Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Showing posts with label मुम्बई. Show all posts
Showing posts with label मुम्बई. Show all posts

Saturday, 6 March 2021

20:48

महाराष्ट्र में पत्थर खाने वाले बाबा:सातारा में 80 साल के बुजुर्ग का हर दिन 250 ग्राम छोटे पत्थर खाने का दावा डॉक्टर्स भी हुए हैरान

tap news India deepak tiwari 
सातारा. सतारा के फल्टन तहसील के आदर्की खुर्द गांव से एक बेहद हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक ऐसे 80 साल के बुजुर्ग के बारे में पता चला है, जो दिन में एक-दो नहीं बल्कि 250 ग्राम कंकड़ खाता था। पेट में दर्द होने के बाद गुरुवार को उसे हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया और सिटी स्कैन के बाद पता चला कि उसके पेट में कंकड़ का अंबार पड़ा हुआ है।
ऐसे पड़ी पत्थर खाने की आदत
80 साल के रामभाऊ बोडके को गांव के लोग 'पत्थर वाले बाबा' भी बुलाते हैं। इसे एक चमत्कार मान कर दूर-दूर से लोग उनसे मिलने आते हैं। रामभाऊ 1989 में मुंबई में मजदूरी का काम छोड़कर सातारा आ गए। यहां आने के बाद एक दिन उनके पेट में अचानक दर्द शुरू हुआ। गांव की एक महिला ने बताया कि अगर वह पत्थर या मिट्टी खाना शुरू कर दें तो यह दर्द खत्म हो जाएगा। इसके बाद रामभाऊ ने पत्थर खाया और हुआ भी ठीक वैसा ही। दर्द छू मंतर होने के बाद रामभाऊ लगातार 31 साल से हर रोज पत्थर के टुकड़े खा रहे हैं।
रामभाऊ के दावे पर डॉक्टर्स हैरान
हालांकि, रामभाऊ के इस दावे से डॉक्टर भी हैरान हैं और उनका कहना है कि यह लगभग असंभव है कि कोई व्यक्ति ढाई सौ से ज्यादा ग्राम पत्थर खा कर जिंदा कैसे रह सकता है। फिलहाल वे हॉस्पिटल में एडमिट हैं और उनकी डिटेल मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। रामभाऊ की हालत फिलहाल सामान्य है।
20:46

हॉस्पिटल की पहरेदारी कर बेटे को बनाया डॉक्टर पढ़ाने के लिए धोएं लोगों के बर्तन अब विदेश भेजने की तैयारी कर रही मां

tap news India deepak tiwari 
मुंबई. कहते हैं कि हौसला हो तो इंसान बड़े से बड़ा मुकाम हासिल कर सकता है। हम आपको पुणे की रहने वाली एक ऐसी महिला सुरक्षाकर्मी की कहानी बताने जा रहे हैं, जिन्होंने दिन रात मेहनत कर अपने बेटे को न सिर्फ डॉक्टर बनाया, बल्कि अब आगे की पढ़ाई के लिए उन्हें विदेश भेजना चाहती हैं। बेटे की पढ़ाई का खर्च उठाने के लिए कई रातें उन्हें भूखे पेट भी सोना पड़ा।
लोगों के घरों में धोए बर्तन
पिंपरी की रहने वाली कल्पना आढाव (55) पिछले 14 सालों से पिंपरी-चिंचवड़ पालिका अस्पताल के बाहर कॉन्ट्रैक्ट पर सुरक्षा गार्ड की नौकरी कर रही हैं। हर दिन डॉक्टर्स को आता-जाता देख उन्होंने भी तय किया कि वे भी अपने बेटे अमित को डॉक्टर बनाएंगी। अमित पढ़ने में होनहार था लेकिन मेडिकल की तैयारी के लिए अच्छी कोचिंग की जरूरत थी, जिसके बाद कल्पना ने लोगों के घरों में बर्तन धोने का काम शुरू कर दिया।
अपना सब कुछ बेचने को तैयार हैं कल्पना
कल्पना के इस प्रयास से अमित ने इसी साल अपना MBBS पूरा किया है और आगे की पढ़ाई के लिए वे इंग्लैंड जा रहे हैं। कल्पना ने तय किया है कि अपने बेटे को इंग्लैंड भेज कर ही रहेंगी। चाहे इसके लिए उन्हें अपना सब कुछ बेचना क्यों न पड़े। उन्होंने बताया, 'मैं पूरी कोशिश कर रही हूं कि बेटे को विदेश भेज सकूं। मैं लोगों से अपील करती हूं कि मेरी मदद को आगे आएं। मैंने अपने जीवन में बहुत कष्ट देखे हैं लेकिन मैं चाहती हूं कि मेरा बेटा इन कष्टों से नहीं गुजरे।'
एक महीने के बेटे को छोड़ चला गया था पिता
कल्पना अपने बेटे के साथ एक झुग्गी में रहती हैं। अमित सिर्फ एक महीने का था जब उसके पिता दोनों को छोड़ कर चले गए थे। पति के जाने के कई साल बाद उन्हें हॉस्पिटल के बाहर गार्ड की नौकरी मिली। इस काम से फ्री होकर कल्पना लोगों के घरों में बर्तन धोने का काम करती थीं।
बेटे के लिए PM से लगाई गुहार
कल्पना ने बताया कि जब उन्होंने नौकरी शुरू की तो उन्हें सिर्फ 3 हजार रुपए मिलते थे। हालांकि, अब यह बढ़कर 14 हजार तक पहुंच गए हैं। फिलहाल उनका बेटा एक प्राइवेट हॉस्पिटल में इंटर्नशिप कर रहा है। MS की पढ़ाई के लिए उनका एडमिशन हो चुका है लेकिन उनके पास फिलहाल बेटे को इंग्लैंड भेजने के लिए पैसे नहीं है। कल्पना ने राज्य सरकार और प्रधानमंत्री मोदी से गुहार लगाई है कि वे उनके बेटे की मदद के लिए आगे आए।
20:27

