Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Showing posts with label राजस्थान. Show all posts
Showing posts with label राजस्थान. Show all posts

Monday, 30 November 2020

02:21

कोरोना का कहर जारी कलेक्टर ने दिखाई सख़्ती

सवाई माधोपुर 29 नवंबर@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा । सर्दी के  तेवरों के साथ ही कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को दृष्टिगोचर रखते हुए सवाई माधोपुर जिला प्रशासन बेहद सख्ती से पेश आ रहा है। कोरोना एडवाइजरी की पालना करवाने के लिए स्वयं जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया ऑपरेशन की बागडोर संभाले हुए है। रविवार को पुनरीक्षण कार्य निरीक्षण के दौरान कलेक्टर को गंभीरा गांव में एक समारोह का आयोजन होता दिखाई दिया। जिसमें 100 से अधिक लोग बुलाये गए थे। कलेक्टर पहाड़िया ने मामले की गंभीरता को देखते हुए उपखण्ड अधिकारी सवाई माधोपुर को तत्काल मौके पर बुलवाकर जांच करवाई। जिसके चलते उपखंड अधिकारी की टीम ने गंभीरा में बिना अनुमति कार्यक्रम आयोजित कर 100 से अधिक मेहमान बुलाने पर आयोजक के खिलाफ प्रशासनिक एडवाइजरी का उल्लंघन करने के चलते 25000 का जुर्माना लगाते हुए चालान काटा गया। आयोजक नरेश मीना से मौके पर ही जुर्माना वसूल गया।
जिला कलेक्टर नन्नू मल पहाड़िया ने बताया कि कोरोना संक्रमण का प्रसार नहीं हो इसके लिए विवाह समारोह में 100 से अधिक मेहमान बुलाने पर रोक है, तथा अन्य कार्यक्रम के आयोजन पर प्रतिबंध है। कलेक्टर ने लोगों से कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने, मास्क लगाने, 2 गज की दूरी का पालन करने का आग्रह भी किया। जिससे कोरोना का संक्रमण नही फैले। 
उपखंड अधिकारी ने बताया ने कि टीम के कार्यक्रम में पहुंचते ही कई लोग वहां से अमरूद के बगीचों में भी भाग गए ।

Saturday, 28 November 2020

01:34

स्मार्ट मेहमाननवाजी ना हो कोरोना का गृह-प्रवेश:deepak tiwari

जयपुर.देवउठनी एकादशी के अबूझ सावे पर शहर में 3000 के करीब शादियां हुईं। शादियों में 100 से अधिक लोग मिलने पर पुलिस ने 6 शादियों में 25,000 रुपए के चालान काटे। एडिशनल पुलिस कमिश्नर राहुल प्रकाश ने बताया कि विद्याधर नगर, गलता गेट, आमेर, ब्रह्मपुरी और पश्चिम जिले में दो थाना क्षेत्रों में 25-25 हजार रुपए के चालान काटे हैं। अब 27 नवंबर से 30 दिसंबर तक बड़ी संख्या में शादियां हैं, निगरानी जारी रहेगी।
कोरोना फ्री रिश्ता भी निभाया
सगाई-टीका, चाक-भात के कार्यक्रम लोगों ने शादी से एक दिन पहले अपने घर पर ही रखे, जिसमें कुनबे के लोग ही शामिल हुए। बारात को दिन में ही बुला लिया गया। बारातियों को खाना खिलाकर भेज दिया। परिवार के लोगों ने शाम को तोरण, फेरे की रस्म की। 2 बजे प्रीतिभोज शुरू कर दिया, लोग आते गए और खाकर जाते रहे। इस तरह 300 से 500 लोगोंं की मौजूदगी रही, एक वक्त में 100 से कम मेहमान ही रहे। कार्ड बनाने वाले महेंद्र जैन ने बताया- ज्यादातर लोगों ने 21 और 51 कार्ड ही छपवाए हैं। कार्ड के फोटो शेयर किए हैं।
01:30

बारिश-बर्फबारी ने बढ़ाई ठंड:deepak tiwari

राजस्थान की राजधानी जयपुर समेत 12 से ज्यादा शहराें में गुरुवार रात बारिश हुई। बारिश के बाद चली शीतलहर से ठिठुरन बढ़ गई। भीलवाड़ा में तो ओलाें के साथ बारिश हुई। यहां नीबू के आकार के ओले गिरे और जम गए। कई शहराें में दिन का तापमान 2 से 3 डिग्री तक लुढ़क गया। बूंदी, सवाई माधाेपुर और चित्ताैड़गढ़ में 17 मिमी तक बारिश हुई। मौसम विभाग ने अगले 3-4 दिन तक शीतलहर जारी रहने का अनुमान जारी किया है। इससे दिन और रात का तापमान 2 से 4 डिग्री सेल्सियस तक नीचे जाने का अनुमान है।भीलवाड़ा में गुरुवार को कई जगह ओलाें के साथ बारिश हुई। यहां नीबू के आकार के ओले गिरे और जम गए।
हिमाचल में बर्फबारी जारी
बर्फबारी की वजह से हिमाचल प्रदेश में जन जीवन पर असर पड़ रहा है। दो नेशनल हाइवे समेत 227 सड़कों पर वाहनों की आवाजाही ठप है। बर्फबारी की वजह से प्रदेश में 701 ट्रांसफार्मर ठप हो गए हैं। इससे लोगों को बिजली की समस्या का सामना करना पड़ रहा है।
कुल्लू जिले में तापमान में 6 डिग्री तक की गिरावट दर्ज की गई। शिमला का मैक्सिमम टेंपरेचर 8 डिग्री और मिनिमम 2 डिग्री रिकाॅर्ड किया गया। सुंदरनगर में 12 डिग्री और 8 डिग्री, धर्मशाला में 9.2 और 5.2 डिग्री, कुफरी में 3.5 और 0.7 डिग्री रिकाॅर्ड किया गया।
छत्तीसगढ़ में पार 6 डिग्री तक गिरा
प्रदेश के सभी संभागों में शुक्रवार को हल्की बारिश हो सकती है। शनिवार को बादल के छंटने से मौसम खुल जाएगा और हल्की ठंड बढ़ेगी। इससे पहले गुरुवार को ठंडी हवाएं चलीं। इसके असर से दिन के तापमान में 3 से 6 डिग्री तक की गिरावट आई। रायपुर में तापमान सामान्य से 3 और जगदलपुर में 6 डिग्री कम रहा। जगदलपुर और पेंड्रारोड में हल्की बारिश हुई।

