Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Showing posts with label भोपाल. Show all posts
Showing posts with label भोपाल. Show all posts

Friday, 5 March 2021

16:52

आज शनिवार शाम से छा सकते हैं बादल दिन की गर्मी से राहत की उम्मीद

tap news India deepak tiwari 
भोपाल. मध्यप्रदेश में मार्च के पहले सप्ताह में ही लोगों को गर्मी का एहसास होने लगा है। दिन और रात के तापमान में कहीं-कहीं 5 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा की बढ़ोतरी रही है। हालांकि जम्मू-कश्मीर में बन रहे पश्चिमी विक्षोभ का असर अगले चौबीस घंटे बाद मध्यप्रदेश में दिखने लगेगा। मौसम वैज्ञानिक वेद प्रकाश सिंह ने बताया कि शनिवार शाम से प्रदेश में बादल छाने की संभावना बन गई है, जबकि रविवार को दिन में गर्मी से राहत रहेगी।
वैज्ञानिक वेद प्रकाश सिंह ने बताया कि चक्रवातीय गतिविधि जम्मू-कश्मीर के ऊपर सक्रिय है। उत्तर में पछुवा हवा के बीच एक ट्रफ लाइन भी गुजर रही है। इसके साथ ही केरल के ऊपर अन्य चक्रवातीय गतिविधियां सक्रिय हैं। इसका असर कल शाम से दिखने लगेगा।
अगले पश्चिमी विक्षोभ से पश्चिमोत्तर भारत को प्रभावित होने की संभावना बनी हुई है। इससे उत्तर प्रदेश और राजस्थान में हल्की बारिश के साथ ओले गिर सकते हैं। इसके कारण यहां से ठंडी हवा आने से प्रदेश के मौसम में इसका असर पड़ेगा। बादल छाने से रात के तापमान में बढ़ोतरी होगी, लेकिन दिन का पारा नीचे आएगा। सिंह ने बताया कि बादल छाएंगे, लेकिन बारिश की संभावना नहीं है।
यहां तापमान अधिक रहा
प्रदेश के शहडोल, सागर, भोपाल और ग्वालियर संभागों में दिन का पारा सबसे ज्याद चढ़ा, जबकि शेष संभागों के जिलों में विशेष परिवर्तन नहीं रहा। खरगोन में दिन का तापमान सबसे ज्यादा 39 डिग्री सेल्सियस तक चला गया। रात का न्यूनतम तापमान रीवा और उमरिया में 12-12 डिग्री सेल्सियस रहा। भोपाल में रात का तापमान 15 डिग्री के आसपास रह सकता है, जबकि दिन का पारा 35 डिग्री तक जा सकता है।

Thursday, 25 February 2021

16:04

बीमारी आम और खास को देखकर नहीं आती सभी लगाएं मास्क

कोरोना अभी गया नहीं है:tap news India deepak tiwari विधानसभा में जनप्रतिनिधियों के मास्क न लगाने पर बोले चिकित्सा शिक्षा मंत्री- बीमारी आम और खास को देखकर नहीं आती, सभी लगाएं मास्क
भोपाल. मध्यप्रदेश में कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है। इसको लेकर सरकार अलर्ट पर है। इस बीच विधानसभा के चल रहे सत्र में मंगलवार को कई जनप्रतिनिधि बिना मास्क के नजर आए। इस मामले पर बुधवार को मध्यप्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि बीमारी आम और खास को देखकर नहीं आती है। विधायक, सांसद या मंत्री या किसी भी वर्ग के लोग हों उन सभी को मास्क लगाना चाहिए। यह मास्क लगाना हमारे और हमारे परिवार की सुरक्षा के लिए है। निश्चित रूप से जनजागरण बहुत जरूरी है। मैं सभी से निवेदन करूंगा कि सभी अनिवार्य रूप से मास्क लगाएं। खास कर जहां भीड़ है या जब हम सार्वजनिक स्थान पर हों। सारंग ने कहा कि कोरोना पीड़ितों की संख्या बढ़ रही है। यह चिंता का विषय है। संक्रमण को रोकने के लिए जिला क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक हुई है। इसमें हर जिले की स्थिति के अनुसार कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना गया नहीं है। उसकी गति मध्यम हुई थी। मध्यप्रदेश सरकार ने मरीजों के इलाज के लिए समुचित व्यवस्था की है। महाराष्ट्र की सीमा से सटे जिलों में थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। मास्क और सोशल डिस्टेसिंग के लिए जनजागरण अभियान भी चला रहे हैं।
मरीजों का बेहतर इलाज उपलब्ध करा रही सरकार
विधानसभा सत्र के दौरान कोरोना महामारी में किए गए खर्चे पर कांग्रेस श्वेत पत्र लाने की तैयारी कर रही है। जिसको लेकर मंत्री ने कहा कि कांग्रेस किस मुंह से श्वेत पत्र लाने की बात कर रही है। जब प्रदेश में कमलनाथ सरकार थी। उस दौरान कोरोना वायरस आ चुका था। कांग्रेस सरकार उस समय जैकलिन के ऊपर करोड़ों रुपए खर्च करने की तैयारी में थी। हमारी सरकार ने तो लोगों को लोगों कोरोना से बचाने का काम किया है। मंत्री ने कहा कि शिवराज सिंह चौहान को साधुवाद करता हूं। कांग्रेस के दौरान 35 टेस्ट प्रदेश में हुआ करते थे। जो कि अब 35 हजार हो रहे है।
कांग्रेस ने शुरू की नई परंपरा
विधानसभा के उपाध्यक्ष पद पर सारंग ने कहा कि भाजपा ने परंपरा बनाई थी कि सत्ता पक्ष के पास अध्यक्ष पद हो और विपक्ष के पास उपाध्यक्ष का पद हो, लेकिन कमलनाथ जी ने आकर नई परंपरा शुरू की। उन्होंने सत्ता पक्ष को ही अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का पद दिया। निश्चित रूप से कमलनाथ जी ने जो परंपरा शुरू की है हम उसको निभाएंगे।
कांग्रेस में न नीति न नीयत
गुजरात नगरीय निकाय चुनाव में कांग्रेस की हार पर सारंग ने कहा कि कांग्रेस की नैया डूब चुकी है और डूबती नैया को कोई भी बचाने की जिम्मेदारी नहीं लेता। कांग्रेस में ना नीति है न नीयत है और न नेता है। इसलिए कांग्रेस की यह गति है। मध्यप्रदेश में नगरीय निकाय चुनावों में भाजपा प्रचंड बहुमत से जितेंगी। जैसा गुजरात में कमल खिला है वैसा ही कमल मध्यप्रदेश में भी खिलेगा।

