का जश्न मनाया गया था। यह पूरे देश ने देखा है। इस पर बेंच ने इस संबंध में सभी सबूत और दस्तावेज लाने की बात कही है। जिसमें कंगना के सभी ट्वीट्स और संजय राउत का पूरा इंटरव्यू शामिल हैं।

Sunday, 27 September 2020

10:30

दशहरे के आसपास खुल सकते हैं देश में सिनेमाघर tap news

मुंबई.कोरोना के चलते मार्च से सिनेमाघर बंद हैं। मल्टीप्लेक्स और सिंगल स्क्रीन बिज़नेस को देश में 9,000 करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है। एसोसिएशन ने सिनेमाघर खुलवाने के लिए सरकार पर दबाव बनाया है। मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन और केंद्र सरकार के बीच कई दौर की बातचीत के बाद दशहरे के आसपास सिनेमाघर खुलने के आसार हैं।
बॉलीवुड को हुए नुकसान की भरपाई अगले साल आने वाली फिल्मों से हो सकती है। फिल्म प्रोड्यूसर और ट्रेड एनालिस्ट गिरीश जौहर कहते हैं कि 2021 में कई फिल्में मेगाबजट की हैं। बड़े स्टार्स की अच्छी पटकथा वाली करीब 16 फिल्में लाइनअप हैं। इनसे करीब 4 हजार करोड़ की कमाई की उम्मीद है।
देश की प्रमुख मल्टीप्लेक्स चेन कार्निवाल के सीनियर वाइस प्रेसीडेंट कुणाल साहनी कहते हैं ‘हमेशा दीवाली, ईद, दशहरा, 2 अक्टूबर, होली जैसी तारीखों पर फिल्म रिलीज के लिए मारामारी रहती है। लेकिन यह साल पूरा कोविड में चला गया। अब अक्टूबर में सिनेमाघर खुलने की उम्मीद है और तमाम अधूरी फिल्मों के बचे हुए काम तेज़ी से हो रहे हैं। यही नहीं 2021 में जिस तरह की फिल्में आ रही हैं उससे लगता है कि हम नुकसान की भरपाई कर लेंगे।
कुणाल साहनी के अनुसार बॉलीवुड की तैयारी अब 2021 के लिए है। इस हिसाब से अगले साल हर बड़े मौके पर फिल्म रिलीज की मारामारी रहेगी। देश में 9,000 स्क्रीन हैं, जिसमें से लगभग 2600 स्क्रीन मल्टीप्लेक्स की हैं। मल्टीप्लेक्स में देश में चार बड़े खिलाड़ी हैं- पीवीआर, आईनॉक्स, कार्निवाल और सिनोपोलिस।
जिनका बिज़नेस पूरी तरह से फिल्मों पर टिका है। इसी साल के अंत तक सिनेमाघरों को जिन फिल्मों से उम्मीद है, वे हैं, 83, सूर्यवंशी, हॉलीवुड की नो टाइम टू डाइ, डिज्नी की बहुप्रतीक्षित मुलान और वार्नर ब्रदर्स की टेनेट है। मूवी मार्टिंग कंपनी के अश्वनी शुक्ला का कहना है कि भारत में हर साल रिलीज़ होने वाली लगभग 1000 फिल्मों में से 300 को ही सिनेमाघर मिलता है। भारत के पास कंटेट बहुत ज्यादा है और स्क्रीन बहुत कम। ओटीटी पर आई शकुंतला देवी, गुंजन सक्सेना जैसी फिल्मों को दर्शकों ने नकार दिया। जबकि यह फिल्में अच्छा बिज़नेस कर सकती थीं। इसलिए अब सिनेमाघर के लिए ही फिल्मों की तैयारी हो रही है।