Monday, 2 November 2020

21:35

deepak tiwari मास्क लगाना अनिवार्य कर रही राजस्थान सरकार, मुख्यमंत्री गहलोत ने ट्वीट कर दी जानकारी

जयपुर.राजस्थान सरकार द्वारा कोरोना से बचाव के लिए मास्क लगाना अनिवार्य किया जा रहा है। जिसके संबंध में खुद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर जानकारी दी। उन्होंने लिखा कि कोरोना से बचाव हेतु मास्क की अनिवार्यता को लेकर कानून बनाने वाला देशभर में राजस्थान पहला राज्य होगा, क्योंकि कोरोना से बचाव के लिए मास्क ही वैक्सीन है और यही बचाव करेगा। प्रदेश में चल रहे 'कोरोना के विरुद्ध जनांदोलन' के साथ ही सरकार आज कानून बनाकर मास्क को अनिवार्य करने जा रही है।
चिकित्सा मंत्री बोले थे- वैक्सीन से भी ज्यादा कारगर है मास्क संक्रमण की आशंका में हो सकती है 90 फीसद तक कमी
चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा 27 अक्टूबर को कहा था कि मास्क लगाना, वैक्सीन लगवाने से भी ज्यादा कारगर है। विशेषज्ञों के अनुसार मास्क लगाने से संक्रमित होने की आशंका 90 फीसद तक कम हो जाती है। उन्होंने कहा कि आमजन समूह या भीड़ का हिस्सा बनने से पहले मास्क लगाने को अपनी आदत बनाकर संक्रमण के प्रसार को कम कर सकते हैं।

Saturday, 31 October 2020

00:54

deepak tiwari चुनाव आयोग ने कमलनाथ का स्टार प्रचारक का दर्जा छीना

नई दिल्ली.चुनाव प्रचार के दौरान आचार संहिता के उल्लंघन के लिए चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ पर एक्शन लिया है। EC ने कमलनाथ का स्टार प्रचारक का दर्जा छीन लिया है। कमलनाथ ने पिछले दिनों शिवराज कैबिनेट की मंत्री इमरती देवी को आइटम कहा था।
इस पर कमलनाथ से जवाब मांगा गया था, पर उनके जवाब से EC संतुष्ट नहीं है। इसके बाद ही यह एक्शन लिया गया। EC ने कहा है कि अब अगर कमलनाथ किसी के लिए भी प्रचार करते हैं, तो उसका पूरा खर्च वो कैंडिडेट उठाएगा, जिसके लिए प्रचार किया जा रहा है।
कमलनाथ ने कहा था- बयान का गलत मतलब निकाला गया
आइटम वाले बयान पर चुनाव आयोग से मिले नोटिस के जवाब में कमलनाथ ने कहा था कि उनके बयान का गलत मतलब निकाला गया। राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने ट्वीट करके कमलनाथ का जवाब शेयर किया था। कमलनाथ ने लिखा था कि भाजपा हार के डर से मुद्दा बदलने की कोशिश कर रही है। कमलनाथ ने अपनी 40 साल के निष्कलंक लोक सेवा के इतिहास का भी जिक्र किया था।
कमलनाथ ने मंत्री इमरती देवी को आइटम कहा था
18 अक्टूबर को एक चुनावी सभा में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा था कि हमारे राजे (कांग्रेस प्रत्याशी) तो सीधे-सादे और सरल हैं। ये उसके जैसे नहीं हैं। मैं क्यों उसका नाम लूं। इतने में लोग बोले- इमरती देवी। इस पर हंसते हुए कमलनाथ बोले- आप लोग मेरे से ज्यादा उसको पहचानते हैं। आप लोगों को तो मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था कि वह क्या आइटम है।