सातारा में चोरों ने HP की पाइपलाइन तोड़ बर्बाद किया 2 हजार लीटर तेल tap news india

tap news India deepak tiwari 
मुंबई. महाराष्ट्र समेत देशभर में पेट्रोल और डीजल के दाम में रिकॉर्ड वृद्धि हो रही है। इस बीच अब पेट्रोल की चोरी भी शुरू हो गई है। महाराष्ट्र के सातारा जिले में पेट्रोल पाइप लाइन में छेद कर उसे चुराने का मामला सामने आया है।
तेल तस्करों ने हिंदुस्तान पेट्रोलियम की मुंबई-पुणे-सोलापुर रोड की 223 किलोमीटर लंबी पाइप लाइन में सतारा जिले के सासवड गांव के पास बड़ा छेद किया था। पाइप लाइन से निकलने वाले तेल को एक बड़ी पाइप के सहारे टैंकरों में भरा जा रहा था। कई टैंकर तेल की चोरी भी हुई, लेकिन चोर पाइप लाइन से निकालने वाले तेल को बंद नहीं कर सके और यह तेल आसपास के इलाके में फैल गया।
20 एकड़ खेत हुए खराब
तेल जमीन के नीचे रिसते हुए तीन कुंओं में भी भर गया। इस तेल की वजह से 15 से 20 एकड़ खेती भी खराब हो गई है। कुंओं में तेल भरने की जानकारी मिलने के बाद गांववालों ने इस मामले की जानकारी पुलिस को दी और मामले का खुलासा हुआ। गांव के रहने वाले रमेश पवार ने बताया, 'तीन कुओं में नारंगी रंग का पेट्रोल ऊपर तक भरा गया है। हम लोग बहुत डरे हुए हैं। खेतों में पेट्रोल फैल जाने के बाद अब लग रहा है कि यहां कभी कोई फसल नहीं हो सकेगी।'
2 हजार लीटर पेट्रोल हुआ बर्बाद
सतारा के एसपी अजय कुमार बंसल ने बताया, 'लोनाद पुलिस थाने में एक तेल चोरी की शिकायत एचपी कम्पनी की तरफ से हमें मिली। पुलिस की टीम ने मौके पर पहुंचकर पंचनामा किया तो पाया करीब 15 से 20 एकड़ खेती की जमीन में तेल भर गया था। चोरों ने तेल की पाइप लाइन में बड़ा छेद किया था जिससे करीब 2 हजार से ज्यादा लीटर तेल बर्बाद हो गया था। इस मामले में केस दर्ज कर लोकल एलसीबी ने जांच शुरू कर दी है। हालांकि, अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।'
बंसल ने आगे बताया, 'हमने पूरे इलाके को सील कर दिया है। तेल फैल जाने की वजह से यह इलाका ज्वलनशील हो गया है। हाईवे पर लगे CCTV कैमरों की सहायता से हम इस मामले की जांच को आगे बढ़ा रहे हैं।'

Wednesday, 3 March 2021

17:08

4 बॉलीवुड हस्तियों के 30 ठिकानों पर पड़ा छापा

deepak tiwari 
मुंबई. मुंबई और पुणे में बुधवार को बॉलीवुड की 4 हस्तियों के ठिकानों पर इनकम टैक्स (IT) डिपार्टमेंट का छापा पड़ा। इनमें एक्ट्रेस तापसी पन्नू, निर्माता अनुराग कश्यप, विकास बहल और मधु मंटेना शामिल हैं। दोनों शहरों में 30 जगह IT की सर्च चल रही है। ये छापेमारी फैंटम फिल्म्स से जुड़ी है। यह इत्तेफाक ही है कि जिन 4 हस्तियों के ठिकानों पर छापा पड़ा है, उनमें से तापसी पन्नू और अनुराग कश्यप अलग-अलग मुद्दों पर मोदी सरकार के विरोधी रहे हैं।
आयकर विभाग को फैंटम फिल्म्स कंपनी के कामकाज और लेनदेन में गड़बड़ी का शक है। छापेमारी में मिले दस्तावेज और सबूतों के आधार पर जांच का दायरा बढ़ सकता है। इसमें कई और बड़े नाम सामने आ सकते हैं। मधु मंटेना की टैंलेट मैनेजमेंट कंपनी Kwaan के दफ्तर पर भी आयकर अधिकारी पहुंचे हैं। बताया जा रहा है कि यह कंपनी फैंटम फिल्म्स से जुड़ी थी।
अनुराग और तापसी देश में चल रहे मुद्दों पर अपनी बेबाक राय रखने के लिए जाने जाते हैं। तापसी किसान आंदोलन का समर्थन करती रही हैं। इस आंदोलन पर पॉप स्टार रिहाना ने सोशल मीडिया पर कमेंट किया तो जवाब में बॉलीवुड और खेल जगत की कई हस्तियों ने सरकार के पक्ष में ट्वीट किए थे। तापसी ने इन सेलिब्रिटीज के खिलाफ अपनी राय रखी थी। वहीं, अनुराग कश्यप CAA जैसे मुद्दों पर मोदी सरकार को घेर चुके हैं।
फैंटम फिल्म्स कंपनी 2018 में बंद हो चुकी
फैंटम फिल्म्स कंपनी को अनुराग कश्यप, विक्रमादित्य मोटवानी, मधु मंटेना और विकास बहल ने 2010 में लॉन्च किया था। 2018 में विकास बहल पर यौन शोषण का आरोप लगने के बाद यह कंपनी बंद कर दी गई थी। इसके बाद ये चारों पार्टनर अलग हो गए थे। इन चारों पर आरोप है कि फैंटम फिल्म से हुई कमाई का सही से ब्यौरा इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को नहीं दिया गया और इसे कमतर दिखाया गया।
फैंटम के बैनर तले पहली फिल्म लुटेरा, आखिरी धूमकेतु बनी
फैंटम फिल्म्स कंपनी की पहली फिल्म 2013 में लुटेरा आई थी। इसके बाद इस बैनर के तहत हंसी तो फंसी, क्वीन, अगली, NH10, हंटर, मुंबई वेलवेट, मसान, शानदार, उड़ता पंजाब, रमन राघव-2, रॉन्ग साइड राजू, मुक्केबाज, सुपर 30 और धूमकेतु जैसी फिल्में बनीं। धूमकेतु 2020 में रिलीज हुई थी।
महाराष्ट्र के मंत्रियों ने केंद्र को कोसा
महाराष्ट्र की महिला और बाल विकास मंत्री यशोमती ठाकुर में कहा, 'देश में लोकतंत्र बचा ही नहीं है। केंद्र अपनी एजेंसियों का इस्तेमाल लोगों को परेशान करने के लिए कर रहा है। केंद्र के खिलाफ बोलने की वजह से इन कलाकारों के घरों पर रेड की गई है।’
महाराष्ट्र सरकार के मंत्री अशोक चव्हाण ने कहा, ‘ये रेड कोई नई बात नहीं हैं। आजकल तो यह रोज का मामला हो गया है। जो भी केंद्र सरकार के खिलाफ बोलता है, उस पर दबाव बनाने के लिए सरकार यह तरीका अपनाती है। सरकार ऐसे माध्यम से लोगों की आवाज बंद करने का काम कर रही है।’