Saturday, 26 September 2020

18:26

एशिया के सबसे बड़े स्लम से ग्राउंड रिपोर्ट:tap news India deepak tiwari

मुंबई.धारावी यह नाम सुनते ही दिमाग में झुग्गी-झोपड़ियों की तस्वीर बनने लगती है। महज 2.5 स्क्वेयर किलोमीटर में फैले एशिया के इस सबसे बड़े इस स्लम में 10 लाख से ज्यादा लोग रहते हैं। अप्रैल में यहां कोरोना का ब्लास्ट हुआ था। लेकिन जून तक वायरस पर पूरी तरह से काबू पा लिया गया था। इसलिए 'धारावी मॉडल' की बहुत चर्चा हुई थी। अब एक बार फिर यहां कोरोना की दूसरी लहर आती दिख रही है। धारावी में कोरोना के मामले 3 हजार को क्रॉस कर चुके हैं। पिछले दस दिनों से तो हर दिन दो अंकों में मामले बढ़ रहे हैं। अभी 180 से ज्यादा एक्टिव केस हैं। ऐसे में हम धारावी पहुंचे और जाना कि कोरोना को रोकने वाला 'धारावी मॉडल' क्या था, अब क्या हालात हैं और लोग कैसे अपना गुजर-बसर कर रहे हैं।
धारावी में पक्की झोपड़ियां हैं, जो ऊंचाई से ऐसी नजर आती हैं।
धारावी में पक्की झोपड़ियां हैं, जो ऊंचाई से ऐसी नजर आती हैं।
संकरी गलियां, छोटे-छोटे कमरे। कमरे में ही किचन और वहीं बर्तन साफ करने की एक जगह भी। एक घर में रहने वाले औसत पांच से सात लोग। कुछ-कुछ में बारह से पंद्रह। यहां सोशल डिस्टेंसिंग की बात करना बेमानी है, क्योंकि जगह इतनी कम है कि एक-दूसरे से दूरी बनाना मुमकिन ही नहीं। अधिकतर घरों में एक-एक कमरे ही हैं। साइज दस बाय दस फीट होगा। हालांकि, यहां की झुग्गियां कच्ची नहीं, पक्की हैं। गुरुवार सुबह 10 बजे जब हम यहां पहुंचे तो धारावी पहले की तरह नजर आई। बाजार खुले थे। लोग काम धंधे पर निकल रहे थे। मास्क गिने चुने चेहरों पर ही दिख रहा था। हैंड सैनिटाइजर जैसी चीज यहां शायद ही कोई इस्तेमाल करता हो। हां, लेकिन धारावी की गलियां साफ-सुथरी नजर आईं। यहां के लोगों में अब कोरोना का बिल्कुल डर नहीं है, क्योंकि बात पेट पर आ गई है। वे कहते हैं, कोरोना से नहीं मरेंगे तो भूख से मर जाएंगे इसलिए काम पर तो निकलना पड़ेगा। पिछले करीब एक हफ्ते से यहां हर रोज कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए जा रहे हैं।
कोई भाड़ा नहीं भर पा रहा तो किसी पर हजारों का कर्जा हो गया
खैर, धारावी की जमीनी हकीकत जानने के लिए हम अंदर गलियों में घुसे। पहली गली में घुसते ही सारोदेवी नजर आईं। एक छोटे से कमरे में वो भजिया तल रहीं थीं। इतने सारे समोसे, वड़ा, भजिया किसके लिए बना रही हैं? पूछने पर बोलीं, मेरा बेटा सायन हॉस्पिटल के बाहर बेचता है। पांच माह से काम बंद था। पंद्रह दिन पहले ही शुरू हुआ है। लॉकडाउन में गुजर बसर कैसे किया? इस पर बोलीं, फ्री वाला राशन बंटता था, वो ले लेते थे। कुछ राशन सरकार से भी मिला। कुछ सामान हमारे पास था। यह सब मिलाकर जैसे-तैसे दिन काटे हैं। धंधा बंद था इसलिए न भाड़ा दे पाए और न ही बिजली का किराया भरा। 25 हजार रुपए का कर्जा भी हो गया। अब काम शुरू हुआ है तो थोड़ा-थोड़ा करके चुकाएंगे। सारोदेवी के घर की अगली गली में अनीता मिलीं। उनका एक पैर काम नहीं करता। पति भी दिव्यांग हैं। दो बच्चे हैं, जिसमें से एक को मां-बाप वाली कमी आ गई। दूसरा बेटा ठीक है। दस बाय दस के कमरे में अनीता का पूरा परिवार रहता है। पति मिट्टी के बर्तन बनाने जाते हैं। उनका बेटा चिराग कहता है, पापा का माल बिकता है, तब ही घर में पैसा आता है। कमरे का भाड़ा तीन हजार रुपए महीना है, लेकिन चार-पांच महीने से भरा नहीं। मकान मालिक ने बोला है कि, जल्दी भाड़ा भरो नहीं तो कमरा खाली करना पड़ेगा।
ये सारो देवी हैं। कहती हैं-- लॉकडाउन में खाने-पीने के लाले पड़े गए थे। समोसा, भजिया, वड़ा बेचकर परिवार को पाल रही हैं।
धारावी के अधिकतर घरों में महिलाएं खाने पीने की चीजें तैयार करती हैं और उनके बेटे या पति ये सामान बाहर बेचते हैं। कीमत काफी कम होती है, इसलिए माल बिक जाता है। 10 रुपए में पांच इडली बेचने वाली मारिया सिर पर बड़ी तपेली रखती जाती दिखीं। हाथ में एक थैला था, जिसमें तीन डिब्बे रखे थे। वो इडली और वड़ा सांभर बेचने के लिए निकली थीं। हमने रोका तो मुस्कुराते हुए कहने लगीं कि मैंने लॉकडाउन में भी चोरी-छुपे इडली-वडा बेचे क्योंकि घर में कुछ खाने को था ही नहीं। पैसों की बहुत जरूरत थी इसलिए प्लास्टिक की थैलियों में इडली-वड़ा भरकर ले जाती थी और धारावी की गलियों में ही बेच आती थी।
मारिया महीने का 25 से 30 हजार रुपए कमा लेती हैं। इस पैसे से उन्हें सिर्फ घर ही नहीं चलाना होता बल्कि बच्चों की पढ़ाई-लिखाई भी करवानी होती है। धारावी में बड़ी संख्या में दक्षिण भारतीय भी रहते हैं जो इडली-सांभर और वड़ा-सांभर घर में तैयार कर बाहर बेचते हैं। इन्हीं संकरी गलियों में ढेरों स्मॉल स्केल बिजनेस भी चलते हैं। जैसे कोई परिवार मिट्टी के बर्तन बनाता है. तो कोई जूते, बैग सिलता है। कपड़ों की छोटी-छोटी फैक्ट्रियां भी यहां हैं। वे पूरी तरह से मार्केट के खुलने पर ही डिपेंड हैं। वर्क फ्रॉम होम का इन लोगों के पास कोई आप्शन नहीं। जिंदगी का गुजर-बसर करने के लिए जरूरी है कि या तो इन लोगों के पास ग्राहक आएं या फिर ये लोग ग्राहकों तक जाएं। पिछले पंद्रह-बीस दिनों में सभी ने अपने धंधे शुरू कर दिए लेकिन पहले की तरह ग्राहक नहीं आ रहे।