Wednesday, 28 October 2020

20:39

deepak tiwari स्कूलों में सर्दी की छुट्टियां होंगी कम

राजस्थान:deepak tiwari स्कूलों में सर्दी की छुट्टियां कम होगी, सत्र 15 मई तक संभव; 60 फीसदी पाठ्यक्रम भी पूरा होना मुश्किल
कोविड 19 की भेंट चढ़ चुके शिक्षा सत्र को बचाने के लिए शिक्षा विभाग दो बड़े निर्णय करने जा रहा है। इस साल शीतकालीन अवकाश जहां कम हो जायेंगे, वहीं शिक्षा सत्र अब मार्च में नहीं बल्कि 15 मई तक चलेगा। ऐसे में माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की परीक्षाएं भी मार्च में होगी। माध्यमिक शिक्षा निदेशालय ने इस संबंध में विस्तृत कार्य योजना बनाकर शिक्षा मंत्री गोविंद डोटासरा को भेज दी है, जहां से मुख्यमंत्री को भेजी गई है।
उम्मीद की जा रही है कि आजकल में ही यह निर्देश जारी होंगे। सूत्रों की मानें तो इस बार दीपावली व शीतकालीन सत्र महज तीन दिन के होंगे। जो पहले एक सप्ताह से अधिक के होते थे। वहीं, शिक्षा सत्र को भी आगे बढ़ा दिया गया है। पंद्रह मई तक स्कूल नियमित रूप से खुलेंगे। इसके बाद बोर्ड परीक्षा आयोजित करेगा। ऐसे में मई के अंतिम सप्ताह में शुरू होने वाली परीक्षा जून के प्रथम सप्ताह तक आयोजित हो सकती है।
150 दिन पूरे करने हैं
दरअसल, माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर की परीक्षाओं के लिए स्कूलों के 150 दिन खुलने की बाध्यता है। अगर ऐसा नहीं होता है तो शून्य सत्र घोषित करना होगा। निदेशालय ने इसी कारण शीतकालीन अवकाश कम करने का प्रस्ताव दिया है।
75 फीसदी उपस्थिति बाध्यता की कैसे होगी पालना
माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर की परीक्षा के लिए 75 फीसदी उपस्थिति जरूरी है। अगर दो नवम्बर से इन बच्चों को स्कूल बुलाया भी जाता है तो उन्हें 15 मई तक सिर्फ 25 फीसदी दिन ही अवकाश मिलेगा। कोरोना काल में अगर कोई बच्चा कोविड पॉजीटिव आ गया तो उसे 15 दिन तो सरकार ही आइसोलेट कर देती है। वहीं अभिभावक कोविड के भय से स्कूल भेजने को तैयार नहीं हुए तो उपस्थिति के लिए भी बोर्ड को विशेष छूट देनी पड़ेगी।
पढ़ाई फिर भी पूरी नहीं होगी
अगर विद्यालय संचालकों का मानें तो 60 फीसदी पाठ्यक्रम पूरा करना भी अब मुश्किल होगा। दरअसल, बड़ी संख्या में अभ्यर्थी अपने बच्चों को स्कूल भेजने के लिए तैयार नहीं है। दसवीं कक्षा के बच्चों को मार्गदर्शन के लिए स्कूल आने की छूट थी, लेकिन 90 फीसदी स्कूलों में कोई बच्चा मार्गदर्शन लेने नहीं आया।
शिक्षक कमलेश शर्मा का कहना है कि कोरोना का भय इतना अधिक है कि अभिभावक स्वयं बच्चों को स्कूल नहीं भेजना चाहते। शिक्षा विभाग के पूर्व संयुक्त निदेशक विजय शंकर आचार्य का कहना है कि कोरोना के कारण ग्रामीण क्षेत्रों में बिल्कुल पढ़ाई नहीं हुई है। वहां ऑनलाइन पढ़ाई का कोई जरिया ही नहीं है।
अब शुरू से इन बच्चों को पढ़ाकर 60 फीसदी कोर्स करवाना मुश्किल है। सरकार को और पाठ्यक्रम कम करना चाहिए। शिक्षक नेता रवि आचार्य का कहना है कि सरकारी स्कूलों में भी मार्गदर्शन वाले बच्चों की संख्या नगण्य रही। ऐसे में दो नवम्बर से कक्षाएं शुरू होगी तो भी बच्चों को अभिभावक नहीं भेजेंगे।

Tuesday, 27 October 2020

21:36

महिला सशक्तिकरण समय की मांग- गुप्ता TAP NEWS

सवाई माधोपुर/चौथ का बरवाड़ा @रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। चौथ का बरवाड़ा पंचायत समिति क्षेत्र की ग्राम पंचायत आदलवाड़ा कलां के बोरदा गांव में स्थित आंगनबाड़ी केंद्र पर मंगलवार को महिला अधिकारिता विभाग सवाई माधोपुर की ओर से महिलाओं एवं किशोरियो के लिए एक दिवसीय आमुखीकरण कार्यशाला का आयोजन किया गया । जिसमें  जिला महिला शक्ति केंद्र सवाई माधोपुर की तरफ से  जिला समन्वयक मोना गुप्ता एवं दीक्षा गौत्तम ने महिलाओं को स्वरोजगार के अवसर प्राप्त करने की महत्वपूर्ण सीख दी,ताकि ग्रामीण महिलाएं एवं किशोरियां आज के युग में आत्मनिर्भर बन सकें। राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय बोरदा में आयोजित बैठक के विषय में जानकारी देते हुए स्थानीय प्रधानाध्यापक महेंद्र सिंह ने बताया कि एक दिवसीय कार्यशाला में जिला समन्वयक मोना गुप्ता व दीक्षा गौतम ने महिलाओं को रोजगार खोलने के शुअवसर प्रदान करने के लिए स्वयं सहायता समूह निर्माण से लेकर  किशोरियो को सामाजिक बुराई व आत्म सुरक्षा जैसे मुद्दों तथा महिला उत्पीड़न के खिलाफ चुप्पी तोड़ने एवं उनका पुरजोर विरोध करने जैसे विषयों पर सटीक प्रशिक्षण प्रदान किया। साथ ही महिलाओं को (विशेष कर किशोरियों को ) माहवारी स्वच्छता प्रबंधन के बारे में भी आवश्यक जानकारी उपलब्ध कराई । बैठक में राजकीय प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक, शिक्षक- शिक्षिकायें, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व आशा सहयोगिनी तथा ग्राम बोरदा की दो दर्ज़न से अधिक महिलाएं एंव किशोरियां मौजूद थी।
18:31

नुक्ता प्रथा को बंद करने का निर्णय ले समाज के सामने पेश की अनूठी मिसाल TAP NEWS

 सवाई माधोपुर@ रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। नुक्ता प्रथा (मृत्यु भोज) जैसी कुप्रथा पर अंकुश लगाने का निर्णय लेते हुए पेशे से व्याख्याता एवं अध्यापक दो भाइयों  शांतिलाल एवं विमल कुमार ने मंगलवार को अपने समाज के साथ-साथ अन्य समाजों के लिए एक नई मिसाल कायम की और मीना समाज में बदलाव का नया संदेश दिया। गौरतलब है कि, उखलाना निवासी दोनों भाइयों की माताजी का स्वर्गवास 19 अक्टूबर हो गया था। उसके पश्चात 12वें के दिन मृत्यु भोज का आयोजन होना शेष था। लेकिन दोनों भाइयों ने नुक्ता प्रथा के विरोध में कठोर निर्णय लेकर समाज के सामने नई चुनौती पेश की।
उखलाना गांव निवासी व्याख्याता शान्तिलाल एवं अध्यापक विमल  मीना की माताजी व ब्लॉक महिला कांग्रेस अध्यक्ष अनीता मीना की सासू जी श्रीमती रूक्मणी देवी मीणा पत्नी रामरतन  मीना के 19 अक्टूबर को निधन के पश्चात मंगलवार को मीणा समाज की जिला व ब्लॉक कार्यकारिणी के पदाधिकारियों व गांव के गणमान्य लोगों की शोकाकुल परिवार से नुक्ता प्रथा को लेकर बातचीत हुई , जिसके चलते उन्हें मृत्यु भोज का आयोजन नहीं करने की महत्वपूर्ण सलाह प्रदान की गई । जिस पर परिवार के सदस्यों ने समाज की बात को सिर माथे रख स्वीकार करते हुए अत्यंत खर्चीले मृत्युभोज के आयोजन को स्थगित करने में ही भलाई समझी। नुक्ता जैसी कुप्रथा का त्याग करने का संकल्प लेते हुए समाज के अन्य लोगों से भी भविष्य में ऐसे आयोजनों पर इस तरह का योगदान देने की बात कही गई। साथ ही मृत्यु भोज में खर्च होने वाली राशि को गांव के विधालय के हेतु राशि 51000/- इक्यावन हजार रुपए राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय उखलाना व 51000 रुपए मीणा समाज छात्रावास & अध्ययन संस्थान जिला टोंक को चैक के माध्यम से भेंट कर क्षेत्र में मृत्यु भोज बन्द करने का सकारात्मक सन्देश दिया। इस तरह के सामाजिक पहल की सर्वत्र लोगों द्वारा सराहना की जा रही है।
18:28