Tuesday, 23 February 2021

18:01

पालघर में 3 शादियों में पड़ा छापा जाने क्यों

tap news India deepak tiwari
मुंबई.मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे द्वारा बढ़ते Covid-19 मामलों को देखते हुए राज्य भर में प्रतिबंध लगाए जाने के ठीक एक दिन बाद पालघर के जिलाधिकारी डॉ माणिक गुरसेले ने रविवार की देर रात तीन विवाह समारोहों में छापा मारा। इस दौरान 800 से अधिक लोगों को बिना किसी सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का पालन किए शराब पीते और डांस करते हुए पाया गया। खास यह है कि शादी में शामिल हुए ज्यादातर लोगों ने मास्क भी नहीं लगाया था।
इस घटना के बाद शादी के आयोजकों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है, लेकिन अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। डॉ माणिक गुरसेले ने रविवार की देर रात पालघर के सतपति, शिरगांव और उमरोली-बिरवाड़ी में हो रही तीन शादियों पर छापा मारा था। डॉ माणिक गुरसेले ने बताया, 'हमने उमेश पाटिल, कुंदन महात्रे, दीपक जाधव, चंद्रकांत तांडेल, तुषार ठाकुर और चंद्रकांत ठाकुर के खिलाफ IPC की धारा 188 (अवज्ञा), महामारी रोग अधिनियम 1987 और आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत मामला दर्ज किया है।
तीनों दूल्हों के पिता के खिलाफ केस हुआ दर्ज
जिलाधिकारी गुरसेले ने कहा, "हमने केवल 50 मेहमानों के लिए अनुमति दी है। शादी में शामिल लोग सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनने सहित किसी भी नियम का पालन नहीं कर रहे थे। वे बिना किसी डर के खुलकर डांस कर रहे थे। सतपति और बोइसर थानों में इनके खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं। कई मेहमान शराब भी पी रहे थे। तीनों दूल्हों के पिता, डिस्क जॉकी, कैटरर, हॉल मालिक और एक अन्य के खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं।"
जिले में 1202 लोगों की अबतक हुई मौत
पालघर जिले में पिछले दो दिनों में मास्क नहीं पहनने पर 189 लोगों से करीब 36,150 जुर्माना वसूला गया है। वहीं यहां 45,697 कोरोना पेशेंट अब तक मिले हैं और अब तक 1,202 लोगों की इस बीमारी से मौत हो चुकी है।

Sunday, 21 February 2021

17:17

कोरोना को लेकर बांद्रा इलाके के 5 पब में छापेमारी

tap news India deepak tiwari 
मुंबई.कोरोना संकट को देखते हुए BMC की कार्रवाई जारी है। शनिवार देर रात मुंबई के बांद्रा इलाके के 5 पब में BMC के अधिकारियों ने छापेमारी की, इस दौरान पब में काफी भीड़ थी, जिसके बाद सभी ग्राहकों को चेतावनी और मास्क लगाने की हिदायत देकर छोड़ दिया गया।
पब कर्मचारियों पर पैंडेमिक एक्ट के तहत मामला दर्ज
कार्रवाई के दौरान BMC के अधिकारियों ने पब से संबंधित कर्मचारियों पर 188 पैंडेमिक एक्ट के तहत बांद्रा पुलिस में मामला दर्ज कराया है। वहीं BMC के अधिकारियों और कर्मचारियों का कहना है कि अगले आदेश आने तक इसी तरह की कार्रवाई की जाएगी।
राज्य में कोरोना के केसों में फिर एक बाद बड़ी वृद्धि देखने को मिल रही है। स्थिति इतनी भयावह हो गई है कि राज्य में एक बार फिर लॉकडाउन का संकट मंडरा रहा है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता एकनाथ खडसे और महाराष्ट्र के मंत्री बच्चू कडू दोनों दूसरी बार कोरोना पॉजिटिव हुए हैं। इनके अलावा दो ऑफिस स्टाफ के कोविड पॉजिटिव होने के बाद महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले क्वारैंटाइन हो गए हैं।
राज्य में अब तक 20 लाख 87 हजार 632 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 19 लाख 89 हजार 963 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 51 हजार 713 मरीजों की मौत हो गई। 44 हजार 765 मरीज ऐसे हैं, जिनका इलाज चल रहा है।
17:15

पटौदी खानदान में फिर गूंजी किलकारी करीना ने मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में दिया बेटे को जन्म

