Tap news india

Hindi news ,today news,local news in india

Breaking news

गूगल सर्च इंजन

Sunday, 31 May 2020

19:24

विधायक के नेतृत्व में गंगापुर सिटी विकास समिति की ओर से कोरोना योद्धा पुलिस कर्मियों का सम्मान

सवाई माधोपुर/गंगापुर सिटी@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा।  जिले के गंगापुर सिटी उपखंड मुख्यालय पर रविवार को स्थानीय विधायक के नेतृत्व में गंगापुर सेवा समिति द्वारा थाना पीलौदा व थाना वजीरपुर सहित विधानसभा क्षेत्र व जिले की सीमा मैड़ी पर तैनात कोरोना योद्धा एवं पुलिस के अधिकारीयों व समस्त स्टाफ का स्वागत-सत्कार किया गया। विधायक रामकेश मीना ने ट्रॉली बैग, गमछा, मास्क व सेनेटाइजर भेंट कर तथू पुष्प वर्षा कर कोरोना फाइटर्स का बखुबी सम्मान कर उनकी हौसला-अफजाई भी की।
विधायक रामकेश मीना ने कहा कि करीब 68 दिन से इस कोरोना माहमारी के समय लगे देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान रात-दिन अपनी ड्यूटी कर रहे कोरोना योद्धाओं का हृदय से धन्यवाद है। पुलिस प्रशासन अपने परिवार से अलग रहकर लॉकडाउन की पालना कराते रहे। लॉकडाउन के दौरान बहुत ही कठिन परिस्थितियों में शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में पुलिस प्रशासन ने माकूल व्यवस्था बनाये रखी एवं आमजन में भी पुलिस प्रशासन ने विश्वास बनाए रखा और आमजन को समय-समय पर सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन कराते हुए कानून व्यवस्था बनाये रखी। आम जन को किसी भी तरह की परेशानी नहीं आने दी। पुलिस प्रशासन के सहयोग से ही कोरोना माहमारी गंगापुर क्षेत्र में ज्यादा पैर नहीं पसार पाई। इस कोरोना बीमारी से लोगों को बचाने के लिए पुलिस प्रशासन ने अपनी जान की परवाह न करते हुए सभी जगहों पर लोगों को लॉकडाउन का बखूबी पालन कराया और क्षेत्र में किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना न होने दी। क्षेत्र में जीरो मोबिलिटी कफ्र्यू के दौरान जब लोग दिन-और रात में अपने घरों में रहे तब भी पुलिस द्वारा परिवार से दूर रहकर, इस कोरोना माहमारी में गंगापुर सिटी क्षेत्र में पूरी मुस्तैदी से सेवा कार्य करके ऐतिहासिक कार्य किया है उसके लिए पूरे गंगापुर की आम जनता पुलिस प्रशासन की आभारी है एवं समस्त पुलिस प्रशासन को धन्यवाद देते हैं।
इस दौरान पीलौदा थाने पर थाना इंचार्ज राकेश यादव ने विधायक रामकेश मीना को थाना पीलौदा में भवन के अभाव से अवगत कराकर कहा कि थाना भवन में जो बैरक बनी हुई है वह आधी-अधूरी है, पर्याप्त बैरक की व्यवस्था नहीं है। थाने में फर्नीचर का अभाव है। इस पर विधायक रामकेश मीना ने तत्काल थानाधिकारी को एस्टीमेट बनाकर देने को कहा जिससे विधायक कोटे से राशि स्वीकृत कराकर सभी कार्य पूर्ण कराये जाएंगे। साथ ही गंगापुर सेवा समिति के सहयोग से सेवा समिति के अध्यक्ष विधायक मीना ने सलाह-मशविरा करके 1 लाख रुपए सेवा समिति की ओर से पीलौदा थाने की सुविधा हेतु फर्नीचर खरीदने के लिए दिए। थाना पीलौदा में पीने की पानी की समस्या से थानाधिकारी ने अवगत कराया, जिस पर विधायक मीना ने तत्काल एक्सईएन पीएचडी रामकेश मीना को निर्देश देते हुए थाने में पीने के पानी की उचित व्यवस्था कराने के निर्देश दिए, जिससे थाने में आने वाले फरियादी व पुलिस स्टाफ को पीने का पानी उपलब्ध हो सके।
साथ में अतिरिक्त जिला कलेक्टर नवरत्न कोली, उपजिला कलेक्टर विजेन्द्र मीना, एएसपी हिमांशु शर्मा, तहसीलदार वजीरपुर महेन्द्र मीना, एक्सईएन पीएचडी रामकेश मीना, पीलौदा थानाधिकारी राकेश यादव, थानाधिकारी वजीरपुर शक्तिसिंह, पुलिस के समस्त स्टॉफ, बीसीओ महेश मीना, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी देहात अध्यक्ष मुकेश शर्मा, ओमप्रकाश धर्मकांटा, हनुमान लोहे वाले, विजय ठाकुरिया, कैलाश मीना (रिटायर आई.बी.), वैद्य कालूराम मीना, मैड़ी सरपंच हरि मीना, रामहरि मीना, रामदयाल गुप्ता, अदील अहमद, डॉ. अखलाक, मुबीन ठेकेदार, शिम्भूदयाल गुप्ता एवं गांवों के पंच-पटेल उपस्थित थे।
19:22

सरकार की नीतियों के खिलाफ रेल कर्मचारियों में बढ़ता आक्रोश।

सवाई माधोपुर/गंगापुर  सिटी@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। केंद्र सरकार की मजदूर विरोधी नीतियों के कारण रेल कर्मचारियों में नाराजगी बढ़ती जा रही है। केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी के नाम पर रेल कर्मचारियों का महंगाई भत्ता डेढ़ साल के लिए फ्रीज कर दिया और कई प्रकार के भक्तों पर भी काट छांट करने की योजना बनाई जा रही है, इसके खिलाफ ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के आह्वान पर उसकी संलग्न यूनियनों द्वारा अखिल भारतीय स्तर पर 1 जून से 6 जून तक रेलकर्मी जन जागरण अभियान चलाया जा रहा है ।
वेस्ट सेंट्रल रेलवे एंप्लाइज यूनियन के मंडल उपाध्यक्ष नरेंद्र जैन और मंडल सह सचिव श्रीप्रकाश शर्मा ने आज यूनियन कार्यालय में 1 जून से बनाई जाने वाली रेल कर्मी जन जागरण सत्ता की तैयारियों के बारे में हमने पदाधिकारियों के साथ चर्चा की एवं सरकार की नीतियों के विरोध में सभी कार्यालयों सभी कार्य स्थलों रेलवे स्टेशनों पर 1 जून से 6 जून के बीच केंद्र सरकार के खिलाफ लॉकडाउन हटने के बाद आर-पार के संघर्ष करने के बारे में संकल्प-पत्रों पर हस्ताक्षर करवाने का निर्णय लिया गया। यूनियन के मंडल सह सचिव श्रीप्रकाश शर्मा ने बताया रेलवे स्टेशन पर, लॉबी पर इस दौरान रोजाना हस्ताक्षर अभियान चलाया जाएगा। कैरियर व इंजीनियरिंग शाखा के नेतृत्व में सभी विभागों में व स्टेशनों पर तैनात कर्मचारियों से चर्चा कर संकल्प पत्र पर हस्ताक्षर करवाए जाएंगे।
19:20

सेवार्थी ब्रिगेड की ओर से कोरोना योद्धा पुलिसकर्मियों का अभिनंदन।

     सवाई माधोपुर@ रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। एक और जहां कोरोना महामारी की ताकत दिनों दिन बढ़ती जा रही है, वहीं इस जग में कोरोना योद्धा की भूमिका अदा कर रहे हमारे प्रशासनिक अधिकारी, पुलिसकर्मी चिकित्सा कर्मी, हेल्थ वर्कर, सफाई कर्मी, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं शिक्षक समुदाय भी अपनी जिम्मेदारी को बेहतर ढंग से निभा रहे हैं। तो समुदाय के आम लोग भी इन विपरीत परिस्थितियों में कोरोना वारियर्स का मनोबल बनाए रखने में अपने महत्वपूर्ण भूमिका अदा करने में कहीं पीछे नहीं हैं। समुदाय के लोग नित्य- प्रतिदिन मान- सम्मान कर उनकी हौंसला - अफजाई में लगे हुए हैं, ताकि वे सभी योद्धा दुगुने जोश के साथ कोरोना से जंग से जंग में दो-दो हाथ कर सके। इसी क्रम में सेवार्थी ब्रिगेड सवाई माधोपुर द्वारा कोरोना वारियर्स पुलिस जवानों का स्वागत-अभिनंदन किया गया, संस्था के संस्थापक हरी बाबू ने बताया कि रविवार को शहर पुलिस चौकी पर तैनात इंचार्ज अब्दुल खालिद सहित अन्य पुलिसकर्मियों का साफा पहनाकर एवं माल्यार्पण कर उनकी कर्तव्यनिष्ठ सेवाओं के लिए सम्मान किया गया। संस्थापक हरिबाबू के अलावा राजेश गोयल पार्षद, के. के. शर्मा, प्रेम प्रकाश कुमावत, जीतू कुमावत गोवर्धन सोनी एवं पवन कुमावत आदि सेवार्थी ब्रिगेड के सदस्य शामिल इस मुहिम में शामिल थे।
19:18

बौंली क्षेत्रांतर्गत गुर्जर समाज ने समाज के शहीदों को नमन कर दी भावभीनी श्रद्धांजलि।



सवाई माधोपुर/बौंली @रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा।उपखंड क्षेत्र के रवासा,डिडवाडी व राठौद गांव में रविवार को गुर्जर आरक्षण आंदोलन के दौरान शहीद हुए समाज के 4 युवाओं की याद में तीनों गांवों में शहीदों के घर पर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन रखा गया ।श्रद्धांजलि सभा में उपस्थित समाज के लोगों ने आरक्षण आंदोलन के दौरान अपने प्राणों की आहुति देने वाले समाज के 4 युवाओं को श्रद्धांजलि अर्पित कर उनकी याद में 2 मिनट का मौन रखा गया। इस मौके पर समाज के प्रबुद्ध जनों ने आरक्षण आंदोलन में शहीद हुए रवासा गांव के मौजी राम गुर्जर व दयाराम गुर्जर ,राठौद निवासी पुखराज गुर्जर व डिडवाड़ी निवासी मुरारी लाल गुर्जर के आरक्षण आंदोलन में पूर्ण सहयोग व अदम्य साहस की सराहना कर भूरी- भूरी प्रशंसा की। इस मौके पर उपस्थित समाज बंधुओं ने उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की। श्रद्धांजलि सभा के दौरान अपने लाड़लो की याद में भावुक हुए शहीद परिजनों की आंखों से आंसू छलक पड़े। उपस्थित समाज के बंधुओं ने शहीदों के परिजनों को ढांढस बंधा उनकी हौंसला अफजाई की ।गौरतलब है कि आज से 13 वर्ष पूर्व गुर्जर आरक्षण आंदोलन की लपटें जब उपखंड क्षेत्र में पहुंची तो 31 मई 2007 के दिन आरक्षण आंदोलन के उग्र होने पर क्षेत्र के गुर्जर समाज के युवाओं ने भी बढ़-चढ़कर भाग लिया था । इस दौरान पुलिस फायरिंग व लाठी भाटा जंग में क्षेत्र के गुर्जर समाज के चार युवा शहीद हो गए थे । इन चारों युवाओं की याद में प्रतिवर्ष गुर्जर समाज के लोग श्रद्धांजलि सभा का आयोजन करते है। विगत दिवस 31मई को फिर गुर्जर आरक्षण आंदोलन के शहीदों की याद ताजा होने पर समाज के लोगों ने रवासा,डिडवाडी व राठौद में श्रद्धांजलि सभा आयोजित कर शहीदों को पुष्पांजलि अर्पित की।
19:15

पूर्व संसदीय सचिव ने जिले में क्वारेन्टाईन सेंटरों पर पेयजल व भोजन से जुड़ी अव्यवस्थाओं को लेकर जताया रोष।


सवाई माधोपुर@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। पूर्व संसदीय सचिव जितेंद्र गोठवाल ने जिले के क्वारन्टाइन सेंन्टरो पर मरीजों के लिए पेयजल व भोजन व्यवस्था में व्याप्त खामीयों को उजागर करते हुए प्रशासन से पेयजल व भोजन व्यवस्था का उचित प्रबंधन करवाने की मांग की है। गोठवाल ने क्वॉरेंटाइन सेंटर पर सुलभ भोजन नहीं होने के आरोप लगाते हुए लोक डाउन के चलते केंद्र सरकार द्वारा पर्याप्त बजट देने के बावजूद भी राज्य सरकार पर बजट का सही इस्तेमाल नहीं कर राशि के दुरुपयोग का आरोप लगाया गया है।  पूर्व संसदीय सचिव ने बताया कि जिले में संचालित कई क्वॉरेंटाइन सेंटरों पर अभी भी मरीजों को उनके घर से भोजन भिजवाया जाता है एवं अन्य सुविधाएं घर के माध्यम से संचालित हो रही है। विशेषकर खंडार विधानसभा क्षेत्र के शिवाड़ एवं चौथ का बरवाड़ा के कई सेंटरों पर कोरोना मरीजों के लिए भोजन की उचित व्यवस्था तक नहीं है। जबकि सरकार द्वारा मरीजों के लिए भोजन पानी अन्य सभी खर्चों के लिए प्रशासन को निर्धारित राशि में बजट उपलब्ध कराया गया है। लेकिन मरीज सरकार द्वारा प्राप्त सुविधाओं संबंधित अधिकारी की लापरवाही की वजह से सही से लाभ नहीं ले पा रहें है। संसदीय सचिव  गोठवाल ने इस संबंध में जिला कलेक्टर  व सीएमएचओ से भी बातचीत  की और कोरोना मरीजों के लिए क्वॉरेंटाइन सेंटरों पर पूर्ण व्यवस्था कराने की पुरजोर मांग उठाई।
19:13

क्लब की प्रांतीय कार्यकारिणी को लॉयन्स क्लब गरिमा की ओर से बधाई प्रेषित

सवाई माधोपुर/गंगापुर सिटी@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। जिले के गंगापुर सिटी उपखंड मुख्यालय पर लॉयन्स क्लब गरिमा गंगापुर सिटी के अध्यक्ष कृष्ण कुमार गोयल (कुबेर मेडिकल) की अध्यक्षता में हुई बोर्ड मीटिंग में सचिव मनीष अग्रवाल (सागवान), कोषाध्यक्ष मयंक अग्रवाल सहित उपस्थित सभी सदस्यों ने हाल हुए चुनाव में चयनित सभी प्रांतीय पदाधिकारियों को उनके मनोनयन पर खुशी व्यक्त करते हुए बधाई दी ।
लॉयन्स क्लब प्रान्तपाल लॉयन आलोक अग्रवाल, सह प्रान्तपाल प्रथम लॉयन सुनील गोयल, सह प्रान्तपाल द्वितीय लॉयन रोशन सेठी, गंगापुर सिटी लॉयन्स क्लब से लॉयन दिनेश सिंहल पत्रकार को एडिशनल केबिनेट सैकेट्री बनाए जाने पर लॉयन्स क्लब गरिमा गंगापुर सिटी ने हार्दिक बधाई प्रेषित की है।
लॉयन्स क्लब गरिमा अध्यक्ष कृष्ण कुमार गोयल ने कहा कि नवीन गठित प्रांतीय कार्यकारिणी से प्रांत के सभी क्लब नई ऊंचाईयों को प्राप्त करेंगे।
वीडियो कांफ्रेंस के जरिए हुई बोर्ड मीटिंग में जोन चेयरपर्सन लॉयन आशीष शर्मा, चार्टर अध्यक्ष लॉयन सौरभ बरडिया, लॉयन मुकेश राजाराम मीना, लॉयन पुरुषोत्तम अग्रवाल, लॉयन योगेश वीवो, लॉयन विमल अग्रवाल, लॉयन सचिन बंसल, लॉयन सोमव्रत, लॉयन ओम अग्रवाल, लॉयन लक्ष्मीनारायण, लॉयन के. के. मित्तल, लॉयन गोविन्द बंसल, लॉयन पंकज जैन, लॉयन राहुल नरूका, लॉयन विनोद कुमार गुप्ता, लॉयन डॉ. मानव जैन, लॉयन नितिन अग्रवाल, करौली लॉयन्स क्लब अध्यक्ष नीतेश गोयनका सहित अनेक सदस्य मौजूद थे।
19:04

अमेरिकी सांसद बोले- संपन्न, ताकतवर और लोकतांत्रिक भारत ही चीन के गलत मंसूबों को नाकाम करेगा-के सी शर्मा

