Tap news india

Tap here ,India News in Hindi top News india tap news India ,Headlines Today, Breaking News, latest news City news, ग्रामीण खबरे हिंदी में

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Showing posts with label भोपाल. Show all posts
Showing posts with label भोपाल. Show all posts

Saturday, 5 October 2019

19:44

सरकार बेसुध संविदाकार शिक्षक हुए बेरोजगार






भोपाल -साक्षरता संविदा प्रेरक संघ भोपाल मध्यप्रदेश के तत्वावधान में 21 सितंबर से डटे साक्षरता प्रेरक । 31 मार्च 2018 को बिना किसी कारण सेवा समाप्त कर बेरोजगार कर दिया गया है, जिसमें विधानसभा चुनाव पूर्व किये वादे व वचन पत्र में शामिल निष्कासित संविदा प्रेरकों का मुद्दा जो कि वचन पत्र में 47.23 में शामिल हैआज करीब 9 माह से ज्यादा हो गए किंतु कमलनाथ सरकार ने कोई सुध नही ली। जिसके कारण आज प्रेरक कमलनाथ सरकार व अन्य मंत्रियों के चक्कर काटकर अपनी फ़ाइल को आगे बढ़ाने की गुहार लगा रहे हैं, वही शिक्षा मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी द्वारा जारी पत्र किये जाने के बावजूद विभाग सेवाबहाली नही कर रही है।इसी कड़ी में मंत्री सज्जनसिंह वर्मा से मिलकर अपनी पीड़ा सुनाई तो तत्काल पत्र लिखते हुए जल्द सेवाबहाली का आश्वासन दिया है। साथ ही प्रेरक प्रतिनिधि मंडल द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री श्री दिग्विजयसिंह सिंह, जनसंपर्क मंत्री पी.सी.शर्मा, नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह आदि से मुलाकात कर अपनी मांग व पीड़ा को अवगत कराया गया।जब तक प्रेरकों की मांग पूरी नही की जाती प्रदेश कमेटी भोपाल में अनवरत प्रयास जारी रखेगा जिसमे पूरे मध्यप्रदेश के सभी जिलों के जिलाध्यक्ष भोपाल राजधानी में डेरा डाले हुए हैं।

 साक्षरता संविदा प्रेरक संघ के प्रदेश अध्यक्ष सुल्तान सिंह राजावत, वरिष्ठ उपाध्यक्ष रामपाल , प्रदेश सचिव शरद यादव, अशित पचौरी सह सचिव, प्रदेश महामंत्री सफी उल्ला खान, शैलेन्द्र रघुवंशी सूचना एवं प्रसारण मंत्री, संगठन मंत्री धर्मराज सिंह पटेल, कार्यालय मंत्री राधारमण शर्मा, उत्तम बंसल , ललित बिहारी मिश्रा, दिनेश जाट जी कलाम जी, लष्मीनारायन अहिरवार,हरिशंकर जी, संजय टेकाम, सुजीत जी, राजकुमारी राठौर, अनुसुइया डेहरिया, ज्योति बाडीबा, लाल साहब धाकड़, मुकेश  सहित अन्य जिलों के साथी उपस्थित रहे।

Tuesday, 20 August 2019

10:06

जल्द बनेगा राम वन गमन पथ 22 करोड़ पास

भोपाल . प्रदेश में राम वन गमन पथ को सरकार बिल्ट ऑपरेट एंड ट्रांसफर (बीओटी) मोड पर बनाने की तैयारी में है। इसकी मुख्य वजह है कि करीब 350 किमी के प्रस्तावित इस मार्ग के लिए केवल 22 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है, जबकि इस पर 600 करोड़ रुपए से ज्यादा के खर्चे का अनुमान है।हालांकि अध्यात्म विभाग ने इसके लिए विस्तृत रिपोर्ट तैयार कर ली है। बढ़े हुए खर्च के कारण वित्त विभाग में भी फाइल अटकी हुई है। यह मार्ग करीब 350 किमी का है। राम वन गमन पथ चित्रकूट से शुरू होेकर अमरकंटक तक बनाया जाना प्रस्तावित है। प्रोजक्ट रिपोर्ट में यह पथ पन्ना, कटनी, जबलपुर, मंडला, िडंडोरी, शहडोल और अमरकंटक सहित कुल नौ स्थान चिह्नित किए गए हैं। इन स्थानों के आसपास की प्रमुख धार्मिक और पर्यटन दृष्टि से महत्वपूर्ण जगहों को भी प्रोजक्ट में प्रमुखता से शामिल किया गया है। पर्यटकों के लिए सुविधाओं का पैकेज  : चित्रकूट से अमरकंट तक के 9 स्थानों पर पर्यटक सूचना केंद्र, 100 लोगों के लिए डारमेट्री, 500 लोगाें के लिए ध्यान, प्रार्थना हॉल, वाइफाई युक्त रास्ते, ऑडियो-विजुअल सेंटर, हेल्थ सेंटर, पुलिस चौकी सहित अन्य सुविधाएं शामिल हैं। इसी के साथ मंदिरों को पब्लिक प्लाजा से जोड़ने का भी प्रस्ताव शामिल है। विभिन्न स्थानों के श्राइन कॉम्पलेक्स में रिटेल शॉप, रेस्तरां, बोर्डिंग सुविधा आदि शामिल रहेगी।
हैंडीक्राफ्ट को बढ़ावा देंगे ... विभाग के अपर मुख्य सचिव मनोज श्रीवास्तव बताते हैं कि जिन स्थानों से राम वन गमन पथ बनाया जाना प्रस्तावित है, वहां हाथ से बनी वस्तुएं और स्थानीय कारीगरों द्वारा बनाया गए सामान को बढ़ावा दिया जाएगा। इसी के साथ विभिन्न स्थानों पर बांस के कॉटेज भी बनाए जाएंगे।
बीओटी पर कर सकते हैं संचालित... बड़ा प्रोजेक्ट और पर्याप्त बजट व्यवस्था न होने की वजह से बीओटी मोड पर भी इस प्रोजेक्ट को दिया जा सकता है। ऐसी संभावनाओं पर भी विचार किया जा रहा है। इसके तहत इन 9 स्थानों पर निजी फाइनेंसर पूंजी लगाकर इन क्षेत्रों को विकसित करें।