Wednesday, 23 September 2020

07:07

tap news india deepak tiwari ठाणे के भिवंडी में तीन मंजिला इमारत गिरने में अब तक 40 की मौत

मुंबई.महाराष्ट्र के ठाणे स्थित भिवंडी में हुए हादसे में मरने वालों की संख्या 40 हो गई है। यहां सोमवार तड़के तीन मंजिला बिल्डिंग गिर गई थी। मलबे में 10 से ज्यादा लोगों के फंसे होने की आशंका थी। इस बीच, स्थानीय रहवासियों ने 19 लोगों को मलबे से बाहर निकाला था। मंगलवार को बचाव दल ने 45 घंटे बाद 42 साल के एक व्यक्ति को जिंदा निकाला।
खालिद अब्दुल खान को जैसे ही बाहर निकाला, वे खड़े हो गए। इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। हालांकि, अस्पताल से उन्हें कुछ देर बाद छुट्टी दे दी गई। इसके बाद वे दूसरे लोगों की मदद के लिए हादसे वाले स्थान पर पहुंच गए। खान समेत अब तक 25 लोगों को इस मलबे से जिंदा निकाला गया है।
टीडीआरएफ के सदस्य मेरे लिए फरिश्ते की तरह थे
खान ने बताया कि मलबे में फंसे होने के दौरान मैंने टीडीआरएफ टीम के सदस्य की आवाज सुनी। वे अंदर फंसे किसी भी इंसान की तलाश कर रहे थे और उन्हें आवाज दे रहे थे। यह आवाज बचाव टीम में शामिल अक्षय पाटिल की थी। आवाज सुनने के बाद मेरे अंदर यह विश्वास जगा कि मैं जिंदा बचाया जा सकता हूं।
यह हादसा सोमवार तड़के 3.40 बजे हुआ। इस समय ज्यादातर लोग सो रहे थे। बताया जाता है कि मुंबई में पिछले दिनों हुई भारी बारिश की वजह से बिल्डिंग कमजोर हो चुकी थी। इसमें 21 परिवार रहते थे। एनडीआरएफ की टीम ने सोमवार सुबह मलबे से एक बच्चे को सुरक्षित निकाल लिया था।
05:45

ड्रग मामलाः दो टीवी कलाकारों के घर रेड, दीपिका पर कसा शिकंजा tap news

tap news India deepak tiwari* 
 September 23, 2020
मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत मामले में ड्रग्स एंगल सबसे बड़ा बन गया है। एनसीबी के रडार पर बॉलीवुड के कई बड़े सेलेब्स हैं जिन पर या तो ड्रग्स लेने का या फिर ऐसी पार्टियों में शामिल होने का आरोप है। अब खबर आ रही है कि एनसीबी बुधवार को कई फिल्म‑टीवी एक्टर्स को समन भेजने वाली है। इसी कड़ी में टीवी एक्टर अविगेल और सनम एनसीबी दफ्तर पहुंच चुके हैं। दोनों ने नच बलिए रियलिटी शो में हिस्सा लिया था। अब ड्रग्स विवाद में भी दोनों का नाम सामने आया है।
अविगेल‑सनम के घर एनसीबी की रेड