Sunday, 14 February 2021

17:48

भारत भवन पर भावुक हुई भूरी बाई बोलींं:tap news

भोपाल.जिस भारत भवन के बनने के समय मजदूर से चित्रकार बनी भूरी बाई ने अपने सिर पर रखकर ईंटें ढोई थीं। जब वह भारत भवन के 39वें वर्षगांठ समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में मंच पर पहुंचीं, तो भावुक हो उठीं।
भूरी बाई ने कहा-
‘मुझे भारत भवन की सब बात याद आ रही हैं, जब मैंने भारत भवन में माल ढोया, ईंटें उठाईं। इस भारत भवन के हर कोने पर मेरा पसीना गिरा है। इसी भारत भवन में मेरी पेंटिंग भी लगी है। इस भारत भवन ने मेरे मजदूर से कलाकार बनने की यात्रा देखी है। आज मैं भारत भवन के स्थापना दिवस समारोह में मुख्य अतिथि बन रही हूं। मैं उस छत के नीचे खड़ी हूं, जहां मेरे गुरु स्वामीनाथन ने अंगुली पकड़कर कला का रास्ता दिखाया था। वहीं, कपिल तिवारी ने मुझे दूसरा जीवन दिया। मुझे कपिल सर के साथ पद्मश्री मिलेगा। मुझे लगता है, आज भारत भवन में अतिथि बनना पद्मश्री या दुनिया के किसी भी पुरस्कार से बड़ा है, क्योंकि भारत भवन पहुंचकर मुझे वो सारी बातें आ गईं, जब मैं यहां ईंटें ढोती थी। पेड़ के नीचे बैठकर रोटी खाती थी। एक दाढ़ी वाले बाबा मेरे गुरु स्वामीनाथन आए। उन्होंने मुझे मजदूर से कलाकार बना दिया। आज उन सब बातों को याद करके मेरी आंखों में पानी है। मैं स्वामी जी को बहुत ही याद कर रही हूं।'
एक्सक्लूसिव इंटरव्यू:मैं भी खेत मजदूर का बेटा हूं, कच्चे घर से पद्मश्री तक पहुंचा; मजदूर से कलाकार बनीं भूरी बाई का सम्मान देख खुश हुआ
कपिल तिवारी ने कहा, भारत भवन की इस कला यात्रा में महान चित्रकार, गायक, नर्तक, साहित्यकार, नाटककार और कलाकार साक्षी रहे। मैं अपने आप को इस लायक नहीं समझता कि मुझे आज अतिथि के रूप में बुलाया गया। मुझे खुशी है कि मुझे भूरी बाई जैसी अद्भुत कलाकार के साथ न केवल मंच साझा करने का सौभाग्य मिला, बल्कि पद्मश्री भी उन्हीं के साथ मिलेगा। ऐसे छुपी हुई प्रतिभा का सम्मान निश्चित ही गौरव के पल हैं।
पद्मश्री पुरस्कृत भूरी बाई को संस्कृति विभाग द्वारा भारत भवन के समारोह में मुख्य अतिथि बनाया गया। इसके साथ ही उन्हें मप्र की संस्कृति विभाग का ब्रांड एंबेसडर भी बनाया गया है। प्रमुख सचिव जनसंपर्क, संस्कृति एवं पर्यटन शिवशेखर शुक्ला ने उनके साथ सेल्फी लेने में गर्व महसूस किया।
शुक्ला ने कहा कि भूरी बाई एमपी में कला और संस्कृति की समृद्ध परंपरा का प्रतिनिधित्व करने वाली रियल सेलेब्रिटी हैं। पूरे देश को भारत सरकार द्वारा उन्हें पद्मश्री पुरस्कृत किए जाने की उपलब्धि पर गर्व है।

Tuesday, 9 February 2021

15:14

शशि थरूर और 6 पत्रकारों की गिरफ्तारी पर सुप्रीम कोर्ट की रोक tap news india

  Bhopal tap news India deepak tiwari 
 नई दिल्‍ली। 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस (Republic Day) के दिन दिल्‍ली में किसान ट्रैक्‍टर रैली (Kisan Tractor rally) के दौरान हुई हिंसा (Republic Day Violence) मामले में सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस सांसद शशि थरूर (Shashi Tharoor) और 6 पत्रकारों को बड़ी राहत दी है। सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने मंगलवार को इस मामले की सुनवाई करते हुए इन सभी की गिरफ्तारी पर रोक लगा दी है। यूपी, मध्य प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली और केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। अब इस मामले में दो हफ्ते के बाद सुनवाई होगी।

 
इस मामले में कांग्रेस सांसद शशि थरूर, पत्रकार राजदीप सरदेसाई, मृणाल पांडे और अन्य पत्रकारों के खिलाफ केस दर्ज किए गए हैं। इन लोगों पर किसानों की ट्रैक्टर रैली के दिन गलत ट्वीट कर दंगा भड़काने का आरोप है। इन पर देशद्रोह का भी मुकदमा दर्ज हुआ है। यह सुनवाई मंगलवार को तीन जजों की पीठ (चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एसए बोबड़े, जस्टिस एएस बोपन्‍ना, जस्टिस वी रामासुब्रमण्‍यम) ने की। यह याचिका सांसद शशि थरूर, पत्रकार राजदीप सरदेसाई, जफर आघा, मृणाल पांडे, विनोद के जोस, परेश नाथ और अनंत नाथ ने दायर की थी।
02:14

जगजीत को बेटे की मौत के दर्द ने बना दिया गजल सम्राट deepak

इन्दौर। मशहूर गजल गायक जगजीत सिंह ने चचिटठी कोई संदेश…यह गीत उनके बेटे की आकस्मिक मौत के काफी समय बाद गाया था इस गीत के जरिये उनका वो दर्द भी सामने आया था जो उन्हें अपने बेटे को खोने से मिला था लेकिन अब जबकि खुद जगजीत दुनिया से विदा ले चुके हैं तो उनके चाहने वालों के लिए ये पक्तियां उन्हें एक श्रद्धांजलि की तरह ही हैं।

जगजीत सिंह को यूं ही गजल सम्राट नहीं कहा जाता है, ये उपाधि उन्हें इस वजह से मिली थी क्योंकि उनकी ही बदौलत गजल आम आदमी तक पहुंच सकी उससे पहले गजल उर्दू जानने वालों तक ही सीमित थी। उन्होंने गजलों को उस अंदाज में पेश किया जो सुनने वालों के दिलों तक उतरती चली गई। गजलों और उनके संगीत को लेकर भी जगजीत सिंह ने कई तरह के प्रयोग किए गजलों में इंडियन और वेस्टर्न म्यूजिक की मौजूदगी के साथ उनकी महकती आवाज ने कई गीतों और गजलों को भी अमर कर दिया। राजस्थान के श्रीगंगानगर में आज ही के दिन 8 फरवरी 1941 को आपका जन्म हुआ था और उनके पिता सरदार अमरसिंह धमानी सरकारी कर्मचारी थे। आपने सेनिया घराने के उस्ताद जमाल खान साहब से ख्याल, ठुमरी और ध्रुपद की बारीकियां सीखीं 1965 में जगजीत ने मुंबई की ओर रुख किया था कामयाबी की राह में कई मुश्किलें भी लेकिन वे लगातार सफलता की बढ़ते गए।

Sunday, 24 January 2021

23:53

किडनी के साथ फेफड़ों के संक्रमण से भी लड़ रहे लालू, सांस लेने में परेशानी बरकरार tap news

  Bhopal tap news India deepak tiwari 
 Jan 25, 2021

नई दिल्ली। RJD सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के स्वास्थ्य में फिलहाल सुधार होता नहीं दिख रहा है। सूत्रों से जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक लालू प्रसाद यादव को सांस लेने में अभी भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। रांची के रिम्स (RIMS) अस्पताल से दिल्ली के एम्स (Delhi AIIMS) में शिफ्ट हुए लालू प्रसाद को कई बीमारियों के संक्रमण का सामना करना पड़ रहा है।
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, रविवार की रात लालू प्रसाद यादव के स्वास्थ्य का हाल डॉ राकेश यादव और उनकी टीम ने लिया। न्यूज़ को जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक डॉक्टरों की प्राथमिकता लालू के फेफड़ों के संक्रमण को ठीक करना है। डॉक्टरों की टीम चाहती है कि लालू का निमोनिया पहले ठीक हो जाए, क्योंकि लालू प्रसाद यादव पहले भी बाईपास सर्जरी करा चुके हैं।

डॉक्टरों को यह खतरा सता रहा है कि फेफड़ों पर लंबे वक्त तक संक्रमण रहने से इसका असर लालू प्रसाद यादव के हार्ट पर भी पड़ सकता है। मालूम हो कि लालू प्रसाद यादव की किडनी पहले से ही खराब है और वो महज 25 फ़ीसदी काम कर रही है। लालू प्रसाद यादव कई अन्य बीमारियों से ग्रसित हैं, ऐसे में डॉक्टरों की टीम लगातार उनके स्वास्थ्य पर फिलहाल नजर बनाए हुए हैं।
राजद के नेता और कार्यकर्ता लालू प्रसाद का हाल जानने के लिए दिल्ली के एम्स में जुटने लगे हैं। इससे अस्पताल में गैरजरूरी भीड़ भी बढ़ने लगी है। इन स्थितियों को देखते हुए लालू प्रसाद यादव के बेटे और बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने अपने नेताओं और कार्यकर्ताओं से गुजारिश की है कि वे एम्स में भीड़ न लगाएं, बल्कि वे जहां भी हैं, वहीं से उनके पिता के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करें।

Saturday, 23 January 2021

23:01

ख्यातिलब्ध पत्रकार मधुकर द्विवेदी तीन दिवसीय दौरे पर त्योथर आ रहे हैं जो भोपाल tap news india

ख्यातिलब्ध पत्रकार मधुकर द्विवेदी तीन दिवसीय दौरे पर त्योथर आ रहे हैं जो भोपाल से ट्रेन से उत्तरप्रदेश के शंकरगढ रेलवे स्टेशन पर उतरेगे 24 जनवरी को भोपाल से रवाना होकर 25 जनवरी को शंकरगढ पहुचेगे रेलवे स्टेशन पर उनका समर्थकों द्वारा भब्य स्वागत किया जायेगा इसके बाद ताला पार मे प्रदीप सिंह के यहा लोगो से मुलाकात करने के बाद ग्राम पंचायत सूती मे विश्राम करेगे पत्रकार मधुकर द्विवेदी 26 जनवरी को बरहा पंचायत के जमुनिहा मे ध्वजारोहण करेगे कार्यक्रम समपन्न होने के बाद वहा से सोहर्वा सराई चंदपुर पनासी मे लोगो से मुलाकात करते हुए चाकघाट नगरपलिका मे अपने चाहने वाले लोगो से मुलाकात करते हुये सोनौरी पंचायत मे रमेश द्विवेदी के यहा रात्रि विश्राम करेगे 27 जनवरी को वह पूर्वांचल के लोगों से मुलाकात करते हुए त्योथर विश्राम गृह मे लोगो से मिलेगे इसके बाद शंकरगढ रेल्वे स्टेशन से ट्रेन बैठकर भोपाल के लिए रवाना होगे

Friday, 27 November 2020

00:31

भोपाल से वैक्सीन ट्रायल की अच्छी खबर:deepak tiwari

भोपाल.आईसीएमआर के सहयोग से भारत बायोटेक पहली स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन के थर्ड फेज का ट्रायल कर रहा है। इसके लिए पूरे मध्य प्रदेश में भोपाल में दो संस्थानों को चुना गया है। गांधी मेडिकल कॉलेज और पीपुल्स मेडिकल यूनिवर्सिटी।
इसमें गांधी मेडिकल कॉलेज के प्रस्ताव को भारत बायोटेक ने पेंडिंग में डाला हुआ है, जबकि जीएमसी की एथिक्स कमेटी 6 दिन पहले ही सभी प्रकार की सहमति दे चुकी है। वहीं पीपुल्स मेडिकल यूनिवर्सिटी ड्रग ट्रायल के लिए तैयार है। यहां पर कोवैक्सीन के डोज पहुंच चुके हैं और अगर सब कुछ ठीक रहा तो शुक्रवार से वालंटियर्स को डोज दिया जाएगा। इसके लिए 100 वालंटियर चुने गए हैं। इसके पहले सभी प्रकार की सहमति ले ली गई हैं।
पीपुल्स मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. अनिल दीक्षित ने बताया कि हमारे यहां कोवैक्सीन के डोज पहुंच चुके हैं। आज भी भारत बॉयोटेक के एक प्रतिनिधि आए हुए हैं। हमारी उनसे तैयारियों को लेकर चर्चा हुई है। हम 27 नवंबर यानि शुक्रवार से ट्रायल शुरू करने की तैयारी में हैं।
इधर, गांधी मेडिकल कॉलेज ने ट्रायल के लिए सभी तरह की तैयारी कर ली है। संस्थान की एथिकल कमेटी पहले ही हरी झंडी दे चुकी है। वहीं वैक्सीन डोज के स्टोरेज की व्यवस्था भी कर ली गई है, लेकिन भारत बॉयोटेक ने अब तक हमारे संस्थान को ट्रायल के लिए अप्रूव नहीं किया है। गुरुवार को जीएमसी की डीन डॉ. अरुणा कुमार अपनी पूरी टीम के साथ दिन भर वैक्सीन के ट्रायल को आईसीएमआर और भारत बॉयोटेक के अधिकारियों से अप्रूव कराने की कोशिश में जुटे रहे।
डॉ. कुमार ने कहा कि हमें उन्होंने (भारत बॉयोटेक) आश्वस्त किया है कि जीएमसी में ट्रायल होगा, जल्द ही इसकी सूचना देंगे। हमने ये जानकारी हॉयर अथॉरिटीज को दी है। हमारी तरफ से कोवैक्सीन के ट्रायल के लिए हम तैयार हैं।
सरकार पीपुल्स के ट्रायल को अपना नहीं मान रही
पीपुल्स मेडिकल यूनिवर्सिटी में होने वाले ट्रायल को मध्य प्रदेश सरकार अपना नहीं मानती है। इस संबंध में जब मध्य प्रदेश चिकित्सा शिक्षा विभाग के कमिश्नर निशांत बरबड़े से पूछा कि जीएमसी में अब तक कोवैक्सीन के ट्रायल के डोज नहीं आए और पीपुल्स ड्रग ट्रायल कराने की तैयारी कर रहा है, वहां पर वैक्सीन आ चुकी है। इस पर बरबड़े ने कहा कि वह उनका कॉलेज नहीं है।
वैक्सीनेशन के बाद जांचेंगे असर
वैक्सीनेशन के बाद वॉलंटियर की इम्युनोजेनसिटी जांच की जाएगी। इस जांच में टीकाकरण के बाद संबंधित व्यक्ति के इम्यून सिस्टम में हुए बदलावों का एनालिसिस किया जाएगा। इसके अलावा प्रत्येक वॉलेंटियर का टीकाकरण के बाद एंटीबॉडी टेस्ट एक निश्चित समयांतराल के बाद किया जाएगा। ताकि संबंधित में वैक्सीनेशन के बाद एंटी बॉडी बनने के लेवल को जांचा जा सके।

Monday, 23 November 2020

19:58

केबीसी में पहुंची भोपाल की ओशीन:deepak tiwari

भोपाल.सोनी टीवी के चर्चित टीवी शो कौन बनेगा करोड़पति (केबीसी) में भोपाल की ओशीन जौहरी आज हॉट सीट पर दिखाई देंगी। उनके एपिसोड का टेलिकास्ट और 23 और 24 नवंबर को रात नौ बजे से होगा। सदी के महानायक अमिताभ बच्चन के साथ हाॅट सीट पर दिखने को लेकर डीके कॉटेज निवासी ओशीन जौहरी काफी उत्साहित हैं। गौरतलब है कि लॉकडाउन के बाद गत अक्टूबर माह से शुरू हुए केबीसी के पहले एपिसोड में अन्ना नगर झुग्गी बस्ती निवासी इंजीनियरिंग छात्रा आरती जगताप को दिखाया गया था। उन्होंने करीब छह लाख रुपए की राशि जीती थी। अब भोपाल से दूसरी लड़की ओशीन जौहरी केबीसी की हॉट सीट तक पहुंची हैं।
डीबी डिजिटल से खास बातचीत में लॉ की स्टूडेंट रही और सिविल सर्विसेज की तैयारी कर रही ओशीन ने कहा कि मेरे लिए हॉट सीट का सफर और अमिताभ बच्चन सर से मिलना सपने के सच होने जैसा रहा।
ओशीन ने कहा- ‘मैं बचपन से अमिताभ बच्चन सर की फैन रही हूं। उनकी सारी फिल्में देखती रही हूं। मेंने अपने कमरे में फोटो फ्रेम पर दो साल पहले उनके फोटो के साथ अपना फोटो लगाया है। यह बात जब मैंने बच्चन सर को शो में शूटिंग के दौरान बताई तो उन्होंने कहा कि अब मैं भी अपने घर में आपके साथ अपना फोटो लगाऊंगा। यह सुनते ही मुझे यकीन हो गया कि मैंने यह गेम जीत लिया है। यह मेरे लिए बहुत बड़ी बात थी। इस बात ने मेरा कॉन्फिडेंस लेवल भी बढ़ाया।
अमिताभ सर के काॅम्पलीमेंट्स अब भी गूंज रहे कानों में
ओशीन ने कहा कि सर के कॉम्पलीमेंट्स अब भी मेरे कानों में गूंज रहे हैं। बच्चन सर ने शो की शूटिंग के दौरान मुझसे कहा कि मैं स्ट्रांग कैरेक्टर की लड़की हूं। मुंबई में शूटिंग से पहले मैं थोड़ा नर्वस थी। मैंने शूटिंग से पहले 5 मिनट का समय मांगा। बहुत स्ट्रेसफुल सिचुएशन होता है। जब चारों तरफ कैमरे हों। अमिताभ सर ने मोटीवेट किया। उन्होंने मुझे कॉम्पलीमेंट्स भी दिए कि मैं बहुत अच्छे कैरेक्टर की लड़की हूं और मै बहुत अच्छी लग रही हूं।
ओशीन ने बताया कि 7 नवंबर को भोपाल मेरे घर पर केबीसी की टीम ने शूटिंग की। मुंबई में गत 11 और 12 नवंबर को शो की शूटिंग हुई है। बिग बी के साथ काम करने का मौका मुझे मिलेगा, मैंने कभी सोचा नहीं था, लेकिन इस शो के माध्यम से उन्हें करीब से देखने जानने का अवसर मिला है। बच्चन साहब से बहुत कुछ सीखा है। इस उम्र में भी वे बहुत सक्रिय और तेज दिमाग इंसान हैं।
केबीसी की तैयारी के लिए रामायण और महाभारत भी पढ़ी
मैं सिविल सर्विसेज के एग्जाम की तैयारी कर रही हूं। केबीसी में कोई लिमिट नहीं कि किस एरिया से सवाल पूछेंगे। हम लाइफ लॉन्ग जो एक्सपीरियंस करते हैं। वो सारी चीजें काम आती हैं। केबीसी में मैंने देखा कि किस तरह के सवाल आते हैं फिर मैंने उन एरिया की लिस्टिंग की। रामायण और महाभारत पढ़ी। इंडियन माइथोलॉजी को जाना। स्पोर्ट्स के बारे में पढ़ा। आईपीएल के बारे में जाना। क्रिकेट और क्रिकेटर्स को पढ़ा।
केबीसी में काम आई मां की सीख
जब मेरा पहले दिन का एपिसोड शूट हुआ। उसके बाद गुजरात की एक कंटेस्टेंट थी हेमलता। वो मेरा मोरल डाउन कर रही थी जिससे कि मेरा कॉन्फिडेंस लूज हो। तब मुझे मां की सीख याद आई। वो हमेशा मेरी फेवरेट प्लेयर साइना नेहवाल की कहानी सुनाती थी कि किस तरह ओलिंपिक में साइना नेहवाल की विरोधी कोर्ट से बाहर जाकर उनका कॉन्सेंट्रेशन लेवल डाउन कर रही थी। बाद में साइना ने कांसन्ट्रेट करते हुए उसे हराया।
ओशिन के बारे में
ओशीन ने बताया कि केबीसी मैं देखती जरूर थीं, लेकिन भाग लेने के लिए पहली बार प्रयास किया था। कार्मल कॉन्वेंट, भेल से स्कूलिंग और राष्ट्रीय विधि संस्थान विश्वविद्यालय (एनएलआईयू), भोपाल से ग्रेजुएशन पूरा करने वाली ओशीन वर्तमान में सिविल सर्विसेज की तैयारी कर रही हैं। उनका इरादा प्रशासनिक अधिकारी बनने का है। ओशीन के पापा राकेश जौहरी न्यू इंडिया लाइफ एश्योरेंस में प्रशासनिक अधिकारी, जबकि मम्मी हाउस वाइफ हैं। ओशीन बचपन से ही विभिन्‍न प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेती रही हैं और 15 साल की उम्र में उत्कृष्ट उपलब्धियों के लिए राष्ट्रीय बाल पुरस्कार समेत राष्ट्रपति का प्रशास्ति पत्र भी उन्हें मिल चुका है। मैथ्स और केमेस्ट्री इंटरनेशनल ओलिंपियाड में गोल्ड मेडलिस्ट 25 वर्षीय ओशीन भरतनाट्यम नृत्यांगना भी हैं। उन्हें प्रयाग यूनिवर्सिटी से भरतनाट्यम में सीनियर डिप्लोमा भी किया है।

Sunday, 22 November 2020

07:55

बदलते मौसम में घुली ठंडक:deepak tiwari

भोपाल में दो साल बाद नवंबर में अब तक की सबसे सर्द रात; न्यूनतम तापमान 10.5 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा
भोपाल.राजधानी में दो साल बाद नवंबर माह में शनिवार-रविवार की रात अब तक की सबसे सर्द रही। यहां तापमान डेढ़ डिग्री सेल्सियस गिरकर 10.5 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। वर्ष 2018 में नवंबर में सबसे सर्द रात 11.4 डिग्री सेल्सियस की थी। जबकि वर्ष 2017 में नवंबर में रात को न्यूनतम तापमान 9.6 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। अभी उत्तर भारत से आने वाली बर्फबारी के कारण ठंडक बढ़ गई है। मौसम वैज्ञानिक पीके साहा के अनुसार एक दो दिन में न्यूनतम तापमान और नीचे जा सकता है। यह वर्ष 2017 के रिकॉर्ड को भी तोड़ सकता है।
लगातार आते रहेंगे पश्चिमी विक्षोभ
साहा ने बताया कि इस बार ठंड ज्यादा पड़ेगी। पश्चिमी विक्षोभ के लगातार आने के कारण ठंडी रहेगी। अभी दक्षिणी अरब सागर में सुस्पष्ट निम्न दाब क्षेत्र अभी भी सक्रिय है, जबकि चक्रवातीय परिसंचरण अब उड़ीसा में समुद्र तल से 0.9 किमी की ऊँचाई पर सक्रिय है। अद्यतन पश्चिमी विक्षोभ मध्य क्षोभ मंडल की पछुआ पवनों के बीच एक ट्रफ समुद्र तल से 3.1 किमी की ऊंचाई पर धुरी बनाते हुए सक्रिय है,साथ ही दक्षिणी बंगाल की खाड़ी/ हिंद महासागर में एक निम्न दाब क्षेत्र सक्रिय हो चुका है। इससे मौसम में परिवर्तन हो रहा है। दिन में भी इसके कारण ठंडक बढ़ेगी। शनिवार को दिन का अधिकतम तापमान सामान्य से 4 डिग्री सेल्सियस कम 25 डिग्री सेल्सियस तक रहा।
भोपाल में तापमान में 4 दिन में 9 डिग्री तक गिरावट
भोपाल में रात का तापमान चार दिन में 9 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया, जबकि दिन के तापमान में इस दौरान 6 डिग्री से डिग्री तक कम हो गया।

Saturday, 21 November 2020

16:09

भोपाल को मिलीं दो जोड़ी ट्रेन :deepak tiwari

भोपाल.भोपाल से चेन्नई, नई दिल्ली, कन्याकुमारी और हजरत निजामुद्दीन जाने वाले यात्रियों को लिए खुशखबरी है। रेलवे ने दोनों तरफ के लिए दो जोड़ी ट्रेन चल रही हैं। इन स्पेशल ट्रेन का स्टाप पश्चिम मध्य रेल भोपाल मंडल के भोपाल और इटारसी स्टेशन पर दिया गया है। यह 24 नवंबर से शुरू होकर अगले आदेश तक चलाई जाएंगी। यह ट्रेन पूरी तरह से आरक्षित हैं। टिकट कंफर्म होने पर ही यात्रा करने मिलेगी।
1.गाड़ी संख्या : 02621
ट्रेन : एमजीआर चेन्नई सेंट्रल-नई दिल्ली सुपरफास्ट (प्रतिदिन)
दिन : 24 नवंबर से
प्रारंभिक स्टेशन : एमजीआर चेन्नई सेंट्रल स्टेशन से रात 10.30 बजे से
भोपाल मंडल में हाल्ट : अगले दिन शाम 6.30 बजे इटारसी और रात 8.10 बजे भोपाल में
2.गाड़ी संख्या : 02622
ट्रेन : नई दिल्ली-एमजीआर चेन्नई सेंट्रल सुपरफास्ट (प्रतिदिन)
दिन : 26 नवंबर से
प्रारंभिक स्टेशन : नई दिल्ली स्टेशन रात 9.05 बजे से
भोपाल मंडल में हाल्ट : अगले दिन सुबह 6.50 बजे भोपाल और सुबह 8.35 बजे इटारसी में
इन स्टेशनों पर रुकेगी : विजयवाड़ा, वारंगल, बल्लारशाह, नागपुर, इटारसी, भोपाल, झांसी, ग्वालियर एवं आगरा कैंट स्टेशनों पर रुकेगी।
3.गाड़ी संख्या : 06011
ट्रेन : कन्याकुमारी-हजरत निजामुद्दीन (सप्ताह में दो दिन) स्पेशल एक्सप्रेस
दिन : 25 नवंबर से प्रति बुधवार एवं शुक्रवार को
प्रारंभिक स्टेशन : कन्याकुमारी स्टेशन से शाम 7.05 बजे से
भोपाल मंडल में हाल्ट : तीसरे दिन सुबह 6.35 बजे इटारसी और सुबह 8.15 बजे भोपाल में
4.गाड़ी संख्या : 06012
ट्रेन : हज़रत निजामुद्दीन-कन्याकुमारी (सप्ताह में दो दिन) स्पेशल एक्सप्रेस
दिन : 28 नवंबर से प्रति शनिवार एवं सोमवार को
प्रारंभिक स्टेशन : हजरत निजामुद्दीन स्टेशन से सुबह 5.20 बजे से
भोपाल मंडल में हाल्ट : दोपहर 3.55 बजे भोपाल और शाम 5.55 बजे इटारसी में
इन स्टेशनों पर रुकेगी : नागरकोइल, तिरुनेलवेली, सातुर, विरुधुनगर, मदुरई , डिंगल, तिरुचिरापल्ली, वृधाचल्लम, विलुपुरम, चेंगलपट्टू, ताम्बरम, चेन्नई एग्मोर, विजयवाड़ा, बल्लारशाह, नागपुर, बैतूल, इटारसी, भोपाल, झांसी एवं आगरा कैंट स्टेशनों पर रुकेगी।

Friday, 20 November 2020

03:20

सैर पर निकलीं शेरनियां:deepak tiwari

भोपाल.भोपाल में सैर-सपाटा से गुरुवार को 15 महिला बाइक राइडर्स मध्य प्रदेश की सैर पर निकलीं, जो 1500 किलोमीटर का सफर तय करेंगी। इस दौरान यह बाइक रैली जंगलों, मैदानों और पर्वतों से होकर गुजरेगी।
मध्य प्रदेश पर्यटन विभाग की तरफ प्रदेश में पहली महिला बाइकिंग ट्रेल (टाइग्रेस ऑन द ट्रेल) का आयोजन किया गया। प्रदेश की पर्यटन मंत्री ऊषा ठाकुर ने भोपाल सैर सपाटा से महिला बाइक राइडर्स की इस रैली को हरी झंडी दिखाई। महिला बाइकर्स रैली का समापन 25 नवंबर को किया जाएगा।
एमपी से 9 महिला बाइक राइडर्स शामिल
रैली में मध्य प्रदेश की 9 महिला बाइक राइडर्स शामिल हैं, जबकि दो महाराष्ट्र, दो उड़ीसा, और एक-एक कर्नाटक और पश्चिम बंगाल की बाइक राइडर्स शामिल हैं। ग्रुप को बाइक राइडर मीनाक्षी राव लीड कर रही हैं।
कान्हा, बांधवगढ़ में घूमेगी रैली
मीनाक्षी राव के नेतृत्व में महिला बाइक राइडर्स का यह दल भोपाल से पचमढ़ी, पेंच, कान्हा, बांधवगढ़, पन्ना और खजुराहो से होते हुए वापस भोपाल लौटेंगी। इस दौरान ये 15 बाइक राइडर्स प्रदेश लोगों को जागरुक भी करेगी।
शेर देखने की चाहत
मुंबई से आई एडविना डिसूजा ने बताया कि वह इस राइड पर जाने के लिए उत्सुक हैं। वे मध्य प्रदेश के जंगलों और जंगली जानवरों को देखने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि एक बार बाइक राइडिंग करते हुए उन्हें हाईवे पर खूंखार जानवर दिख गया था। एमपी में बाइक राइडिंग के दौरान लग रहा है, ऐसा फिर होगा।
भारत में महिला सशक्तिकरण की दिशा में बदलाव
रैली में इटली से आई सिल्वाना भी हिस्सा ले रही हैं। सिल्वाना 2015 में भारत दौरे पर आई थीं। उसके बाद उनकी ये दूसरी भारत यात्रा है। सिल्वाना के मुताबिक भारत में महिला सशक्तिकरण के दिशा में बहुत अंतर आया है।
बाइकर्स राइडिंग के साथ खूबसूरत पर्यटन स्थलों से भी हाेंगे रूबरू
पर्यटन विभाग के प्रमुख सचिव शिव शेखर शुक्ला ने कहा कि यात्रा मार्ग इस तरह से तैयार किया गया है, जिससे प्रतिभागी रास्‍ते में आने वाले पर्यटन स्‍थलों की खूबसूरत वादियों का पूर्ण रूप से आनंद ले सकें। ये राइडर्स राज्‍य के मनोरम दृश्यों का आनंद लेते हुए यात्रा के रोमांच का अनुभव कर सकें और पर्यटकों को मध्‍यप्रदेश के आकर्षक गंतव्‍यों का परिचय कराते हुए इन पर्यटन स्‍थलों के सुगम व सुरक्षित होने की जानकारी पर्यटकों को प्रदान कर सकें।
महिला बाइकर्स का हुआ स्वागत
साहसिक और सुरक्षित पर्यटन का संदेश देने निकली महिला बाइकर्स का मिसरोद पर महिलाओं के ग्रुप ने आरती उतारकर, तिलकर लगाकर स्वागत किया।

Saturday, 7 November 2020

11:52

दीपावली के लिए भोपाल से रीवा तक दो जोड़ी चलेंगी स्पेशल ट्रेन deepak tiwari

भोपाल.पश्चिम मध्य रेल भोपाल मंडल के हबीबगंज रेलवे स्टेशन से रीवा के लिए दो जोड़ी विशेष गाड़ियां चलाई जाएंगी। यह विशेष रूप से दीपावली के लिए पूजा स्पेशल ट्रेनें हैं। यह 10 नवंबर से चलाई जाएंगी। इसमें हबीबगंज से रीवा के अलावा पटना के लिए भी ट्रेन चलेगी।
1. गाड़ी संख्या : 02139
ट्रेन : हबीबगंज-रीवा सुपरफास्ट
दिन : 10 नवंबर एवं 17 नवंबर
प्रारंभिक स्टेशन : हबीबगंज स्टेशन से 07.30 बजे
2. गाड़ी संख्या : 02140
ट्रेन : रीवा-हबीबगंज सुपरफास्ट
दिन : 10 नवंबर एवं 17 नवंबर
प्रारंभिक स्टेशन : रीवा से शाम 7 बजे
स्टॉप : यह भोपाल, विदिशा, बीना, सागर, दमोह, कटनी, मैहर एवं सतना स्टेशनों पर रुकेगी।
कोच : इसमें सेकंड एसी का 1, थर्ड एसी के 4, स्लीपर क्लास के 11, जनरल क्लास के 4 और एसएलआर/डी के 2 सहित कुल 22 डिब्बे रहेंगे।
3. गाड़ी संख्या : 02173
ट्रेन : हबीबगंज-रीवा एक्सप्रेस (दो ट्रिप)
दिन : 10 नवंबर एवं 17 नवंबर को (बुधवार एवं रविवार)
प्रारंभिक स्टेशन : हबीबगंज स्टेशन से सुबह 8.35 बजे
4. गाड़ी संख्या : 02174
ट्रेन : हबीबगंज-रीवा एक्सप्रेस (दो ट्रिप)
दिन : 11 नवंबर एवं 15 नवंबर को (बुधवार एवं रविवार)
प्रारंभिक स्टेशन : रीवा से सुबह 10.25 बजे
स्टॉप : यह भोपाल, विदिशा, बीना, सागर, दमोह, कटनी, मैहर एवं सतना स्टेशनों पर रुकेगी।
5. गाड़ी संख्या : 02145
ट्रेन : हबीबगंज-पटना सुपरफास्ट
दिन : 11, 13, 15, 17, 19, 21, एवं 23 नवंबर को
प्रारंभिक स्टेशन : हबीबगंज स्टेशन से शाम 4.25 बजे
6. गाड़ी संख्या : 02146
ट्रेन : पटना-हबीबगंज सुपरफास्ट
दिन : 12, 14, 16, 18, 20, 22 एवं 24 नवंबर
प्रारंभिक स्टेशन : पटना स्टेशन से दोपहर 12.30 बजे
स्टाॅप : होशंगाबाद, इटारसी, पिपरिया, जबलपुर, कटनी, सतना, मानिकपुर, प्रयागराज छिवकी, मिर्जापुर, पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन, बक्सर एवं आरा स्टेशनों पर रुकेगी।
कोच : इसमें सेकंड एसी का 1, थर्ड एसी के 4, स्लीपर क्लास के 11, जनरल के 4 और एसएलआर/डी के 2 सहित कुल 22 डिब्बे रहेंगे।

Monday, 2 November 2020

01:53

कोविड नियम नहीं मानने वाले यात्रियों को भुगतनी पड़ेगी 5 साल तक की सजा tap news india

भोपाल.deepak tiwari रेलवे अब उन यात्रियों को पांच साल तक की सजा दिलवाएगा, जो रेलवे स्टेशनों व ट्रेनों में कोविड-19 संक्रमण के नियमों का पालन नहीं करेंगे। यानी यदि कोई यात्री ट्रेन या स्टेशन पर मास्क नहीं पहनता, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करता, कोविड-19 संक्रमित होने या सैंपल देने के बाद रिपोर्ट नहीं आने के पहले ट्रेन में यात्रा करता पाया जाए तो उसे इस तरह की सजा देने का प्रावधान होगा,
साथ ही यदि कोई यात्री स्टेशन, ट्रेन के अंदर थूकता पाया जाता है और कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए जारी निर्देशों का पालन नहीं करता मिलता तो उसके खिलाफ भी रेलवे एक्ट-1989 की धारा-153 के तहत जुर्माने या सजा का प्रावधान होगा।
जनहानि व संपत्ति के केस होते हैं दर्ज
रेलवे एक्ट-1989 के तहत आने वाली धारा-153 में ऐसी सजा दी जा सकेगी। इस धारा में जनहानि व रेलवे संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के मामले दर्ज होते हैं। अब कोविड गाइडलाइन का पालन न करने वाले यात्री पर इसी धारा के तहत यह संभव हो सकेगा।

Monday, 19 October 2020

18:05

शोले के बीरू बने भोपाल के दामाद जाने क्यों deepak

भोपाल.भोपाल के बैरागढ़ चीचली में रिटायर्ड फौजी की बेटी से लव मैरिज करने वाला लड़का ससुर को डराने के लिए दोमंजिला बिल्डिंग की छत की मुंडेर पर चढ़ गया। वह कूदने की धमकी देने लगा। इसी दौरान वह छत से लटक गया। उसे बचाने के लिए पुलिस और परिवार के 6 से ज्यादा लोग हाथ-पैर पकड़कर उसे खींचते रहे। इसका वीडियो बनाकर उसे कूदने के लिए भी कहा गया। यह ड्रामा करीब 1 घंटे तक चलता रहा। इस दौरान पुलिस भी वहां मौजूद रही, लेकिन वह किसी की सुनने को तैयार नहीं था। दोनों पक्षों ने एक दूसरे से जमकर गाली-गलौज भी की।
जानकारी के अनुसार, बैरागढ़ चीचली में रहने वाले एक रिटायर्ड फौजी ने अगस्त में अपनी बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। करीब तीन-चार दिन बाद उनकी 26 साल की बेटी एक युवक के साथ बैरागढ़ थाने पहुंची। उसने पुलिस को लिखकर दिया कि वह बालिग है और अपनी मर्जी की मालिक है। वह इसी लड़के के साथ रहना चाहती है। परिजन को पुलिस से इसकी सूचना मिली, जिसके बाद पिता ने बेटी से नाता तोड़ लिया।
एक ही मोहल्ले में रहते हैं
दोनों परिवार एक ही मोहल्ले में रहते हैं। रिटायर्ड फौजी के दोस्त राजेश ने आरोप लगाया कि इसके बाद उनका दामाद महेंद्र उन्हें परेशान करने लगा। वह उनकी संपत्ति में हिस्सा चाहता है। ऐसे में आरोपी का आए-दिन परेशान करना, हंगामा करना और गाली-गलौज करना काम बन गया। इसी से परेशान होकर दो दिन पहले बैरागढ़ थाने में उसके खिलाफ एफआईआर भी कराई थी। पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। रविवार सुबह वह फिर हंगामा करने लगा। जब हम सब लोग उसके यहां पहुंचे तो वह डराने के लिए छत पर चढ़ गया और वहां से कूदने का नाटक करने लगा। इस दौरान उसकी घर की महिलाएं पुलिस और मुझ पर आरोप लगाते रहे।
लोग कह रहे थे- चल कूद जा...
इधर, महेंद्र छत पर चढ़कर कूदने की धमकी दे रहा था, दूसरी तरफ नीचे खड़े कुछ लोग उसका वीडियो बना रहे थे। इसमें से एक व्यक्ति उससे गाली-गलौज करते हुए कूद जाने के लिए कहता रहा। लोगों का कहना था- तू तो डरपोक है। कूद नहीं सकता। बस, नाटक करता रहता है। उन्होंने महेंद्र के परिजन पर भी उसके खिलाफ झूठे केस दर्ज कराने के आरोप लगाए।
पुलिस दोनों पक्षों को समझाती रहे
घटना की सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंची। हालांकि पुलिस से ज्यादा लोगों की संख्या थी। ऐसे में पुलिसकर्मी दोनों पक्षों को समझाने-बुझाने में लगे रहे, लेकिन कोई उनकी सुनने को तैयार नहीं था। दोनों ही पक्ष एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते रहे। बाद में मौके पर पहुंची एसडीओपी बैरागढ़ ने दोनों पक्षों को समझाइश दी और समझौता कर मामले को रफा-दफा कराया।
यह भी आरोप
राजेश ने बताया कि उनका रिटायर्ड फौजियों की मदद के लिए ग्रुप है। इलाके में रिटायर्ड फौजी बड़ी संख्या में रहते हैं। यहीं पर रहने वाले बेरोजगार आवारा लड़के लड़कियों को प्रेम जाल में फंसाकर उनसे शादी कर लेते हैं। उसके बाद वे रिटायर्ड फौजी पर उनकी संपत्ति देने का दबाव बनाने लगते हैं।

Sunday, 4 October 2020

18:24

सरकार ने 15 दिन में बदला अपना फैसला जाने क्या TAP NEWS

भोपाल.deepak tiwari कोरोना काल में प्रदेश में 17 अक्टूबर से शुरू हो रहा नवरात्र उत्सव अब धूमधाम से मनाया जा सकेगा। राज्य सरकार ने शनिवार को 15 दिन पहले दिया अपना वह आदेश वापस ले लिया है, जिसके तहत 6 फीट से कम ऊंची दुर्गा प्रतिमाएं रखने और छोटे पंडाल लगाने की अनुमति दी गई थी।
नए आदेश में सरकार ने कहा है कि अब छह फीट से भी ऊंची प्रतिमाएं रख सकेंगे। पंडाल भी 30 गुणा 45 फीट तक होंगे। पहले यह सिर्फ 10 गुणा 10 आकार में रखने के निर्देश थे। इसके अलावा, रामलीला और रावण दहन का आयोजन भी किया जा सकेगा। हालांकि गरबा आयोजन और चल समारोहों पर पूर्व में जारी रोक बरकरार रहेगी। सरकार ने यह फैसला तमाम हिंदू संगठनों और दुर्गा उत्सव समितियों की नाराजगी के चलते लिया है।
भोपाल में 6 फीट तक की प्रतिमाओं के करीब 800 ऑर्डर, वो भी अभी अधूरे
नवरात्र 17 अक्टूबर से शुरू हो रहे हैं। सरकार ने 14 दिन पहले 6 फीट से बड़ी दुर्गा प्रतिमाएं बनाने का ऑर्डर देकर असमंजस की स्थिति बना दी है। भोपाल में मूर्तिकारों के सबसे बड़े संगठन प्रजापति मूर्तिकार माटीकला कल्याण संघ के अध्यक्ष मोहनलाल प्रजापति बताते हैं कि शहर में करीब 40 से 50 कारखानों में दुर्गा प्रतिमाएं बन रही हैं।
18 सितंबर को जब 6 फीट तक की प्रतिमाएं बनाने का आदेश आया, तब तक 8 से 10 फीट तक ऊंची 150 से 200 प्रतिमाएं बन रही थीं। आदेश आते ही इन्हें अधूरा ही छोड़ दिया गया। हर साल शहर में 1200 से ज्यादा प्रतिमाएं स्थापित होती हैं, लेकिन इस बार सिर्फ 700 से 800 ऑर्डर ही मिल सके।
वो भी अधूरे पड़े हैं। अभी 17 अक्टूबर के पहले इन्हें पूरा करना ही चुनौतीपूर्ण है, क्योंकि इस बार लॉकडाउन के चलते बंगाल से मूर्तिकार नहीं आ सके। इनमें वो मजदूर भी शामिल रहते हैं, जो पांच से छह माह यहीं रहकर मूर्तिकारों का सहयोग करते हैं। यदि अब 8 से 10 फीट ऊंची प्रतिमाओं के ऑर्डर आते हैं तो उन्हें तय समय में पूरा कर पाना बहुत मुश्किल होगा।
जहां सोशल डिस्टेंसिंग की व्यवस्था नहीं, वहां झांकियां भी नहीं : मुख्यमंत्री
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रतिमा विसर्जन के लिए भी अधिकतम 10 लोग जा सकेंगे। रामलीला व रावण दहन आयोजनों में सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क का उपयोग अनिवार्य होगा। जहां सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन की संभावना बनेगी, वहां झांकियां नहीं लगा सकेंगे। उन्होंने लोगों से अपील की है कि झांकियां खुली-खुली बनाएं। गुफा, सुरंग या पूरी तरह बंद झांकियां न बनाएं।

Tuesday, 29 September 2020

15:45

निर्दयी लोग 2 दिन की बच्ची की हत्या झाड़ियों में शव मिलने का मामला:deepak tiwari

भोपाल.भोपाल के अयोध्या नगर थाना क्षेत्र में 2 दिन की बच्ची की हत्या की गई थी। उसका शव पुलिस को अयोध्या नगर के जी-सेक्टर में झाड़ियों में मिला था। बाहरी कोई चोट नहीं थी, ऐसे में पुलिस ने पोस्टमॉर्टम कराया। पीएम रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि बच्ची को किसी भारी या कठोर चीज से मारा गया है, इससे उसकी मौत हो गई है। पुलिस ने फिलहाल अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी।
टीआई अयोध्या नगर रेनू मुराव के अनुसार, सोमवार को एक नवजात बच्ची का शव जी-सेक्टर अयोध्या नगर में झाड़ियों में मिला था। इसकी सूचना गौरव कुकरेकर नाम के एक व्यक्ति ने दी थी। शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया था। नवजात बच्ची के शव पर किसी तरह के चोट के निशान नजर नहीं आ रहे थे। पीएम रिपोर्ट में आज खुलासा हुआ कि उसके शरीर पर किसी भारी या कठोर चीज से मारा गया था, जिससे उसकी मौत हुई। पीएम रिपोर्ट के आधार पर सुबह अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया गया। आरोपियों की तलाश की जा रही है।
फेंकने की जगह अच्छे से रखा गया था शव
सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई थी। पुलिस को मासूम का शव झाड़ियों में बड़े अच्छे से रखा मिला था। किसी ने आराम से लाकर वहां पर जैसे रख दिया हो। टीआई मुराव ने बताया कि इस मामले में आसपास के अस्पतालों से बीते 1 हफ्ते के अंदर जन्मे बच्चों की जानकारी जुटा रहे हैं। उसी आधार पर बच्ची का पता चल सकेगा।
भोपाल में तीसरी बेटी की हत्या
भोपाल में बेटियों की हत्या का यह तीसरा मामला है। इससे पहले खजूरी सड़क इलाके में एक महीने की बेटी को उसकी ही मां ने हत्या कर दी थी। उसने जिंदा बेटी को पानी से भरी टंकी में डुबा कर उसका ढक्कन बंद कर दिया था। दूसरे मामले में रायसेन की रहने वाली युवती ने प्रेमी को पाने के लिए अपनी एक साल की बेटी को भोपाल के बड़े तालाब में जिंदा फेंक दिया था। अब यह तीसरा मामला आया है। इसमें भी शिकार महज 2 दिन की मासूम बनी है। पुलिस को इस मामले में भी परिजनों के ही शामिल होने की आशंका है।
08:25

भोपाल में डीजी पुरुषोत्तम ने मर्यादा तोड़ी deepak tiwari

भोपाल में डीजी पुरुषोत्तम ने मर्यादा तोड़ी:deepak tiwari पत्नी को पीटने वाले डीजी रैंक के अफसर को पद से हटाया, वीडियो वायरल होने पर कहा- पत्नी 12 साल से शक कर रही थी भोपालएक घंटा पहले पुलिस अफसर पुरुषोत्तम शर्मा के बेटे ने दो वीडियो जारी किए। पहला वीडियो 7.13 मिनट का और दूसरा 4.47 मिनट का है।अफसर पुरुषोत्तम शर्मा महिला मित्र के घर गए थे, वहां पत्नी भी पहुंच गईं, फिर घर लौटकर दोनों में विवाद हुआमारपीट के वीडियो शर्मा के बेटे ने सोशल मीडिया पर वायरल किए, गृहमंत्री, डीजीपी, सीएस को भेजे
खबर पढ़ने से पहले इसमें लगा हुआ वीडियो देखिए। हैरान रह जाएंगे। इसमें जो व्यक्ति एक महिला को बुरी तरह पीट रहा है, वे मध्य प्रदेश पुलिस में डीजी रैंक के अधिकारी हैं। नाम है पुरुषोत्तम शर्मा और वे अपनी पत्नी प्रिया शर्मा को ही पीट रहे हैं। वो भी अपने ही घर में काम करने वाले पुलिस कर्मचारियों के सामने। रहते हैं भोपाल में। वीडियो भी भोपाल का ही है। उनके घर का।
वीडियो हर कहीं मौजूद है। पुरुषोत्तम के पुत्र पार्थ गौतम ने यह वीडियो फुटेज मप्र के गृह मंत्री, राज्य के डीजीपी, मुख्य सचिव और बाकी बड़े अफसरों को भेजा है। पार्थ खुद भी आईआरएस यानी इंडियन रेवेन्यू सर्विस में हैं। उन्होंने पिता के खिलाफ सख्त कार्रवाई मांग की है।
घटना के बाद पुरुषोत्तम को पद से हटा दिया गया है। उनका लोक अभियोजन संचालनालय से डीजी गृह विभाग मंत्रालय में ट्रांसफर कर दिया गया। वहीं, मामला राज्य महिला आयोग पहुंच गया है। अध्यक्ष शोभा ओझा ने कहा कि हम डीजी को नोटिस जारी करेंगे।
अफसर ने कहा- मेरा जीना मुश्किल कर दिया है
पुरुषोत्तम ने मारपीट पर सफाई दी। उन्होंने कहा, 'वह 12 साल से शक कर रही है। मामला भी दर्ज कराया था। घर के एक-एक कोने में सीसीटीवी कैमरा लगवाए थे। मैंने मारपीट नहीं की। मैंने अपना बचाव किया है। वह चाहे तो शिकायत करने के लिए स्वतंत्र है। यह उसके अपने मौलिक अधिकार हैं। वह मेरी निजी जिंदगी में दखल देती है। मेरा जीना मुश्किल कर दिया है। उसने मुझ पर कमरे में आकर हमला किया था। इसलिए मैंने अपना बचाव किया है। बस धक्का-मुक्की हुई है।'
गृहमंत्री ने कहा- शिकायत होने पर कार्रवाई करेंगे
गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि इस बारे में मैंने न्यूजपेपर में पढ़ा है और वीडियो देखा है। अभी कोई शिकायत नहीं आई है। अगर कोई शिकायत आती है, तो कार्रवाई करेंगे।
पत्नी को पीटने वाले डीजी की सफाई:पुरुषोत्तम शर्मा ने कहा- जिस बेटे ने मेरी शिकायत की उससे पूछिए कि जिस बाप ने उसे आईआरएस बनाया क्या वह इतना नालायक है, क्या पापा राक्षस हैं?
भोपाल4 घंटे पहले
मध्यप्रदेश के स्पेशल डीजी पुरुषोत्तम शर्मा अपनी महिला मित्र से मिलने उसके घर पहुंचे थे, तो उनकी पत्नी भी उनके पीछे-पीछे पहुंच गई थीं।
पुरुषोत्तम शर्मा की शिकायत उनके बेटे ने वीडियो क्लिप के साथ सरकार और विभाग के अधिकारियों के साथ की है
डीजी शर्मा का बेटा पार्थ गौतम शर्मा आईआरएस अफसर हैं और वर्तमान में कलकत्ता में रेवेन्यू विभाग में पोस्टेड हैं

Sunday, 27 September 2020

10:22

deepak tiwari भोपाल में दुर्गा उत्सव की गाइडलाइन का विरोध उग्र हुआ पुलिस ने बल प्रयोग कर किया शांत

भोपाल.भोपाल के रोशनपुरा चौराहे पर रविवार दोपहर दुर्गा प्रतिमाओं की गाइड लाइन का विरोध करने पहुंचे जय भवानी संगठन के कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठियां भांजी। प्रदर्शन के दौरान नारेबाजी करते हुए कार्यकर्ता उग्र हो गए थे। वे पुलिस से ही उलझ गए। ऐसे में पुलिस ने बल प्रयोग करते हुए एक दर्जन से ज्यादा कार्यकर्ताओं को हिरासत में भी ले लिया।
भोपाल के रोशनपुरा चौराहा पर प्रदर्शन के दौरान कार्यकर्ताओं को पुलिस समझाइश देते हुए।
मार्केट के अंदर तक पीछा किया
प्रदर्शन को देखते हुए रोशनपुरा चौराहे पर बड़ी संख्या में पुलिसबल तैनात किया गया था। पहले तो सिर्फ नारेबाजी की जा रही थी, लेकिन उसके बाद प्रदर्शनकारी तत्काल गाइडलाइन को रद्द करने की मांग करने लगे। पुलिस के समझाइश देने पर भी वे नहीं माने। पुलिस के बल प्रयोग करते ही भीड़ तितर-बितर हो गई। लोग पुलिस से बचने के लिए सड़क पर भागते नजर आए। कुछ लोग तो कई फीट ऊंची रैलिंग पर चढ़कर मार्केट की तरफ भाग निकले। पुलिस ने कार्यकर्ताओं का पीछा न्यू मार्केट के अंदर तक किया। दोपहर तक कार्रवाई जारी थी
पुलिस से बचने के लिए कार्यकर्ता कई फीट रेलिंग कूदकर भागे।
पुलिस के बल प्रयोग से बचने के लिए कुछ कार्यकर्ता न्यू-मार्केट में घुस गए थे। पुलिस ने उनका वहां तक पीछा किया।
पुलिस के बल प्रयोग से बचने के लिए कुछ कार्यकर्ता न्यू-मार्केट में घुस गए थे। पुलिस ने उनका वहां तक पीछा किया।
कांग्रेस ने भी किया प्रदर्शन
दुर्गा महोत्सव के लिए गाइडलाइन निर्धारित करने का कांग्रेस ने भी विरोध जताया है। इसको लेकर रविवार दोपहर पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने एक रैली निकाली। उन्होंने माता मंदिर चौराहे से लेकर न्यू मार्केट तक पैदल मार्च किया। इस दौरान उन्होंने मंदिर में एक ज्ञापन भी चढ़ाया। हालांकि यह प्रदर्शन शांतिपूर्वक रहा।
समझाइश के बाद भी पुलिस की बात नहीं मानने पर पुलिस ने बल प्रयोग किया।
समझाइश के बाद भी पुलिस की बात नहीं मानने पर पुलिस ने बल प्रयोग किया।
यह गाइड लाइन तय है
प्रतिमाएं अधिकतम 6 फीट ऊंची हो सकती हैं।
पंडाल का साइज भी 10 बाई 10 फीट अधिकतम होगा।
सामाजिक/सांस्कृतिक एवं अन्य कार्यक्रमों के आयोजन में 100 से कम व्यक्ति ही रह सकेंगे हैं।
कार्यक्रम की पूर्व से अनुमति लेनी जरूरी।
किसी भी तरह के जुलूस निकालने की अनुमति नहीं होगी।
गरबा भी नहीं होगा। लाउडस्पीकर के लिए भी गाइडलाइन का पालन करना अनिवार्य है।
मूर्ति विसर्जन के लिए 10 से अधिक व्यक्तियों के समूह को अनुमति प्रदान नहीं की जाएगी।
आयोजकों को अलग से जिला प्रशासन से लिखित अनुमति पहले से लेनी आवश्यक है।
झांकियों, पंडालों और विसर्जन के आयोजनों में श्रद्धालु फेस कवर, सोशल डिस्टेंसिंग एवं सैनिटाइजर का प्रयोग करेंगे।
शासन के द्वारा समय-समय पर जारी निर्देशों का भी पालन करना होगा।
जिला प्रशासन द्वारा तय विसर्जन स्थलों पर ही विसर्जन करना होगा।
विसर्जन स्थल पर कम भीड़ होना चाहिए।

Saturday, 26 September 2020

18:18

कारोबारी बोले- राजनेता तो कर रहे हैं सभाएं फिर हम दुकान क्यों नही खोल सकते :tap news india deepak tiwari

इंदौर.47 व्यापारिक संगठनों द्वारा शनिवार, रविवार को घोषित किए गए स्वैच्छिक लॉकडाउन को लेकर अब कारोबारी ही अपने संगठनों के खिलाफ होने लगे हैं। इसके चलते बाजार बंद को लेकर असमंजस की स्थिति बन गई है। कारोबारियों ने एसोसिएशनों के खिलाफ सोशल मीडिया पर संदेश चलाने शुरू कर दिए हैं।
उनका कहना है कि जब केंद्र, मप्र शासन और जिला प्रशासन से बंद का कोई नोटिफिकेशन नहीं है तो फिर हम क्यों अपनी दुकान बंद करें? एक ओर तो राजनेता लगातार बिना मास्क के मंच पर बैठ रहे हैं और हजारों की संख्या में लोगों को बुलाकर सभाएं कर रहे हैं, दावतें दे रहे हैं, केवल बाजार वालों से कहा जा रहा है कि वह बंद करें। कारोबारियों का यह भी कहना है कि एसोसिएशन अपने स्तर पर ही कलेक्टर से बात करने पहुंच गई और स्वैच्छिक लॉकडाउन का फैसला ले लिया, इस संबंध में उन्होंने कारोबारियों के साथ कोई बैठक नहीं की, वैसे भी अब त्योहारी सीजन आ गया है।
लॉकडाउन के चलते बाजार बंद रहने से कई कारोबारी कर्ज में उतर गए हैं, इसलिए हम बाजार बंद नहीं करेंगे। वहीं अहिल्या चैंबर के अध्यक्ष रमेश खंडेलवाल का इस बारे में कहना है कि हम कारोबारियों से लगातार अपील कर रहे हैं। प्रशासन से मांग कर रहे हैं कि वह इस संबंध में कोई औपचारिक आदेश जारी कर दे। उधर, मालवा चैंबर द्वारा भी व्यापारियों से स्वैच्छिक लॉकडाउन के लिए अपील की जा रही है।