हकीकत का आईंना


विशेषज्ञों ने कहा कि अमेरिका को भारत की विकास दर को बढ़ाने में मदद करनी चाहिए।
 चीन के साथ शुरू हो रहे नए शीत युद्ध में भारत, अमेरिका का नेचुरल सहयोगी है। 
 "संपन्न, ताकतवर और लोकतांत्रिक भारत ही चीन के गलत मंसूबों को नाकाम करेगा।" चीन और अमेरिका में मौजूदा दौर में तनाव बहुत बढ़ा हुआ है।
 दोनों देशों में कोरोनावायरस, हॉन्गकॉन्ग में नया सुरक्षा कानून और दक्षिण चीन सागर जैसे मुद्दों को लेकर टकराव बढ़ गया है।

 टेक्सास से रिपब्लिकन सीनेटर जॉन कॉर्निन ने गुरुवार को ट्वीट किया।
 इसके साथ ही उन्होंने वॉल स्ट्रीट जर्नल में विदेश मामलों के जानकार वॉल्टर रसेल मीड के एक लेख को शेयर किया, इसमें कहा गया है कि अमेरिका को भारत की विकास दर को उठाने में मदद करनी चाहिए। यह अमेरिका की विदेश नीति का पहला लक्ष्य होना चाहिए।

 भारत हमारा नेचुरल सहयोगी :-

रसेल मीड लिखा, ‘‘अमेरिका ने लोकतांत्रिक देशों को अमीर बनाने में मदद करके शीत युद्ध में जीत हासिल की थी। अब उसी रणनीति को दोबारा से शुरू करने का समय है और भारत वह जगह है, जहां से इसकी शुरुआत होनी चाहिए।’’ मीड ने कहा कि चीन के साथ नए शीत युद्ध में भारत, अमेरिका का नेचुरल सहयोगी है।

 भारतीय इकोनॉमी को तेज धक्के की जरूरत :-

मीड ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी पार्टी बीजेपी जब तक भारत की इकोनॉमी को तेज धक्का नहीं लगातीं, तब तक विकास दर स्थिर रहेगी। ऐसे में यह हर साल एक नियत दर से बढ़ेगी, जिससे भारत चीन से बहुत पीछे हो जाएगा। यह भारत और एशिया दोनों के लिए अच्छा नहीं होगा। भारत में अगर विकास दर तेजी से बढ़ेगी तो कई लोग गरीबी से बाहर निकलेंगे, लेकिन भारतीय समाज शासन के लिहाज से बहुत कठिन है। वहां सुधारों को लागू करने में बहुत कठिनाई होती है।

 कोरोना की आड़ में चीन अपना एजेंडा बढ़ा रहा :-

चीन कोरोना महामारी की आड़ में भारत, ताइवान, हॉन्गकॉन्ग और साउथ
 चाइना सी (दक्षिण चीन सागर) पर अपने एजेंडे को आगे बढ़ा रहा है। इन जगहों से चीन का लंबे समय से विवाद है। वॉल स्ट्रीट जर्नल ने इस पर विश्लेषण किया है। 
इसमें विशेषज्ञों ने कहा है कि कोरोना के इस दौर में जहां अमेरिका, लैटिन अमेरिका और यूरोप संक्रमण से जूझ रहे हैं, वहीं, चीन अपने एजेंडे में आगे बढ़ रहा है। जिन मुद्दों पर चीन को तमाम देशों से विरोध का सामना करना पड़ता है, उन्हें वह कोरोना की आड़ में हल करना चाहता है।
19:00

जानिए,भगवान शिव के चमत्कारों से भरे ये स्थान, जिन्हें देखकर आप भी रह जाएंगे हैरान - के सी शर्मा




भगवान भोलेनाथ के मंदिर..

भगवान शिव के मंदिरों में चमत्कार की घटनाओं के बारे में कई बार आपने भी सुना होगा। सनातन धर्म के प्रमुख देवों में से एक भगवान शंकर को संहार का देव माना जाता है। ऐसे में देश में कई जगह भगवान भोलेनाथ के मंदिर हैं। जिनमें होने वाली कुछ खास घटनाएं ( परिवर्तन ) हमेशा ही लोगों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं। ऐसे में आज हम आपको कुछ खास महादेव के मंदिरों के बारें में बता रहे हैं, जो आने वाले श्रद्धालुओं को भी आश्चर्य में डाल देते हैं।

स्तंभेश्वर महादेव मंदिर :-

यह मंदिर अरब सागर के बीच कैम्बे तट पर स्थित है। 150 पहले खोजे गए इस मंदिर का उल्लेख महाशिवपुराण के रुद्रसंहिता में मिलता है। इस मंदिर के शिवलिंग का आकार चार फुट ऊंचा और दो फुट के व्यास वाला है।स्तंभेश्वर महादेव का यह मंदिर सुबह और शाम दिन में दो बार पलभर के लिए गायब हो जाता है। और कुछ देर बाद उसी जगह पर वापस भी आ जाता है। जिसका कारण अरब सागर में उठाने वाले ज्वार-और भांटा को बताया जाता है।

जिस कारण श्रद्धालु मंदिर के शिवलिंग का दर्शन तभी कर सकते हैं जब समुद्र की लहरें पूरी तरह शांत हो। ज्वार के समय शिवलिंग पूरी तरह से जलमग्न हो जाता है। यह प्रक्रिया प्राचीन समय से ही चली आ रही है।

यहां आने वाले सभी श्रद्धालु को एक खास पर्चे बांटे जाते हैं। जिनमे ज्वार-भांटा आने का समय लिखा होता है। ऐसा इसलिए किया जाता है ताकि यहां आनेवाले श्रद्धालुओं को परेशानी का सामना ना करना पड़े।

इसके अलावे इस मदिर से एक पौराणिक कथा भी जुडी हुई है। कथा केअनुसार राक्षस तारकासुर ने भगवान शिव की कठोर तपस्या की। एक दिन शिव जी तपस्या से प्रसन्न होकर प्रकट हुए और वरदान मांगने को कहा। उसके बाद वरदान के रूप में तारकासुर ने शिव से मांगा की उसे सिर्फ शिवजी का पुत्र ही मार सकेगा। और वह भी छह दिन की आयु का।शिव जी ने यह वरदान तारकासुर को दे दिया और अंतर्ध्यान हो गए।

इधर वरदान मिलते ही तारकासुर तीनो लोक में हाहाकार मचने लगा। जिससे डरकर सभी देवता गण शिव जी के पास गए। देवताओं की आग्रह पर शिव जी ने उसी समय अपनी शक्ति से श्वेत पर्वत कुंड से छह मस्तक,चार आंख और बारह हाथ वाले एक पुत्र को उत्पन्न किया।जिसका नाम कार्तिकेय रखा गया।

जिसके पश्चात् कार्तिकेय ने छह दिन की उम्र में तारकासुर का वध किया। लेकिन जब कार्तिकेय को पता चला की तारकासुर भगवान शंकर का भक्त था तो वो काफी व्यथित हो गए। फिर भगवान विष्णु ने कार्तिकेय से कहा की उस स्थान पर एक शिवालय बनवा दें। इससे उनका मन शांत होगा। भगवान कार्तिकेय ने ऐसा ही किया। फिर सभी देवताओं ने मिलकर वहीँ सागर संगम तीर्थ पर विश्वनंद स्तम्भ की स्थापना की जिसे आज स्तंभेश्वर तीर्थ के नाम से जाना जाता है।

निष्कलंक महादेव :-

यह मंदिर गुजरात के भावनगर में कोल्याक तट से तीन किलोमीटर अंदर अरब सागर में स्थिर है। रोज अरब सागर की लहरें यहाँ के शिवलिंगो का जलाभिषेक करती है। लोग पैदल चलकर ही इस मंदिर में दर्शन करने जाते हैं। इसके लिए उन्हें ज्वार उतरने का इंतजार करना पड़ता है।

ज्वार के समय सिर्फ मंदिर का खम्भा और पताका ही नजर आता है।जिसे देखकर ये अंदाजा भी नहीं लगा सकता की समुन्द्र में पानी के निचे भगवान महादेव का प्राचीन मंदिर भी है।यह मंदिर महाभारत कालीन बताई जाती है। ऐसा मान जाता है की महाभारत युद्ध में पांडवों ने कौरवों का वध कर युद्ध जीता। पर युद्ध समाप्ति के बाद पांडवों को ज्ञात हुआ की उसने अपने ही सगे सम्बन्धियों के हत्या कर महापाप किया है।

इस महापाप से छुटकारा पाने के लिए पांडव भगवान श्री कृष्ण के पास गए। जहां श्री कृष्ण ने पांडवों को पाप से मुक्ति के लिए एक काला ध्वजा और एक काली गाय सौंपी। और पांडवों को गाय का अनुसरण करने को कहा। और कहा की जब गाय और ध्वजे का रंग काले से सफ़ेद हो जाये तो समझ लेना की तुम सबको पाप से मुक्ति मिल गयी है।

साथ ही श्री कृष्ण ने पांडवों से यह भी कहा की जिस जगह ये चमत्कार होगा वहीं पर तुम भगवान शिव की तपस्या भी करना। पांचों भाई भगवान श्री कृष्ण के कहे अनुसार काली ध्वजा हाथ में लिए काली गाय पीछे-पीछे चलने लगे। इसी क्रम में वो सब कई दिनी तक अलग अलग जगह पर गए। लेकिन गाय और ध्वजा का रंग नहीं बदला।

पर जब वो वर्तमान गुजरात में स्थित कोलियाक तट पर पहुंचे तो गाय और ध्वजा का रंग सफ़ेद हो गया। इससे पांचों पांडव भाई बड़े खुश हुए। और वहीं पर भगवान शिव का ध्यान करते हुए तपस्या करने लगे। भगवान भोलेनाथ उनके तपस्या से खुश हुए और पांचों पांडव को लिंग-रूप में अलग -अलग दर्शन दिए।

वही पांचो शिवलिंग अभी भी वहीं स्थित है। पांचों शिवलिंग के सामने नंदी की प्रतिमा भी है। पांचों शिवलिंग एक वर्गाकार चबूतरे पर बने हुए हैं। तथा ये कोलियाक समुद्र तट से पूर्व की ओर तीन किलोमीटर अंदर अरब सागर में स्थित है। इस चबूतरे पर एक छोटा सा पानी का तालाब भी है जिसे पांडव तालाब कहते हैं।

श्रद्धालु पहले उसमे अपने हाथ पांव धोते हैं और फिर शिवलिंगों की पूजा अर्चना करते हैं। चूंकि यहां पर आकर पांडवों को अपने भाइयों की हत्या की कलंक से मुक्ति मिली थी इसलिए इसे निष्कलंक महादेव कहते हैं। भादव के महीने में अमावश को यहाँ मेला लगता है जिसे भाद्रवी कहा जाता है।

प्रत्येक अमावस के दिन यहां भक्तों की विशेष भीड़ रहती है। लोगों की ऐसी मान्यता है की यदि हम प्रियजनों की चिता की आग शिवलिंग पर लगाकर जल में प्रवाहित कर दें तो उनको मोक्ष मिल जाता है। मंदिर में भगवान शिव को राख,दूध-दही और नारियल चढ़ाये जाते हैं।सालाना प्रमुख मेला भाद्रवी भावनगर के महाराजा के वंशज के द्वारा मंदिर की पताका फहराने से शुरू होता है। और फिर यही पताका मंदिर पर अगले एक साल तक फहराती है।

अचलेश्वर महादेव मंदिर :-

अचलेश्वर नाम से भारत में महादेव के कई मंदिर हैं। लेकिन राजस्थान के धौलपुर में स्थित अचलेश्वर महादेव मंदिर बांकी सभी मंदिरों से अलग है। यह मंदिर राजस्थान और मध्यप्रदेश की सीमा पर स्थित है। जो चम्बल और बीहड़ों के लिए प्रसिद्ध है। भगवान अचलेश्वर महादेव का यह मंदिर इन्ही दुर्गम बीहड़ों के बिच स्थित है।

इस मंदिर का शिवलिंग जो दिन में तीन बार रंग बदलता है। सुबह में शिवलिंग का रंग लाल होता है,दोपहर में केसरिया और जैसे जैसे शाम होती है शिवलिंग का रंग सांवला हो जाता है।इन रंगों के बदलाव के रहस्य को कोई नहीं जनता। अचलेश्वर महादेव का यह मंदिर भी काफी प्राचीन है। चुकी मंदिर का यह इलाका डाकुओ के प्रसिद्ध था जिस वजह से यहां कम श्रद्धालु आते थे।

काम श्रद्धालु आते थे। साथ यहां तक पहुंचाने का रास्ता बहुत ही पथरीला और उबड़-खाबड़ था। पर जैसे जैसे भगवान के बारे में लोग जानने लगे यहां पर भक्तों की भीड़ जुटने लगी। इस शिवलिंग की एक और अनोखी बात यह है की इस शिवलिंग के छोर का आज तक पता नहीं चला है।

कहते हैं बहुत समय पहले एक बार भक्तों ने शिवलिंग की गहराई को जानने के लिए इसकी खुदाई की पर काफी गहराई तक खोदने के बाद भी इसके छोर का पता नहीं चला। अंत में भक्तों ने इसे भगवान का चमत्कार मानते हुए खुदाई बंद कर दी। भक्तों का मानना है की भगवान अचलेश्वर महादेव भक्तों की सभी मनोकामना पूरा करते हैं।

लक्ष्मेश्वर महादेव मंदिर :-

ऐसा माना जाता है की इस मंदिर की स्थापना भगवान राम ने खड़ और दूषण के वध के पश्चात् अपने भाई लक्ष्मण के कहने पर की थी। लक्ष्मेश्वर महादेव मंदिर के गर्भ गृह में एक शिवलिंग है जिसकी स्थापना स्वंय लक्ष्मण ने की थी। इस शिवलिंग में एक लाख छिद्र हैं। इसलिए इसे लक्ष-लिंग भी कहा जाता है।

इस लाख छिद्रों में से एक छिद्र ऐसा है जो की पाताल गामी है। क्यूंकि उसमे जितना भी जल डालो वह सब उसमे समां जाता है। लेकिन एक छिद्र अक्षय कुंड है क्यूंकि उसमे जल हमेशा ही भरा रहता है। लक्ष-लिंग पर चढ़ाया गया जल मंदिर के पीछे कुंड में भी चले जाने की मान्यता है। क्यूंकि कुंड कभी सूखता नहीं। लक्ष-लिंग जमीन से करीब 30 फिट ऊपर है और इसे स्वयंभू-लिंग भी माना जाता है।

बिजली महादेव मंदिर :-

भगवान शिव के अनेकों अद्भुत मंदिरों में से एक है हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में स्थित बजली महादेव मंदिर। कुल्लू का पूरा इतिहास बिजली से जुड़ा हुआ है। कुल्लू शहर में व्यास और पार्वती नदी के संगम के पास एक ऊंचे पर्वत पर बिजली महादेव का प्राचीन मंदिर है।

पूरी कुल्लू घाटी में ऐसी मान्यता है कि ये घाटी ही एक विशालकाय सांप का रूप है। इस सांप का वध भगवान शिव ने किया था। जिस स्थान पर मंदिर है वहां शिवलिंग पर हर बारह वर्ष बाद आकाश से भयानक बिजली गिरती है। बिजली गिरने से मंदिर का शिवलिंग खंडित हो जाता है। यहाँ के पुजारी खंडित शिवलिंग के टुकड़े को एकत्रित कर मख्खन के साथ इसे जोड़ देते हैं। कुछ समय बाद ही शिवलिंग ठोस रूप में परवर्तित हो जाता है।
18:57

1 जून भगतसिंह की वीर माता विद्यावती कौर जी की पुण्यतिथि पर विशेष- सम्पादक के सी शर्मा

इतिहास इस बात का साक्षी है कि देश, धर्म और समाज की सेवा में अपना जीवन अर्पण करने वालों के मन पर ऐसे संस्कार उनकी माताओं ने ही डाले हैं। भारत के स्वाधीनता संग्राम में हंसते हुए फांसी चढ़ने वाले वीरों में भगतसिंह का नाम प्रमुख है। उस वीर की माता थीं श्रीमती विद्यावती कौर।

विद्यावती जी का पूरा जीवन अनेक विडम्बनाओं और झंझावातों के बीच बीता। सरदार किशनसिंह से विवाह के बाद जब वे ससुराल आयीं, तो यहां का वातावरण देशभक्ति से परिपूर्ण था। उनके देवर सरदार अजीतसिंह देश से बाहर रहकर स्वाधीनता की अलख जगा रहे थे। स्वाधीनता प्राप्ति से कुछ समय पूर्व ही वे भारत लौटे; पर देश को विभाजित होते देख उनके मन को इतनी चोट लगी कि उन्होंने 15 अगस्त, 1947 को सांस ऊपर खींचकर देह त्याग दी।