बताया जा रहा है कि एनसीबी को दोनों अविगेल और सनम के खिलाफ कुछ पुख्ता सबूत मिले थे। सुबह के समय एनसीबी की एक टीम ने दोनों कलाकारों के घर रेड की थी। कई घंटो चली उस रेड में एनसीबी के हाथ क्या सबूत मिले हैं, ये सामने नहीं आया है, लेकिन दोनों का एनसीबी दफ्तर पहुंचना दिखाता है कि उन से कई तरह के सवाल‑जवाब किए जाएंगे।
कई सितारों से होगी पूछताछ
जब से सुशांत मामले में ड्रग्स एंगल सामने आया है, बॉलीवुड की मुसीबत काफी बढ़ गई है। हाल ही में श्रद्धा कपूर, दीपिका पादुकोण, दिया मिर्जा, रकुल प्रीत सिंह, सारा अली खान जैसे सेलेब्स के नाम सामने आ चुके हैं। श्रद्धा और दीपिका पादुकोण के खिलाफ तो एनसीबी को कई पुख्ता सबूत भी मिले हैं। ऐसे में एनसीबी अब अपनी जांच को सिर्फ सुशांत तक सीमित नहीं रखना चाहती है। एक केस के बहाने अब सालों से फल‑फूल रहे उस ड्रग्स सिंडिकेट को खत्म करने की तैयारी है, जिसको लेकर दावा किया जा रहा है कि कई बॉलीवुड हस्तियां इसमें शामिल हैं।
एनसीबी की अभी तक की जांच की बात करें तो जया साहा के जरिए श्रद्धा कपूर के खिलाफ कुछ पुख्ता सबूत मिले हैं। पहले तो सिर्फ जया और श्रद्धा की एक वाट्स ऐप चैट सामने आई थी, अब एनसीबी के सामने जया ने भी कबूला है कि उन्होंने श्रद्धा के लिए CBD OIL मंगवाया था। फॉर्म हाउस के बोटमैन ने भी श्रद्धा के खिलाफ अपना बयान दर्ज करवाया है।
दीपिका पर कसा शिकंजा
दीपिका की बात करें तो उन पर शिकंजा क्वान कंपनी की मैनेजर करिश्मा की वजह से कसता दिख रहा है। करिश्मा के जरिए दीपिका ने गांजा मंगवाया था। इस सिलसिले में उनकी 2017 की एक चैट भी सामने आई है। ऐसे में एनसीबी दीपिका पादुकोण से भी पूछताछ की तैयारी कर रही है।

Monday, 21 September 2020

17:59

deepak tiwari ठाणे के भिवंडी में तीन मंजिला इमारत गिरने से 12 की मौत एक बच्चे को बचाया गया; 20-25 लोगों के फंसे होने की आशंका

मुंबई.महाराष्ट्र में ठाणे स्थित भिवंडी में सोमवार तड़के एक तीन मंजिला बिल्डिंग गिरने से 12 लोगों की मौत हो गई। अभी भी मलबे में 20 लोगों के फंसे होने की आशंका है। स्थानीय नागरिकों ने 19 लोगों को बाहर निकाला। एनडीआरएफ की टीम राहत और बचावकार्य में जुटी है। मलबे से एक बच्चे को निकाला गया।
हादसा रविवार रात 3.40 बजे हुआ। इस समय ज्यादातर लोग सो रहे थे। बताया जाता है कि मुंबई में पिछले दिनों हुई भारी बारिश की वजह से बिल्डिंग कमजोर हो चुकी थी। इसमें 21 परिवार रहते थे। एनडीआरएफ की टीम ने सोमवार सुबह मलबे से एक बच्चे को सुरक्षित निकाल लिया। शुरुआती जानकारी के मुताबिक, बिल्डिंग 1984 में बनी थी।
सरकार ने कहा- अवैध निर्माण पर कार्रवाई तय हो
महाराष्ट्र सरकार में गृह निर्माण मंत्री जितेन्द्र आव्हाण ने कहा कि 1986 में इस बिल्डिंग का निर्माण हुआ था। इसे खाली करने का नोटिस दिया गया था। कानूनी झंझट के कारण इसे खाली नहीं किया गया। कुछ दिन पहले मैंने इसको लेकर एक मीटिंग की थी। मैं इस बात को दोहरा रहा हूं कि अवैध निर्माण को लेकर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। जब तक इलाके के पुलिस और वार्ड ऑफिसर पर जिम्मेदारी तय नहीं होती तब तक ऐसी चीजें नहीं रुकेंगी।
राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने शोक जताया
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने हादसे पर दुख जताया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया- ‘‘मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं। घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं। रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। प्रभावित लोगों को हरसंभव सहायता देने की कोशिशें की जा रही हैं।’’
06:17