tap news India deepak tiwari 
मुंबई.पटौदी खानदान में फिर किलकारियां गूंजी हैं। करीना कपूर ने बेटे को जन्म दिया है। रिपोर्ट्स की मानें तो करीना को शनिवार शाम करीब 5:30 बजे मुंबई के ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, जहां रविवार सुबह करीब 8:30 बजे बेटे का जन्म हुआ। सैफ अली खान ने प्रेस को भेजे स्टेटमेंट में लिखा है, 'हमारे यहां बेटा हुआ है। मां और बच्चा दोनों सुरक्षित और सेहतमंद हैं। शुभचिंतकों के प्यार और सपोर्ट के लिए शुक्रिया।'
photo-करीना के दूसरे बेटे के जन्म के बाद उनके पिता रणधीर कपूर, पति सैफ अली खान और बेटे तैमूर ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल पहुंचे।
करीना के पिता रणधीर कपूर ने एक न्यूज वेबसाइट से कहा, 'करीना और बच्चा दोनों ठीक हैं। मैंने अभी तक अपने नाती को नहीं देखा है। लेकिन मैंने करीना से बात की है और उसने मुझे बताया कि वो ठीक है और बच्चा भी स्वस्थ है। मैं बहुत खुश हूं और बच्चे को देखने के लिए उत्सुक हूं। रणधीर ने बताया तैमूर और सैफ दोनों भी बहुत एक्साइटेड हैं।'
बच्चे के जन्म से पहले नए घर में शिफ्ट हुए थे सैफ-करीना
दूसरे बच्चे के जन्म से पहले ही सैफ और करीना अपने नए घर में शिफ्ट हो चुके थे। उनका यह घर बहुत बड़ा है। इस घर में आलीशान लाइब्रेरी, स्विमिंग पूल और एक स्पेशल नर्सरी भी बनवाई गई है। जहां तैमूर अपने छोटे भाई के साथ समय बिता सकेंगे।
सारा के जन्मदिन पर अनाउंस की थी प्रेग्नेंसी
सैफ और करीना ने 16 अक्टूबर 2012 को मुंबई में शादी की थी। 20 दिसंबर 2016 को उनके बेटे तैमूर अली खान का जन्म हुआ। 12 अगस्त 2020 को सारा अली खान (सैफ और उनकी पहली पत्नी अमृता सिंह की बेटी) के 25वें जन्मदिन पर सैफ-करीना ने ऐलान किया था कि वे दूसरी बार पैरेंट्स बनने जा रहे हैं।
प्रेग्नेंसी के दौरान भी शूटिंग बंद नहीं की थी
करीना ने डिलीवरी से पहले भी काम करना बंद नहीं किया था। शनिवार को उन्हें अपनी टीम और मेकअप आर्टिस्ट मिक्की कॉन्ट्रैक्टर के साथ शूट के लिए रवाना होते देखा गया था। करीना दिसंबर में रिलीज होने जा रही 'लाल सिंह चड्ढा' में नजर आएंगी, जिसकी शूटिंग उन्होंने प्रेग्नेंसी के दौरान पूरी की। इसके अलावा वे करन जौहर की अपकमिंग फिल्म 'तख्त' में दिखाई देंगी। वहीं सैफ अली खान की अपकमिंग फिल्में 'आदिपुरुष', 'भूत पुलिस' और 'बंटी बबली 2' हैं।

Saturday, 20 February 2021

15:08

नौकरी छोड़ शुरू की खेती कमाई हुई लाखों

सांगली.महाराष्ट्र के सांगली जिले में रहने वाले सचिन तानाजी येवले और उनकी पत्नी वर्षा सचिन येवले दोनों पढ़े-लिखे हैं। सचिन कई साल मल्टीनेशनल कंपनियों में नौकरी कर चुके हैं, लेकिन अब पत्नी के साथ मिलकर ऑर्गेनिक और इनोवेटिव खेती कर रहे हैं। वे अपनी ढाई एकड़ जमीन पर गन्ना, फल, सब्जियां उगा रहे हैं। इसके साथ ही इनकी प्रोसेसिंग करके वे ऑर्गेनिक गुड़, मसाला गुड़, गुड़ की शक्कर, लॉलीपॉप और कैंडी जैसे उत्पाद भी बना रहे हैं। इससे हर साल 15 लाख रुपए की कमाई हो रही है।
27 साल की वर्षा ने BSc.(एग्रीकल्चर) किया है। जबकि 33 साल के सचिन ने ‘एग्रीबिजनेस मैनेजमेंट’ में पोस्ट-ग्रेजुएशन डिप्लोमा किया हुआ है। सचिन बताते हैं, 'नौकरी के दौरान मैं अक्सर ये सोचता था कि जो कुछ मैंने पढ़ाई के दौरान सीखा है, उसका सही तरीके से इस्तेमाल नहीं कर पा रहा हूं। मैं किसानों की भलाई के लिए काम नहीं कर पा रहा हूं। फिर चार साल नौकरी करने के बाद 2013 में मैंने तय किया कि अब खेती करूंगा और नौकरी छोड़ दी।'
लोगों से मिलता था, ऑनलाइन जानकारी जुटाता था
सचिन कहते हैं, 'जब मैंने ऑर्गेनिक खेती करनी शुरू की, तो शुरुआत में उपज बहुत अच्छी नहीं हुई। गांव के कई लोग मजाक भी उड़ाने लगे कि अच्छी-खासी नौकरी छोड़कर खेती कर रहा है। खेती में कहां कुछ मुनाफा होने वाला है, लेकिन मेरी पत्नी ने मेरा साथ दिया। और मैं लोगों की आलोचना पर ध्यान देने के बजाए लगातार मेहनत करता रहा।'
सचिन जिस इलाके से आते हैं, वहां गन्ने की खेती खूब होती है। सचिन कहते हैं कि हमारा परिवार पहले भी पारंपरिक खेती कर चुका था, लेकिन इसमें कोई खास मुनाफा नहीं होता था। मैं जब खेती के लिए गांव लौटा तो सबसे पहले प्रोग्रेसिव किसानों से मिलना शुरू किया। उनसे जानकारी जुटाई। इसके साथ ही ऑनलाइन भी खेती के नए तरीकों को लेकर जानकारी जुटाता रहा। इसी दौरान मुझे पता चला कि गन्ने की प्रोसेसिंग में बिजनेस का अच्छा स्कोप है।
गन्ने के साथ-साथ सब्जियों की भी खेती
सचिन ने अपनी जमीन को अलग-अलग हिस्सों में बांटा रखा है। वे जून में गन्ना लगाते हैं। इसके साथ ही वे दूसरी फसलें जैसे मूंगफली, दालें और सब्जियां भी उगाते हैं। एक हिस्से में उन्होंने अमरूद का बाग भी लगाया है। वह बताते हैं कि जब गन्ने का सीजन होता है तो हम गन्ना बेचते हैं। जब उसका सीजन बीत जाता है तो हम उसके प्रोसेसिंग पर फोकस करते हैं। ऑर्गेनिक गुड़, लॉलीपॉप और कैंडी जैसे उत्पाद हमारी पहचान हैं। काफी संख्या में लोग इनकी डिमांड करते हैं।
क्यों खास है गुड़ की चाय?
सचिन की पत्नी वर्षा खेती के काम में पति की मदद के साथ ही दुकान भी संभालती हैं। उन्होंने खेत के पास ही एक स्टॉल लगाया है। जहां वे अपने प्रोडक्ट और सब्जियां बेचते हैं। हाल ही में उन्होंने एक खास तरह की ऑर्गेनिक गुड़ की चाय बेचना शुरू किया है। इस चाय को बनाने के लिए चाय पत्ती, चीनी और दूध की जरूरत नहीं होती है। वे गुड़ के साथ लेमनग्रास, इलायची, अदरक जैसी जड़ी बूटियां डालकर इसे तैयार करते हैं। इस चाय का टेस्ट तो बेहतर है ही, साथ ही ये हेल्थ के लिए भी फायदेमंद है।
सचिन और वर्षा बताते हैं कि अब लोगों में इस चाय की डिमांड बढ़ रही है। कई लोग इसकी रेसिपी के बारे में पूछते हैं और हमसे पाउडर की मांग करते हैं। जल्द ही हम इसे मार्केट में उतारेंगे। अभी इस पर काम कर रहे हैं।
मार्केटिंग के लिए क्या किया?
सचिन बताते हैं कि अपनी उपज को सही दाम में मार्केट में पहुंचाना इतना आसान नहीं था। शुरुआत में हम लोग फल-सब्जियों को खेत से निकालने के बाद बाल्टी में लेकर सड़क पर बैठते थे और इन्हें, आने-जाने वालों को बेचते थे। बाद में मैंने शहर के अलग-अलग लोगों के पास जाकर अपना प्रोडक्ट देना शुरू किया। मैं उनके पास जाकर कहता कि आप इसका एक बार उपयोग कर देखें और अगर अच्छा लगे तो आगे आप ऑर्डर भी कर सकते हैं। इस तरह एक-एक करके हम लोगों को जोड़ते गए। अब सौ से ज्यादा लोग हमारे वॉट्सऐप ग्रुप में जुड़े हैं। उन्हें जिस चीज की जरूरत होती है, वे हमें मैसेज कर देते हैं।
15:05