उनके दूसरे देवर सरदार स्वर्णसिंह भी जेल की यातनाएं सहते हुए बलिदान हुए। उनके पति किशनसिंह का भी एक पैर घर में, तो दूसरा जेल और कचहरी में रहता था। विद्यावती जी के बड़े पुत्र जगतसिंह की 11 वर्ष की आयु में सन्निपात से मृत्यु हुई। भगतसिंह 23 वर्ष की आयु में फांसी चढ़ गये, तो उससे छोटे कुलतार सिंह और कुलवीर सिंह भी कई वर्ष जेल में रहे।

इन जेलयात्राओं और मुकदमेबाजी से खेती चौपट हो गयी तथा घर की चौखटें तक बिक गयीं। इसी बीच घर में डाका भी पड़ गया। एक बार चोर उनके बैलों की जोड़ी ही चुरा ले गये, तो बाढ़ के पानी से गांव का जर्जर मकान भी बह गया। ईर्ष्यालु पड़ोसियों ने उनकी पकी फसल जला दी। 1939-40 में सरदार किशनसिंह जी को लकवा मार गया। उन्हें खुद चार बार सांप ने काटा; पर  उच्च मनोबल की धनी माताजी हर बार घरेलू उपचार और झाड़फूंक से ठीक हो गयीं। भगतसिंह, सुखदेव और राजगुरु की फांसी का समाचार सुनकर उन्होंने दिल पर पत्थर रख लिया क्योंकि भगतसिंह ने उनसे एक बार कहा था कि तुम रोना नहीं, वरना लोग क्या कहेंगे कि भगतसिंह की मां रो रही है।

भगतसिंह पर उज्जैन के विख्यात लेखक श्री श्रीकृष्ण ‘सरल’ ने एक महाकाव्य लिखा। नौ मार्च, 1965 को इसके विमोचन के लिए माताजी जब उज्जैन आयीं, तो उनके स्वागत को सारा नगर उमड़ पड़ा। उन्हें खुले रथ में कार्यक्रम स्थल तक ले जाया गया। सड़क पर लोगों ने फूल बिछा दिये। इतना ही नहीं, तो छज्जों पर खड़े लोग भी उन पर पुष्पवर्षा करते रहे। 

पुस्तक के विमोचन के बाद सरल जी ने अपने अंगूठे से माताजी के भाल पर रक्त तिलक किया। माताजी ने वही अंगूठा एक पुस्तक पर लगाकर उसे नीलाम कर दिया। उससे 3,331 रु. प्राप्त हुए। माताजी को सैकड़ों लोगों ने मालाएं और राशि भेंट की। इस प्रकार प्राप्त 11,000 रु. माताजी ने दिल्ली में इलाज करा रहे भगतसिंह के साथी बटुकेश्वर दत्त को भिजवा दिये। समारोह के बाद लोग उन मालाओं के फूल चुनकर अपने घर ले गये। जहां माताजी बैठी थीं, वहां की धूल लोगों ने सिर पर लगाई। सैकड़ों माताओं ने अपने बच्चों को माताजी के पैरों पर रखा, जिससे वे भी भगतसिंह जैसे वीर बन सकें।

1947 के बाद गांधीवादी सत्याग्रहियों को अनेक शासकीय सुविधाएं मिलीं; पर क्रांतिकारी प्रायः उपेक्षित ही रह गये। उनमें से कई गुमनामी में बहुत कष्ट का जीवन बिता रहे थे। माताजी उन सबको अपना पुत्र ही मानती थीं। वे उनकी खोज खबर लेकर उनसे मिलने जाती थीं तथा सरकार की ओर से उन्हें मिलने वाली पेंशन की राशि चुपचाप वहां तकिये के नीचे रख देती थीं। 

इस प्रकार एक सार्थक और सुदीर्घ जीवन जीकर माताजी ने दिल्ली के एक अस्पताल में एक जून, 1975 को अंतिम सांस ली। उस समय उनके मन में यह सुखद अनुभूति थी कि अब भगतसिंह से उनके बिछोह की अवधि सदा के लिए समाप्त हो रही है।
05:46

युवा बहुमूल्य जीवन को व्यसनों से बर्बाद न करें: संजीव

उझानी (बदायंू)अखिल विश्व गायत्री परिवार के तत्त्वावधान में श्री नारायणगंज स्थित प्रज्ञा मंडल के कैंप कार्यालय पर युवाओं ने विश्व तम्बाकू निषेध दिवस पर नशे से दूर रहने का संकल्प लिया। बीड़ी पीकर खांस रहा है, मौत के आगे नाच रहा है, जैसे नारे भी लगाए। 
गायत्री परिवार के संजीव कुमार शर्मा ने कहा कि नशे के प्रचलन ने युवाओं के बहुमूल्य जीवन को बर्बाद कर दिया है। नशा और व्यसन प्राणघातक शत्रु है। युवा व्यसनों के पिशाच से बचें। व्यक्ति मानसिक और शारीरिक दृष्टि से दुर्बल हो रहा है। अपनी गाड़ी कमाई दवाईयां लाने में खर्च कर रहा है। युवा दृढ़संकल्पित होकर नशे से बचें और अपने जीवन को सार्थक बनाएं। नशे की लत युवाओं को चोरी, उठाईगीरी, जालसाजी में फंसाकर अपमान और कर्जदार बना रही है। 
मृत्युंजय शर्मा ने कहा कि सम्मान में दिए जाने वाली चाय, काफी, बीड़ी, सिगरेट के साथ तनाव और थकान दूर करने के लिए प्रयुक्त चरस, भांग, अफीम, कोकीन, स्मैक, हेरोइन के माध्यम से मीठा जहर लिया जा रहा है।
दीप्ति शर्मा ने कहा कि नशेबाजी से युवा पीढ़ी का स्वास्थ्य खराब हो रहा है। बौद्धिक क्षमता और शक्ति घट रही है। युवा नशा करके अपनी प्रतिष्ठा दांव पर लगा रहे हैं। 
हेमंत शर्मा ने कहा कि युवा अनुशासित रहें, अपनी दृष्टि बदलकर नई जिंदगी शुरू करें। संचालन मृत्युंजय शर्मा ने किया। इस मौके पर भवेश शर्मा, रीना शर्मा, आरती शर्मा, भूमि, खुशबू, आदि मौजूद रहीं।
05:16

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व महासचिव ओमकर सिंह के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने ग्रामीण क्षेत्रो में मास्क वितरित किये

आज दिनांक 31 मई 2020 को उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी पूर्व महासचिव ओमकर सिंह के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने ग्रामीण क्षेत्रो में मास्क वितरण किया इस अवसर पर उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी पूर्व महासचिव ओमकर सिंह ने कहा कि 19 मई को यूपी कांग्रेस अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू जी को बस मामले में फर्जी केस लगाकर गिरफ्तार किया गया। उसके बाद से ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं में आक्रोश है। अगले दिन कई जगहों पर लॉकडॉउन का पालन करते हुए इस पर ज्ञापन दिया गया। लेकिन फिर भी भाजपा सरकार ने हमारे 90 कार्यकर्ताओं पर मुकदमा लगा दिया। इसमें पूर्व विधायक व पूर्व नेता विधानमंडल दल श्री प्रदीप माथुर, पूर्व विधायक अनुग्रह नारायण सिंह, पूर्व एमएलसी विवेक बंसल व यूपी कांग्रेस के उपाध्यक्ष व पूर्व विधायक श्री पंकज मलिक जी भी शामिल हैं। राजीव गांधी जी के शहादत दिवस (21 मई) के मौके पर राजीव जी की शहादत को सलाम करते हुए पूरे प्रदेश से लगभग 50,000 कार्यकर्ताओं ने फेसबुक लाइव के जरिए इस दमन के खिलाफ आवाज उठाई। उसके बाद 27 तारीख को कई जगहों पर राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया गया और सोशल मीडिया के जरिए काली पट्टी बांध कर इसके खिलाफ आवाज उठाई गई। इस अवसर पर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी सदस्य मुन्ना लाल सागर ने कहा कि प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ कार्यकर्ताओं में भयंकर रोष है। प्रदेश भर के कार्यकर्ताओं ने इस बात को ठाना है कि चूंकि अजय लल्लू जी की गिरफ्तारी सेवा कार्य को रोकने के लिए की गई है इसलिए प्रदेश के कार्यकर्ता सेवा कार्य नहीं रोकेंगे। इस अवसर पर युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष शफी अहमद ने कहा की कई जगहों पर गिरफ्तारी के विरोध में जल सत्याग्रह, मशाल जुलूस और धरने हुए। आज यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने प्रदेश भर में हवन करके प्रदेश भाजपा सरकार को सद्बुद्धि की कामना करते हुए अजय लल्लू जी की रिहाई की मांग की। युवा कांग्रेस नगर अध्यक्ष मोहम्मद यसब ने कहा कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने लखनऊ व दिल्ली में इस मुद्दे पर प्रेस कांफ्रेंस के जरिए इसका विरोध किया। कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी जी, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष श्री राहुल गांधी जी ने प्रदेश अध्यक्ष जी के माता - पिता से बात की और इस दमन के खिलाफ आवाज उठाई। कई अन्य प्रदेशों के कांग्रेस नेताओं ने भी यूपी अध्यक्ष समेत अन्य कार्यकर्ताओं पर हो रहे दमन के खिलाफ आवाज बुलंद की।
05:13

अन्तर्राष्ट्रीय संस्था प्रकृति मंथन द्वारा अमन मयंक शर्मा कोरोना वॉरियर सम्मान से सम्मानित

अन्तर्राष्ट्रीय सामाजिक संस्था प्रकृति मंथन द्वारा कोविड 19 महामारी के दौरान लॉकडाउन में ऑनलाइन कोरोना वॉरियर सम्मान समारोह  आयोजित किया गया। जिसमे देश की विभिन्न हस्तियों को कोरोना काल मे समाज के प्रति किये गए सराहनीय कार्यों के लिए सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया गया।बदायूँ गौरव क्लब के सचिव  एवं बदायूँ गौरव महोत्सव के मुख्य संयोजक  अमन मयंक शर्मा को कोविड -19 वैश्विक महामारी काल मे समाज और संस्कृति के प्रति समर्पण एवं सराहनीय कार्यों को दृष्टिगोचर करते हुए प्रकृति  फाउंडेशन के निदेशक मुकेश नादान एवं अध्यक्ष निरुपमा वर्मा द्वारा कोरोना वॉरियर सम्मान  से सम्मानित किया गया।अमन मयंक शर्मा द्वारा कोरोना के कारण लॉकडाउन में बिना प्रचार किये हुए गरीब एवं जरूरतमंदों की सहायता की गई एवं बच्चों को स्वस्थ मंच देने हेतु पोस्टर,नृत्य,संगीत,गीत एवं मॉडलिंग प्रतियोगिता भी आयोजित की गई।अमन मयंक शर्मा को सम्मान मिलने पर बदायूँ गौरव क्लब के संरक्षक दिनेश शर्मा,गौरव पाठक,शिवम शर्मा,दिशांत पाठक,रितेश उपाध्याय,अनादि शंखधार,पीयूष शर्मा,हिमांशु गुप्ता,कौशल राठोड़, करुणेश राठोड़, अलंकार तोमर,गौतम शर्मा,प्रशांत शंखधार,गीता शर्मा,पूजा शर्मा,अंजलि मिश्रा,काव्या एवं नियति  सहित बदायूँ गौरव क्लब की टीम ने हर्ष व्यक्त किया।
02:52

रोग से डरो रोगी से नहीं, कोरोना योद्धाओं के कार्य की सराहना अति आवश्यक - नंदू भइया



इस महामारी से उत्पन्न भयंकर संकट काल में रोग से डरने की आवश्यकता है रोगी से नहीं। रोगी व्यक्ति को उपयुक्त समय पर उपचार मिलना अति आवश्यक है। यदि बह किसी तरह से इस रोग की चपेट में अा गया है तो इसमें उसकी या उसके परिवार की कोई भी गलती नहीं है। जाने अनजाने में बह किसी तरह इस रोग से संक्रमित हो गया है तो उससे एक मर्यादित दूरी बनाए रखें। परन्तु नफरत न करें यह बात नन्द किशोर चौहान नंदू भइया ने अपने आवास पर एक प्रेस वार्ता में पत्रकारों से कही। उन्होंने कहा कि रोगी से इतनी अधिक दूरी भी न बनाएं कि बह भय से ग्रसित हो जाए कि अब मेरा पता नहीं क्या होगा। केवल दूरी रखते हुए अपना बचाव करें उन्होंने कहा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार प्रवासी मजदूरों व कर्मचारियों को उनके घर पहुंचाने का कार्य लगातार कर रही है प्रवासी मजदूरों को उनके अपने घरों तक निशुल्क पहुंचाए जाने का फैसला प्रदेश व केन्द्र सरकार का एक सराहनीय फैसला है इस फैसले में केवल सुझाव अा रहे हैं कि इसके पंजीकरण को और अधिक सरल बनाया जाना चाहिए लॉक डाउन के दौरान सभी प्रकार के काम धंधे बन्द पड़े हैं आय को कोई साधन नहीं है। गरीब मजदूरों का जीवन यापन दूभर हो रहा है साथ है घर में रखी जमा पूंजी भी धीरे धीरे समाप्त हो रही है। ऐसे में उनकी इच्छा के अनुसार ही उनके प्रदेशों, जनपदों, गांवो में सरकार द्वारा भेजा जा रहा है।

Saturday, 30 May 2020

22:50

राजस्थान बोर्ड की शेष परीक्षाएं 18 जून से होंगी शुरू, टाइम टेबल हुआ जारी

अजमेर /सवाई माधोपुर @रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा ।राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की बची हुई परीक्षाएं 18 जून से प्रारंभ होगी। बारहवीं कक्षा की परीक्षाएं 18 से 30 जून तक और दसवीं की परीक्षाएं 27 से 30 जून तक आयोजित की जाएंगी। राज्य सरकार के निर्देश के तहत शिक्षा बोर्ड ने शनिवार को परीक्षा कार्यक्रम जारी कर दिया। बोर्ड अध्यक्ष डॉ. डी.पी. जारोली ने बताया कि दसवीं परीक्षा के शेष रहे विषय सामाजिक विज्ञान की परीक्षा 29 जून आौर गणित की 30 जून को होगी। 

बारहवीं की शेष रही गणित की परीक्षा 18 जून को, सूचना प्रौद्योगिकी और प्रोग्रामिंग 19, भूगोल व व्यावसायिक अध्ययन 22, गृह विज्ञान 23, चित्रकला 24, हिंदी साहित्य, उर्दू, सिंधी, गुजराती, पंजाबी, राजस्थानी, फारसी साहित्य, प्राकृत भाषा व टंकण लिपि अंग्रेजी 25 जून, संस्कृत साहित्य 26, अंग्रेजी साहित्य व टंकण लिपि हिंदी 27, कंठ संगीत, नृत्य कत्थक व वाद्य संगीत 29 व मनोविज्ञान विषय की परीक्षा 30 जून को ली जाएगी।

माध्यमिक व्यावसायिक की शेष रही परीक्षा 27 जून को होगी। उच्च माध्यमिक व्यवसायिक की शेष परीक्षा 20 जून को हाोगी। प्रवेशिका की शेष परीक्षाएं 27 से 30 जून तक ली जाएंगी, जबकि वरिष्ठ उपाध्याय की परीक्षाएं 18 से 30 जून के बीच आयोजित होंगी।
21:56

वन नेशन- वन राशन कार्ड 1 जून से पूरे देश में होगा लागू


जयपुर/ सवाई माधोपुर@ रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। कोरोना वायरस महामारी के बीच 1 जून 2020 से देश में वन नेशन वन राशन कार्ड लागू हो जाएगा। इसकी शुरुआत 20 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से होगी। राशन कार्ड का फायदा बीपीएल कार्डधारकों को मिलता है। एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड लागू होने के बाद गरीबी रेखा के नीचे वाले लोग किफायती कीमत पर देश के किसी कोने में राशन खरीद सकते हैं। जानते हैं राशन कार्ड से जुड़ी जरूरी जानकारी-
आधार कार्ड से होगी पहचान
इस योजना के तहत पीडीएस के लाभार्थियों की पहचान उनके आधार कार्ड पर इलेक्ट्रॉनिक प्वाइंट ऑफ सेल (PoS) डिवाइस से की जाएगी। इस योजना को पूरे देश में लागू करने के लिए सभी पीडीएस दुकानों पर पीओएस मशीनें लगाई जाएंगी। जैसे-जैसे राज्य पीडीएस दुकानों पर 100 फीसदी पीओएस मशीन की रिपोर्ट देंगे, वैसे-वैसे उन्हें वन नेशन, वन राशन कार्ड योजना में शामिल किया जाएगा।
इस योजना के लागू होने के बाद लाभार्थी देश के किसी भी हिस्से में किसी भी राशन डीलर से अपने कार्ड पर राशन ले सकेंगे। उन्हें न तो पुराना राशन कार्ड सरेंडर करना होगा और न ही नए जगह पर राशन कार्ड बनवाना पड़ेगा।
दो भाषाओं में जारी होगा राशन कार्ड
मानक राशन कार्ड दो भाषाओं में जारी करें। एक स्थानीय भाषा के साथ ही इसमें दूसरी भाषा हिन्दी अथवा अंग्रेजी का इस्तेमाल करें।
भारत का कोई भी नागरिक कर सकता है राशन कार्ड के लिए अप्लाई
भारत का कोई भी कानूनी नागरिक इस राशन कार्ड के लिए अप्लाई कर सकता है। 18 साल से कम उम्र के बच्चों उनके माता-पिता के राशन कार्ड में जोड़ा जाएगा। इन राशन कार्ड धारकों को 5 किलो चावल 3 रुपए किलो की दर से और गेहूं 2 रुपए किलो की दर से मिलेगा।
राशन कार्ड के लिए ऑनलाइन ऐसे करें आवेदन
यदि आप ऑनलाइन राशन कार्ड के लिए आवेदन कर रहे हैं तो आपको इन प्रक्रियाओं से होकर गुजरना होगा-