शेयर बाजार में बड़ी गिरावट, 811 अंक लुढ़का सेंसेक्स, रुपए में आई तेजी deepak tiwari

 September 21, 2020

मुंबई। आज सप्ताह के पहले कारोबारी दिन यानी सोमवार को घरेलू शेयर बाजार में बिकवाली देखने को मिली। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 2.09 फीसदी की भारी गिरावट के साथ 811.68 अंक नीचे 38034.14 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 2.46 फीसदी (282.75 अंक) की गिरावट के साथ 11222.20 के स्तर पर बंद हुआ। वैश्विक और घरेलू बाजारों से किसी महत्वपूर्ण संकेत के अभाव में प्रमुख शेयर सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी में सतर्क रुख के साथ कारोबार की शुरुआत हुई थी।
रुपया सात पैसे बढ़कर 73.38 पर बंद
घरेलू शेयर बाजार में गिरावट के बावजूद रुपया सोमवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले सात पैसे बढ़कर 73.38 (अनंतिम) के स्तर पर बंद हुआ। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में स्थानीय मुद्रा अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 73.43 पर खुली और कारोबार के अंत में डॉलर के मुकाबले 73.38 पर बंद हुई, जो पिछले बंद भाव के मुकाबले सात पैसे की बढ़ोतरी को दर्शाता है। रुपया शुक्रवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 73.45 पर बंद हुआ था।
दिन के कारोबार में स्थानीय मुद्रा ने अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 73.26 के ऊपरी स्तर और 73.50 के निचले स्तर को देखा। इस बीच छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.29 फीसदी बढ़कर 93.19 पर पहुंच गया। शेयर बाजार के आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध खरीदार थे और उन्होंने शुक्रवार को सकल आधार पर 205.15 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। वैश्विक तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड वायदा 2.04 फीसदी गिरकर 42.27 डालर प्रति बैरल पर आ गया।
वैश्विक बाजारों में गिरावट
शुक्रवार को दुनियाभर के बाजारों में गिरावट देखने को मिली थी। अमेरिका का डाउ जोंस 0.88 फीसदी गिरकर 244.56 अंक नीचे 27,657.40 पर बंद हुआ था और नैस्डैक 1.30 फीसदी की गिरावट के साथ 143.97 अंक नीचे 10,937.00 पर बंद हुआ था। एसएंडपी 1.12 फीसदी गिरकर 37.54 अंक नीचे 3,319.47 पर बंद हुआ था। वहीं चीन का शंघाई कंपोजिट 0.41 फीसदी गिरावट के साथ 13.84 अंक नीचे 3,324.25 पर बंद हुआ था। यूके, जर्मनी और फ्रांस के बाजारों में भी गिरावट देखने को मिली थी।
ऐसा रहा दिग्गज शेयरों का हाल
दिग्गज शेयरों की बात करें, तो आज टीसीएस, इंफोसिस और कोटक बैंक के अतिरिक्त सभी कंपनियों के शेयर लाल निशान पर बंद हुई। शीर्ष गिरावट वाले शेयरों में इंडसइंड बैंक, टाटा मोटर्स, हिंडाल्को, टाटा स्टील, जेएसडब्ल्यू स्टील, आईसीआईसीआई बैंक, सिप्ला और इंफ्राटेल शामिल हैं। सेक्टोरियल इंडेक्स पर नजर डालें, तो आज सभी सेक्टर्स लाल निशान पर बंद हुए। इनमें आईटी, ऑटो, रियल्टी, मीडिया, फार्मा, पीएसयू बैंक, फाइनेंस सर्विसेज, बैंक, प्राइवेट बैंक, एफएमसीजी और मेटल शामिल हैं।
मामूली बढ़त पर खुला था बाजार
शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 40.82 अंक यानी 0.11 फीसदी ऊपर 38886.64 के स्तर पर खुला था और निफ्टी 0.04 फीसदी यानी 4.25 अंकों की मामूली बढ़त के साथ 11509.20 के स्तर पर खुला था। पिछले कारोबारी दिन घरेलू शेयर बाजार में बिकवाली देखने को मिली। सेंसेक्स 0.34 फीसदी की गिरावट के साथ 134 अंक नीचे 38845.82 के स्तर पर बंद हुआ था और निफ्टी 0.10 फीसदी (11.15 अंक) की गिरावट के साथ 11504.95 के स्तर पर बंद हुआ था।