कोविड वैक्सीन के लिए चिकित्सा संस्थानों को देना होगा डाटा TAP NEWS

सवाई माधोपुर @ रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। कोरोना से बचाव के लिए शीघ्र ही आने वाली वैक्सीन के संबंध में चिकित्सा विभाग द्वारा राज्यस्तर से वीसी के माध्यम से चिकित्सा विभाग के सभी जिला स्तरीय अधिकारियों सीएमएचओ, आरसीएचओ, एडिशलन सीएमएचओ को जिला स्तर पर निर्देश दिए गए हैं कि केंद्र सरकार द्वारा कोविड वैक्सीनेशन के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अंतर्गत कार्यरत सभी कार्मिकों का डाटा चाहा गया है।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. तेजराम मीना ने बताया कि इस हेतु संबंधित कार्मिक आशा सहयोगिनी, आँगनवाडी कार्यकर्ता व चिकित्सा विभाग से रजिस्टर्ड सभी निजि अस्पताल, नर्सिंग होम, पैथोलॉजिकल लैब, एक्सरे लैब, सोनोग्राफी लैब, एवं अन्य सभी चिकित्सा विभाग से रजिस्टर्ड संस्थानों को अपने यहां कार्यरत सभी कार्मिकों का डाटा निश्चित फॉरमेट में भरकर चिकित्सा विभाग को उपलब्ध करवाना होगा।
संस्थानों को अपने कार्मिकों का डाटा वेबसाइट पर उपलब्ध फॉरमेट में देना होगा। फॉरमेट सरकार की वेबसाइट एचएमआईएस डाॅट एनएचपी डाॅट जीओवी डाॅट इन पर जाकर कोविड वैक्सीन बेनिफिशियरी स्टेट लिंक पर जाकर डाउनलोड कर सकते हैं। अथवा इसके लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य कार्यालय की कोविड शाखा में संपर्क कर सकते हैं। कार्मिकों का डाटा 30 अक्टूबर से पूर्व उपलब्ध करवाना होगा।
18:26

अनुदान के लिए एनजीओ पोर्टल पर कर सकते है आवेदन TAP NEWS

सवाई माधोपुर@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा । केन्द्रीय जनजाति मंत्रालय ने स्वास्थ्य, शिक्षा और आजीविका के क्षेत्र में कार्य कर रहे गैर सरकारी संगठनों को अनुदान देने के लिये एक योजना शुरू की है।
चालू वित्त वर्ष में इस योजना के लिये 110 करोड रूपये आवंटित किये गये हैं।
अनुसूचित जनजाति वर्ग के कल्याण में लगी एनजीओ इस अनुदान की पात्र हैं। इसके लिये मंत्रालय ने दहवहतंदजेउवजंण्हवअण्पद पोर्टल बनाया है। पात्र संस्थायें इस पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन कर सकती हैं।
जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाडिया ने पोर्टल पर प्राप्त होने वाले आवेदनों की मॉनिटरिंग करने के लिये जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुरेश कुमार को प्रथम स्तरीय जॉंच अधिकारी नियुक्त किया है।
18:24

मिनटों में पता लग जायेगा दूध मिलावटी है या नही TAP NEWS

सवाई माधोपुर@ चन्द्रशेखर शर्मा। जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया ने मंगलवार को सभी उपखण्ड अधिकारियों की कलेक्ट्रेट में बैठक लेकर शुद्ध के लिये युद्ध अभियान, कोरोना संक्रमण रोकथाम और जागरूकता जन आन्दोलन, अवैध बजरी खनन, सामाजिक सुरक्षा योजनाओं व जन समस्याओं के निस्तारण के सम्बंध में दिशा-निर्देश दिये।
जिला कलेक्टर ने कहा कि उपखण्ड में सभी विभागों के कार्य  और प्रदर्शन के लिये एसडीएम जिम्मेदार है। सभी विभागों की नियमित मॉनिटरिंग करें, समन्वय सुनिश्चित करें। जिला कलेक्टर के निर्देश पर डेयरी प्रबंध निदेशक ने दूध की गुणवत्ता तथा मिलावट जॉंच के लिये तैयार रैपिड किट का बैठक में प्रदर्शन किया तथा इसके  द्वारा जॉंच की विधि समझायी। सभी एसडीएम को ये किट प्रदान की गई है।
जिला कलेक्टर ने निर्देश दिये कि एसडीएम शुद्ध के लिये युद्ध अभियान को सफल बनाने के लिये चिकित्सा ,रसद, डेयरी सहित अन्य विभागों का समन्वय बनाते हुये प्रतिदिन मॉनिटरिंग तथा समीक्षा करें ।
जिला कलेक्टर ने बताया कि त्यौंहार का सीजन आ रहा है। कोरोना जनजागरूकता जन आन्दोलन में एनसीसी, एनएसएस, स्काउट-गाइड, नेहरू युवा केन्द्र, एनजीओ को जोडकर बाजारों में सोशल डिस्टेसिंग की पालना के लिये लोगों को समझायें। उन्होंने मास्क वितरण के कार्य में तेजी लाने के भी निर्देश दिये।
कलेक्टर ने निर्देश दिये कि कोरोना पॉजिटिव मरीज तथा पॉजिटिव से नेगेटिव हो चुके लोगों से एसडीएम स्वयं फीडबैक लें कि अब स्वास्थ्य कैसा है, वे सरकारी सुविधाओं से संतुष्ट हैं या नहीं। 
जिला कलेक्टर ने निर्देश दिये कि एसडीएम सभी ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों, पटवारी, ग्राम विकास अधिकारी को निर्देशित करें कि आमजन की समस्याओं का त्वरित निस्तारण करें। बजट के अभाव या नियम विरूद्ध होने पर किसी मॉंग को पूरा नहीं किया जा सकता तो आवेदक को विनम्रता से समझा दें ताकि वह एक अधिकारी से दूसरे अधिकारी के पास चक्कर न लगाये। पालनहार, सामाजिक सुरक्षा पेंशन मिलने में आधार सीडिंग या खाता संख्या मिसमैच के कारण दिक्कत आ रही है तो तत्काल समाधान करवायें। 
जिला कलेक्टर ने सभी एसडीएम को फिर हिदायत दी कि अवैध बजरी खनन और परिवहन को सख्ती से रोका जायें। इसमें पुलिस, खान, वन, परिवहन समेत अन्य विभागों की मदद लेकर प्रभावी कार्रवाई करें।