सबसे पहले अपने राज्य के खाद्य और रसद विभाग के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना पड़ेगा
यहां पर आपको अपनी भाषा का चुना करना होगा।
इसके बाद कुछ पर्सनल जानकारी जैसे डिस्ट्रिक का नाम, क्षेत्र का नाम, कस्बा, ग्राम पंचायत के बारे में बताना होगा।
अब आगे आपको कार्ड का प्रकार  (APL/BPL/Antodaya) चुनना होगा।
जैसे ही आप आगे बढ़ेंगे आपसे कई जानकारी मांगी जाएगी जैसे कि आपकी परिवार के मुखिया का नाम, आधार कार्ड नंबर, वोटर आईडी, बैंक खाता नंबर, मोबाइल नंबर आदि।
सारी जानकारी भरने के बाद अंत में आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा, साथ ही इसका एक प्रिंट आपको अपने पास रखना होगा।
राशन कार्ड को आधार से करें लिंक
सरकार ने हाल ही में राशन कार्ड को आधार से लिंक कराने की डेडलाइन को 30 सितंबर तक बढ़ा दिया है। केंद्रीय खाद्य मंत्रालय ने कहा है कि तब तक आधार से जुड़े नहीं होने के बावजूद राशन कार्डधारकों को राशन मिलता रहेगा। मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को निर्देश दिया है कि किसी भी सही लाभार्थी को उसके हिस्से का राशन देने से मना नहीं किया जाएगा। मंत्रालय ने कहा कि किसी का राशन कार्ड आधार नंबर से नहीं जुड़े होने के कारण रद्द नहीं किया जाएगा।
आधार से राशन कार्ड लिंक करने का प्रोसेस
सबसे पहले आधार जारी करने वाली संस्था यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) की आधिकारिक वेबसाइट uidai.gov.in पर जाएं।
ऑप्शन पर क्लिक करें।
अपनी एड्रेस डिटेल- जिला और राज्य भरें।
उपलब्ध विकल्पों में से  ‘Ration Card’ बेनिफिट टाइप का चयन करें।
 ‘Ration Card’ स्कीम को चुनें।
अपना राशन कार्ड नंबर, आधार नंबर, ई-मेल एड्रेस और मोबाइल नंबर दर्ज करें।
आपके रजिस्टर्ड मोबाइल पर वन-टाइम पासवर्ड  ‘OTP’ भेजा जाएगा।  ‘OTP’ भरें। इसके बाद स्क्रीन पर प्रोसेस पूरा होने का एक नोटिफिकेशन नजर आएगा।
इसे पोस्ट करें, आपका आवेदन वेरिफाइ हो जाएगा और सफलतापूर्वक वेरिफिकेशन के बाद राशन कार्ड से आधार कार्ड लिंक्ड हो जाएगा।
21:55

रेलवे की होम्यापैथिक डिस्पेेंसरियों से रेलकर्मियों को मिलेगी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने की दवाई: मुकेश गालव


सवाई माधोपुर/गंगापुर सिटी@। वेस्ट सेंट्रल रेलवे एम्पलाइज यूनियन के मंडल उपाध्यक्ष नरेंद्र जैन ने बताया कि यूनियन के महामंत्री मुकेश गालव ने रेल प्रशासन से मांग की है कि जब आयुष मंत्रालय ने कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए होम्योपैथिक दवाई दवाई Arsenicum Album30 की अनुशंसा की है, जिसके उपयोग से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इस दवाई को स्टाफ बैनिफिट फंड (एसबीएफ) के माध्यम से संचालित रेलवे अस्पतालों में होम्योपैथिक डिस्पेंसरी के माध्यम से रेल कर्मचारियों व उनके परिजनों को वितरित की जाए।
यूनियन के मंडल उपाध्यक्ष नरेंद्र जैन ने बताया कि यूनियन की मांग को गंभीरता से लेते हुए रेल प्रशासन ने इस दवाई को वितरित करने का निर्णय लिया है।
नरेंद्र जैन ने बताया कि रेलवे अस्पतालो में भी एसबीएफ द्वारा होम्योपैधिक डिस्पेंसरी संचालित की जाती है, इसके माध्यम से समस्त रेल कर्मचारी एवं उनके परिवारजनों को अर्सेनिकम एलबम 30 दवाई दी जाये तो समय रहते इस महामारी से बचाव हो सकता है।
वहीं डबलूसीआरईयू के महामंत्री मुकेश गालव की मांग व सलाह व वर्तमान हालात को देखते हुए रेल प्रशासन ने निर्णय है कि इस दवाई Arsenicum Album30 को शीघ्र ही स्टाफ व उनके परिवारजनों को वितरित किया जायेगा, ताकि रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़े और रेलकर्मी इस गंभीर बीमारी से मुकाबला करने में सक्षण हो सके
19:57

देश में होगा अनलॉक 8 जून से खुलेंगे मंदिर, रेस्टोरेंट, मॉल

देश में होगा अनलॉक  8 जून से खुलेंगे मंदिर, रेस्टोरेंट, मॉल
जयपुर/ सवाई माधोपुर@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। देश में चर्चा लॉकडाउन-5 की थी, लेकिन सामने आ गया अनलॉक-1 का फॉर्मूला।
64 दिनों के लॉकडाउन के बाद अब देश चरणबद्ध तरीके से अनलॉक होने जा रहा है। लॉकडाउन आगे बढ़ चुका है, जिसे 1 से 30 जून 2020 तक लागू किया गया है। इस दौरान कंटेनमेंट क्षेत्रों के बाहर कई सुविधाओं को चरणबद्ध तरीके से खोला जाएगा।
केंद्र सरकार ने अनलॉक के लिए तीन चरणों की योजना बनाई है। पहला चरण 8 जून से लागू होगा। इसके तहत 8 जून के बाद होटल, रेस्टोरेंट, शॉपिंग मॉल और धार्मिक स्थल शर्तों के साथ खुलेंगे। स्कूल-कॉलेज खोलने पर फैसला जुलाई में राज्य सरकारों द्वारा किया जाएगा। वहीं अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू करने और सिनेमा हॉल जैसे स्थान आम लोगों के लिए खोलने पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है।
तीन चरणों में लॉकडाउन में मिलेगी कई छूट, देश में एक जून से 30 जून तक नई रियायतों के साथ बढ़ा लॉकडाउन।
चरण-1. सार्वजनिक स्थानों और पूजा के सार्वजनिक स्थान, होटल, रेस्तरां और अन्य आतिथ्य सेवाएं और शॉपिंग मॉल को 8 जून, 2020 से खोलने की अनुमति दी जाएगी। सरकार इस संबंध में दिशानिर्देश जारी करेगी। 
चरण-2. स्कूल, कॉलेज, शैक्षिक (प्रशिक्षण) कोचिंग संस्थान आदि, राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के साथ विचार-विमर्श के बाद खोले जाएंगे।
चरण-3. अंतर्राष्ट्रीय हवाई यात्रा, मेट्रो रेल का संचालन, सिनेमा हॉल, व्यायामशाला, स्विमिंग पूल, मनोरंजन पार्क आदि के लिए तिथियों का निर्धारण स्थिति के आकलन के आधार पर किया जाएगा।
अगले एक महीने के लिए कंटेनमेंट जोन के बाहर की सभी गतिविधियों को फिर से चरणों में खोलने के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। 
कंटेनमेंट जोन के बाहर आर्थिक गतिविधियों को मिलेगी छूट।
एक से दूसरे राज्य में जाने के लिए पास की जरुरत नहीं होगी।
– आवश्यक गतिविधियों को छोड़कर, पूरे देश में रात 9 बजे से सुबह 5 बजे के बीच व्यक्तियों का आवाजाही पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगी- गृह मंत्रालय।
– सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए मेट्रो सेवाओं को अगले नोटिस तक बंद रखा जाएगा- दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन
सख्त नियमों का करना होगा पालन
सार्वजनिक स्थानों, परिवहन और दफ्तरों में मास्क पहनना होगा अनिवार्य।
हर व्यक्ति को सार्वजिक स्थानों पर छह फीट (दो गज) की दूरी बनानी होगी।
बड़ी संख्या में भीड़ पर प्रतिबंध जारी रहेगा। लेकिन शादी समारोह में 50 से अधिक लोग शामिल नहीं होने चाहिए।
दुकानों में सामाजिक दूरी का पालन करना होगा, एक बार में पांच से अधिक लोग खड़े नहीं रह पाएंगे।
सार्वजनिक स्थान पर थूकना जुर्माने के साथ दंडनीय अपराध होगा।
सार्वजनिक स्थानों पर शराब, पान, गुटखा तंबाकू का सेवन प्रतिबंधित रहेगा।
गर्भवती महिलाएं, 10 साल से कम उम्र के बच्चों और बुजुर्गों को घरों में रहने के निर्देश।
कंटेनमेंट जोन में नहीं मिलेगी अधिक छूट, जारी रहेगा लॉकडाउन 
लॉकडाउन के पांचवे चरण में कंटेनमेंट जोन में 30 जून तक जारी रहेगी सख्ती।
कंटेनमेंट जोन में सिर्फ जरूरी सेवाओं की ही इजाजत होगी।
यहां लोगों की आवाजाही पर जारी रहेगा पहले की तरह प्रतिबंध।
इस जोन में कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और घर-घर की जांच होगी।
राज्यों की तरफ से कंटेनमेंट जोन के बाहर बफर जोन बनाए जा सकते हैं जहां जिला प्रशासन अपने अनुसार पाबंदियां लगा सकता है।
देशभर में अब तक लगे चार लॉकडाउन
कोरोना से रोकथाम के लिए 25 मार्च से देशभर में चरणबद्ध तरीके से लॉकडाउन लगाया गया, 68 दिन तक चले लॉकडाउन में बढ़ते वक्त के साथ दिशा-निर्देशों में ढील मिलती गई।
कैसे रहे लॉकडाउन के चार फेज-
पहला फेज- 25 मार्च से 14 अप्रैल तक। यह 21 दिन का रहा। इस दौरान सिर्फ जरूरी सामान की दुकानें खोलने की इजाजत दी गई।
दूसरा फेज- 15 अप्रैल से 3 मई। यह 19 दिन का रहा। हॉटस्पॉट (रेड जोन) को छोड़कर ऑरेंज और ग्रीन जोन में दुकानें खोलने की परमिशन दी गई।
तीसरा फेज- 4 मई से 17 मई। यह 12 दिन का था। हॉटस्पॉट (रेड जोन) को छोड़कर ऑरेंज और ग्रीन जोन में दुकानें खोलने की परमिशन दी गई। प्रवासी मजदूरों के लिए ट्रेनें और बस चलाई गईं। नई दिल्ली से स्पेशल ट्रेनों की भी शुरुआत हुई। वंदे भारत और समुद्र सेतु मिशन के जरिए दूसरे देशों में फंसे भारतीयों की वापसी हुई।
चौथा फेज- 18 मई से 31 मई तक के इस फेज में सरकार ने राज्यों को कोरोना संक्रमण के हिसाब से रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन तय करने की छूट दी। बसें चलाने की इजाजत दी गई। शॉपिंग मॉल्स के अलावा सभी दुकानें खोलने की परमिशन दी गई। बाद में अलग से घोषणा कर 25 मई से घरेलू उड़ानें भी शुरू कर दी गईं।
16:33

मुख्यमंत्री निवास पर अशोक गहलोत की अत्यावश्यक बैठक 1 जून से होंगे कई बदलाव, मुख्यमंत्री ने किए तीन बड़े एलान



जयपुर/ सवाई माधोपुर@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बोर्ड परीक्षा, कर्फ्यू व कोरोना को लेकर एडवाइजरी जारीकरने जैसे तीन बड़े ऐलान किए हैं। मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि राजस्थान बोर्ड की 10वीं व 12वीं की बची हुई परीक्षाएं जून में होंगी। जल्द परीक्षा का टाइम टेबल जारी कर दिया जाएगा। दूसरा बड़ा एलान यह है, कि 31 मई के बाद भी प्रदेशभर में रात्रिकालीन कर्फ्यू जारी रहेगा। यानी शाम 7 से सुबह 7 बजे तक इमरजेंसी सेवाओं के अलावा सबकुछ बंद रहेगा। तीसरे एलान में उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सुप्रीम कोर्ट की भावना के अनुरूप निजी अस्पतालों में कोरोना के निःशुल्क इलाज के लिए एक एडवाइजरी जारी की जाए। जो भी अस्पताल इसका उल्लंघन करे, उसके विरुद्ध कार्रवाई का प्रावधान हो। गहलोत ने सीएम निवास पर कोरोना संक्रमण को लेकर हुई उच्च स्तरीय बैठक के दौरान ये अहम फैसले किए।
गहलोत ने 10वीं व 12वीं की बची हुई परीक्षाएं कराने के लिए शिक्षा विभाग के अधिकारियों को समुचित व्यवस्थाएं करने के निर्देश दिए हैं। अब इन परीक्षाओं की तिथियों का कार्यक्रम राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, अजमेर द्वारा जारी किया जाएगा। सीएम ने अधिकारियों को इस दौरान कोरोना संदर्भ में जारी हेल्थ प्रोटोकॉल की पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कंटेनमेंट जोन को लेकर सीएम गहलोत ने कहा कि एक्टिव केसेज की संख्या के अनुसार इनका दोबारा निर्धारण करें। ताकि केवल संक्रमित क्षेत्र में ही कफ्र्यू रहे। यह भी कहा कि प्रशासन हेल्थ प्रोटोकॉल की सख्ती से पालना के लिए कैमरों सहित अन्य माध्यमों से प्रभावी निगरानी करे। महामारी अध्यादेश के तहत लागू पेनल्टी व जुर्माने के प्रावधानों में किसी तरह की कोई शिथिलता न बरती जाए।
इसके अलावा मुख्यमंत्री ने अन्य अहम घोषणाएं भी की हैं। उन्होंने कहा कि श्रमिकों को सुगमता से रोजगार मिल सके, इसके लिए सोमवार से राज कौशल राजस्थान एम्पलॉयमेंट एक्सचेंज का शुभारंभ होगा। अनावश्यक खर्चों पर रोक के लिए कमेटी बनेगी, जिससे खर्चों का विश्लेषण कर बची धनराशि जरूरी व जनउपयोगी कामों में लग सके। जिला अस्पताल से सब सेंटर तक हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर मजबूत हो ताकि जुलाई-अगस्त में कोरोना का दूसरा दौर आए तो निपट सकें। बच्चों के टीकाकरण अभियान में कोई कमी नहीं रहे। राजकीय चिकित्सालयों में मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध हों।
16:31