Monday, 14 September 2020

14:52

एलेक्सा की आवाज बने बिग बी:deepak tiwari

अमिताभ बच्चन जल्द ही एलेक्सा पर होंगे। अमेजन ने बिग बी के साथ एक पार्टनरशिप की घोषणा की है। इसके तहत 2021 से यह पेड सर्विस शुरू होगी, लेकिन अगर यूजर्स इसका प्रीव्यू देखना चाहते हैं तो एलेक्सा इनेबल्ड डिवाइस में कर सकते हैं। उन्हें इतना कहना होगा- एलेक्सा, अमिताभ बच्चन को हैलो कहो। अमिताभ एलेक्सा की आवाज बनने वाले पहले भारतीय सेलिब्रिटी हैं।
वॉइस टेक्नोलॉजी से जुड़कर एक्साइटेड हैं बिग बी
अमिताभ के मुताबिक, टेक्नोलॉजी ने मुझे हमेशा नए रूप में ढलने का मौका दिया है। फिल्में, टीवी शो, पॉड कास्ट और अब मैं अमेजन के साथ एलेक्सा की आवाज बनने के लिए उत्साहित हूं। वॉइस टेक्नोलॉजी के जरिए हम अपने ऑडियंस और फैन्स के साथ और ज्यादा अधिक प्रभावी ढंग से जुड़ने के लिए कुछ नया कर रहे हैं।
हिंदी में होगा कम्युनिकेशन
अमिताभ से पहले सैमुअल एल जैक्सन एलेक्सा की आवाज बनने वाले पहले सेलेब थे। उन्हें पहली बार सितंबर 2019 में एलेक्सा सेलेब्रिटी के तौर पर परिचय करवाया गया था। जैक्सन एलेक्सा केवल अंग्रेजी यूएस में ही उपलब्ध है। अमेजन के अनाउंसमेंट के बाद यह भारत में भी अवेलेबल होगा। इसके इनिशियल डेमो से पता चलता है कि यह हिंदी में ही होगा। यह अभी स्पष्ट नहीं है कि बच्चन की आवाज अंग्रेजी में भी होगी या नहीं।
एलेक्सा अमेजन इको डिवाइस, फायर टीवी स्टिक और कई थर्ड पार्टी फोन, ब्लूटूथ स्पीकर, हेडफोन, वॉच और टीवी पर उपलब्ध है। यह एंड्रॉइड पर एलेक्सा ऐप या अमेजन ऐप के माध्यम से भी उपलब्ध है।

Saturday, 12 September 2020

06:46

अब गरीब बच्चों की मदद करेंगे सोनू सूद:deepak tiwari

लॉकडाउन के दौरान हजारों प्रवासी मजदूरों और देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे लोगों को घर पहुंचाने वाले सोनू सूद अब गरीब बच्चों की मदद करेंगे। उन्होंने अपनी मां सरोज सूद के नाम पर एक स्कॉलरशिप शुरू की है, जो गरीब बच्चों को उनकी पढ़ाई के लिए दी जाएगी। इसके लिए सोनू ने बकायदा एक ईमेल एड्रेस भी शेयर किया है।
सोनू ने दिया एक नया नारा
इस स्कॉलरशिप के बारे में बताते हुए सोनू ने एक नया नारा देते हुए कहा - 'हिंदुस्तान बढ़ेगा तभी, जब पढ़ेंगे सभी!' इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मैं बच्चों को उनकी हायर एजूकेशन में मदद करूंगा। मुझे यकीन है कि पैसों की कमी किसी को भी अपने सपनों को पूरा करने में बाधा नहीं बननी चाहिए। जो भी बच्चे ऐसी स्कॉलरशिप चाहते हैं वे मुझे अगले 10 दिन में scholarships@sonusood.me पर मेल करें और मैं उनकी मदद के लिए तैयार रहूंगा।
किन लोगों को मिलेगी स्कॉलरशिप
सोनू कहते हैं, "ऐसे परिवारों से आने वाले स्टूडेंट्स, जिनकी सालाना इनकम दो लाख रुपए से कम है, वे स्कॉलरशिप के लिए आवेदन कर सकते हैं। शर्त सिर्फ एक ही है कि उनका एकेडमिक रिकॉर्ड अच्छा होना चाहिए। उनके सभी खर्चे, जैसे कि कोर्स और होस्टल की फीस और खाने तक की जिम्मेदारी हम उठाएंगे।"
किन सब्जेक्ट में मिलेगी स्कॉलरशिप?
सोनू सूद की यह स्कॉलरशिप मेडिसिन, इंजीनियरिंग, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, रोबोटिक्स एंड ऑटो-मोशन साइबर सिक्युरिटीज, डाटा साइंस, फैशन और बिजनेस स्टडीज जैसे कोर्स के लिए मिलेगी।
कैसे आया ये आइडिया?
एक बातचीत में सोनू ने बताया- बीते कुछ महीनों के दौरान मैंने देखा कि तंगी में जिंदगी गुजार रहे लोगों को अपने बच्चों की पढ़ाई के लिए बहुत स्ट्रगल करना पड़ रहा है। कुछ के पास ऑनलाइन क्लासेस अटेंड करने के लिए फोन नहीं हैं। कुछ के पास फीस भरने के पैसे नहीं हैं। इसलिए मैंने अपनी मां प्रोफेसर सरोज सूद के नाम से स्कॉलरशिप शुरू करने के लिए देशभर की यूनिवर्सिटीज से टाईअप किया।
मुफ्त शिक्षा देती थीं उनकी मां सरोज
सोनू आगे कहते हैं- मां मोंगा (पंजाब) में मुफ्त शिक्षा दिया करती थीं। उन्होंने मुझसे कहा था कि मैं उनके काम को आगे लाकर जाऊं। मुझे लगा कि इसका सही समय यही (लॉकडाउन और कोरोना के बाद) है।"

