Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Sunday, 10 November 2019

चांदनी बिहार पुर में जंगली हाथियों का आतंक 2 दिनों में 2 को कुचला



 बिहार पुर सूरजपुर जिले में  हाथियो व मानव में जिस कदर जंग छिड़ी है जिसका ताजा मामला ओड़गी विकाशखण्ड के बिहारपुर वन परिक्षेत्र के ग्राम पासल में कल रात 7 बजे फिर एक शिक्षक को हाथियो ने निशाना बनाते हुए अपने सूढ़ से पटक पटक कर मौत के घाट उतार दिया हाथियो के चपेट में उस समय आ गया जब 30 ग्रामीणों ने हाथियो को भगाने जा रहे थे तब हाथियो की संख्या देख शिक्षक के साथ गए ग्रामीणों ने भाग कर बचाई जान तो एक शिक्षक हाथियो की चपेट में आ गया और मौके पर ही मौत हो गई।

 वन विभाग से मिली जानकारी के अनुसार कल शाम बिहारपुर के पासल में 30 ग्रामीणों के द्वारा धान की फसल खाने की सूचना मिली तो ग्रामीणों ने एकजुट होकर हाथियो को खदेड़ने का फैसला लिया और हाथियो को खदेड़ने चले गए एकाएक 28 हाथियो का दल देखने के बाद वहां उपस्थित ग्रामीण भाग खड़े हुए और शिक्षक विश्वनाथ तिवारी 50 वर्ष को पीछे बैठे हाथी ने अचानक हमला बोल दिया और हाथियो ने उसको आने सूंड में उठाकर रौंद दिया जिससे मौके पर ही शिक्षक की मौत हो गई मौत के बाद भी शव को हाथियो के द्वारा 2 घण्टे तक घेरे रहा जंगली हाथी।


 ।।ग्रामीणों का आक्रोश फूटा वन विभाग के ऊपर।।


 यहा के ग्रामीणों का कहना है कि पिछले एक महीने से हाथियो का आतंक जारी है और वन विभाग के द्वारा हाथी प्रभावित ग्राम में टार्च सहित जरूरी सामान नही बाँटा गया है जिससे ग्रामीणों का यहा तक कहना है कि वन विभाग हाथियो को हमारे ऊपर छोड़ दे या जरूरी सामान हमको दिया जाए।



*वही वन विभाग के द्वारा बताया गया कि यहा के ग्रामीणों के द्वारा प्रतिदिन वनों की कटाई की जा रही है इस कारण हाथियो के रहने खाने की व्यवस्था जंगल मे नही होने के कारण हाथी चारा पानी की तलाश में जंगल से गांव की ओर रुख कर रहे हैं यही कारण है कि हाथी गांव की ओर रुक कर फसल खा रहे हैं । बिहारपुर रेंज मेवालाल पटेल*


।।इस 28 कि दल में एक हाथी कॉलर आईडी लगा हुआ है।।

वही हाथियो के दल में एक हाथी पर कॉलर आईडी लगा हुआ है इस कारण हाथियो की लोकेशन व मूमेंट की जानकारी लग रही है कि हाथी पेंडारी की जंगल से बिहारपुर की जंगल मे अभी डेरा जमाए हुए हैं।इस दल में 28 हाथी है तो दूरी ओर 12 बसनरा के  32 मोहरसोप हाथियो का दल इलाके में विचरण कर रहा है।

*वही वन विभाग के द्वारा मृतक का पंचनामा तैयार कर परिजनों को तत्कालीन सहायता के तौर पर 25 हजार रुपए दिया गया है ।*

No comments:

Post a Comment