अभिनेता विवेक ओबेरॉय का कटा चालान जाने क्यों

मुंबई.हेलमेट और मास्क पहने बिना बाइक चलाना एक्टर विवेक ओबेरॉय को सांताक्रूज ट्रैफिक पुलिस ने 500 रुपए का चालान भेज दिया है। सामाजिक कार्यकर्ता बीनू वर्गीस ने इससे जुड़ा वीडियो सोशल मीडिया में शेयर किया था। वीडियो को उन्होंने गृहमंत्री अनिल देशमुख, मुंबई पुलिस और मुंबई महानगर पालिका को टैग किया था। बीनू अभिनेता के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।
जुहू पुलिस स्टेशन में दर्ज हुआ केस
इसी मामले को लेकर अभिनेता के खिलाफ जुहू पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 188(लॉकडाउन में सरकार के निर्देशों का उल्लंघन करना) और 269(अवैधानिक तरीके से अथवा लापरवाही पूर्वक ऐपिडेमिक नियम को तोड़ना) के तहत केस दर्ज किया गया है। इन धाराओं के तहत छह महीने तक कैद या जुर्माना या दोनों ही सजा का प्रावधान है।
'वेलेंटाइन डे' पर वाइफ के साथ की थी राइडिंग
वर्गीस ने बताया कि ओबेरॉय 'वेलेंटाइन डे' के दिन अपनी पत्नी के साथ बिना हेलमेट और मास्क के बाइक की सवारी कर रहे थे। जिम्मेदार नागरिक होने के चलते, उन्हें इस बात का एहसास होना चाहिए कि ऐसे समय जब कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है, ऐसी लापरवाही ठीक नहीं है। साथ ही एक अभिनेता जिसके फैंस उनकी नकल करते हैं, अगर बिना हेलमेट के बाइक चलाएगा तो इससे क्या संदेश जाएगा। इसीलिए मामले की शिकायत पुलिस से की गई। पुलिस ने भी तुरंत कार्रवाई करते हुए ई-चालान जारी कर दिया है।
15:03

महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते केस से प्रशासन सतर्क

tap news India deepak tiwari 
मुंबई.85 दिन बाद राज्य में कोरोना के केसों में फिर एक बाद बड़ी वृद्धि देखने को मिल रही है। शुक्रवार को यहां 6112 नए केस रजिस्टर हुए हैं। स्थिति इतनी भयावह हो गई है कि राज्य में एक बार फिर लॉकडाउन का संकट मंडरा रहा है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता एकनाथ खडसे और महाराष्ट्र के मंत्री बच्चू कडू दोनों दूसरी बार कोरोना पॉजिटिव हुए हैं। इनके अलावा दो ऑफिस स्टाफ के कोविड पॉजिटिव होने के बाद महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले क्वारैंटाइन हो गए हैं।
पूर्व मंत्री खडसे को बॉम्बे अस्पताल में एडमिट करवाया गया है। उन्होंने कहा, 'इसी संक्रमण की वजह से पिछले साल नवंबर में भी मुझे भर्ती होना पड़ा था। मैं फिर से संक्रमित हो गया हूं। मेरी स्थिति सामान्य बनी हुई है।' जल संसाधन राज्य मंत्री बच्चू कडू भी इससे पहले सितंबर में संक्रमित पाए गए थे। उन्होंने सोशल मीडिया में लिखा, 'मैं दूसरी बार संक्रमित पाया गया हूं। फिलहाल पृथक-वास में हूं। मेरे संपर्क में जो भी आए हैं, कृपया जांच करा लें।'
4 जिलों में नहीं मिले विदेशी वायरस के स्ट्रेन
महाराष्ट्र के अमरावती, अकोला, सातारा, यवतमाल जिले से जो कुल 12 नमूनों को जांच के लिए पुणे के बीजे मेडिकल कॉलेज में भेजा गया था, उसकी रिपोर्ट आ गई है। इन नमूनों में पाए गए वायरस किसी भी तरह से ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका या ब्रिटेन में पाए जाने वाले नए कोरोना वायरस स्ट्रेन से मैच नहीं खाते हैं। यह एक नए तरह का म्यूटेशन हो सकता है, लेकिन अगले सप्ताह तक इसकी विस्तृत रिपोर्ट आएगी।
अमरावती और यवतमाल में मिले नए स्ट्रेन
दूसरी ओर शोधकर्ताओं को पूर्वी महाराष्ट्र के अमरावती और यवतमाल जिलों से लिए गए कोरोना वायरस के नमूनों में दो नए म्यूटेंट्स मिले हैं, जो एंटीबॉडी को बेअसर करने में सक्षम हैं। शोधकर्ताओं ने कहा कि जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए गए किसी भी सैंपल में ब्राजील, ब्रिटेन और दक्षिण अफ्रीका का स्‍ट्रेन नहीं मिला है। इन दोनों जिलों में पिछले एक हफ्ते में कोरोना के मामलों में काफी वृद्धि देखी गई है। लिहाजा एहतियातन राज्य सरकार ने कई जिलों में लॉकडाउन दोबारा लगाने का फैसला किया है।
85 दिन बाद महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा केस
महाराष्ट्र ने फिर से देश की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। शुक्रवार को राज्य में रिकॉर्ड 6,112 नए मरीज मिले। यह पिछले 85 दिन में रोज मिलने वाले मरीजों का सबसे बड़ा आंकड़ा है। इससे पहले पिछले साल 27 नवंबर को राज्य में 6,185 मामले आए थे। राज्य में अब तक 20 लाख 87 हजार 632 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 19 लाख 89 हजार 963 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 51 हजार 713 मरीजों की मौत हो गई। 44 हजार 765 मरीज ऐसे हैं, जिनका इलाज चल रहा है।
मुंबई में 77 दिन बाद सबसे ज्यादा मरीज मिले
पिछले 24 घंटे में पुणे में 1,015 केस दर्ज किए गए हैं, जबकि 493 लोग ठीक हुए हैं, जबकि 6 लोगों की वायरस संक्रमण के चलते मौत हो गई। मुंबई में कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। शुक्रवार को मुंबई में कोरोना के 823 नए मरीज मिले हैं। करीब 77 दिन बाद मुंबई में कोरोना मरीजों की संख्या 800 के पार हुई है। इससे पहले 4 दिसंबर को कोरोना के 813 नए मरीज मिले थे। यहां डबलिंग रेट भी 60 दिन बाद घटा है। 17 फरवरी को कोरोना के 721 नए मरीज मिले थे, 19 फरवरी यह संख्या 823 हो गई।
NCP ने स्थगित किया जनता दरबार
महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने दो हफ्ते के लिए अपना 'जनता दरबार' स्थगित कर दिया है। NCP के मंत्री अब जनता दरबार नहीं लगाएंगे। पार्टी की ओर से जारी बयान में कहा गया कि लोग अपनी शिकायतें ncpjantadarbar@gmail.com पर मेल कर सकते हैं। गुरुवार को NCP कोटे से महाराष्ट्र सरकार में मंत्री जयंत पाटिल और राजेश टोपे कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए हैं। पिछले साल अगस्त महीने से ही महाराष्ट्र में NCP के मंत्री जनता दरबार लगा रहे हैं।

Thursday, 18 February 2021

17:34

मास्क लगाओं नहीं तो लॉकडाउन पक्का मेयर

tap news India deepak 
मुंबई.मुंबई में एक फिर कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। यहां बीते 7 दिन में 24 हजार पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं। महाराष्ट्र में अब एक्टिव केस की संख्या 37 हजार हो गई है। बढ़ते मामलों को देख आज मुंबई की मेयर किशोरी पेडणेकर भी सोमवार को सड़क पर उतर आईं। उन्होंने हाथ जोड़कर लोगों से मास्क लगाने की अपील की। उन्होंने कहा कि अगर वे बिना मास्क नहीं पहनेंगे तो मजबूरी में लॉकडाउन लगाना पड़ेगा। किशोरी पेडणेकर अपनी टीम के साथ मुंबई की लोकल ट्रेन में भी गईं। वे कई दुकानों में भी गईं और बिना मास्क के घूम रहे लोगों को फटकार भी लगाई।
मुंबई के इन दो इलाके के लोगों को दी गई चेतावनी
पिछले कुछ दिनों के दौरान मुंबई के चेंबूर और तिलकनगर में कोरोना के सबसे अधिक मामले बढ़ें हैं। मंगलवार तक चेंबूर की 550 हाउसिंग सोसाइटी को लोकल लॉकडाउन लगाने की चेतावनी वाला नोटिस भेजा गया है। BMC ने कोरोना के ज्यादा मामले पाए जाने पर इलाके को सील करने की भी चेतावनी दी है।
मुंबई में 98% केस नॉन स्लम एरिया में बढ़े
कोरोना संक्रमित मामलों में नया ट्रेंड देखा गया है। यहां 98 % केस नॉन स्लम एरिया से आए हैं। मुंबई में कोविड ग्रोथ रेट 0.28 प्रतिशत हो गया है, जबकि महाराष्ट्र का औसत ग्रोथ रेट 0.14 प्रतिशत है। नगर निगम ने इसके लिए लोगों के लापरवाही भरे रवैये को जिम्मेदार ठहराया है।
बीएमसी ने जारी की गाइडलाइन
बंद सोसाइटी में बहुत जरूरी लोगों को ही आने देने की अनुमति दी जाए।
हाउस मेड, दूधवालों को थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही एंट्री दी जाए।
डिप्टी CM ने कही थी लॉकडाउन की बात
इससे पहले मंगलवार को मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा था कि अगर लोग मास्क नहीं लगाएंगे तो सरकार को मजबूरी में लॉकडाउन लगाना पड़ेगा। सोमवार को उप मुख्यमंत्री अजित पवार ने साफ शब्दों में कहा था है कि महाराष्ट्र में रोजाना कोरोना के केस बढ़ रहे हैं। इसकी वजह से जरूरत पड़ने में पश्चिमी देशों की तरह राज्य में फिर से लॉकडाउन लगाया जा सकता है।