Wednesday, 9 September 2020

08:48

आज मेरा घर टूटा है, कल तेरा घमंड टूटेगा -कंगना

deepak tiwari
मुंबई.मुंबई को 'पीओके' कहने के विवाद के बीच एक्ट्रेस कंगना रनोट बुधवार दोपहर 2:45 बजे मुंबई पहुंचीं। इस दौरान एयरपोर्ट पर भारी हंगामा हुआ। उनके समर्थक और विरोधी आमने-सामने आ गए। उन्हें वीआईपी गेट की बजाय दूसरे गेट से बाहर निकाला गया। वे एयरपोर्ट से सीधे खार स्थित अपने घर पहुंचीं। फिलहाल, एक्ट्रेस की सुरक्षा के लिए उनके घर के बाहर 50 से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं।
घर पहुंचते ही उन्होंने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को चुनौती दी। कहा, ‘आज मेरा घर टूटा है, कल तेरा घमंड टूटेगा, जय महाराष्ट्र। उद्धव ठाकरे! तुझे क्या लगता है, तूने फिल्म माफिया के साथ मिलकर मेरा घर तोड़कर मुझसे बहुत बड़ा बदला लिया है। तुमने बहुत बड़ा एहसान किया है। मुझे पता तो था कि कश्मीरी पंडितों पर क्या बीती होगी। आज मुझे इस बात का एहसास हुआ है। आज मैं आपको एक वादा करती हूं कि मैं सिर्फ अयोध्या पर ही नहीं, कश्मीर पर भी एक फिल्म बनाऊंगी। अपने देश के लोगों को जगाऊंगी। ठाकरे, यह जो क्रूरता और आतंक मेरे साथ हुआ है, उसके कुछ मायने हैं। जय हिंद। जय भारत।'
एयरपोर्ट पर भारी हंगामा हुआ
इससे पहले, एयरपोर्ट पर शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने कंगना के खिलाफ नारेबाजी की। उधर, रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया और करणी सेना उनके समर्थन में उतर आई। इन पार्टियों के समर्थक एयरपोर्ट पर मौजूद थे।
08:42

अक्षय कुमार आज मना रहे हैं अपना 53वां जन्मदिन, जाने इनकी ज़िन्दगी के कुछ ख़ास पहलू