WCREU की ओर से रेलकर्मचारियों व उनके परिवारजनों को 1800 मास्क वितरित


सवाई माधोपुर/ गंगापुर सिटी@ रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। वेस्ट सेन्ट्रल रेलवे एम्पलाईज यूनियन कोटा मंडल की ओर से 30 मई को भरतपुर के टेलीकॉम विभाग, वाणिज्य विभाग के रेलकर्मचारियों तथा गंगापुरसिटी के मेडीकल विभाग, सीएचआई स्टाफ तथा सिग्नल एवं टेलीकॉम विभाग के रेलकर्मचारियों तथा परिवारजनों को 1800 मास्क का वितरण किया गया है।
वेस्ट सेन्ट्रल रेलवे एम्पलाईज यूनियन के कोषाध्यक्ष इरशाद खान ने बताया कि यूनियन द्वारा जब से कोरोना महामारी का दौर प्रारंभ हुआ है तब से रेलकर्मचारियों व उनके परिवारजनों को इस कोरोना महामारी की रोकथाम तथा इससे बचने हेतु कार्य करती आ रही है। चाहे वह भोजन वितरण का कार्यक्रम हो या रेलवे कॉलोनियों को सेनेटाईज करने का काम हो। यूनियन द्वारा समय-समय पर रेलकर्मचारियों के हितों के लिये कार्य कर रही है।
इसी श्रृंखला में आज से सम्पूर्ण कोटा मंडल के रेलकर्मचारियों के लिये मास्क वितरण का आयोजन रखा गया है। जिसमें आज भरतपुर के टेलीकॉम विभागए वाणिज्य विभाग के रेलकर्मचारियों तथा गंगापुरसिटी के मेडीकल विभागए सीएचआई स्टाफ तथा सिग्नल एवं टेलीकॉम विभाग के रेलकर्मचारियों तथा परिवारजनों को 1800 मास्क का वितरण किया गया।
गालव ने बताया कि पूरे कोटा मंडल में प्रत्येक रेलकर्मचारियों के लिये 20 हजार से अधिक मास्क का वितरण किया जायेगा।
16:29

नरेगा में अपना खेत-अपना काम योजना में सामान्य एवं ओबीसी वर्ग की भागीदारी के लिए राज्यपाल के नाम दिया ज्ञापन

सवाई माधोपुर/ मलारना डूंगर@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। भाजपा मंडल मलारना डूंगर की ओर से शनिवार को मंडल अध्यक्ष रघुनाथ वैष्णव के नेतृत्व में महामहिम राज्यपाल के नाम एक ज्ञापन उप जिला कलेक्टर मलारना डूंगर को दिया गया जिसमें महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार योजना के तहत चल रहे अपना खेत अपना काम योजना में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, बीपीएल तथा सभी वर्गों की एकल महिलाओं के साथ सामान्य एवं ओबीसी वर्ग के पात्र किसानों को भी योजना का लाभ देने की मांग की गई तथा मनरेगा में ब्लॉक स्तर पर चल रहे फर्जीवाड़े एवं भ्रष्टाचार से आम किसानों को राहत दिलाने की मांग की गई। भाजपा मंडल अध्यक्ष रघुनाथ वैष्णव ने बताया कि ज्ञापन में मनरेगा से संबंधित विषयों के साथ राज्य सरकार से लोक डाउन के दौरान के 3 महीनों का नल व बिजली का बिल माफ करने की मांग भी की गई है। ज्ञापन देने के दौरान मंडल अध्यक्ष रघुनाथ वैष्णव, महामंत्री राणा प्रताप सिंह राकेश मीणा, पूर्व पंचायत समिति सदस्य दीनदयाल मीणा, पूर्व मंडल अध्यक्ष सीताराम गुर्जर जिला कार्यकारिणी सदस्य नवल किशोर मंगल,, मनोज शर्मा मंडल उपाध्यक्ष  हनुमान सैनी मंत्री फैली राम गुर्जर रामराज खाती  रोशन लाल सैनी धर्मराज मीणा आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।
16:27

सम्मान: विधायक रामकेश मीना ने कोरोना योद्धा प्रशासनिक अधिकारियों व पुलिसकर्मियों का किया सम्मान

सवाई माधोपुर/गंगापुर सिटी@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा जिले के गंगापुर सिटी खंड मुख्यालय पर स्थानीय विधायक रामकेश मीना ने कहा कि जब से लॉकडाउन हुआ है ,तब से लेकर आज तक निरंतर पुलिसकर्मी एक योद्धा बनकर दिन-रात लोगों के सेवा में काम कर रहे हैं। अपनी जान की परवाह ना करते हुए अपनी ड्यूटी पूरी मुस्तैदी के साथ निभा रहे हैं। लोगों को किसी प्रकार का कोई कष्ट ना हो, उसका भी ध्यान रख रहे हैं।
यह बात गंगापुर सेवा समिति अध्यक्ष व विधायक मीना ने आज प्रशासनिक अधिकारियों व पुलिसकर्मियों के सम्मान के दौरान कही। उन्होंने कहा कि आज हमारे देश के लिए बहुत ही सौभाग्य की बात है कि इस कोरोना वायरस महामारी के बीच में भी हमारे पास पुलिस प्रशासन जैसे योद्धा हैं, जो विषम परिस्थितियों में भी देश के प्रति अपनी जान न्यौछावर करने के लिए पीछे नहीं हटते हैं और देश के प्रति संघर्ष करते हैं।
विधायक मीना के नेतृत्व में आयोजित इस कार्यक्रम में गंगापुर सिटी के अन्तर्गत आने वाले सभी पुलिस थानों में पहुंचकर पुलिसकर्मियों को एक-एक लगेज बैग, गमछा पहनाकर एवं पुष्पवर्षा कर सम्मान किया। सम्मान प्राप्त करने वालों में गंगापुर सिटी के कोतवाली पुलिस थाना, उदेई मोड पुलिस थाना, सदर थाना सहित यातायात थाने के पुलिसकर्मी शामिल थे।
गहलोत ट्रैक्टर्स प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक सी.एल. सैनी ने कहा कि इस महामारी में गंगापुर सिटी के समस्त पुलिसकर्मी एक सफल कौरोना योद्धा की भूमिका निभा रहे हंै तथा हमारे द्वारा दिया जाने वाला सम्मान सिर्फ हमारे जवानों का हौसला बढ़ाना है।
निदेशक सैनी ने कहा कि विधायक मीना भी गंगापुर सेवा समिति के तत्वावधान में इस महामारी में पूरे विधानसभा क्षेत्र की जनता के लिये तन, मन, धन से सेवा कार्य में जुटे हुए हैं तथा समय- समय पर प्रशासन व उच्चाधिकारियों को निर्देशित करके गंगापुर की समस्याओं का निस्तारण कर रहे हैं। स्वयं विधायक मीना विषम परिस्थितियों में भी क्वारेन्टाईन सेंन्टरों पर क्वारेंन्टाईज व्यक्तियों का हाल चाल जानकर उनको सम्बल दे रहे हैं। इतना ही नहीं उनके रहने-खाने व पीने की हर छोटी से छोटी सम्स्याओं का ध्यान रखकर तुरन्त निस्तारण का कार्य कर रहे हैं। विधायक मीना इस भीषण गर्मी में स्वयं प्रशासनिक अधिकारियों को साथ लेकर रसद सामग्री वितरण कर एक अनुकरणीय उदाहरण प्रस्तुत कर रहे हैं। विधायक मीना उदार हृदय, कुशल कार्यक्षमता एवं सेवाभावी कार्य करके सबको अपना सहयोग प्रदान कर रहे हैं। उनके अनुसार कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं सोना चाहिये। इस महामारी में जो भी संस्थाएं जनता की सेवाएं कर रही हैं उन सभी को विधायक महोदय ने साधुवाद दिया है।
इस अवसर पर गहलोत ट्रैक्टर्स जनरल मैनेजर महेश सैनी, अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट नवरत्न कोली, उप जिला कलेक्टर विजेन्द्र मीणा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हिमांशु शर्मा, तहसीलदार ज्ञानचंद जैमन, कोतवाली थानाधिकारी दिग्विजय सिंह, उदेई मोड थानाधिकारी जगदीश भारद्वाज, सदर थानाधिकारी भरतसिंह, उदेई मोड ट्रैफिक अधिकारी भागवत सिंह, हनुमान लोहे वाले, विजय ठाकुरिया, संतोष दुबे, वैद्य कालूराम मीणा, मुकेश देहात, गहलोत ट्रैक्टर्स स्टाफ सुनील कुमार अग्रवाल, घनश्याम सैनी सहित दर्जनों लोग मौजूद थे।
16:26

शहर भाजपा की ओर से रसद सामग्री का वितरण

शहर भाजपा की ओर से रसद सामग्री का वितरण        सवाई माधोपुर@ रिपोर्ट शर्मा। देश के सर्वप्रिय  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी  के कार्यकाल में केंद्र सरकार के दूसरे अध्याय का  1 साल की समयावधि देशहित कार्यों के साथ सफलतापूर्वक संपन्न होने के उपलक्ष में शनिवार को शहर मंडल सवाई माधोपुर के पूर्व भाजपा सभापति श्याम जी सिंगल एवं वार्ड पार्षद सुनीता सिंघल के द्वारा वार्ड नंबर 18 जागा बस्ती के गरीब लोगों के लिए राशन सामग्री आटा बैग एवं परचून सामान वार्ड के वासियों को वितरित करवाया इस सेवा कार्य में उपस्थित होकर पूर्व मंडल अध्यक्ष निर्मल जी जैन वर्तमान उपसभापति महोदय कपिल जैन भाजपा जिला मंत्री हरी प्रसाद गुप्ता शहर युवा मोर्चा मंडल अध्यक्ष मुकेश शर्मा बूथ अध्यक्ष देवी शंकर गुर्जर वार्ड के प्रमुख कार्यकर्ता हर सहाय जी जागा रमेश जी ज्यादा शंभू जी लटूरी गुजर आदि कई गणमान्य लोग  एवं मंडल कार्यकर्ताओं के बीच इस खुशी में सामग्री वितरित की गई सभी लोगों ने भारत माता की जय के नारे लगाए एवं नरेंद्र मोदी जी के आगे के सफल कार्यकाल की कामनाएं की यह जानकारी मंडल उपाध्यक्ष चंदन सिंह नरूका द्वारा दी गई
16:21

सार्थक फाउंडेशन एवं अग्रवाल समाज के संयुक्त तत्वाधान में रक्तदान शिविर का आयोजन 31 मई को

सवाई माधोपुर/गंगापुर सिटी@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। जिला अग्रवाल समाज सवाई माधोपुर के तत्वावधान में सार्थक फाउण्डेशन के सहयोग से नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) संकट के कारण सरकारी अस्पताल गंगापुर सिटी व जयपुर में रक्त की कमी को देखते हुए रक्तदान शिविर का आयोजन 31 मई को सुबह साढे सात बजे से दोपहर 2 बजे तक अग्रवाल धर्मशाला स्टेशन रोड गंगापुर सिटी में आयोजित किया जायेगा । इस रक्तदान शिविर की सफलता के लिए शनिवार को जिला अग्रवाल समाज सवाई माधोपुर जिलाध्यक्ष सुरेश चंद (रामू गुट्टा), अग्रवाल समाज समिति गंगापुर सिटी अध्यक्ष महेन्द्र गर्ग, सार्थक फाउण्डेशन अध्यक्ष केशव मित्तल, सार्थक फाउण्डेशन उपाध्यक्ष आयुष बजाज, शिविर संयोजक गौरव कुनकटा अध्यक्ष युवा अग्रवाल संगठन गंगापुर सिटी, अग्रवाल भवन ट्रस्ट अध्यक्ष रमेश नाबालिग ने गंगापुर सिटी परिक्षेत्र मे अपने-अपने पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के साथ रक्तदाताओं से सम्पर्क कर उन्हें स्वेच्छा से रक्त देने के लिए प्रेरित किया व इस पुनीत कार्य में सहयोग की अपील की।
शिविर संयोजक गौरव कुनकटा अध्यक्ष युवा अग्रवाल संगठन गंगापुर सिटी व सार्थक फाउण्डेशन अध्यक्ष केशव मित्तल ने बताया कि इस रक्तदान शिविर में शहर में जारी लॉकडाउन का ध्यान रखते हुए रक्तदान शिविर का आयोजन किया जाएगा। रक्तदान शिविर में रक्तदाताओं को प्रोत्साहित करने के लिए सभी से अधिक से अधिक व्हाट्सगु्रप, फेसबुक अन्य साधनों से सोशल डिस्टेंटिंग का पालन करते हुए सम्पर्क व सूचना भेजने की जिम्मेदारी दी गई।
सार्थक फाउण्डेशन महामंत्री शैलेश गौतम ने बताया कि रक्तदान शिविर के आयोजन से जब लोगों को रक्त की आवश्यकता होती है उन्हें हम हर समय रक्त उपलब्ध कराने का प्रयास करते हैं। हमारी टीम विभिन्न सामाजिक संगठनों के साथ मिलकर निरन्तर रक्तदान शिविर का आयोजन कर रही है। सार्थक फाउन्डेशन का मुख्य उद्देश्य रक्त की कमी से कोई परेशान नहीं हो, इसलिए हमारी टीम समय-समय पर शहर की विभिन्न संस्थानों के सहयोग से रक्तदान शिविर में अपनी भागीदारी निभाने का प्रयास कर रही है। इस रक्तदान शिविर की सफलता के लिए जिला अग्रवाल समाज सवाई माधोपुर व सार्थक फाउण्डेशन के कार्यकर्ता लगातार ऑनलाइन आपस में सम्पर्क कर रहे हैं व रक्तदाताओं को प्रोत्साहित कर रहे हैं।
जिला अग्रवाल समाज सवाई माधोपुर जिलाध्यक्ष सुरेश चंद गुप्ता (रामू गुट्टा) ने सभी कार्यकर्ताओं व रक्तदाताओं से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए, मास्क लगाकर, हैंड सैनेटाइजर का उपयोग करते हुए रक्तदान शिविर में सहयोग करना है।
16:19

मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ रेलवे यूनियन का जागरूकता सप्ताह 1 से 6 जून तक एवं राष्ट्रव्यापी मांग दिवस 8 जून को


सवाई माधोपुर/गंगापुर सिटी@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के आह्वान पर फेडरेशन से संलग्न सभी यूनियन के तत्वावधान में अखिल भारतीय स्तर पर 1 जून से 6 जून तक पूरे देश में रेल कर्मचारी जागरूकता सप्ताह के माध्यम से यूनियन कार्यकर्ता रेल कर्मियों से मेन-टू-मेन मिलकर सरकार द्वारा करोना वायरस महामारी की आड़ में मजदूर विरोधी फैसलो का पर्दाफाश करेंगे एवं 8 जून को पूरे देश में रेल का कर्मचारी सरकार के महंगाई भत्ते एवं महंगाई राहत फ्रीज करने जैसे निर्णय के विरुद्ध मांग दिवस के रूप में भारत सरकार को चेतावनी देंगे।
वेस्ट सेंट्रल रेलवे एंप्लाइज यूनियन के मंडल उपाध्यक्ष नरेंद्र जैन ने बताया कि कोरोना महामारी की आड़ में सरकार ने गत दिनों केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते एवं सेवानिवृत्त कर्मचारियों के महंगाई राहत को डेढ़ वर्ष के लिए फ्रिज करने का निर्णय लिया गया। इसके साथ ही रेलवे डिफेंस कोयला स्टील और भारत सरकार के सार्वजनिक उपकरणों में प्राइवेटाइजेशन करने के बारे में कार्य योजना बनाने एवं उद्योगपतियों के ऋण माफ करने का उपक्रम किया है। इससे रेल कर्मचारी और तमाम केंद्रीय कर्मचारी बहुत ज्यादा आहत है। इसी प्रकार सरकार ने अनावश्यक रूप से श्रमिक कानूनों में संशोधन करने की चेष्टा की है। इसे हम बर्दाश्त नहीं करेंगे इसलिए सरकार की नीतियों के विरोध में ऑल इंडिया रेलवे फेडरेशन के आह्वान पर अब रेल कर्मचारी आंदोलन की राह पर है। पश्चिम मध्य रेलवे में यूनियन के महामंत्री मुकेश गालव के नेतृत्व में 1 जून से 6 जून तक यूनियन की शाखाओं के माध्यम से सरकार की नीतियों के विरोध में आर-पार के संघर्ष में शामिल होने के लिए घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर करवाकर सरकार की नीतियों के खिलाफ जन जागरण चलाया जाएगा। गत दिवस इस बारे में यूनियन की कोटा मंडल की मंडल कार्यकारिणी की बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हो चुकी है, जिसमें इस बारे में रणनीति भी तैयार कर ली गई है।
16:16

स्कूलों में शिक्षण व्यवस्था का बदला रूप,1320 घण्टों की जगह अब 600 घण्टे पढ़ाई की योजना बना रही है केन्द्र सरकार


