Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Saturday, 13 June 2020

ओबी कंपनियों के विरुद्ध पत्रकार महासंघ सौपेगा ज्ञापन, पत्रकार दिनेश पांडे

ओबी कंपनियों के विरुद्ध पत्रकार महासंघ सौपेगा ज्ञापन पत्रकार दिनेश पांडेय


सिंगरौली:-- एनसीएल में कार्य कर रही ओबी कंपनियों में स्थानीय वेरोजगरो की अनदेखी को लेकर बराबर शिकायते मिल रही थी।जिसको दृष्टिगत रखते हुए सिंगरौली के पत्रकारो द्वारा जनहित में समाचार प्रकाषित कर  शासन,प्रशासन व एनसीएल के सम्बन्धित अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट करने का कार्य किया। जिसमे कंपनीयो के अधिकारियों द्वारा निर्भीक पत्रकारो में ख़ौफ़ पैदा करने के उद्देश्य से एक सुनियोजित खड़यँत्र के तहत उन्हें भयाक्रांत करने का प्रयास किया जा रहा है।जिसका पत्रकार महासंघ कड़े शब्दों में घोर निंदा करते हुये पत्रकारो की सुरक्षा को ध्यान में रख इसका पुरजोर विरोध करने का निर्णय लिया है।
जिसमें जल्द ही जिले में एक सम्भागीय बैठक आहूत कर कंपनी के इस दमनकारी नीतियों के विरुद्ध "पत्रकार महासंघ"राज्यपाल के नाम कलेक्टर सिंगरौली को एक ज्ञापन सौपेगा।पत्रकार महासंघ के सम्भागीय अध्यक्ष दिनेश पाण्डेय ने एनसीएल में कार्यरत आउटसोरसिंग कम्पनियों के जिम्मेदारों को चेताया है कि  पत्रकारो डराना, धमकाना,  तत्काल बन्द करे,अन्यथा जिले से लेकर पूरे संभाग  के पत्रकार लामबन्द होकर आउटसोरसिंग कम्पनीयो के बिरूद्ध आंदोलन छेड़ने को बाध्य होंगे।जानकारी के लिए बतादे कि अभी हालही में एक आउटसोरसिंग कम्पनी के खिलाफ सिंगरौली के युवा वेरोजगरो द्वारा पैसा लेकर नौकरी न देने को लेकर मिली शिकायत  के बाद खबर प्रकाषित किये जाने से वौखलाये प्रवंधन ने 50 लाख हर्जाने के साथ मानहानि की कानूनी नोटिस भेजवा जिले के पत्रकारो में ख़ौफ़ पैदा करने का जो प्रयास किया है, उसका कानूनी कलम तथा जनशक्ति के बल पर मुहतोड़ जबाब दिया जाएगा।श्री पाण्डेय ने कहा कि  "पत्रकार महासंघ" इस मामले को गम्भीरता से लिया है और शीघ्र ही  इस सम्बंध में एक अहम निर्णय लिया जाएगा।बतादे कि पत्रकार ऐसे उत्पीड़न, व दमनात्मक कार्यवाही से दबने वाले नही हैं, और न ही डरने वाले हैं।बल्कि भ्रष्टाचारीयो का डटकर मुकाबला करते हुए और भी निर्भीक ढंग से  अपने कलम की धार को तेज कर सिंगरौली की समस्याओं को उजागर करने के साथ साथ भ्र्ष्टाचार पर चोट करते आये हैं।और करते रहेंगे।श्री पाण्डेय ने कहा कि पत्रकारो को घबड़ाने की जरूरत नही है।कानूनी नोटिस का जबाब कानूनी नोटिस से ही दिया जायेगा।

No comments:

Post a comment