 deepak tiwari 
 September 9, 2020
बॉलीवुड में खिलाड़ी कुमार के नाम से मशहूर अभिनेता अक्षय कुमार बुधवार यानि कि आज अपना 53वां जन्मदिन मना रहे हैं। अक्षय कुमार का जन्म 9 सितंबर, 1967 को पंजाब के अमृतसर में हुआ था। अक्षय का असली नाम राजीव हरिओम भाटिया है। लेकिन बॉलीवुड में आने से पहले उन्होंने अपना नाम बदलकर अक्षय कर लिया।
उनकी प्रारंभिक पढ़ाई मुंबई में ही हुई। बचपन से ही अक्षय को कराटे सीखने का शौक था। अक्षय ने आठवीं क्लास से ही मार्शल आर्ट सीखना शुरू कर दिया। यहां वह ब्लैकबेल्ट विजेता भी रहे। इसके बाद अपने इस शौक को पूरा करने के लिए अक्षय बैंकॉक चले गए। वहां उन्होंने मार्शल आर्ट की पढ़ाई जारी रखी और थाईलैंड का सबसे मुश्किल मार्शल आर्ट माना जाने वाला ‘मुए थाई’ की ट्रेनिंग ली। यहां उन्होंने वेटर का काम भी किया, लेकिन जल्द ही उन्हें नेशनल जियोग्राफिक पर प्रसारित होने वाली मार्शल आर्ट पर आधारित डॉक्यूमेंट्री ‘सेवन डेडली’ आर्ट्स को होस्ट करने का अवसर मिला।
कुछ समय बाद अक्षय वापस भारत आ गए और यहां वह मार्शल आर्ट्स की ट्रेंनिग देने लगे। इस दौरान उनके एक शिष्य (जो पेशे से फोटोग्राफर था) ने उन्हें मॉडलिंग करने की सलाह दी। उस विद्यार्थी ने स्वयं अक्षय का फोटोशूट किया और साथ ही मॉडलिंग का एक असाइमेंट भी दिया। इसके बाद अक्षय मॉडलिंग करने लगे। अक्षय कुमार की बतौर अभिनेता बॉलीवुड में पहली फिल्म ‘सौगंध’ थी जो 1991 में आई। इस फिल्म से पहले अक्षय ने महेश भट्ट की फिल्म ‘आज’ में एक छोटी सी भूमिका में नजर आए थे। फिल्म ‘सौगंध’ बॉक्स ऑफिस पर कोई खास कमाल नहीं दिखा पाई। साल 1992 में आई अब्बास मस्तान निर्देशित फिल्म ‘खिलाड़ी’ अक्षय की पहली हिट फिल्म बनी। 1994 का साल अक्षय के लिए बहुत महत्वपूर्ण रहा। इस साल उनकी फिल्म ‘मैं अनाड़ी तू खिलाड़ी’ और ‘मोहरा’ आई जो उस साल की सर्वाधिक सफल फिल्मों में रही। इसके बाद अक्षय ने पीछे मुड़कर नहीं देखा। बॉलीवुड में खिलाड़ी सीरीज करने के कारण उन्हें ‘खिलाड़ी कुमार’ कहा जाने लगा।
अक्षय ने अपने बॉलीवुड करियर में हर तरह की भूमिका बखूबी निभाई है। 17 जनवरी, 2001 को अक्षय और ट्विंकल ने लंबे रिलेशनशिप के बाद शादी कर ली। अक्षय और ट्विंकल के दो बच्चे बेटा आरव और बेटी नितारा है। अक्षय कुमार ने बॉलीवुड में अब तक 130 से ज्यादा फिल्मों में अभिनय किया हैं। उनकी कुछ प्रमुख फिल्मों में इंटरनेशनल खिलाड़ी, खिलाड़ियों का खिलाड़ी, अंदाज, फिर हेरा फेरी, ऐतराज, मुझसे शादी करोगी, गर्म मसाला, बेवफा, वक्त: द रेस अगेंस्ट टाइम, भूल‑भुलैया, रुस्तम, मिशन मंगल, गुड न्यूज आदि हैं।
अक्षय को फिल्म अजनबी के लिए सर्वश्रेष्ठ खलनायक का फिल्फेयर और आइफा पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। फिल्म गरम मसाला में सर्वश्रेष्ठ कॉमेडियन के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार और फिल्म मुझसे शादी करोगी में सर्वश्रेष्ठ कॉमेडियन के लिए आइफा पुरस्कार मिला। इसके अलावा अक्षय कुमार को फिल्मों में उनके सराहनीय योगदान के लिए साल 2009 में भारत सरकार की तरफ से पद्मश्री पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया। अक्षय कुमार एक अच्छे अभिनेता के साथ‑साथ एक नेक दिल इंसान भी है, जो अक्सर जरूरतमदों की मदद के लिए आगे आते हैं। साल 2020 में देश में फैले कोरोना वायरस महामारी के दौरान अक्षय ने भारत सरकार को अपनी कमाई से 25 करोड़ रुपये का दान दिया।
वर्कफ्रंट की बात करें तो अक्षय कुमार की कई फिल्में रिलीज के लिए कतार में है जिसमें सूर्यवंशी, लक्ष्मी बम, बच्चन पांडे, पृथ्वीराज, अतरंगी रे, बेल बॉटम आदि शामिल हैं। इसके अलावा वह जल्द ही डिस्कवरी चैनल पर प्रसारित होने वाले शो मैन इनटू वाइल्ड में बियर ग्रिल्स के साथ खतरों से खेलते नजर आएंगे। अक्षय कुमार सोशल मीडिया पर भी काफी सक्रिय रहते हैं। उनके चाहने वालों की संख्या लाखों में है।