जयपुर/सवाई माधोपुर@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। कोरोना महामारी के चलते स्कूली बच्चों को पढ़ाई बहुत प्रभावित हुई है, इससे अभिभावक ही नहीं केन्द्र सरकार भी चिंतित है। इस समय में बच्चों की शिक्षा को आगे बढ़ाना शिक्षा विभाग और राज्य सरकार के लिए बड़ी चुनौती बना हुआ है। इस समय ऑनलाइन माध्यम से शिक्षा देने के बेहतरीन प्रयास विभाग की ओर से किए जा रहे हैं। लेकिन लंबे समय तक यह पढ़ाई का स्थायी विकल्प नहीं हो सकता है।
ऐसे में बच्चों का कोरोना संक्रमण से बचाव को ध्यान में रखते हुए मानव संसाधन विकास मंत्रालय एनसीईआरटी के सहयोग से सत्र 2020-21 के लिए नई गाइडलाइन जारी करने पर कवायद कर रहा है। इसमें विद्यार्थी हित को देखते हुए शिक्षण व्यवस्था व प्रबंधन में कई परिवर्तन किए जा रहें हैं।
एनसीईआरटी की ओर से जारी वर्तमान पाठ्यक्रम को भी कम किया जा सकता है क्योंकि वर्तमान में स्कूलों में पढ़ाई के लिए 220 शैक्षणिक दिन और 1320 शैक्षणिक घंटे होते हैं जबकि एमएचआरडी इन्हें आधा कर 100 शैक्षणिक दिन और 600 शैक्षणिक घंटों की योजना तैयार कर रहा है। जिससे पूरा पाठ्यक्रम पढ़ पाना बच्चे के लिए आसान नहीं होगा।
दो या तीन पारियों में लग सकती है कक्षाएं
फिजिकल डिस्टेंसिंग की पालना और अत्यधिक भीड़ से विद्यार्थियों के बचाव के लिए एमएचआरडी की ओर से एक बार में 30 से 50 प्रतिशत बच्चों को ही स्कूल बुलाए जाने पर मशक्कत की जा रही है, जिससे अलग-अलग शिफ्ट में बच्चों को बुलाया जाना प्रस्तावित है।
कक्षा एक से पांच तक के बच्चों को सप्ताह में दो बार कक्षा 6 से 8 तक के बच्चों को सप्ताह में दो या चार बार कक्षा 9 से 12 तक के बच्चों को चार या पांच बार बुलाया जा सकता है। पांचवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों की आयु 6 से 10 वर्ष होने के कारण शुरुआती दिनों में इन विद्यार्थियों को विद्यालय आने से पूर्ण छूट भी मिल सकती है।
पढ़ाई के साथ-साथ मूल्यांकन प्रक्रिया में भी होगा सुधार
विद्यालयों में पढ़ाई के साथ साथ बच्चों के अधिगम स्तर की जांच के लिए समय-समय पर विभिन्न अंतरालों पर विभिन्न परख, अद्र्धवार्षिक व वार्षिक परीक्षाओं का आयोजन किया जाता है। कोरोना वायरस के दृष्टिगत सत्र 2020-21 में परीक्षा पद्धति और मूल्यांकन प्रक्रिया में भी काफी परिवर्तन होना संभावित है। इसमें कुछ परीक्षाओं में छूट या समयावधि में कटौती को शामिल किया जा सकता है।
शिक्षा जगत के सामने ये हैं चुनौतियां

बच्चों को कोरोना संक्रमण से बचाए रखना इस समय की सबसे बड़ी चुनौती है। अगर एक भी बच्चा कोरोना संक्रमित हो जाता है तो उससे पूरी क्लास और पूरे परिवार के संक्रमित होने का खतरा है।
बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा देने का विकल्प उन गरीब बच्चों को शिक्षा से वंचित रख सकता है, जो दुर्बल व निर्धन वर्ग से आते हैं और जिनके पास संसाधनों की भारी कमी है।
सेनेटाइजर, मास्क, कक्षा सेनेटाइज, पारियों के अनुसार अध्यापकों का प्रबंधन व आर्थिक भार भी बड़ी चुनौती है।
सीमित संसाधनों वाले जिलों में कम बच्चों के साथ स्कूलों को चलाने का विकल्प व्यावहारिक नहीं हो सकता है।
10वीं और12वीं कक्षा के अलावा समस्त कक्षाओं के विद्यार्थी अगली कक्षाओं में क्रमोन्नत हो चुके हैं।
विद्यालयों में 17 मई से 30 जून तक ग्रीष्मावकाश घोषित है। 10वीं और 12वीं कक्षा के अलावा समस्त कक्षाओं के विद्यार्थी अगली कक्षाओं में क्रमोन्नत हो चुके हैं। जिनकी संबंधित कक्षा की पढ़ाई विभाग के डिजिटल प्लेटफार्म पर मोबाइल, रेडियो, टीवी आदि के माध्यम से जारी है।
07:38

जिला अध्यक्ष का भाजपा मंडल अध्यक्षों से ऑनलाइन सीधा संवाद

 सवाई माधोपुर@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। सवाई माधोपुर जिला मुख्यालय पर शनिवार को भाजपा जिलाध्यक्ष डाँ. भरत लाल मथुरिया ने जिला पदाधिकारियों तथा मण्डल अध्यक्षों से आँनलाइन संवाद के जरिये मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के सफल एक वर्ष 31 मई को होने पर मोदी जी तथा केन्द्र सरकार की साल भर की उपलब्धियों को आम-लोगों के सभी वर्गो मे पहुंचाने को कहा।
मोदी जी का पहला कार्यकाल जहाँ देशवासियो की आवश्यकता पूर्ति के लिये था।वही मोदीजी के दूसरे कार्यकाल को आकाक्षांओ की पूर्ति व सपनों को पूरा करने वाला ऐतिहासिक साबित होना वाला बताया।जिसका पूरा पाँच वर्षो का खाका तैयार कर तेजी से एक्शन पहिले ही साल मे दिखने लगा है।डा. मथुरिया ने 2024 तक "हर घर तक नल से स्वच्छ जल" के लिये केन्द्रीय जल शक्ति मंत्रालय का गठन करना, प्राकृतिक आपदा़ से घिरे सभी किसानो को आर्थिक किसान सम्मान निधि 6000/- तीन किश्तो मे सीधे किसानो के सीधे खातो मे जमा कराना,प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति योजना की राशी को कई गुना बढाकर उसके दायरे मे आतंकी,नक्सली तथा आंतरिक घटनाओ मे शहीद होने वाले पुलिसकर्मीयो के बच्चौ को भी शामिल किया,मुस्लिम महिलाओ को तीन तलाक की कुप्रथा से मुक्त करा "तीन तलाक कानून" लागू करवा तीन तलाक को गैर कानूनी बनाया,जम्मू-कश्मिर से अनुच्छेद 370 व 35A को हटाकर सभी को भोजन,शिक्षा, चिकित्सा के समान मौलिक अधिकार दिलाने के साथ भारत के सभी कानून भी जम्मू-कश्मिर तथा लद्दाख क्षेत्र मे लागू कराये, सभी देशवासियो को फिट व स्वस्थ्य रखने के लिये मोदीजी ने "फिट इन्डिया" मूवमेन्ट चलवाया,60वर्ष की आयु के बाद देश के सभी किसानो तथा छोटे व्यापारियो के लिये न्यूनतम 3000/-मासिक पेंशन योजना शुरु करायी,दिल्ली मे सभी अनाधिकृत काँलोनियो को पक्का कर वहाँ रहने वालो को ही मालिकाना हक दिलवाने की योजना शुरु कर अबतक 40 लाख लोगो को दिया घर का मालिकाना हक,अनेक दशको से अदालतो मे लम्बित पड़े राममन्दिर विवाद को सुप्रिम कोर्ट मे रोज सुनवायी करा अयोध्या मे ही राम मन्दिर बनने के निर्णय के बाद भव्य राम मन्दिर का निर्माण शुरु कराने तथा स्किल इन्डिया, मेड इन इन्डिया,स्टार्टअप इन्डिया जैसे प्रतिभाशाली युवाओ को यही सपना पूरा करने को प्रोत्साहन देने सहित पिछले एक वर्ष मे ही सफलता से पूरे कराने के कार्यो को बूथ स्तर के सभी भाजपा कार्यकर्ताओ द्वारा जन-जन तक पहुचाने की बात कही।
संवाद कार्यक्रम मे पूर्व जिलाध्यक्ष सुरेश जैन, जिला महामंत्री-आचार्य लोकेन्द्र शर्मा,हरिकेश मीणा,जिला उपाध्यक्ष-हरिओम गर्ग,भवानी सिहं मीणा,कमल सिहं मीणा,राजेश गोयल,श्रीमति गीता सैनी,मुरारी लाल वैष्णव,कोषाध्यक्ष-नरेश बज,जिला मिडिया प्रभारी-दीनदयाल मथुरिया, जिला मंत्री-हरिप्रसाद गुप्ता,आईटी प्रभारी-ओम सुवालका,अधिकतर जिला पदाधिकारी तथा मण्डल अध्यक्ष शामिल रहे।
भाजपा जिलाध्यक्ष ने जिला कार्य विभाजन के तहत संगठनात्मक कार्य स्वयम के पास रखते हुए रचनात्मक व सृजनात्मक कार्यक्रम प्रभारी हरिओम गर्ग जिला उपाध्यक्ष तथा आंदोलनात्मक कार्यक्रम प्रभारी भवानी सिहं मीणा जिला उपाध्यक्ष को नियुक्त किया।
संवाद कार्यक्रम मे स्वयम मोदीजी द्वारा लिखित "आत्मनिर्भर भारत-विश्व कल्याण मे भारत की भूमिका" तथा कोविड-18 से सावधानी के उल्लेख वाले पत्रको को मण्डल से शक्तिकेन्द्रो से बूथो के कार्यकर्ताओ द्वारा घर-घर पहुचाना तय हुआ।मण्डल स्तर के सभी मोर्चो के पदाधिकारियो को जिले तथा प्रदेश से संवाद बनाकर मोदीजी के पिछले एक वर्ष की उपलब्धियो को लेकर प्रेस काँंफ्रेसं करने का आग्रह किया।
जिलाध्यक्ष डाँ मथुरिया ने मोदीजी द्वारा भारत को विश्व पटल पर नेतृत्व की क्षमता वाला साबित करने,कोविड-19 के खिलाफ सफलतम जंग चलाने की सराहना करते हुए,सभी कार्यकर्ताओ को स्वयम के भी छोटे-छोटे विडियो,लेख,पोस्टरो कोसोशल मिडिया तथा प्रिन्ट मिडिया के माध्यम से प्रचार-प्रसार करने का आग्रह किया।
06:34

डी.एस. साइंस अकेडमी सबसे पहले, सबसे आगे, सबसे तेज-विधायक मीणा


सवाई माधोपुर/गंगापुर सिटी@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। जिले के गंगापुर सिटी उपखंड मुख्यालय पर संचालित डी.एस. साइंस अकेडमी में ऑनलाइन डिजिटल स्टडी स्टूडियो का सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करते हुए विधायक रामकेश मीना ने उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि डी.एस. साइंस अकेडमी ने ऑनलाइन डिजिटल स्टडी स्टूडियो का शुभारंभ जिन विपरीत परिस्थितियों में किया है, वह काबिले तारीफ है। इस तरीके का स्टूडियो गंगापुर सिटी में प्रारंभ करना एक बहुत बड़ी बात है क्योंकि भरतपुर संभाग में भी ऐसा ऑनलाइन डिजिटल स्टडी स्टूडियो नहीं है।
उन्होंने कहा कि इंजीनियर उमेश शर्मा ने विद्यार्थियों के हित को ध्यान में रखकर यह स्टूडियो प्रारंभ किया है, जो इस क्षेत्र के विद्यार्थियों को ही नहीं अपितु संपूर्ण देश के विद्यार्थियों को लाभान्वित करेगा। इस विद्यालय ने विगत वर्षों में आईआईटी-जेईई, मेडिकल व ओलम्पियाड़ आदि प्रतियोगी परीक्षाओं में कक्षा 12 के साथ ही बेहतर परिणाम देते हुए शिक्षा के क्षेत्र में नये कीर्तिमान स्थापित करते हुए शहर एवं जिले का नाम रोशन किया है। अपने आप में अनोखे इस ऑनलाइन डिजिटल स्टडी स्टूडियो के साथ ही अकेडमी राजस्थान के उन चुनिन्दा श्रेष्ठ संस्थानों में शुमार हो गई है, जिसमें आधुनिक युग की समस्त अपडेटेड टेक्नोलॉजी का उपयोग किया गया है एवं प्रीमियम डिजिटल बोड्र्स, मल्टी लेयर एकाउस्टिक वॉल्स, फिल्म स्टूडियो लाइटिंग, एडिटिंग व ऑनलाइन स्ट्रीमिंग रूम, रेंण्डरिंग मशीन के साथ पीसीआर रूम तैयार किया गया है।
डी.एस. साइंस अकेडमी राष्ट्रीय स्तर की फैकल्टीज द्वारा अध्ययन करवाता है, जिससे उच्च गुणवत्तापूर्ण शिक्षा विद्यार्थियों को प्राप्त हो सके। गंगापुर शहर और आप-पास के सभी अभिभावकों से आग्रह है कि कोविड-19 के कारण ऑफलाइन क्लास नहीं लग पा रही है और इस सत्र में लगेगी या नहीं लगेगी, इसके बारे कहना अभी कठिन है। इसलिए डी.एस. साइंस अकेडमी की इन ऑनलाइन क्लासेस में अपने बच्चों को प्रवेश दिलाकर उनके भविष्य के प्रति निश्चिन्त हो जायें।
अकेडमी के डायरेक्टर इंजीनियर उमेश शर्मा ने बताया कि कोविड-19 के कारण जैसे ही प्रधानमंत्री मोदी ने लॉकडाउन की घोषणा की तभी मेरे मन में इस क्षेत्र के विद्यार्थियों के भविष्य को लेकर एक अन्तरद्वन्द्व चल रहा था। इस परिस्थिति में बच्चों के अध्ययन में किसी भी प्रकार की कोई क्षति न हो इसलिए तुरंत इस ऑनलाइन डिजिटल स्टडी स्टूडियो की शुरूआत करने की ठान ली और अल्प समय में संभाग के पहले ऑनलाइन डिजिटल स्टडी स्टूडियो की शुरूआत की।
आईआईटियन आशुतोष वर्मा ने बताया कि अकेडमी का संपूर्ण ध्येय उच्च गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने व उसकी पूर्ण रूप से मॉनिटेरिंग करने का रहता है, जिसके लिए हमारे पास आईआईटियन्स एवं डॉक्टर्स की वृहद उच्च शिक्षित व प्रशिक्षित समर्पित श्रेष्ठ फैकल्टी टीम मौजूद है।
अकेडमी प्रधानाध्यापक अशोक शर्मा ने बताया कि सभी क्लासेस के लिए ऑनलाइन तीसरे फेज के रजिस्ट्रेशन चल रहे हैं जिनकी रेग्यूलर क्लासेस 3 जून से प्रारंभ की जायेगी।
06:11

वर्किंग जॉर्नलिस्ट ऑफ इंडिया की पत्रकारिता दिवस पर डिजिटल कार्यशाला आयोजित


वर्किंग जॉर्नलिस्ट ऑफ इंडिया सम्बद्ध भारतीय मजदूर संघ  का हिंदी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर ऐतिहासिक डिजिटल मीडिया कार्यशाला का आयोजन। 
प्रमुख विशेषताएं
1) डिजिटल मीडिया वर्कशॉप का आयोजन किया गया। जिसमें तकनीकी समस्याओं का समाधान किया गया।
2) डिजिटल मीडिया को सरकारी मान्यता मिले इस पर चर्चा की गई।
3) कोरोना के संक्रमण काल में डिजिटल मीडिया के पत्रकारों की समस्याओं का समाधान निकले, चर्चा की गई।
4) डिजिटल मीडिया के पत्रकारों को मान्यता दी जाए।और उनका सरकारी मीडिया कार्ड बने।