Friday, 12 February 2021

17:34

हर कोई रह गया हैरान, मुंबई पुलिस ने गटर से निकला 21 लाख का सोना

  Bhopal tap news deepak tiwari 
 मुंबई। मुंबई (Mumbai) की जुहू पुलिस ने एक ऐसे चोर को गिरफ्तार किया है जो सोना चुराने के बाद उसे मैनहोल (Manhole) के ढक्‍कन में छुपा दिया करता था। पुलिस ने जब इस शातिर चोर को गिरफ्तार किया, उस वक्‍त वह अपने दोस्‍तों के साथ पार्टी कर रहा था। पुलिस ने जब उसे गिरफ्तार किया उस वक्‍त उसके पास से 21 लाख रुपये के जेवरात बरामद हुए।
ये पूरा मामला मुंबई के जुहू पुलिस स्टेशन की हद में सामने आया है। नेहरू नगर इलाके में रहने वाली पूजा अपने परिवार के साथ महाबलेश्वर घूमने गई थीं लेकिन जब वे महाबलेश्वर से लौटीं तो उनके घर पर चोरी हो चुकी थी। घर की जांच करने पर पता चला कि घर में रखे हुए लगभग 21 लाख रुपये के सोने के गहने गायब थे। पूजा ने घर पर हुई चोरी के संबंध में अपने नजदीकी जूहू पुलिस स्टेशन में जाकर इस मामले की एफआईआर दर्ज करवाई।

 
मामले की जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि जब चोरी हुई उस वक्‍त पूजा के परिवार का कोई सदस्य घर पर मौजूद नहीं था। पुलिस ने जब इलाके में पूछताछ की तो पता चला कि इलाके के एक लड़के ने दोस्तों के साथ पार्टी करने के लिए बीयर की बोतल के साथ अन्य सामान का ऑर्डर दिया था। बस यहीं से पुलिस को चोर का सुराग मिला।
पुलिस ने बताया कि लड़का नौवीं फेल है और काम की तलाश कर रहा है। जांच में पुलिस को पता चला कि लड़का पार्टी कर रहा है, जिसके बाद पुलिस को शक हुआ और उसने लड़के को शक के आधार पर पकड़ लिया। पूछताछ के दौरान लड़के ने अपराध स्वीकार कर लिया।लड़के ने बताया कि वह पहले भी चोरी कर चुका है और चोरी के जेवर मैनहोल में छुपाकर रखता था। पुलिस ने लड़के की निशानदेही पर मैनहोल से 21 लाख रुपये के जेवर मैनहोल से बरामद कर लिए हैं।

Thursday, 21 January 2021

04:11

Sonu Sood को अदालत से कोई राहत नहीं, BMC करेगी फैसला

 tap news India deepak tiwari 
 Jan 21, 2021
मुंबई। एक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) के मुंबई में कथित अवैध निर्माण मामले पर बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) ने उन्हें राहत देने से इनकार कर दिया है। सोनू सूद की याचिका पर सुनवाई करते हुए जस्टिस पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा, बॉल अब बृहन्मुंबई महानगरपालिका (BMC) के पाले में है। बीएमसी ही अब इस मामले में फैसला लेगी।
सोनू सूद ने बीएमसी के आदेश के इतर कोर्ट से कम से कम 10 हफ्ते का समय मांगा था, जिस पर कोर्ट ने टिप्पणी करते हुए कहा- आप बहुत लेट हो गए हैं। आपके पास इन सबके लिए पर्याप्त समय था। कानून भी उनकी मदद करता है जो मेहनती होते हैं।

13 जनवरी को हुई सुनवाई के दौरान बीएमसी ने सूद को ‘आदतन अपराधी’ बताया था। नगरपालिका ने अदालत में कहा था कि सोनू सूद अवैध निर्माण के मामले में लगातार नियम तोड़ते रहे हैं। लॉकडाउन के दौरान सोनू सूद ने उपनगर जुहू स्थित रिहायशी इमारत में कथित तौर पर बिना इजाजत ढांचागत बदलाव किया। इसके बाद बीएमसी ने उन्हें नोटिस जारी किया है। बीएमसी के नोटिस के खिलाफ सोनू ने बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी।
सोनू सूद ने वकील डीपी सिंह के जरिए पिछले हफ्ते दायर अपनी याचिका में कहा कि उन्होंने छह मंजिला शक्ति सागर इमारत में कोई अवैध निर्माण नहीं कराया है। सोनू सूद ने बीएमसी के नोटिस पर कहा था, ‘मैं बीएमसी का पूरी तरह से आदर करता हूं जिन्होंने हमारी मुंबई को इतना कमाल का बनाया है। अपनी तरफ से मैंने सभी नियमों का पालन किया है और कोई सुधार की गुंजाइश होगी तो मैं उसे जरूर सुधारने की कोशिश करूंगा।’

Thursday, 10 September 2020

18:01

मुंबई की मेयर किशोरी पेडणेकर हुईं कोविड पॉजिटिव, कुछ महीने पहले नर्स के रूप में की थी मरीजों की सेवा deepak tiwari

मुंबई.राज्य में कोरोना संक्रमण के 9 लाख 67 हजार मामलों के बीच मुंबई की मेयर किशोरी पेडणेकर भी कोरोना पॉजिटिव हो गई हैं। गुरुवार को उन्होंने ट्विटर पर इसकी पुष्टि की है। मेयर ने पिछले कुछ दिनों के दौरान उनके संपर्क में आने वालों को कोविड टेस्ट करवाने का आग्रह किया है। पेडणेकर के बड़े भाई सुनील कदम का 1 अगस्त को कोरोना की वजह से निधन हो गया था। उनका मुंबई के नायर हॉस्पिटल में इलाज जारी था।
ट्विटर पर मेयर ने लिखा,"मुझ में संक्रमण के कोई लक्षण नहीं दिखे हैं। इसलिए डॉक्टरों की सलाह के बाद मैंने खुद को क्वारैंटाइन कर लिया है। जो लोग भी पिछले कुछ दिनों के दौरान मेरे संपर्क में आये हैं वे अपना कोरोना टेस्ट करवाएं और जरूरी एहतियाती कदम उठाएं। मैंने अपने परिवार के अन्य सदस्यों का भी कोरोना टेस्ट कराया है। आप सभी की शुभकामनाओं और आशीर्वाद से मैं जल्द ही मुंबई की सेवा में आऊंगी।"
नर्स के रूप में की थी मरीजों की सेवा
आज से चार महीने पहले मेयर किशोरी पेडणेकर नर्स की ड्रेस में नजर आईं थी। वह बृहन्मुंबई महानगरपालिका के नायर अस्पताल पहुंची। जहां उन्होंने स्वास्थ्यकर्मियों को हौसला बढ़ाया और कुछ देर रहकर मरीजों की देखभाल की थी। पेडणेकर ने अस्पताल में नर्सिग का कोर्स कर रही छात्राओं को लेक्चर भी दिया था।
छात्राओं को दिया लेक्चर
मुंबई में तेजी से बढ़ते कोविड-19 के वायरस के मद्देनजर बीएमसी सर्तक हो गया है। कोरोना के कारण मेडिकल स्टाफ पर काम का ज्यादा तनाव है। नर्स की पढ़ाई कर रही छात्राओं का हौसला बढ़ाने के लिए मेयर किशोरी पेडणेकर हॉस्पिटल पहुंची थी। पेडणेकर ने अस्पताल में नर्सिंग का कोर्स कर रही छात्राओं को लेक्चर भी दिया।
पेशे से नर्स है किशोरी पेडणेकर
महापौर किशोर पेडणेकर खुद भी पेश से नर्स हैं। राजनीति में आने पहले किशोरी मुंबई के अस्पताल में नर्स का काम करती है। बता दें कोरोना वायरस से सबसे अधिक प्रभावित महाराष्ट्र है। यहां अबतक 342 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं, जबकि संक्रमितों की संख्या आठ हजार के पार हो गई है।
किशोरी पेडणेकर का राजनीतिक सफर
नर्स का काम करते-करते और मरीजों की सेवा करते हुए ही किशोरी ने समाज सेवा करने का फैसला लिया था और शिवसैनिक में एक कार्यकर्ता के तौर पर उन्होंने अपना राजनीतिक सफर शुरू किया। साल 2002 में मुंबई के वर्ली इलाके से पहली बार शिवसेना के टिकट पर पेडणेकर ने जीत दर्ज की और बतौर पार्षद बीएमसी पहुंची। पेडणेकर 22 नवंबर 2019 को मुंबई की मेयर पद पर विराजमान हुईं। शिवसेना नेता और महाराष्ट्र सरकार के मंत्री आदित्य ठाकरे और उनकी माता, रश्मि ठाकरे के करीबी के तौर पर भी किशोरी पेडणेकर की पहचान है। पिछले 25 सालों से बीएमसी पर शिवसेना की सत्ता है। ऐसे में पेडणेकर को कई अलग-अलग समिति में काम करने का मौका मिला।
मुंबई में अब तक 7,985 की मौत
वहीं मुंबई में संक्रमितों की संख्या 1,60,744 पर पहुंच गई है। यहां संक्रमण की चपेट में आने से अब तक 7,985 लोगों की जान जा चुकी है। हालांकि राहत की बात ये है कि यहां 1,26,743 लोग कोरोना वायरस को मात देकर ठीक हो चुके हैं। मुंबई में इस वक्त सक्रिय मामलों की कुल संख्या 25,665 है।
​​महाराष्ट्र में संक्रमितों आंकड़ा 9 लाख 67 हजार पार
वहीं पूरे महाराष्ट्र राज्य की बात करें तो यहां पर कोरोना संक्रमितों की संख्या 9,67,349 है। इस समय यहां पर सक्रिय मामलों की संख्या 2,52,734 है। वहीं 6,86,462 लोग वायरस को मात देकर ठीक हो चुके हैं। यहां अब तक 27,787 लोग कोरोना की चपेट में आने के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं।

Sunday, 13 October 2019

18:57

मुंबई की हमसफर पद्मिनी का सफर हुआ खत्म 2020 से नहीं दिखेंगी मुंबई की सड़कों पर




मुंबई की हमसफर मानी जाने वाली काली-पीली टैक्सी 'पद्ममिनी' का सफर खत्म हो गया है। ये टैक्सियां जून 2020 से मुंबई की सड़कों पर पूरी तरह बंद हो जाएंगी।
दरअसल आइकॉनिक इंडो-इटैलियन मॉडल की प्रीमियर टैक्सी 'पद्मिनी' का प्रोडक्शन साल 2000 में ही बंद हो गया था।
वर्तमान समय में सिर्फ 50 टैक्सियां ही मुंबई की सड़कों पर दौड़ रही हैं। लेकिन इन्हें अगले साल पूरी तरह बंद कर दिया जाएगा। इसे लेकर मुंबई टैक्सी यूनियन का कहना है कि यह प्रतिष्ठित कार है। लेकिन नई पीढ़ी के लोग अब इसमें बैठना नहीं चाहते हैं। वे नई तकनीक की मॉडर्न कारें पसंद करते हैं। इतनी महंगाई में अब इन टैक्सियों का रख रखाव भी काफी महंगा हो गया है। वहीं, 2013 में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए 20 साल से पुराने वाहनों पर प्रतिबंध लगाने के निर्देश दिए गए थे। ऐसे में इन कारों को सड़कों से हटाना एक मजबूरी बन गया है। हालांकि हर मुंबईवासी इनसे भावनात्मक रूप से जुड़ा हुआ है। इसलिए पद्मिनी की कमी उन्हें हमेशा खलेगी।
1964 में लॉन्च की थी; रानी पद्मिनी के नाम पर रखा था नाम
कंपनी ने इस कार को 1964 में फिएट 1100 डिलाइट के नाम से बाजार में उतारा था। ये फिएट 1100 का स्वदेशी वर्जन था। लेकिन लॉन्चिंग के एक साल बाद ही इसका नाम बदलकर प्रीमियर प्रेसिडेंट रख दिया गया। वहीं, 1974 में एक बार फिर इसका नाम बदलकर प्रीमियर पद्मिनी रखा गया। ये नामकरण रानी पद्मिनी के नाम पर ही किया गया था।