Thursday, 22 October 2020

04:02

मैसी ट्रैक्टरों पर नवरात्रि धमाका ट्रैक्टर की डिलीवरी पाकर किसानों के खिल उठे चेहरे TAP NEWS INDIA


सवाई माधोपुर / गंगापुर सिटी@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। मैसी फग्र्युसन ट्रैक्टर के सवाई माधोपुर व करौली जिले के वितरक गहलोत ट्रैक्टर्स प्राइवेट लिमिटेड गंगापुर सिटी एवं ट्रैक्टर निर्माता कम्पनी टैफे की और से किसानों को नवरात्रों के उपलक्ष्य में मैसी 1035 सुपर प्लस (टनर मॉडल) पर आकर्षक छूट दी जा रही है।
गहलोत ट्रैक्टर्स प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक सी.एल. सैनी के अनुसार अब इस ट्रैक्टर की कीमत 5 लाख 19 हजार 999 रखी गई है। इस स्कीम में किसानों को कम से कम 80 हजार रुपए का फायदा हो रहा है। यह स्कीम केवल नवारात्रों तक रहेगी। इसके अलावा मैसी ट्रैक्टर के अन्य मॉडलों पर भी आकर्षक छूट दी जा रही है। जैसे मैसी 241डीआई पीडी, मैसी 241 डीआई ऑयल ब्रैक्स पर भी आकर्षक छूट दी जा रही है।
कम्पनी जनरल मैनेजर महेश सैनी ने बताया कि आज कम्पनी ने अपना नेशनल डिलीवरी-डे मनाया। इस मौके पर टैफे कम्पनी के सहायक महाप्रबंधक विजय सिंह, रीजनल प्रबंधक गौरव गुलाटी ने किसानों को नये ट्रैक्टरों की चाबियां सौंपी। यह उत्सव सवाई माधोपुर एवं करौली दोनों जिलों में गंगापुर सिटी, सवाई माधोपुर, खण्डार, हिण्डौन, करौली, बौंली एवं चौथ का बरवाड़ा में मनाया गया। साथ ही सभी स्थानों पर ट्रैक्टरों की लोन प्रक्रिया विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधियों द्वारा पूरी की गई।
इस मौके पर सभी फाइनेंस कम्पनी के प्रतिनिधि मौजूद थे। नए ट्रैक्टर की डिलीवरी पाकर किसानों के चेहरे खिल उठे। इस मौके पर गहलोत ट्रैक्टर स्टाफ ने नए ट्रैक्टर लेने वाले सभी किसान भाईयों का माला व साफा पहनाकर सभी को नवरात्रि पर्व की शुभकामनाएं दी।
डिलीवरी उत्सव में गहलोत ट्रैक्टर्स प्राइवेट लिमिटेड करौली से रामगोपाल सैनी, रूपसिंह, विष्णु, हिण्डौन सिटी से मदनमोहन सैनी, श्यामबिहारी, दलवीर, बौली से प्रहलाद सैनी, रामधन सैनी, गंगापुर सिटी से बबलू सैनी, मोहन सैनी, मुकेश सैनी, रामलाल सैनी, चौथीलाल मीणा, अमृतलाल मीणा, सवाई माधोपुर से माधोसिंह राठौड़, सूरजमल, शिवकरण, भागचंद, खण्डार से जगदीश जाट, बृजमोहन मीणा, चौथ का बरवाड़ा से मोहनलाल सैनी सहित सैल्स टीम के अन्य सदस्य मौजूद थे।
04:00

मुख्यमंत्री ने कहा मीना और मीणा विवाद को खत्म करने के लिए केंद्र को लिखेंगे पत्र मीणा जाति को फिलहाल नहीं मिल रहा आरक्षण का लाभ

जयपुर/ सवाई माधोपुर@ रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। सीएम अशाेक गहलाेत ने कहा कि संघ लोक सेवा आयोग की ओर से कॉरपोरेट अफेयर्स मंत्रालय में कंपनी प्रॉसीक्यूटर के पद पर भर्ती के लिये विज्ञापन जारी किया है। इसमें मीना जाति वाले अभ्यर्थियों को अनुसूचित जनजाति मानकर आरक्षण के लाभ के लिये योग्य माना गया है। जबकि मीणा सरनेम वाले अभ्यर्थियों को योग्य नहीं माना गया है। राजस्थान में मीना/मीणा दोनों सरनेम वाले लोगों को अनुसूचित जनजाति प्रमाण पत्र जारी किये जाते रहे हैं। इस मुद्दे पर उच्च न्यायालय में भी कई रिट याचिकायें डाली गईं, जिस पर मुख्य सचिव, राजस्थान सरकार ने शपथ पत्र देकर स्पष्ट किया गया कि मीना/मीणा दोनों एक ही जाति हैं। इनमें केवल स्पैलिंग का अंतर है। सीएम ने कहा कि राजस्थान में इस मुद्दे पर कोई विवाद नहीं है। राज्य सरकार केंद्र को इस मुद्दे पर स्पष्टीकरण जारी कर मीना और मीणा एक ही मान इस विवाद को खत्म करने के लिये फिर से पत्र लिखेगी। गहलोत ने कहा कि मीणा और मीना विवाद को लेकर राज्य सरकार केंद्र सरकार द्वारा स्पष्टीकरण जारी करने के लिए 2018 में केंद्रीय जनजाति कार्य मंत्रालय को पत्र लिखा था, जिसका अभी तक केंद्र की ओर से कोई जवाब नहीं दिया गया है। दूसरी ओर नागरिकता संशोधन कानून को लेकर भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के बयान को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। गहलोत ने आरोप लगाया कि बीजेपी इस तरह के बयान देकर तनाव को फिर भड़काना चाहती है। गहलोत ने सोशल मीडिया पर अपना बयान जारी करते हुए लिखा कि देश कोरोना महामारी की गंभीर चुनौती से जूझ रहा है। कोरोना से पहले भी सीएए लागू करने को लेकर भाजपा की हठधर्मिता के कारण मुल्क में बेहद तनाव बना हुआ था। गौरतलब है कि कुछ दिन पहले जेपी नड्डा ने बयान दिया था कि लॉकडाउन के कारण सीएए लागू करने में देरी हुई, लेकिन अब इसे जल्द लागू किया जाएगा। जेपी नड्डा ने पश्चिम बंगाल सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि वो अपनी पार्टी टीएमसी के राजनीतिक हितों के लिए राज्य में ‘फूट डालो और राज करो’ की राजनीति कर रही है।

कोरोना से बचाव: जन आंदोलन 30 नवंबर तक बढ़ाया
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार ने कोरोना के खिलाफ लोगों के आंदोलन को 31 अक्टूबर से 30 नवंबर तक यानी एक महीने के लिए बढ़ाने का फैसला किया है। इस दाैरान आम लाेगाें काे स्वास्थ्य प्रोटोकॉल का पालन करना जारी रखें। सीएम गहलोत ने पिछले दिनों ही नगर निगम चुनाव को लेकर कहा था कि चुनाव जरूरी है, लेकिन कोरोना महामारी से बचाव भी आवश्यक है। ऐसे में सभी लोग हेल्थ प्रोटोकॉल का पालन करें, जिससे कोरोना के प्रभाव को रोका जा सके।
03:59

अब मंगलवार को भी खुल सकेंगे ई-मित्र TAP NEWS

सवाई माधोपुर@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा । जिला मजिस्ट्रेट नन्नूमल पहाडिया ने कलेक्ट्रेट, समस्त उपखंड अधिकारी और तहसील कार्यालय परिसरों में संचालित फोटोस्टेट दुकानों एवं जिले के समस्त ई-मित्रों को मंगलवार के सार्वजनिक अवकाश से छूट दे दी है। 
उल्लेखनीय है कि कोरोना संक्रमण रोकथाम के लिये जिला मजिस्ट्रेट के निर्देशानुसार जिले में प्रत्येक मंगलवार को दुकान, व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रखे जाते हैं। कलेक्ट्रेट व अन्य महत्ववूर्ण कार्यालयों में आने वाले फरियादियों की सुविधा को देखते हुये और सैंकडो सरकारी योजनाओं के आवेदन ई-मित्र के माध्यम से ऑनलाइन होने की बाध्यता के चलते जिला मजिस्ट्रेट ने सार्वजनिक अवकाश से इन्हें छूट प्रदान की है।
03:57

मास्क लगाने के लिये चलाया जागरूकता अभियान TAP NEWS

सवाई माधोपुर@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। सवाईमाधोपुर नगरपरिषद के कार्मिकों और कोरोना जागरूकता जोन टीमों ने बुधवार को चकचैनपुरा, कलेक्टेट व आसपास, नीम चौकी, इन्द्रा कॉलोनी, रैगर बस्ती, बजरिया, हरसहाय कटला, शहर सब्जी मंडी, खंडार बस स्टैंड, हम्माल मौहल्ला, मणिहारी मौहल्ला, मिश्र मौहल्ला, राजबाग व अन्य स्थानों में पहुंच कर आमजन, दुकानदार और ग्राहकों को कोराना जागरूकता जन आंदोलन की जानकारी दी, निःशुल्क मास्क वितरित किये और दुकानों, वाहनों पर जागरूकता स्टीकर, पोस्टर चस्पा किये। टीम में शामिल आंगनबाडी कार्यकर्ताओं ने घर-घर जाकर स्क्रीनिंग भी की।
टीम के सदस्यों ने बताया कि कुछ लोग बेवजह घूमते पाये गये और इनमें से काफी ने मास्क भी नहीं लगाया हुआ था। ऐसे लोगों को ‘‘नो मास्क-नो एंट्री’’ जन आंदोलन के बारे में जानकारी दी गई तथा समझाया गया कि आप खुद की ही नहीं परिजनों की जान भी जोखिम में डाल रहे हो। कोराना संक्रमण कम नहीं हुआ है, न ही इसकी दवा या वैक्सीन आयी है। मास्क लगाने, 2 गज की दूरी बनाये रखने, भीड वाले स्थान पर न जाने , सार्वजनिक स्थान पर न थूकने से ही कोरोना से बचा जा सकता है।
शाम को आयुक्त रविन्द्र यादव ने जोन प्रभारियों के साथ अभियान की प्रगति की समीक्षा की तथा गुरूवार को आयोजित की जाने वाली गतिविधियों के सम्बंध में आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।
03:55

दोबडा खुर्द में रक्तदान शिविर 25 को TAP NEWS

सवाई माधोपुर@ रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। रक्तदाता जीवनदान ग्रुप सवाई माधोपुर एवं युवा शक्ति दोबडा खुर्द के संयुक्त तत्वावधान में दशहरे के उपलक्ष्य में विशाल स्वैच्छिक रक्तदान शिविर  25 अक्टूबर रविवार को सुबह 9 बजे से 3 बजे के बीच दोबड़ा खुर्द गांव में आयोजित किया जाएगा।
शिविर संयोजक रुपसिंह दोबडा खुर्द ने बताया शिविर को लेकर पिछले 15 दिनों से तैयारी चल रही है। कार्यकर्ता घर-घर जाकर लोगों रक्तदान के लिए प्रेरित कर रहे हैं। शिविर में 51 युनिट रक्त एकत्रित करने का लक्ष्य रखा गया है।
ग्रुप कोर्डिनेटर दीनदयाल मलारना चौड़ ने बताया कि शिविर में ब्लड डोनेशन करने वाले सभी रक्तदाताओं को टीशर्ट वितरित की जायेगी। मिडिया प्रभारी कालूराम मीना जोलन्दा ने बताया कि केम्प में कोरोना एडवायजरी की पालना सुनिश्चित की जायेगी।
03:53

बिना अनुमति सामाजिक धार्मिक राजनीतिक समारोह का आयोजन नहीं होगा tap news

सवाई माधोपुर@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। शादी और अन्तिम संस्कार के अतिरिक्त किसी भी प्रकार के सामाजिक, धार्मिक, राजनीतिक या अन्य सार्वजनिक आयोजन के लिये जिला मजिस्ट्रेट से पूर्व अनुमति लेनी होगी।
लिखित अनुमति मिलने पर आयोजित कार्यक्रम में 2 गज दूरी की पालना करनी होगी, उपस्थित प्रत्येक व्यक्ति को मास्क लगाना है, कार्यक्रम स्थल में प्रवेश से पूर्व प्रत्येक व्यक्ति की स्क्रीनिंग होगी तथा स्वच्छता, सेनिटाइजेशन के मानकों की पूर्ण पालना सुनिश्चित की जायेगी। 100 से अधिक व्यक्तियों को समारोह में उपस्थित होनी की अनुमति नहीं होगी। ये नियम सभी सामाजिक, धार्मिक एवं राजनीतिक कार्यक्रम में लागू होंगे।
इनका उल्लंघन करने पर 10 हजार रूपये जुर्माना होगा तथा आईपीसी तथा राजस्थान महामारी अधिनियम में वर्णित कानूनी कार्रवाई की जायेगी।
जिला मजिस्ट्रेट नन्नूमल पहाडिया ने बताया कि इस आदेश का उल्लंघन करने पर जुर्माना लगाने की शक्ति एसडीएम के साथ ही सम्बंधित कार्यपालक मजिस्ट्रेट, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और बीडीओ को भी प्रदान कर दी गई है।

Saturday, 17 October 2020

19:11

ट्रैक्टर ट्रॉली पलटने से 2 श्रद्धालुओं की मौत,29 श्रद्धालु हुए घायल tap news

   सवाई माधोपुर/चौथ का बरवाड़ा@ रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। वैश्विक महामारी कोरोना से उपजे दुष्परिणामों के बाद एक बार फिर नवरात्र स्थापना का पहला दिन भी सवाई माधोपुर जिले के लिए खुशी की बजाय दुख की खबर लेकर आया। से चारों और मायूसी छा गई। नवरात्र स्थापना के चलते मां के दरबार में मत्था टेकने जाते समय खुशी से लबरेज श्रद्धालुओं की खुशियां एकाएक उस वक्त मातम में बदल गई। जब श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर- ट्रॉली अनियंत्रित होकर पलट गई। ट्रॉली पलटने से जहां 2 श्रद्धालुओं की मौके पर ही मौत हो गई वहीं 29 श्रद्धालु घायल हो गए। 2 श्रद्धालुओं की मौत की अधिकारिक पुष्टि के बाद बाकी को 29 घायल श्रद्धालुओं को  जिला अस्पताल सवाई माधोपुर के लिए रैफर किया गया है। सीएमएचओ डॉ. तेजराम मीणा ने चौथ का बरवाड़ा पहुंचकर घटनास्थल का दौरा कर हालातों का जायजा लिया। और घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया।मामले की गंभीरता को देखते हुए जिला कलेक्टर नन्नूमल पहड़िया ने भी जिला अस्पताल के PMO को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए सभी घायलों के समुचित उपचार की व्यवस्था करने हेतु पाबंद किया । जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया ने दुख की इस घड़ी में सभी घायल श्रद्धालुओं के लिए जिला अस्पताल प्रशासन को उपचार के दौरान सभी तरह की दवाएं निःशुल्क किये जाने के भी दिए निर्देश प्रदान किए हैं, अगर किसी घायल श्रद्धालु को जयपुर रैफर करने की नौबत आई तो , तो जिला प्रशासन अपने स्तर पर घायल श्रद्धालुओं को उच्च स्तरीय इलाज के लिए जयपुर पहुंचायेगा। इस दौरान जिला कलेक्टर ने खुद अस्पताल जाकर  व्यवस्थाएं देखी और घायलों से रूबरू हुए, अतिरिक्त जिला कलेक्टर भवानी सिंह पंवार, उपखंड अधिकारी कपिल शर्मा जिला अस्पताल में चिकित्सकीय व्यवस्थाओं पर लगातार नजर रखे हुए हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार नवरात्रि के प्रथम दिवस के शुभ अवसर पर बारां जिले के अंता क्षेत्र से तकरीबन तीन दर्जन श्रद्धालु ट्रैक्टर- ट्रॉली में सवार होकर चौथ माता के दर्शनार्थ सवाई माधोपुर जिले में स्थित चौथ का बरवाड़ा कस्बे में  आ रहे थे। अचानक से ट्रैक्टर- ट्रॉली अनियंत्रित होकर पलट गई। जिसके चलते ट्रॉली में सवार सभी श्रद्धालु ट्रॉली के नीचे दब गए। एक बारगी  चारों तरफ कोहराम मच गया। ग्रामीणों की सहायता से घायलों को सुरक्षित निकाला गया। सूचना के बाद पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर घायलों को अस्पताल पहुंचाया। 29 घायलों में 15 की हालत अभी भी गंभीर बताई जा रही है।और दो जनों की मौत की पुष्टि प्रशासन कर चुका है।उक्त घटना से माता के दरबार में हाजिरी लगाने वाले हजारों श्रद्धालुओं में शोक की लहर दौड़ गई। मृतक व घायल परिवारों में जहां मातम सा पसर गया। वहीं गंभीर घटना घटने से भक्ति में वातावरण में खलल उत्पन्न हो गया।
19:09

पीलूपुरा अड्डा में आयोजित गुर्जर आरक्षण आक्रोश महापंचायत में गंगापुर क्षेत्र से सैकड़ो की संख्या में गुर्जर समाज के लोगों ने लिया भाग

सवाई माधोपुर/ गंगापुर सिटी @रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। गुर्जर आरक्षण को लेकर पीलूपुरा के अड्डा गांव मे शनिवार को गुर्जर आरक्षण आक्रोश महापंचायत हुई ।इस महापंचायत में आरक्षण संघर्ष समिति के कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला सहित हजारों की संख्या में राजस्थान के कोने कोने से गुर्जर समाज के लोग शामिल हुए ।
इस महापंचायत में गुर्जर समाज ने अपनी ताकत दिखाने के लिए भारी भीड़ जुटाई।समाज के प्रथम पंक्ति के लोगों की मौजुदगी में आंदोलन की रूपरेखा तय की गई।जिसमें राज्य की गहलोत सरकार को 13 दिन का अल्टीमेटम दिया गया।अगर निश्चित समयावधि में मांगे नहीं मानी गई तो 1 नवंबर को पुनः अड्डा पीलूपुरा में महापंचायत होंगी।1 नवंबर को गुर्जर आंदोलन की शुरुआत होंगी।
अखिल भारतीय युवा गुर्जर महासभा के जिला अध्यक्ष मनोज कुमार गुर्जर कुनकटा ने बताया कि एमबीसी वर्ग की पांच अत्ति पिछड़ी जातियां करीब 15 वर्षों से अन्य समाजो की तरह शिक्षा और रोजगार की मुख्यधारा में आने के लिये आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलित है कई आंदोलन किये है आंदोलनों में काफी जंन और धन का नुकसान भी झेला है 73 कलेजे के टुकडे शहीद भी हुये है मगर सरकारों की हठधर्मिता से हमे आजतक भी सम्पूर्ण आरक्षण नही मिल पाया है, 2018 के विधान सभा चुनाव के चुनाव घोंषणा पत्र में कांग्रेस पार्टी के जनघोषणा पत्र में जो वादा किया था वो पूरा करे,राज्य सरकार द्वारा  2011 में किये समझौते के तहत सभी भर्तियों में 4% रिज़र्व रखे गए पदों का बैकलॉग देने का मौखिक और लिखित वादा भी किया गया था, आखरी बार मलारना रेल रोको आंदोलन हुआ था काफी दिन बाद सरकार झुकी और संघर्ष समिति और मंत्रिमण्डलीय समिति के मध्य सभी नई और पुरानी भर्तियों में बैकलॉग और नियुक्ति प्रक्रिया की भर्तियों में युवाओं को नियुक्ति देने का समझौता 13.02.2019 को हुआ वो सरकार लागू करे ।अन्यथा गुर्जर समाज 1 नवंबर को आंदोलन की शुरुआत करेंगा।
गुर्जर समाज ने अपनी प्रमुख मांगे प्रक्रियाधीन भर्ती व बैकलॉग 35 हजार नियुक्तियां,तीन शहीदों को मुआवजा व नौकरी,मलारना आंदोलन समझौते की पालना,मुकदमे वापसी,1252 का नियमतिकरण,देवनारायण योजना सहित समाज की प्रमुख मांगो को पूरी करने के लिए सरकार को 13 दिन का समय दिया है।अगर सरकार ने समाज की मांगों को नही मानी,मांगो का समाधान नहीं किया तो समाज आंदोलन को उतरेगा।
इस दौरान आरक्षण संघर्ष समिति सदस्य,गुर्जर नेता रामकेश छंगा, अखिल भारतीय युवा गुर्जर महासभा जिला अध्यक्ष मनोज कुमार गुर्जर कुनकटा,श्रीमोहर पटेल आस्ट्रोली,युवा नेता नवल दनगस,पूर्व सरपंच कप्तान रेंडायल,नरेंद्र हरसाना,सतवीर गुर्जर,वीरेन्द्र धावाई,एडवोकेट राजेश गुर्जर, एस.पी.बरियारा,पिन्टू चेची, राकेश चेची,राजेश बैंसला, सहित सैकड़ों की संख्या में भाग लेने पहुंचे।
19:05

नाबालिग दुष्कर्म मामला:10वें आरोपी वसीम पर पुलिस ने कसा शिकंजा

सवाई माधोपुर @ रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। सवाई माधोपुर जिले से जुड़े हुए बहुचर्चित नाबालिग दुष्कर्म मामले में शनिवार को पुलिस को एक और कामयाबी हासिल हुई। आज सवाई माधोपुर पुलिस द्वारा 10वें आरोपी वसीम को  गिरफ्तार किया गया। सूरवाल निवासी वसीम खान  कब्रिस्तान के पास मछली की दुकान चलाता है। आरोपी वसीम खान ने बजरिया स्थित भारत गेस्ट हाउस में पीड़िता के साथ दुष्कर्म किया था।वसीम को मुख्य आरोपी हीरालाल का परिचित बताया जा रहा है। मुख्य आरोपी गेस्ट हाउस तक पीड़िता को वसीम के पास छोड़ने गया था, आज CID CB की विशेष टीम ने वसीम को बापर्दा कर गिरफ्तार किया। विशेष जांच टीम के सदस्य ओमप्रकाश सोलंकी ने  जानकरी देते हुए बताया कि एसपी अनिल कयाल के सुपरविजन में CID CB की टीम नाबालिक दुष्कर्म मामले में अनुसंधान कर रही है। अभी भी कई राज खुलने बाकी हैं।