आज दिनांक 30/5/20 को हिंदी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर वर्किंग जॉर्नलिस्टस ऑफ इंडिया संबंध भारतीय मजदूर संघ ने ऐतिहासिक डिजिटल मीडिया के लिए वेबनार के माध्यम से कार्य शाला का आयोजन किया। वर्किंग जॉर्नलिस्टस ऑफ इंडिया के अध्यक्ष श्री अनूप चौधरी, राष्ट्रीय महासचिव श्री नरेन्द्र भंडारी, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री संजय उपाध्याय के साथ देश के कई प्रदेशों के वरिष्ठ पत्रकार साथी कार्यशाला में उपस्थित रहे। इस कार्यशाला के मुख्यवक्ता श्री तीर्थांकर सरकार ने डिजिटल मीडिया के तकनीकी और उससे लाभ कैसे लिया जाए इस पर उत्कृष्ट व्यख्यान दिया। तीर्थांकर सरकार व् अविनाश सिंह ने डिज़िटल मिडिया के बढ़ते प्रभाव पर ध्यान दिलाया और सभी पत्रकारों को डिजिटल मिडिया की तकनीक के विषय में जानकारी जी। उन्होंने कंटेंट बनाने,वेबसाइट की प्लानिंग,ब्लॉगिंग,सोशल मिडिया का महत्त्व,SEO समेत तमाम महत्वपूर्ण विषयो की जानकारी दी तथा उसपे चर्चा की। इसके साथ ही उन्होंने डिज़िटल मिडिया से कैसे अजिबिका कमाए इस पर भी मार्गदर्शन किया। किस तरह से आप गूगल एड एफिलेट मार्केटिंग,फेसबुक एड  व् यू ट्यूब एड से कमा सकते है।   जिज्ञाशा को सटीक तरीके से उत्तर देकर समझाया। इस कार्यशाला का संचालन श्री संजय उपाध्याय ने की। इसका शुभारम्भ राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अनूप चौधरी के उद्बोधन से हुआ। राष्ट्रीय महासचिव श्री नरेन्द्र भंडारी ने पत्रकारों के जिज्ञाशा का समाधान किया। इस बात पर विशेष जोर दिया गया कि डिजिटल मीडिया को सरकारी मान्यता मिले और डिजिटल मीडिया के  पत्रकारों को सरकारी मीडिया कार्ड जारी किया जाए। कार्यशाला के समापन पर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संजय उपाध्याय ने 6 जून को मीडिया लॉ एंड जॉर्नलिस्ट एक्ट विषय पर पुनः एक वेबनार करते हुए सभी लोगों का धन्यवाद ज्ञापन किया।पत्रकारों के जिज्ञाशा को सटीक तरीके से उत्तर देकर समझाया। इस कार्यशाला का संचालन श्री संजय उपाध्याय ने की। इसका शुभारम्भ राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अनूप चौधरी के उद्बोधन से हुआ। राष्ट्रीय महासचिव श्री नरेन्द्र भंडारी ने पत्रकारों के जिज्ञाशा का समाधान किया। इस बात पर विशेष जोर दिया गया कि डिजिटल मीडिया को सरकारी मान्यता मिले और डिजिटल मीडिया के  पत्रकारों को सरकारी मीडिया कार्ड जारी किया जाए। कार्यशाला के समापन पर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संजय उपाध्याय ने 6 जून को लेबर कोड्स और जॉर्नलिस्ट एक्ट के भविष्य विषय पर पुनः एक वेबनार करने की सूचना देते हुए सभी लोगों का धन्यवाद ज्ञापन किया।
04:32

आप की श्रमिक इकाई श्रमिक विकास संगठन SVS गौतमबुद्ध नगर के जिलाध्यक्ष बने रामजी पांडे

नोएडा आम आदमी पार्टी की श्रमिक इकाई श्रमिक विकास संगठन (SVS )ने गौत्तमबुद्ध नगर ने जिलाध्यक्ष भूपेन्द्र जादौन के प्रस्ताव पर आप की मजदूरों के लिये काम करने वाली इकाई SVS की उत्तर प्रदेश राज्य कार्यकरणी ने गौत्तमबुद्ध नगर के श्रमिक विकास संगठन SVS के जिलाध्यक्ष के पद  पार्टी के पुराने कायकर्ता रामजी पांडे को मनोनित किया है बताते चले कि रामजी पांडे आम आदमी पार्टी के सक्रिय कार्यकता व आंदोलन के समय से सक्रिय साथी रहे है उनकी पार्टी के प्रति आस्था और लगन देखकर पार्टी ने उन्हें यह जिम्मेदारी सौपी है।

संजीव निगम
पार्टी प्रवक्ता
आप,गौ बु नगर
9891264194
03:33

जोहड़ीवाली का लाल बाड़मेर में दे रहा है कोरोना वॉरियर्स में अपनी सेवाएं-

जोहड़ीवाली का लाल बाड़मेर में दे रहा है कोरोना वॉरियर्स में अपनी सेवाएं- ग्राम पंचायत डेरा जोड़ी(नीमकाथाना )के सुनील कुमार सैनी जो वर्तमान में बाड़मेर जिले के धोरीमन्ना तहसील मैं अध्यापक के रूप में पोस्टेड है वह पिछले काफी समय से covid-19में लगातार अपनी ड्यूटी दे रहे है । युवा नेता  प्रकाश सैनी से हुई बात चीत से मिली जानकारी से जोहड़ीवाली का लाल बाड़मेर में दे रहा है कोरोना वॉरियर्स में अपनी सेवाएं- ग्राम पंचायत डेरा जोहड़ी (नीमकाथाना )के सुनील कुमार सैनी जो वर्तमान में बाड़मेर जिले के धोरीमन्ना तहसील मैं अध्यापक के रूप में पोस्टेड है वह पिछले काफी समय से covid-19में लगातार अपनी ड्यूटी दे रहा है।
   सुनील कुमार सैनी ने बताया कि यहाँ घर घर जाकर स्क्रीनिंग करवाते हैं और कॉरेन्टीन व्यक्तियों की देखभाल करते हैं।

Friday, 29 May 2020

22:19

किराया माफी की मांग को लेकर बेरोजगार युवा संघर्ष समिति ने मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन

   सवाई माधोपुर/ गंगापुर सिटी @रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा।गंगापुर सिटी उपखंड मुख्यालय पर शुक्रवार को बेरोजगार युवा संघर्ष समिति की ओर से समिति के संयोजक सुबह सिंह सैमाडा के नेतृत्व में वैश्विक महामारी कोरोना चलते लॉक डाउन के हालातों से देश की अर्थव्यवस्था की बिगड़ी हालत के मद्देनजर प्रभावित लोगों को सहूलियत प्रदान करने के उद्देश्य से विशेषकर अध्ययनरत छात्र-छात्राओं के मकान एवं हॉस्टल किराए की माफी हेतु ज्ञापन भेजा गया। सैमाड़ा ने बताया कि सबसे अधिक प्रभावित और भार मजदूर एवं कृषक परिवार से जुड़े घर से दूर अध्यनरत छात्र-छात्राओं पर पड़ा है। हॉस्टल,कोचिंग संस्थान एवं पुस्तकालय जो कि एक दूसरे पर निर्भर है, ग्रामीण अंचल से शहर में पढ़ाई के लिए रहने वाले छात्र -छात्राओं का परिवार पूर्णरूपेण कृषि व मजदूर श्रेणी वर्ग से तालुका करते हैं । इस आपदा की स्थिति में उनके पास आर्थिक संकट गहराया हुआ है।इस महामारी के समय में विद्यार्थी वर्ग एवं प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवा, रोजगार के लिए गांव से बाहर जाने वाले मजदूर लॉक डाउन के चलते आर्थिक तंगी से बुरी तरह जूझ रहा है। इसलिए ज्ञापन के माध्यम से बेरोजगार युवा संघर्ष समिति गंगापुर सिटी द्वारा मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत से निवेदन किया की राज्य में प्रत्येक शहर में किराए से रह रहे छात्र-छात्राओं, कोचिंग संस्थानों ,पुस्तकालयों एवं अन्य मजदूर वर्ग की आपातकालीन परिस्थितियों को देखते हुए 24 मार्च 2020 से राजस्थान सरकार द्वारा लागू किए गए लॉक डाउन से लेकर राजस्थान सरकार के अग्रिम आदेश तक पूर्णरूपेण किराया माफ कर राहत प्रदान करने की कार्यवाही करें।इस दौरान प्रमुख रुप से समिति संयोजक सुबह सिंह सैमाडा ,समिति अध्यक्ष हेमराज सेवा ,हल्दीघाटी कोचिंग के निर्देशक एसएस बैंसला ,एवन लाइब्रेरी संचालक रूप सिंह धर्मजीत मौजूद रहे।
22:18

भंवरलाल शर्मा के निधन पर भाजपाइयों ने जताया शोक, विनम्र श्रद्धांजलि।

  सवाई माधोपुर @रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। राजस्थान मे अपनी स्वच्छ,बेदाग, ईमानदार तथा सुचिता की राजनिति के पुरोधा,जनसघं के स्तम्भकार भारतीय जनता पार्टी के तीन बार प्रदेशाध्यक्ष का जिम्मा तथा स्वर्गीय भैरोसिहं  शेखावत  की राज्य सरकार के तीनों कार्यकालों मे अनेक महत्वपूर्ण मंत्रालयो का जिम्मा संभालने वाले वयोवृद्ध नेता भँवर लाल  शर्मा के 96 वर्ष की दीर्घायु मे निधन होने पर  भाजपा परिवार तथा राजस्थान की राजनिति को अपूरणीय क्षति हुई है। यह बात सवाई माधोपुर भाजपा के लोगों ने भंवरलाल शर्मा के निधन पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कही। भाजपाइयों द्वारा शर्मा के आकस्मिक निधन श्रद्धांजलि भी अर्पित की गई। भाजपा जिलाध्यक्ष डॉक्टर भरत लाल मथुरिया ने अपने उद्बोधन में कहा कि 1961 मे जयपुर नगर परिषद के चेयरमेन चुने जाने थोड़े समय बाद ही विभागिय भृष्टाचार से व्यथित होकर उन्होने स्तीफा देकर सुचिता की राजनिति का आगाज कर दिया था।जयपुर की हवामहल विधानसभा सीट से 1977 से 1998 तक लगातार छः बार विजय दर्ज की।15 वर्ष पूर्व सक्रिय राजनिति से सन्यास लेने के बाद अनेको बार भारी अनुरोध के बाद भी कभी कोई राजनितिक मंच साझा नही किया।यहाँ तक कि स्वयम की पुत्री के भाजपा प्रत्याशी बतौर 2018 के चुनाव प्रचार व वोट माँगने से भी दूर ही रहे।
समय के सदैव पाबन्द तथा अति अनुशाषनप्रिय स्वयम भी अनुशाषित तथा कार्यकर्ताओ को भी दृढता से अनुशाषन का पालन करने को प्रेरित करते थे।
भाजपा जिला सवाई माधोपुर के सभी कार्यकर्ता इस बडे आघात पर गहरी संवेदना प्रगट करते हुए परमपिता से उनकी आत्मा को शान्ति तथा परिजनो को गहरा आघात सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना करते है।
21:43

WCREU की ओर से 1750 रेल कर्मचारियों को बांटे गए मास्क


सवाई माधोपुर/गंगापुर सिटी@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा । वेस्ट सेंट्रल रेलवे एंप्लाइज यूनियन के द्वारा शुक्रवार को  शाखा पदाधिकारियों ने गंगापुर सिटी संभाग के छोटे स्टेशनों सहित रामगंज मंडी, भवानी मंडी, सेवर आदि स्टेशनों पर कार्यरत कर्मचारियों के लिए 1750 मास्क का वितरण किया।
मंडल उपाध्यक्ष नरेंद्र जैन ने बताया कि कोरोना वायरस महामारी के समय में लाल झंडे की वेस्ट सेंट्रल रेलवे एंप्लोइज यूनियन करुणा महामारी से बचने के लिए तरह-तरह के कार्यक्रम आयोजित कर रही है। पूर्व में इससे बचाव के लिए जागरूकता बढ़ाने वाले कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। जरूरतमंदों को भरपेट भोजन उपलब्ध कराने के लिए लगातार वितरण किया गया और अब रेल कर्मचारियों के लिए 20 हजार से ज्यादा मास्क वितरित करने का लक्ष्य लेकर लगातार कोटा मंडल के स्टेशनों पर तैनात रेल कर्मचारी साथियों के लिए यूनियन कार्यकर्ता मास्क वितरण कर रहे हैं।
आज गंगापुर संभाग में गंगापुर सिटी स्टेशन पर लॉबी में एवं स्टेशन अधीक्षक कार्यालय स्टेशन कर्मचारियों, छोटी उदेई एवं पीलोदा मलारना निमोदा स्टेशन पर वेस्ट सेंट्रल रेलवे एंप्लाइज यूनियन गंगापुर सिटी की यातायात शाखा के पदाधिकारी एवं सक्रिय सदस्यों द्वारा रेल कर्मचारी साथियों को कोरोनावायरस से बचाव के लिए यातायात शाखा के सचिव हरिप्रसाद मीणा, कार्यकारी अध्यक्ष आर. पी. मंगल, संगठन सचिव रामकेश मीणा, राकेश सोनवाल, भंवर सिंह मीणा, सह सचिव देवी सिंह मीणा, हरिमोहन मीणा, लक्ष्मी नारायण गुर्जर, स्टेशन अधीक्षक पीलोदा केशव लाल मीणा, स्टेशन अधीक्षक छोटी उदेई परमाल मीणा, प्रवेश गुप्ता आदि ने मास्क वितरण में सहयोग किया।
21:41

नरेगा मजदूरों को मास्क वितरित कर सुझाए कोरोना से बचाव के उपाय।


सवाई माधोपुर/गंगापुर सिटी@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा । जिले के गंगापुर सिटी उपखंड मुख्यालय पर शुक्रवार को मानव सेवा संस्थान की ओर से मास्क वितरण अभियान के तहत मनरेगा मजदूरों को मास्क वितरित किए।
मानव सेवा संस्थान के संरक्षक विजय गोयल ने बताया की भामाशाह सुशील दीक्षित के सहयोग से अमरगढ़ की चौकी के नरेगा मजदूरों व राह चलते ग्रामीणों को करीब 150 मास्क वितरित किए।
कौशल बौहरा ने नरेगा मजदूरों को कोरोना महामारी से बचाव के उपाय बताते हुए कहा कि मास्क लगाकर रहने, बार-बार साबुन से हाथ धोने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करके बीमारी से बचा जा सकता है।
मानव सेवा संस्थान के संरक्षक सुशील दीक्षित व विजय गोयल ने ग्रामीण क्षेत्र के लोगों से कहा की शहर के साथ-साथ गांवों को कोरोना से सुरक्षित रखना बहुत ही जरूरी है। क्योंकि भारत की सबसे ज्यादा आबादी गांवों में बसती है। कोरोना महामारी में बचाव एवं सावधानी ही एकमात्र उपाय है। हम सभी सरकारी नियमों का पालन करके कोरोना को बढऩे से रोक सकते हैं।
इस कार्य में मानव सेवा संस्थान के संरक्षक सुशील दीक्षित, कौशल बौहरा, संस्थान संरक्षक विजय गोयल, अमित बंसल, टोनू आफसेट, प्रमोद मोदी ने कार्य में सहयोग किया।
21:40

जिले में कोरोना के 14 पॉजिटिव उपचार के बाद हुए रिकवर एवं डिस्चार्ज

सवाई माधोपुर@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया ने बताया कि जिले में कोरोना का प्रसार नहीं हो, इसके लिए सभी प्रयास किए जा रहे है। प्रशासन, पुलिस एवं चिकित्सा विभाग द्वारा आपसी समन्वय एवं लोगों के सहयोग से कोरोना से लड़ी जा रही लड़ाई में काफी हद तक सफलता प्राप्त की है। इसी का परिणाम है कि शुक्रवार को जिले में कोरोना का कोई नया पाजिटिव केस नहीं आया है। वहीं जिले में अब तक दर्ज किए गए कोरोना पॉजिटिव केसों में से 14 केस नेगेटिव होकर डिस्चार्ज किए जा चुके है। उन्होंने बताया कि जिले में अब तक 3902 सैंपल लिए गए, 3877 की जांच रिपोर्ट आ चुकी है। 25 की जांच रिपोर्ट आनी शेष है। कलेक्टर ने बताया कि प्रशासन द्वारा कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए गए है।
उन्होंने बताया कि सबको सजग, सतर्क, सावधान एवं जागरूक रहने की आवश्यकता है। कोरोना रूपी अदृश्य शत्रु से लडाई को जीतने के लिए प्रोटोकाल का पालन करें, बार बार साबुन से हाथ धोएं, सेनिटाइजर का प्रयोग करें। कलेक्टर ने बताया कि जिले में गत रात्रि को आई गंगापुर के एक व्यक्ति की पॉजिटिव रिपोर्ट सहित अब तक कुल 20 कोरोना पॉजिटिव दर्ज किए गए है। जिनमें से 14 रिकवर होने के बाद डिस्चार्ज किए जा चुके है। वहीं एक की मृत्यु हो चुकी है। शेष 5 कोरोना पॉजिटिव का उपचार चल रहा है।
सीएमएचओ डॉ. तेजराम मीना ने बताया कि जिले में आज तक लिए गए 3902 सैंपलों में नए तथा रिपीट सेंपल शामिल है। जिले में होम क्वारंटीन किए गए 38272 लोगों में से 32013 को 14/28 दिन पूरे हो जाने पर होम क्वारंटीन से हटा दिया गया है।
 *मेडिकल प्रोटोकॉल एवं एडवाइजरी की पालना करें:-* कलेक्टर ने लोगों से अपील की कि कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई को सावधानी के साथ प्रोटोकॉल की पालना करते हुए जीते। इस लड़ाई में वही बड़ा योद्धा है जो सोशल डिस्टेसिंग की पालना करते हुए एडवाईजरी एवं मेडिकल प्रोटोकाल को फोलो करें। लोग अपने मनोबल को मजबूत रखे, अनावश्यक घरों से बाहर नहीं निकले।
21:38

बंसल हॉस्पिटल गंगापुर टीम की कोरोना रिपोर्ट आई नेगेटिव, आज से हॉस्पिटल खुलने की संभावना

सवाई माधोपुर/गंगापुर सिटी@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। जिले के गंगापुर सिटी उपखंड मुख्यालय पर संचालित बंसल हॉस्पिटल टीम के सभी कोरोना सेम्पलों की रिपोर्ट शुक्रवार को नेगेटिव आई हैं, अब नहर रोड स्थित बसंल हॉस्पिटल खुल सकेगा। प्रशासन ने 27 मई को लेब असिस्टेंट की सम्पर्क हिस्ट्री के कारण ही इस चिकित्सालय को बंद कर दिया था।
प्रशासन की हॉस्पिटल बंद करने की कार्यवाही के विरोध में गुुरुवार को निजी चिकित्सालय के डॉक्टर्स ने लामबंद होकर इण्डियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) की ओर से जिला कलेक्टर के नाम का ज्ञापन एडीएम नवरत्न कोली को सौंपा था। इस पर एडीएम ने कहा था, कि बंसल हॉस्पिटल टीम की रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद पुन: हॉस्पिटल खुल सकेगा।
21:35

प्रवासी व्यक्तियों एवं विशेष श्रेणी के परिवारों का सर्वे 31 मई तक होगा ई-मित्र मोबाईल ऎप या ई-मित्र कियोस्क पर कर सकते हैं पंजीयन


जयपुर सवाई माधोपुर रिपोर्ट@ चंद्रशेखर शर्मा। कोविड-19 महामारी के कारण अस्थाई रूप से बंद हुए उद्योग धंधाें एवं उनमें कार्यरत कार्मिकों के लिए तय की गई 37 विशेष श्रेणी के परिवारों एवं प्रवासी व्यक्तियों का प्रदेश में सर्वे का कार्य 31 मई तक किया जायेगा। ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम पंचायत स्तरीय कोर ग्रुप एवं शहरी क्षेत्र में नगरीय निकाय एवं बीएलओ के माध्यम से सर्वे करवाया जा रहा है। वहीं प्रवासी, विशेष श्रेणी के व्यक्ति या परिवार ई-मित्र मोबाईल ऎप या ई-मित्र कियोस्क पर जाकर स्वयं अपना पंजीयन कर सकते है।
 खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री रमेश चन्द मीना ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान कामधंधे ठप्प होने से प्रभावित लोगों की मदद के लिए राज्य सरकार ने कामगार परिवारों की 37 कैटेगरी निर्धारित की गई हैं, ऎसे में अब इनका प्रदेश में सर्वे का कार्य किया जा रहा है। प्रदेश में ऎसे प्रवासी व्यक्ति जो राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना में चयनित नहीं है उन्हें दो महीने (मई-जून) के लिए प्रति व्यक्ति 5 किग्रा गेहूं प्रतिमाह एवं प्रति परिवार 1 किलो साबुत चना निःशुल्क वितरण किया जायेगा।
गेहूं एवं साबुत चना का वितरण 15 जून से पहले
श्री मीना ने बताया कि प्रवासी व्यक्तियों को प्रदेश में 15 जून से पहले गेहूं एवं साबुत चना का वितरण उचित मूल्य की दुकानों से किया जायेगा। उन्होंने बताया कि इस कार्य के लिए उचित मूल्य की दुकानों के साथ मेपिंग का कार्य 1 जून, राशन डीलर को गेहूं एवं चना का आवंटन 2 जून एवं एफसीआई से गेहूं का उठाव 3 से 8 जून के बीच में कर दिया जायेगा।
सर्वे के लिए जनआधार के डेटाबेस का होगा उपयोग
खाद्य मंत्री ने बताया कि विशेष श्रेणी के परिवारों का सर्वे के लिए जन आधार के डेटाबेस को काम में लिया जाएगा। जिन प्रवासियों की सूचना फार्म 4 में उपलब्ध है, उनका पुनः सर्वे किये जाने की आवश्यकता नहीं होगी। जन आधार के डेटा में से राष्ट्रीय खाद्यान्न सुरक्षा योजना (एनएफएसए) में चयनित परिवारों को छोड़कर शेष सभी परिवारों का जिलेवार डेटा उपलब्ध करवाया जा रहा है। वहीं ऎसे प्रवासी जो अन्य राज्यों के हैं,उनका यहां जनआधार में पंजीयन नहीं होने के कारण डेटा उपलब्ध नहीं है। उनकी सूचना सर्वे के दौरान आधार नंबर के आधार पर मोबाइल एप में दर्ज की जाएगी।
कोविड-19 से अस्थाई रूप से बंद हुए उद्योग धंधों में कार्यरत कार्मिकों की श्रेणी
उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार ने कोविड-19 से अस्थाई रूप से बंद हुए उद्योग धंधों में कार्यरत कार्मिकों की श्रेणी में हेयर सैलून में कार्य करने वाले, कपडा धुलाई व प्रेस वाले कामगार, फुटवेयर मरम्मत व पॉलिश, घरों में साफ-सफाई व खाना बनाने, चौराहों पर सामान बेचने व किसी स्थान पर भोजन पकाकर खाने वाले, रिक्शा व ऑटो चलाने वाले, पान की दुकान, रेस्टोरेंट/होटल वेटर/रसोइया, रद्दी बीनने वाले, भवन निर्माण में नियोजित श्रमिक, कोरोना के कारण बंद उद्योग धंधों के श्रमिक, निजी ट्रांसपोर्ट के ड्राइवर/कंडक्टर, ठेला/रेहडी/स्ट्रीट वेंडर, धार्मिक संस्थाओं में पूजा/इबादत कर्मकांड व धार्मिक कार्य कराने वाले व्यक्ति, विवाह-निकाह या अन्य धार्मिक कार्य कराने वाले, मैरिज पैलेस/कैटरिंग, सिनेमा हॉल, कोचिंग संस्थानों में सफाईकर्मी या सहायक, बैंड/ढोल/घोडी/गाना बजाने वाले, नगीनों/आभूषण/चूडियों के काम वाले, फर्नीचर, बुक बाइंडर/प्रिंटिंग प्रेस, रंगाई-पुताई, पर्यटन गाइड, कठपुतली खेल दिखाने वाले, ईंट भट्टों के श्रमिक, फूल-मालाओं वाले, टायर पंचर वाला, पत्तल-दौना बनाने वाले, घुमंतु/अद्र्धघुमंतु, गाडिया लुहार, झूले वाले, खेल-तमाशा/जादू-करतब दिखाने वाले, लोक कलाकार जैसे कालबेलिया/मांगणियार इत्यादि, कुली/हमाल, मिट्टी के बर्तन बनाने वाले व अन्य कैटेगरी वालों को शामिल किया हैं।
21:34

राज्य में 1 जून से उपज रहन ऋण योजना का होगा शुभारम्भ


जयपुर/सवाई माधोपुर@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा । प्रमुख शासन सचिव, कृषि एवं सहकारिता नरेश पाल गंगवार ने कहा कि 1 जून से शुभारम्भ हो रही उपज रहन ऋण योजना के तहत जून माह में राज्य के 25 हजार किसानों को जोड़कर लाभ प्रदान किया जाये। राज्य सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना से किसानों के उपज बेचान से जुड़े हितों की सुरक्षा सम्भव हो सके। उन्होंने कहा कि योजना में पात्र समितियों का दायरा बढ़ाकर इसे 5500 से अधिक किया गया है ताकि अधिक से अधिक किसान लाभान्वित हो सके। 3 प्रतिशत ब्याज पर मिलेगा रहन ऋण:- गंगवार शुक्रवार को पंत कृषि भवन में उपज रहन ऋण योजना, फसली ऋण वितरण एवं अन्य संबंधित बिन्दुओं पर जिलों में पदस्थापित सहकारिता के अधिकारियों एवं व्यवस्थापकों को विडियों कॉफ्रेंसिंग के माध्यम से सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि लघु एवं सीमान्त किसानों को 1.50 लाख रूपये एवं बड़े किसानों को 3 लाख रूपये रहन ऋण के रूप में देेने के लिए योजना जारी की है। इसमें किसान को उसकी उपज का 70 प्रतिशत ऋण मिलेगा। किसान बाजार में अच्छे भाव आने पर अपनी फसल को बेच सकता है। यह योजना किसान की तात्कालिक वित्तीय आवश्यकता को पूरी करने तथा कम दामों में फसल बेचने की मजबूरी में मददगार साबित होगी।
कार्मिकों के लिए आयेगी प्रोत्साहन स्कीम:-  प्रमुख शासन सचिव ने कहा कि राजस्थान की यह योजना भारत में सबसे कम ब्याज दर 3 प्रतिशत पर किसान को रहन ऋण देने की विशेष पहल है। जो किसानों एवं समितियों की आय में वृद्धि करेगी। उन्होंने निर्देश दिये कि सहकारी समितियां अपने आस-पास के गोदामों को ध्यान में रखते हुए अधिक से अधिक किसानों को उपज रहन ऋण देकर उनकी तात्कालिक आवश्यकतों को पूरा करने में मदद करें। योजना में अच्छे कार्य करने वाली समितियों के कार्मिकों के लिए शीघ्र ही एपेक्स बैंक द्वारा प्रोत्साहन स्कीम जारी की जायेगी।
4.44 लाख मै.टन सरसों एवं चना की हुई खरीद:- गंगवार ने कहा कि कोविड-19 महामारी में केवीएसएस एवं जीएसएस घोषित गौण मण्डियां बहुत अच्छे से कार्य कर रही है और 427 गौण मण्डियां ऑपरेशनल होकर किसानों को अपने खेत के नजदीक ही उपज बेचान की सुविधा दे रही है। उन्होंने कहा कि समर्थन मूल्य पर खरीद में जीएसएस को जोड़ने से किसानों को अपने नजदीकी उपज बेचान की सुविधा मिलने से खरीद कार्य में गति आयी है। जो खरीद पहले 58 दिन में होती थी, आज वह 26 दिन में ही पूरी हो रही है तथा किसानों के खाते में तीन से चार दिन में भुगतान भी हो रहा है। 27 मई तक 1 लाख 76 हजार 434 किसानों से 4 लाख 44 हजार 628 मै.टन सरसों एवं चना की खरीद हो चुकी है, जिसकी राशि 2 हजार 64 करोड़ रूपये है। इसमें से 1 हजार 723 करोड़ रूपये का भुगतान किसानों को हो चुका है।
4295 करोड़ रूपये फसली ऋण का हुआ वितरण:- उन्होनें कहा कि राज्य के 13 लाख 18 हजार 177 किसानों को 4 हजार 295 करोड़ रूपये का सहकारी फसली ऋण का वितरण हो चुका है। उन्होंने भरतपुर, जैसलमेर, हनुमानगढ़, बारां एवं जालौर जिलों में ऋण वितरण की धीमी गति पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि संबंधित जिले इस कार्य में गति लाये और शीघ्र फसली ऋण वितरण करे।
गंगवार ने कहा कि हमारी मंशा है कि ग्राम सेवा सहकारी समिति को किसान की समस्या समाधान एवं सुविधाओं के लिए सिंगल विड़ों के रूप में विकसित किया जाये।वी.सी. के दौरान अतिरिक्त रजिस्ट्रार (प्रथम) श्रीमती रश्मि गुप्ता, मार्केटिंग बोर्ड के निदेशक ताराचन्द मीणा, अतिरिक्त रजिस्ट्रार (द्वितीय) जी.एल. स्वामी, अतिरिक्त रजिस्ट्रार (बैंकिंग) भोमाराम ने भी संबंधित बिन्दुओं पर चर्चा की।
21:32

जयपुर स्थित ईटरनल हॉस्पिटल के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ एस. डी. शर्मा ने दीये हेल्थ टिप्स

सवाई माधोपुर/ गंगापुर सिटी@ रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा।कोरोना महामारी के चलते राजस्थान के जयपुर महानगर के जवाहर नगर में स्थित ईटरनल चिकित्सालय(EHCC) के शिशु बाल रोग विशेषज्ञ व हेड ऑफ नेनोलॉजी डिपार्टमेंट,पूर्व में एस. एम. एस.(SMS) मेडिकल कॉलेज के हेड ऑफ डिपार्टमेंट रह चुके डॉ. एस. डी. शर्मा द्वारा जिला सवाईमाधोपुर के गंगापुर शहर नसियां कॉलोनी स्थित कुहू इंटरनेशनल स्कूल के सौजन्य से विगत दिवस  प्रातःकाल 11:00 बजे से 12:00 बजे के मध्य आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग(V.C.) के माध्यम से विद्यालय के विद्यार्थियों व उनके अभिभावकों के साथ जुड़कर कोविड-19(कोरोना महामारी) के संदर्भ में शीर्षक "स्वस्थ आहार और प्रसन्नता" पर मुख्य वक्ता के रूप में अपने सुझाव व महामारी के दौरान रखी जाने वाली सावधानियों के बारे में विस्तार से बताया साथ ही महामारी से बचाव व रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने हेतु विशेष हेल्थ टिप्स के बारे में भी बताया उन्होंने इस दौरान विद्यार्थियों व उनके अभिभावकों द्वारा पूछे गए कोरोना महामारी व स्वास्थ्य सम्बंधित विभिन्न प्रश्नों का सन्तुष्टि पूर्ण जबाव दिया समाजसेवी व मीडिया प्रभारी धनेश शर्मा ने बताया कि कार्यक्रम के माध्यम से विद्यालय के लगभग 195 विद्यार्थियों व उनके अभिभावकों ने वीडियो कॉफ्रेंस से जुड़कर अपनी प्रतिदिन की दिनचर्या में पढ़ाई व स्वास्थ्य सम्बन्धी कार्यों को अच्छे तरीके से संचालित करने हेतु जानकारीयां प्राप्त की कार्यक्रम के अंत मे कुहू इंटरनेशनल स्कूल के प्रबंध निदेशक हेमन्त शर्मा द्वारा ईटरनल हॉस्पिटल,जयपुर के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. एस. डी. शर्मा व उनकी पूरी चिकित्सा टीम को विद्यार्थियों व उनके अभिभावकों से जुड़कर स्वास्थ्य संबंधी सुझाव व परामर्श देने हेतु धन्यवाद ज्ञापित किया गया साथ ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये जुड़ने वाले सभी विद्यार्थियों व उनके अभिभावकों को भी साधुवाद दिया गया
21:29

सैनी (माली) समाज सवाई माधोपुर तहसील कार्यकारिणी का गठन

सवाई माधोपुर @ रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। सैनी (माली) समाज सवाई माधोपुर के जिलाध्यक्ष सचिन सैनी के निर्देशानुसार एवं जिला संयोजक भगवान माली एवं युवा जिलाध्यक्ष कमलेश सैनी की सहमति से सवाई माधोपुर तहसील अध्यक्ष रविशंकर सैनी ने आनलाइन  कार्यकारिणी का गठन किया।
समाज के जिला प्रवक्ता राजेश सैनी ने बताया की इस अवसर पर  जितेंद्र सैनी को तहसील उपाध्यक्ष, रामौतार उर्फ बंटी सैनी कुस्तला को वरिष्ठ उपाध्यक्ष, देवेन्द्र सैनी आलनपुर को कोषाध्यक्ष, रवि सैनी शहर को महामंत्री, रोहित सैनी शेरपुर को मंत्री, दीपक सैनी रामसिंहपुरा को सोशल मीडिया प्रभारी, पद पर मनोनित कर बधाई एवं शुभकामनाएं दी।
तहसील अध्यक्ष रविशंकर सैनी ने समाज के युवा पीढ़ी को आगे बढ़ाने के लिए तन मन धन से कार्य करने पर जोर दिया। और कहा की अब समाज के बच्चों के लिए तहसील कार्यकारिणी खेलकूद, निबंध, डांस जैसे मनोरंजनात्मक कार्यक्रम आयोजित करेगी।
जिलाध्यक्ष सचिन सैनी ने कहा की माली समाज के द्वारा अब बालिका शिक्षा पर अभियान चलाया जाएगा जिसमें प्रत्येक समाज की बालिकाओ शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ाने पर जोर दिया जाएगा।
जिला प्रभारी प्रभुदयाल सैनी ने कहा की समाज को एक साथ संगठित करने के लिए जिला एवं तहसील स्तर, पर कार्यकारिणी का गठन किया गया जो आगे गांव गांव जाकर समाज के लोगों को शिक्षा के प्रति जागरूकता अभियान चलाएगी। 
इस अवसर पर जिलाध्यक्ष सचिन सैनी, जिला कोषाध्यक्ष महेन्द्र सैनी, युवा जिलाध्यक्ष कमलेश सैनी, जिला प्रवक्ता राजेश सैनी, मुख्य सलाहकार कैलाश नारायण सैन जिला महामंत्री सोनू सैनी, युवा जिला महामंत्री सोनू सैनी ने नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी।